News That Matters

प्रभु को जाने बिना दुखों से मुक्ति नहीं मिलती




लुधियाना। अखिल भारतीय सोहम महा मंडल वृंदावन की ओर से श्री शिव शक्ति मंदिर किदवई नगर में चल रहे विराट संत सम्मेलन के विश्राम के दिन प्रवचन करते हुए स्वामी सत्यानंद महाराज ने बुद्धि की जड़ता के बारे में बताते हुए कहा कि हम सांसारिक वस्तुओं की तरफ तो आकर्षित होते हैं और परमात्मा की ओर चलने की चेष्टा नहीं करते। यही बुद्धि की जड़ता है। प्रभु प्राप्ति के अनेकों मार्ग हैं। जैसे योग, भक्ति, ज्ञान,वैराग्य, जप, तप आदि। भगवान परम पवित्र हैं। परंतु संतो के बीच रह कर आपके मन के भाव बदल जाते हैं। इसलिए हमको छोटे बच्चों और युवाओं को सत्संग में लाना चाहिए। ताकि उनके मन में प्रभु भक्ति पैदा हो सके। स्वामी चैतन्य महाराज ने कहा कि परमात्मा वह है जिसमें कोई परिवर्तन नहीं होता। परमात्मा को जाने बिना दुखों से मुक्ति नहीं मिलती है। स्वामी शुकदेवानंद ने सात दिन के सत्संग की महिमा बताते हुए कहा कि यह गंगा सारी दुनिया को पवित्र करती है। स्वामी प्रीतम दास,स्वामी निगमानंद,स्वामी प्रज्ञानंद,ब्रह्मचारी जी ने मधुर भजनों द्वारा श्रद्धालुओं में ज्ञान की गंगा बहाई। समिति सदस्यों ने संतों का माल्यार्पण करके अभिनंदन किया। शिव शक्ति मंदिर कमेटी के प्रधान सुदर्शन गोसाईं,हरनारायण गर्ग, सुभाष माटा, रघुबीर बांंसल,नरेश बुद्धिराजा, विजय गर्ग, डॉ भोला, ज्ञानचंद आदि मौजूद रहे। महिला मंडल द्वारा भगवान की आरती कर सभा को विश्राम दिया गया।

अखिल भारतीय सोहम महा मंडल वृंदावन की ओर से श्री शिव शक्ति मंदिर किदवई नगर में संत सम्मेलन में भक्तों ने लगाई हाजिरी। फोटो : भास्कर

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Ludhiana News – without knowing the lord there is no salvation from sorrow

Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *