News That Matters

Tag: लक्षण

डेंगू की तरह होते हैं स्क्रब टाइफस के लक्षण

डेंगू की तरह होते हैं स्क्रब टाइफस के लक्षण

Health
आज कल स्क्रब टाइफस नाम की बीमारी के कई मामले सामने आ रहे हैं। पिस्सुओं के काटने से होने वाली इस बीमारी में भी डेंगू की तरह प्लेटलेट्स की संख्या घटने लगती है। यह खुद तो संक्रामक नहीं लेकिन इसकी वजह से शरीर के कई अंगों में संक्रमण फैलने लगता है।   कैसे फैलता है : पिस्सू के काटते ही उसके लार में मौजूद एक खतरनाक जीवाणु रिक्टशिया सुसुगामुशी मनुष्य के रक्त में फैल जाता है। सुसुगामुशी दो शब्दों से मिलकर बना है जिसका अर्थ होता है सुसुगा : छोटा व खतरनाक और मुशी मतलब माइट। इसकी वजह से लिवर, दिमाग व फेफड़ों में कई तरह के संक्रमण होने लगते हैं और मरीज मल्टी ऑर्गन डिसऑर्डर के स्टेज में पहुंच जाता है। इन्हें ज्यादा खतरा : पहाड़ी इलाके, जंगल और खेतों के आस-पास ये पिस्सू ज्यादा पाए जाते हैं। लेकिन शहरों में भी बारिश के मौसम में जंगली पौधे या घने घास के पास इस पिस्सू के काटने का खतरा रहता है। लक्षणों
लक्षण दिखने से पहले ही पकड़ में आ जाएंगे 10 तरह के कैंसर

लक्षण दिखने से पहले ही पकड़ में आ जाएंगे 10 तरह के कैंसर

Health
वैज्ञानिकों ने एक ऐसा तरीका ईजाद किया है जिससे लक्षण नजर आने से काफी पहले एक-दो नहीं कम से कम 10 तरह के कैंसर पकड़ में आ सकते हैं। विशेषज्ञ इसे कैंसर रिसर्च का होली ग्रेल करार दे रहे... Live Hindustan Rss feed
जानें क्या हैं जानलेवा Nipah वायरस के लक्षण और बचाव के उपाय

जानें क्या हैं जानलेवा Nipah वायरस के लक्षण और बचाव के उपाय

Health
निपाह वायरस (NiV) के इंसानों में संक्रमण का पता चिकित्सीय जांचों द्वारा लगाया जा सकता है। निपाह के संक्रमण की जांच शुरुआती दौर से लेकर श्वसनतंत्र के गंभीर रूप से प्रभावित होने और जानलेवा... Live Hindustan Rss feed
गर्मी में दिखें ये लक्षण तो तुरंत लें डॉक्टर की सलाह

गर्मी में दिखें ये लक्षण तो तुरंत लें डॉक्टर की सलाह

Health
तापमान का चढ़ता पारा और तेज धूप सेहत के लिए खतरनाक हो सकती है। गर्मी की वजह से शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का असंतुलन होता है। जिस वजह से तकलीफ शुरू होती है। इलेक्ट्रोलाइट्स से ही शरीर के सभी अंग ठीक से काम करते हैं। इलेक्ट्रोलाइट्स सोडियम, पोटैशियम, क्लोराइड, बाई-कार्बोनेट, मैग्नीशियम क्लोराइड का मिश्रण होता है जो दिल से लेकर दिमाग और किडनी तक को सुरक्षित रखने का काम करता है। शरीर में पानी या सोडियम की कमी होने से चिड़चिड़ेपन की शिकायत होती है। ब्लड प्रेशर का स्तर तेजी से कम होता है। किडनी में सोडियम होता है जिसका स्तर 135 से 140 के बीच होता है। सोडियम का लेवल 135 से कम होने पर दिमाग में सूजन आने लगती है जिससे व्यक्ति को झटके आने शुरू होते हैं। इसका स्तर 110 के नीचे पहुंच गया तो व्यक्ति कोमा तक में जा सकता है। इसी तरह पोटैशियम का काम है जो खून में दो फीसदी और 98 फीसदी शरीर की कोशिकाओं में हो
चोटाला में मलेरिया के लक्षण व बचाव के दिए टिप्स

चोटाला में मलेरिया के लक्षण व बचाव के दिए टिप्स

Punjabi Politics
चोटाला में मलेरिया के लक्षण व बचाव के दिए टिप्सटांडा| एसएमओ रणजीत सिंह घोतरा इंचार्ज सीएचसी भूंगा के निर्देशानुसार गांव चोटाला में विश्व मलेरिया दिवस मनाया।... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर
छात्राओं को अनीमिया के लक्षण और बचाव के टिप्स दिए गए

छात्राओं को अनीमिया के लक्षण और बचाव के टिप्स दिए गए

Punjabi Politics
छात्राओं को अनीमिया के लक्षण और बचाव के टिप्स दिए गएखन्ना| गुरु गोबिंद सिंह खालसा कालेज फार वूमेन झाड साहिब में रोटरी क्लब लुधियाना और समराला सोशल वेलफेयर सोसायटी की... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर