News That Matters

श्रीलंका क्रिकेट का सीएफओ गिरफ्तार, वित्तीय धोखाधड़ी करने का है आरोप



कोलंबो. श्रीलंका के आपराधिक जांच विभाग ने 165,000 डॉलर (करीब एक करोड़ 22 लाख रुपए) की वित्तीय धोखाधड़ी करने के मामले में देश के क्रिकेट बोर्ड के मुख्य वित्त अधिकारी (सीएफओ) विमल नंदिका दिसानायके को गिरफ्तार कर लिया है।इस साल जुलाई-अगस्त में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुई घरेलू सीरीज में बोर्ड को मिलने वाली ब्रॉडकॉस्टिंग फीस (प्रसारण शुल्क) की कुछ रकम का हिसाब नहीं मिला था। माना जा रहा है कि यह कार्रवाई उसी सिलसिले में की गई है।

  1. इंग्लैंड के खिलाफ चल रही सीरीज में प्रसारण शुल्क में से 55 लाख डॉलर (करीब 41 करोड़ रुपए) के गबन की जांच शुरू होने के बाद यह जुलाई-अगस्त में हुई सीरीज में ब्रॉडकॉस्टिंग फीस के घपले का मामला सामने आया है।

  2. ब्रॉडकॉस्टर सोनी पिक्चर्स लिमिटेड ने इस मामले में हुई अनियमितता को उजागर करने में मदद की थी। उसने बोर्ड को बताया कि प्रसारण शुल्क को एक अपरिचित खाते में स्थानांतरित करने के लिए कहा गया था।

  3. दिसानायके ने 2017 में चंद्रमौली कोराले की जगह श्रीलंका के वित्त विभाग के प्रमुख का कार्यभार संभाला था। वे इंग्लैंड दौरे के प्रसारण शुल्क संबंधी शुरुआती आरोप सामने आने के समय बतौर सीएफओ काम कर रहे थे। तब उन्होंने दावा किया था कि उनका बैंक अकाउंट हैक किया गया है। हालांकि, बाद में जांच में उनका दावा गलत निकला।

  4. इसके बाद श्रीलंका क्रिकेट ने बोर्ड ने अपने बही-खातों पर नजर डालनी शुरू की। उसने वित्तीय भ्रष्टाचार होने के शक में अकाउंटिंग फर्म एर्नस्ट एंड यंग से 2013-2018 के लिए अपने ‘मीडिया प्रसारण अधिकार और रसीदों और भुगतान’ का ऑडिट कराया।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      श्रीलंकाई प्रशंसकों की नजर में क्रिकेट उनके लिए सिर्फ खेल ही नहीं, बल्कि एक धर्म है।

      Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *