News That Matters

Tag: विशेष

तेजस्वी का नीतीश पर तंज, बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने को संयुक्त राष्ट्र और G-8 से संपर्क करना चाहिए

तेजस्वी का नीतीश पर तंज, बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने को संयुक्त राष्ट्र और G-8 से संपर्क करना चाहिए

India
बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ​बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की एक बार फिर मांग किए जाने पर उनका उपहास करते हुए आज कहा कि इसके लिए उन्हें... Live Hindustan Rss feed
अहमदाबाद के स्कूल छात्र-छात्राओं को हर महीने फ्री में देंगे ये विशेष सुविधा

अहमदाबाद के स्कूल छात्र-छात्राओं को हर महीने फ्री में देंगे ये विशेष सुविधा

India
अहमदाबाद नगर निगम (एएमसी) के तहत आने वाले प्राथमिक स्कूलों के छात्र-छात्राओं के बाल मुफ्त में काटे जाएंगे। नगर निगम की ओर से ये सुविधा महीने में एक बार की जाएगी। 'एक कदम स्वच्छता की ओर कार्यक्रम... Live Hindustan Rss feed

‘चुंबक’ फिल्म को लेकर ‘स्वानंद किरकिरे’ से विशेष बातचीत

Entertainment
स्वानंद किरकिरे फिल्म 'चुंबक' में मुख्य भूमिका में नजर आ रहे हैं। वेबदुनिया से विशेष संवाद के दौरान स्वानंद किरकिरे ने बताया कि ये फिल्म दर्शकों का मन जीत लेगी। मनोरंजन

जीत के बाद हार्दिक पंड्या ने कहा, रोहित की पारी विशेष थी…

Indian Sports
ब्रिस्टल। भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे और निर्णायक टी-20 मैच में भारत की जीत का श्रेय रोहित शर्मा को देते हुए कहा कि दो सामान्य पारियों के बाद इस सलामी बल्लेबाज ने विशेष पारी खेली। खेल-संसार
इस बार नीतीश ने नहीं ‘हार्दिक’ ने उठाई बिहार के लिए विशेष राज्य की मांग

इस बार नीतीश ने नहीं ‘हार्दिक’ ने उठाई बिहार के लिए विशेष राज्य की मांग

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जब से लालू की पार्टी से कहे या फिर महागठबंधन से नाता तोड़ राजग से गठबंधन किया है वो किसी ने किसी के निशाने पर है। कभी लालू के तो कभी उनके दोनों बेटों के अब की बार नीतीश निशाने पर है पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल के। इस बार पटेल ने निशाना भी साधा और उसका अहसास भी कम होने दिया। पटेल ने नीतीश पर निशाना साधते हुए कहा की बिहार को अब तो विशेष राज्य का दर्जा दिला देना चाहिए। वसुंधरा का गुर्जरों को लुभाने का प्रयास, एमबीसी में मिलेगा एक प्रतिशत आरक्षण आपकों बता दें की नीतीश कुमार कई वर्षों से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग कर रहे है लेकिन केंद्र सरकार इस पर ज्यादा गंभीर नहीं है। इसी मामले को लेकर हार्दिक पटले ने नीतीश पर निशाना साधा है। हार्दिक पटेल ने पटना में आयोजित पटेल समुदाय के एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि व
खुद में खोए रहने वाले बच्चों का इलाज करेगा विशेष रोबोट

खुद में खोए रहने वाले बच्चों का इलाज करेगा विशेष रोबोट

Health
वैज्ञानिकों ने एक ऐसा गहन अध्ययन करने वाला नेटवर्क विकसित किया है जिसे रोबोट से जोड़ा जा सकता है। इससे जुड़ा रोबोट खुद में खोए रहने वाले बच्चों से उपलब्ध डाटा के आधार पर बातचीत कर उन्हें समझने की... Live Hindustan Rss feed
पीएम मोदी भोपाल पहुंचे, MP की जनता को आज देंगे विशेष सौगात

पीएम मोदी भोपाल पहुंचे, MP की जनता को आज देंगे विशेष सौगात

India
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्यप्रदेश की एक दिन की यात्रा के तहत आज दोपहर विशेष विमान से भोपाल पहुंचे। राजा भोज विमानतल पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनकी अगवानी... Live Hindustan Rss feed
तन-मन स्वस्थ रखता विशेष अष्टांग योग

तन-मन स्वस्थ रखता विशेष अष्टांग योग

Health
भारत की दो हजार वर्ष पुरानी योग विद्या की विश्व स्तर पर अपनी महत्ता है, यह वजह है कि आज विश्व के 193 देशों ने आधिकारिक रूप से योग को स्वीकारा है। आयुर्वेद शास्त्रों में योग का विस्तृत वर्णन है जिसके अनुसार यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि, ये योग के आठ अंग है जिनका अपना अपना महत्व है। यमअहिंसा, सत्य, अस्तेय, ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह, ये पांच मनोभाव यम हैं। इनका पालन करने से सद्भाव, भ्रातृत्व भाव, शांति स्थापना, क्रोध, लोभ, मोह, आदि दुर्गुणों से मुक्त रहकर हम सुखमय जीवन की ओर बढ़ते हैं। आज के प्रतिस्पर्धी युग में ईष्र्या, राग, द्वेष, क्रोध, दंभ व अहंकार आदि के कारण मनोरोगों का अनुपात बढ़ रहा है। यम पालना से मनोविकृतियां निश्चित तौर पर दूर रहती हैं। नियमशौच, संतोष, तप, स्वाध्याय और ईश्वर प्रणिधान, ये 5 नियम हैं। ये नियम भी सदाचरण पर चलने के माध्यम के साथ-साथ आत्म शुद
तन-मन स्वस्थ रखता विशेष अष्टांग योग

तन-मन स्वस्थ रखता विशेष अष्टांग योग

Health
भारत की दो हजार वर्ष पुरानी योग विद्या की विश्व स्तर पर अपनी महत्ता है, यह वजह है कि आज विश्व के 193 देशों ने आधिकारिक रूप से योग को स्वीकारा है। आयुर्वेद शास्त्रों में योग का विस्तृत वर्णन है जिसके अनुसार यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि, ये योग के आठ अंग है जिनका अपना अपना महत्व है। यमअहिंसा, सत्य, अस्तेय, ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह, ये पांच मनोभाव यम हैं। इनका पालन करने से सद्भाव, भ्रातृत्व भाव, शांति स्थापना, क्रोध, लोभ, मोह, आदि दुर्गुणों से मुक्त रहकर हम सुखमय जीवन की ओर बढ़ते हैं। आज के प्रतिस्पर्धी युग में ईष्र्या, राग, द्वेष, क्रोध, दंभ व अहंकार आदि के कारण मनोरोगों का अनुपात बढ़ रहा है। यम पालना से मनोविकृतियां निश्चित तौर पर दूर रहती हैं। नियमशौच, संतोष, तप, स्वाध्याय और ईश्वर प्रणिधान, ये 5 नियम हैं। ये नियम भी सदाचरण पर चलने के माध्यम के साथ-साथ आत्म शुद