News That Matters

Tag: ‘सेहत

सेहत के लिए जरूरी है फलों और सब्जियों को पेस्टीसाइड्स से मुक्त करना

सेहत के लिए जरूरी है फलों और सब्जियों को पेस्टीसाइड्स से मुक्त करना

Health
वर्तमान में सभी जानते हैं कि आज जो कुछ हम खा रहे हैं उसकी पैदावार के तरीके क्या हैं और उनमें कितने पेस्टीसाइड्स होते हैं। ये कीटनाशक पदार्थ सब्जियों-फलों को धोने के बावजूद उनमें बने रहते हैं। शरीर में इनकी जरा भी मात्रा पहुंचने से ये हमें बड़ा नुकसान पहुंचाते हैं। धीरे-धीरे हम गंभीर बीमारियों के शिकार होते चले जाते हैं। ज्यादा पैदावार के लिए सब्जी-फल और फसलों के उत्पादन ज्यादा बढ़ाने के लिए इन दवाओं और खतरनाक कीटनाशकों का उपयोग बड़ी मात्रा में किया जा रहा है। इनके पैदा होने के बाद भी यह कीटनाशक इनमें बने रहते हैं। बहुत सारे शोध और जांच में सामने आया है कि फलों और सब्जियों में भारी मात्रा में कीटनाशक दवाइयां पाई जाती हैं। यह दवाइयां बहुत खतरनाक हैं और बीमारियां भी पैदा करती हैं। ज्यादातर लोगों की सोच होती है कि सिर्फ पानी से धोने से यह साफ जाती है लेकिन इसके लिए सिर्फ पानी ही काफी नहीं है।
मानसिक सेहत के प्रति लोगों को जागरूक करने की मुहिम चलाएंगे मनोचिकित्सक

मानसिक सेहत के प्रति लोगों को जागरूक करने की मुहिम चलाएंगे मनोचिकित्सक

Punjabi Politics
मानसिक सेहत के प्रति लोगों को जागरूक करने की मुहिम चलाएंगे मनोचिकित्सकपंजाब एंड चंडीगढ़ साइकेट्रिक सोसाइटी (पनकिप्स) की दो दिवसीय सालाना काॅन्फ्रेंस धर्मशाला में कराई गई। इसमें शामिल... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर
गर्भावस्था में मोटापे से शिशु की सेहत पर हो सकता है असर : अध्ययन

गर्भावस्था में मोटापे से शिशु की सेहत पर हो सकता है असर : अध्ययन

Health
यह तो हम सभी जानते हैं कि गर्भावस्था में मां की सेहत का गर्भ में पल रहे शिशु पर भी पड़ता है। फ्रांस में हुए एक अध्ययन में विशेषज्ञों ने कहा है कि इस दौरान मां का वजन बढ़ना सामान्य है, मगर मोटापे... Live Hindustan Rss feed
एसी बार बार बंद-चालू करने से भी सेहत को नुकसान

एसी बार बार बंद-चालू करने से भी सेहत को नुकसान

Health
गर्मी में कुछ लोग एयरकंडीशनर को थोड़ी देर के लिए 16-18 सेल्सियस पर चलाते हैं और फिर बंद कर देते हैं। ऐसा बार-बार करना नुकसानदायक होता है। ऐसा न करें क्योंकि शरीर का तापमान 36-37 सेल्सियस रहता है। ऐसे में अचानक से ठंड लगती है और शरीर का मेटाबोलिज्म बिगड़ जाता है और व्यक्ति बीमार हो जाता है। बच्चों पर इसका ज्यादा दुष्प्रभाव पड़ता है क्योंकि उनकी इम्युनिटी कम होती है। इससे बचने के लिए एसी को २५ डिग्री सेल्सियस पर लगातार चलाते रहें तो बच्चे बीमार होने से बचे रहेंगे। ऐसी को २५ से कम पर नहीं चलाना चाहिए। सुबह-शाम नहलाएं फ्रिज के पानी की जगह मटके का पानी पिलाएं। बाहर भेजते समय बच्चों को पूरे कपड़े पहनाएं और सिर पर सूती कपड़ा रखें या टोपी पहनाएं। बच्चों को कोई समस्या न हो इसलिए उन्हें सुबह-शाम नहलाना चाहिए। इससे भी गर्मी में होने वाली कई बीमारियों से बचाव होता है। इमली का पना और नींबू शिकंजी रोज द
mother’s day special 2018 : जानिए उम्र के हिसाब से ‘मम्मी’ की सेहत

mother’s day special 2018 : जानिए उम्र के हिसाब से ‘मम्मी’ की सेहत

Health
मां समाज और परिवार की धुरी है। हमारी सेहत का पाया मां ही संभालती है लेकिन इसमें वो इतना रम जाती है कि अपनी सेहत को ही भूल जाती है। यह जरूरी नहीं कि मां के बिगड़ते स्वास्थ्य का ढलती उम्र में ही पता चले। उम्र के विभिन्न पड़ाव पर सेहत से जुड़े संकेतों की पहचान जरूरी है। जानते हैं इससे जुड़ी खास बातें- खून शरीर का अहम हिस्सा होता है जो शरीर के सभी अंगों, कोशिकाओं और मांसपेशियों को जीवित और सक्रिय रखने का काम करता है। खून के लिए शरीर में आयरन बहुत जरूरी है। बच्चियां जब छोटी होती हैं तबसे ही उनमें आयरन की कमी नहीं होनी चाहिए। इसकी कमी उन्हें बढ़ती हुई उम्र में बीमार बना सकती है। आयरन से शरीर में लाल रक्त कणिकाएं बनती हैं जो रक्त में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करती हंै। पर्याप्त मात्रा में आयरन रहने से शरीर और दिमाग में रक्त का प्रवाह बेहतर रहता है। बच्चियों को बढ़ती उम्र के साथ डॉक्टरी सलाह पर आयरन
अच्छी सेहत चाहते हैं, तो इंटरनेट नहीं डॉक्टर से मिलें

अच्छी सेहत चाहते हैं, तो इंटरनेट नहीं डॉक्टर से मिलें

Health
आजकल एक नया ट्रेंड देखने में आ रहा है। रेसिपी और अन्य सूचनाएं देखने के साथ ही लोग बीमार पड़ने पर भी इंटरनेट की मदद लेने लगे हैं। लोग इंटरनेट पर अपनी बीमारी के बारे में जानकारी लेना शुरू कर देते हैं।... Live Hindustan Rss feed
मॉडल टाउन में दुकान पर सेहत विभाग ने भरे सैंपल

मॉडल टाउन में दुकान पर सेहत विभाग ने भरे सैंपल

Punjab
मॉडल टाउन में दुकान पर सेहत विभाग ने भरे सैंपललुधियाना| मॉडल टाउन स्थित एक फास्ट फूड की दुकान से सेहत विभाग ने सैंपल भरे। जिला सेहत अधिकारी डॉ. आदेश कंग के... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर
तालमेल कमेटी पैरा-मेडिकल व सेहत कर्मियों ने सिविल सर्जन से की बैठक

तालमेल कमेटी पैरा-मेडिकल व सेहत कर्मियों ने सिविल सर्जन से की बैठक

Punjabi Politics
तालमेल कमेटी पैरा-मेडिकल व सेहत कर्मियों ने सिविल सर्जन से की बैठकतालमेल कमेटी पैरा-मेडिकल व सेहत कर्मचारियों का 21 मेंबरी वफद अपनी मांगों के संबंध में जिला कनवीनर कुलबीर सिंह... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर
ढाई लाख परिवारों का होगा Rs.5 लाख का सेहत बीमा

ढाई लाख परिवारों का होगा Rs.5 लाख का सेहत बीमा

Punjabi Politics
ढाई लाख परिवारों का होगा Rs.5 लाख का सेहत बीमाआयुष्मान भारत स्कीम के तहत पंजाब के लगभग 14 लाख परिवारों का सालाना पांच लाख रुपए की हेल्थ इंश्योरेंस किया जाएगा।... आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर
ढाई लाख परिवारों का होगा 5 लाख रुपए का सेहत बीमा, प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों से करवा पाएंगे इलाज

ढाई लाख परिवारों का होगा 5 लाख रुपए का सेहत बीमा, प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों से करवा पाएंगे इलाज

Punjabi Politics
पूरे देश में लगभग 10 करोड़ परिवारों को इस स्कीम का फायदा होगा। सोमवार को सेहत विभाग के सीनियर अफसरों की एक मीटिंग में हुई चर्चा में पंजाब के लगभग 14 लाख परिवार ऐसे हैं जिन्हें इस स्कीम का फायदा मिलने की संभावना है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर