News That Matters

Tag: दूर

लिवर के रोगों को दूर करती होम्योपैथी दवा

लिवर के रोगों को दूर करती होम्योपैथी दवा

Health
लिवर शरीर के प्रमुख अंगों में से एक है। यह एक प्रकार की ग्रंथि है जो मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित रखती है। पाचनक्रिया में भी यह अंग मददगार है जो बाइल का निर्माण करता है। इस अंग के खराब होने से हेपेटाइटिस, पीलिया और अन्य लिवर संबंधी दिक्कतों की आशंका बढ़ जाती है। जानिए लिवर से जुड़े रोग व उनके होम्योपैथिक उपचार के बारे में- हेपेटाइटिस कारण: वायरल-बैक्टीरियल इंफेक्शन इसकी मुख्य वजह है। ऐसे में विषैले तत्त्व शरीर से बाहर निकलने की बजाय रक्त में मिल जाते हैं। लक्षण : भूख न लगने, बुखार, जोड़ व मांसपेशियों में दर्द व उल्टी आने जैसी समस्या होती है। इसके अलावा मरीज को सर्दी सहन न होना, भोजन के १-२ घंटे बाद ही खट्टी डकारों के साथ खाना ऊपर आना और मोशन के बाद थकान व कमजोर महसूस होती है। इलाज : फास्फोरस दवा दी जाती है। अल्कोहॉलिक लिवर डिजीज कारण: फैटी लिवर, सिरोसिस या अल्कोहॉलिक लिवर डिजीज के लिए अधिक शरा

अभिषेक बच्चन नहीं रह पा रहे पत्नी और बच्ची से दूर, पहुंच गए वेकेशन पर

Entertainment
अभिषेक बच्चन ने हाल ही में अपनी पत्नी और बच्ची को उनके वेकेशन पर जॉइन किया। पेरिस में तीनों अब साथ में वेकेशन मनाएंगे। मनोरंजन
रोगों से दूर कर तन-मन को फिट रखे स्वीमिंग

रोगों से दूर कर तन-मन को फिट रखे स्वीमिंग

Health
स्वीमिंग एक थैरेपी की तरह काम करती है। तैराकी से शरीर पर जमी चर्बी कम होने लगती है और व्यक्ति कहीं ज्यादा ऊर्जावान महसूस करता है। फायदे मांसपेशियों की मजबूती रेगुलर स्वीमिंग करने से अन्य व्यायाम की जरूरत नहीं पड़ती। इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं। जिमिंग के मुकाबले तैराकी में १० गुना अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इससे मांसपेशियों में खिंचाव होने से शरीर के जोड़ भी मजबूत होते हैं। दिल रहता दुरुस्त स्वीमिंग से पूरी बॉडी का मूवमेंट होता है जिससे रक्तसंचार बेहतर होता है। ऐसे में हृदय का काम भी सुचारू होने से यह अंग सेहतमंद रहता है। हृदय व दिमाग से जुड़े रोगों की आशंका काफी हद तक कम होने से तनाव भी कम होता है। वजन पर नियंत्रण यह शरीर की एक्सट्रा कैलोरी बर्न करने में मदद करती है। इससे व्यक्ति को डिहाइड्रेशन का सामना नहीं करना पड़ता और बॉडी शेप में रहती है। शरीर में लचीलापन लाने के लिए यह बेहतर व्या

सैन्य आधुनिकीकरण और हथियारों की कमी दूर करने के लिए कोशिश हुई तेज, लेकिन…

India
सेना, नौसेना और वायुसेना तीनों की जरूरतें भले अलग-अलग हैं मगर चुनौतियां और उनके सामने आ रही बाधाएं लगभग एक जैसी ही हैं। Jagran Hindi News - news:national
जीन थेरेपी से गुर्दे की पुरानी बीमारी दूर होगी!

जीन थेरेपी से गुर्दे की पुरानी बीमारी दूर होगी!

Health
जीन थेरेपी की सहायता से गुर्दे की कोशिकाओं के नुकसान को ठीक किया जा सकता है। वैज्ञानिकों ने संभावना जाहिर की है कि इससे गुर्दे के पुराने रोग का इलाज होने की संवभावना है। पुराने गुर्दे के रोग की पहचान... Live Hindustan Rss feed

बैंकों में फंसे कर्ज की समस्या को दूर करने के लिए नई नीति का हुआ ऐलान

India
सरकार का कहना है कि पहली बार देश में एनपीए की समस्या से निबटने के लिए लंबी अवधि की योजना लागू की गई है। Jagran Hindi News - news:national
पीरियड्स संबंधी भ्रम दूर करने को IIT दिल्ली के छात्रों ने बनाए फन गेम

पीरियड्स संबंधी भ्रम दूर करने को IIT दिल्ली के छात्रों ने बनाए फन गेम

Health
मासिक धर्म संबंधी मिथकों और वर्जनाओं को तोड़ने के क्रम में आईआईटी-दिल्ली के छात्रों ने युवतियों और महिलाओं के लिए कई गेम तैयार किए हैं जिससे कि मनोरंजक और आकर्षक तरीके से जागरूकता फैलाने का काम किया... Live Hindustan Rss feed

प्राकृतिक आपदा और पिता से दूर होकर यासमीन ने चढ़ी सफलता की सीढ़ी और बन गईं समाजसेवी

Indian Education
सब कुछ खो जाने के बाद भी मन के एक कोने में उम्मीद जिंदा रहती है। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
शिशु को इन चीजों से रखें दूर तो बने बात

शिशु को इन चीजों से रखें दूर तो बने बात

Health
घर में नए मेहमान के आने पर माता-पिता वॉकर, फीडिंग बोतल और डाइपर आदि ले लेते हैं। लेकिन इनका प्रयोग शिशु के लिए नुकसानदेह भी हो सकता है। टीथर और चुसनी : 5-6 माह की उम्र में बच्चा हर चीज मुंह में लेना चाहता है। ऐसे में चुसनी व टीथर की ठीक से सफाई न हो पाने सेे इंफेक्शन का डर रहता है। इनकी जगह पर बच्चे को अच्छी क्वालिटी व गहरे रंग के टीथिंग रिंग या प्लास्टिक की चूडिय़ां दे सकते हैं। लेकिन देने से पहले हर बार इन्हें अच्छे से धोएं। ग्राइप वॉटर : इसके फायदे या नुकसान का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है इसलिए इन्हें न देना ही बेहतर है। वॉकर: छोटे बच्चों को वॉकर देने से पूरी तरह बचें। इससे उनका संतुलन बिगडक़र गिरने का डर रहता है साथ ही उसके प्राकृतिक रूप से चलने में बाधा आती है जिससे कई बार वह देर से चलना सीखता है। सॉफ्ट टॉय' ये भी ठीक से साफ नहीं हो पाते इसलिए इनसे बच्चे को एलर्जी या संक्रमण हो सकता है