News That Matters

Tag: इससे

जियोफोन मानसून हंगामा ऑफर 20 जुलाई से होगा शुरू, जानें इससे जुड़ी 5 बड़ी बातें

Indian Technology
जियोफोन मानसून हंगामा ऑफर 20 जुलाई शाम 5 बजकर 1 मिनट से शुरु हो जाएगा। इस पोस्ट में हम आपको इस ऑफर से जुड़ी 5 बड़ी बातें बता रहे हैं Jagran Hindi News - technology:tech-news

कुलदीप ने किया कमाल, कोहली बोले- इससे बेहतर वनडे स्पैल नहीं देखा

Indian Sports
नॉटिंघम। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में गुरुवार को यहां इंग्लैंड पर आठ विकेट की जीत के बाद बाएं हाथ के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव की जमकर तारीफ की जिन्होंने अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की। खेल-संसार
स्नैपचैट में आया कैमरा सर्च फीचर, इससे कर सकेंगे शॉपिंग, स्कैनिंग और अन्य काम

स्नैपचैट में आया कैमरा सर्च फीचर, इससे कर सकेंगे शॉपिंग, स्कैनिंग और अन्य काम

Indian Technology
स्नैपचैट एक नए फीचर पर काम कर रहा है जिसका नाम 'विजुअल सर्च' है। यह विजुअल सर्च ईकॉमर्स साइट अमेजन से कनेक्ट होगा, जो भी ऑब्जेक्ट स्नैपचैट के कैमरा के सामने आएगा और वह प्रोडेक्ट अमेजन से... Live Hindustan Rss feed

मुझे इससे डरने की जरूरत नहीं है: जाह्नवी कपूर

Entertainment
फिल्म ‘धड़क’से अपनी बॉलीवुड पारी की शुरुआत करने जा रही जाह्नवी कपूर का कहना है कि वह अपनी मां एवं अभिनेत्री श्रीदेवी की तरह ही लोगों के दिलों में जगह बनाना चाहती हैं। श्रीदेवी फरवरी में दुबई के एक होटल में मृत पाई गई थीं। मनोरंजन

बुराड़ी में जो घटा वह नया नहीं, इससे पहले भी हुई हैं सामूहिक आत्‍महत्‍याएं

India
इस तरह का यह अकेला मामला नहीं है जब इतनी संख्‍या में लोगों ने इस तरह का घातक कदम उठाया हो। Jagran Hindi News - news:national
ब्रेन स्ट्रोक कम्पलीट गाइड : बड़े-बुजुर्ग ही नहीं, युवा भी इसके निशाने पर, जानें इससे जुड़ी पूरी जानकारी

ब्रेन स्ट्रोक कम्पलीट गाइड : बड़े-बुजुर्ग ही नहीं, युवा भी इसके निशाने पर, जानें इससे जुड़ी पूरी जानकारी

Health
हृदय रोगों व कैंसर के बाद ब्रेन स्ट्रोक के मामले चिंताजनक ढंग से बढ़ रहे हैं। बड़े-बुजुर्ग ही नहीं, अब युवा भी इसके निशाने पर हैं। ऐसे में जानकारी का अभाव हालत को और गंभीर बना देता है। इससे कैसे... Live Hindustan Rss feed

यूट्यूब चैनल चलाते हैं तो आपके लिए इससे बड़ी कोई खबर नहीं हो सकती

Indian Technology
यूट्यूब के चीफ प्रोडक्ट अधिकारी नील मोहन ने बताया कि गूगल के मालिकाना हक वाली इस सेवा में वर्तमान में ज्यादातर कमाई विज्ञापनों से होती है। नील ने कहा,  'अभी भी मुख्य ध्यान इस पर ही होगा लेकिन हम विज्ञापनों से इतर भी सोचना चाहते हैं। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
‘डिजिटल इंडिया’ एक संकल्प और सभी को इससे जुड़ने की जरूरतः मोदी

‘डिजिटल इंडिया’ एक संकल्प और सभी को इससे जुड़ने की जरूरतः मोदी

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। पीएम मोदी ने जब से देश के प्रधानमंत्री का पद संभाला है तब से उन्होंने डिजिटल इंडिया को लेकर जोर दिया है। 1जुलाई 2015 को पीएम मोदी ने डिजिटल इंडिया कार्यक्रम की शुरूआत की थी और उनकी सबसे बड़ी इच्छा ये थी देश के सभी छोट बड़े सरकारी आॅफिस, देशे के लोग स्मार्ट फोन से एक दूसरे से जुड़े और सभी सुविधाएं उन्हें एक क्लिक में मिल जाए। राज्यपाल कल्याण सिंह ने पेश की नई मिशाल,नहीं लेंगे गार्ड ऑफ ऑनर इसी डिजिटलीकरण को मोदी ने अर्थव्यवस्था से भी जोड़ा ताकी देश का हर नागरिक मोबाइल बैंकिंग जैसी चीजों को जाने और उनकी गाढ़ी कमाई कोई बीच में ना खा सके, इसको लेकर मोदी ने हमेशा ही लोगों को जागरूक करने की कोशिश की है। आज भी मोदी ने डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के आलोचकों को जवाब देते हुए कहा कि दलाली को रोकने का अभियान डिजिटल इंडिया ही है और इससे पहले जो लोग दूसरे लोगों की गाढ़ी कमाई सरकार से जरूर
शरीर में सोडियम पोटैशियम का स्तर इससे कम तो जान का खतरा

शरीर में सोडियम पोटैशियम का स्तर इससे कम तो जान का खतरा

Health
तापमान का चढ़ता पारा और तेज धूप सेहत के लिए खतरनाक हो सकती है। गर्मी की वजह से शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का असंतुलन होता है जिस वजह से तकलीफ शुरू होती है। इलेक्ट्रोलाइट्स से ही शरीर के सभी अंग ठीक से काम करते हैं। इलेक्ट्रोलाइट्स सोडियम, पोटैशियम, क्लोराइड, बाई-कार्बोनेट, मैग्नीशियम क्लोराइड का मिश्रण होता है जो दिल से लेकर दिमाग और किडनी तक को सुरक्षित रखने का काम करता है। शरीर में पानी या सोडियम की कमी होने से चिड़चिड़ेपन की शिकायत होती है। ब्लड प्रेशर का स्तर तेजी से कम होता है। किडनी में सोडियम होता है जिसका स्तर 135 से 140 के बीच होता है। सोडियम का लेवल 135 से कम होने पर दिमाग में सूजन आने लगती है जिससे व्यक्ति को झटके आने शुरू होते हैं। इसका स्तर 110 के नीचे पहुंच गया तो व्यक्ति कोमा तक में जा सकता है। इसी तरह पोटैशियम का काम है जो खून में दो फीसदी और 98 फीसदी शरीर की कोशिकाओं में होत
जानिए क्या है मीनोपॉज, इससे निपटने के लिए महिलाएं कैसे रहें तैयार ?

जानिए क्या है मीनोपॉज, इससे निपटने के लिए महिलाएं कैसे रहें तैयार ?

Health
जब कोई लड़की किशोरावस्था की ओर कदम बढ़ाती है तो वह खुद में बॉयोलोजिकल, हामोर्नल और मनोवैज्ञानिक बदलाव महसूस करती है। माहवारी और शारीरिक बदलाव होना किसी भी महिला के जीवन में महत्वपूर्ण है क्योंकि इसी... Live Hindustan Rss feed