News That Matters

पब्लिसिटी वाॅर भेंट चढ़ गई जिंदगी




नगर निगम चुनाव को लेकर प्रत्याशियों का प्रचार जोर पकड़ता जा रहा है। प्रशास ने होर्डिंग व अन्य प्रचार तरीकों के लिए सभी को परमिशन और इनके स्पाट के लिए प्वाइंट तय करने जैसी कंडीशन लगा रखी है। बावजूद इसके प्रचार की ये दौड़ नहीं रुक रही। शहर में प्रचार की इस अंधी दौड़ में जनता कॉलोनी में एक युवक मंजीत की जान चली गई। एक किरयाणा दुकान की छत पर होर्डिंग लगाने के लिए चढ़ा मंजीत करंट की चपेट में आकर झुलस गया और उसकी मौत हो गई। मंजीत झज्जर जिले के गांव लकड़ियां का रहने वाला था। घटना मंगलवार दोपहर की है। शिवाजी कॉलोनी थाना पुलिस ने इस बारे में होर्डिंग पब्लिसिटी एजेंसी के ठेकेदार और निगम चुनाव में पार्षद पद की प्रत्याशी राजबाला भाटी पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस को इन दोनों के खिलाफ मंजीत के भाई संदीप ने बुधवार को शिकायत दर्ज कराई है। दरअसल पिछले कुछ दिनों से निगम के चुनाव प्रचार को लेकर प्रत्याशियों ने पूरी ताकत झोंक दी है। शहर की किसी कॉलोनी मोहल्ले की कोई ऐसी गली नहीं बची है जो इस समय चुनाव प्रचार के होर्डिंग-पोस्टरों से न अटी हो। दूसरी ओर निगम टीम हाईवे और शहर के ही कुछ रोड से ये प्रचार सामग्री हटवा कार्रवाई का दंभ भर रहा है।

निगम चुनाव प्रचार के होर्डिंग लगाने छत पर चढ़े ठेकेदार के कारिंदे की करंट लगने से मौत

ग्राउंड रिपोर्ट : नामांकन तक तो प्रशासन रहा चौकस अब हर गली-मोहल्ले होर्डिंग और पोस्टरों से अटे पड़े

नगर निगम प्रशासन की ओर से सार्वजनिक स्थानों पर प्रचार सामग्री लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई का फेल साबित हो रहा है। इसके लिए गठित की गई 3 टीमें नजर नहीं आ रही हैं, जबकि चौक-चौराहों और गलियों व मोहल्लों में मेयर व पार्षद पद के प्रत्याशियों के बीच बैनर पोस्टर लगाने की होड़ मची हुई है, जबकि नामांकन के लिए एनओसी लेने के दौरान ऐसे प्रत्याशियों से निगम ने लगभग डेढ़ लाख रुपए जुर्माने की वसूली की थी। साथ ही उनसे लिखवाकर लिया भी था कि दोबारा ऐसा पाए जाने पर संबंधित प्रत्याशी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। लेकिन अभी तक हालात जस के तस हैं।

दो दिन पहले ही आया था शहर में, चुनाव प्रचार में तलाशा रोजगार

संदीप के अनुसार मंगलवार दोपहर 11 बजे जनता कॉलोनी में उसका भाई मंजीत एक किरयाणा दुकान के ऊपर प्रत्याशी के प्रचार का होर्डिंग लगाने के लिए गया था। दुकान की छत के ऊपर से बिजली की तारें गुजर रहीं थी। जब मंजीत होर्डिंग लगा रहा था तो बिजली की तारों से होर्डिंग की लोहे की एंगल छू गई। करंट लगने पर वो छत पर ही बुरी तरह से झुलस गया। उसे अन्य लोग पीजीआई लेकर गए जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

भाई का आरोप : दो दिन से कर रहा था एक ही प्रत्याशी का प्रचार, इनकी भी गलती

मृतक के भाई संदीप ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि रोहतक नगर निगम चुनाव को लेकर दो दिन पहले उसका भाई मंजीत रोहतक में एक ठेकेदार के पास होर्डिंग पब्लिसिटी का काम करने पहुंचा था। दो दिन से वो ठेकेदार के मार्फत वार्ड 18 से चुनाव लड़ रही राजबाला भाटी के प्रचार का काम कर रहा था। संदीप का आरोप है कि पूरे मामले में होर्डिंग लगाने वाली एजेंसी के ठेकेदार और प्रत्याशी की लापरवाही है।

निगम का दावा : जहां अनुमति नहीं ली वहां से हटाएंगे

इधर नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर राकेश कुमार ने बताया कि सार्वजनिक स्थानों पर लगी प्रचार सामग्री उतरवाने के लिए कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी गई है। उन्हें तत्काल बिना अनुमति वाले स्थानों पर पाए गए बैनर व पोस्टर को उतारने का आदेश दिया गया है। नियम न मानने वाले प्रत्याशियों के खिलाफ

मेरा कोई रोल नहीं, करूंगा मदद निवर्तमान डिप्टी मेयर अशोक भाटी ने कहा कि होर्डिंग लगाते समय हुई मजदूर की मौत मामले से मेरा कोई लेना देना नहीं है। इसके लिए एक दुकानदार को ठेका दिया गया था। होर्डिंग लगवाना उसकी जिम्मेदारी थी। इसमें रंजिशन मेरा नाम घसीटा जा रहा है, ताकि चुनाव का माहौल बिगड़ सके। क्योंकि मेरी प|ी पार्षद पद का चुनाव लड़ रही है। हालांकि मैं मजदूर के पोस्टमार्टम व अंतिम संस्कार के समय स्वयं उपस्थित रहा हूं। इंसानियत के नाते मैं अपने स्तर से मदद भी करूंगा।

वजह : तब दावेदारों से एनओसी के नाम पर वसूलने थे लाखों रुपए, अब जुर्माना भी नहीं लगाया

इधर, सोशल मीडिया पर सख्ती

भड़काऊ पोस्ट शेयर करने वाले पर भी एफआईआर दर्ज करेगी पुलिस

नगर निगम चुनाव में किसी प्रकार का भड़काऊ भाषण, संदेश या जाति विशेष के बारे में सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वालों पर पुलिस एफअाईआर करवाएगी। इसके लिए अभी से निगरानी बढ़ा दी गई है। पुलिस प्रवक्ता शमशेर सिंह ने बताया कि नगर निगम चुनाव को देखते हुए पुलिस की खुफिया टीम शां‍ति पूर्वक चुनाव के लिए बाहरी और आपराधिक रिकार्ड वाले व्यक्तियों पर निगरानी कर रही है। सोशल मीडिया टीम नजर बनाए हुए है। किसी भी व्यक्ति की ओर से सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक व जाति विशेष के बारे में संदेश पोस्ट करने व कमेंट करने पर केस दर्ज किया जाएगा।

एक जान गंवाने के बाद प्रशासन अब आया एक्शन मोड में

निर्वाचन अधिकारी वीएस हुड्डा ने शहर की सड़कों व चौक चौराहों पर बिजली पोल पर लगे बैनर पोस्टर को तुरंत हटवाने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए बिजली निगम के एसई और हुडा विभाग के एक्सईएन बिजली की ड्यूटी लगाई गई है। उन्हें अतिशीघ्र कार्रवाई अमल में लाने को कहा गया है। वे बुधवार को हुडा विभाग कार्यालय में सहायक निर्वाचन अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Rohtak News – publicity war gifted life

Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *