News That Matters

राजस्थान के मुख्यमंत्री को मिलती है ये सुविधाएं, नाम घोषणा से पहले एक सुविधा का लाभ मिलना शुरू

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान में मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा करने में कांग्रेस असफल साबित हो रही है। जहां कल जयपुर में यह तय नहीं हो पाया तो आज दिल्ली में कोशिश की गई लेकिन कोई बात बनती नजर नहीं आ रही है। सोनिया गांधी से लेकर राहुल गांधी, एके एंटनी सहित कई बड़े दिग्गज इस मामले को सुलझालने में लगे है लेकिन बात नहीं बन रही है।

आखिरकार अशोक गहलोत के अनुभव को मिली तरजीह, राहुल ने लगाई राजस्थान के सीएम के नाम पर मुहर!

इधर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के समर्थकों का जयपुर में पिछले दो दिनों से जमावड़ा लगा हुआ है। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के साथ ही दोनों के आवास पर कार्यकर्ताआें की जबरदस्त भीड़ लगी हुई है।

इधर पुलिस प्रशासन भी भीड़ को देखते हुए मुस्तेद नजर आ रहा है। गहलोत के सिविल लाइंस और पायलट के जालूपुरा स्थित निवासों पर सुबह से ही बडी संख्या में समर्थकों का जुटना शुरू हो गया था ऐसे में पुलिस प्रशासन ने दोनों जगहों पर सुरक्षा बढ़ा दी है।

आखिरकार ऐसा क्या है जो मुख्यमंत्री बनने के लिए अड़े बैठे हैै अशोक गहलोत, ये बात आई सामने तो चौंक गए सब

दोनों नेताओं के समर्थकों को उम्मीद है कि मुख्यमंत्री पद के लिये उनके ही नेता के नाम की घोषणा की जायेगी। खबरों की माने तो जयपुर के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त नितिन बल्लगन ने बताया कि दोनों के निवास स्थानों पर बडी संख्या में समर्थकों की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के कडे बंदोबस्त किये गये हैं। स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिये अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

पुलिस को यह डर सता रहा है की दोनों में से किसी एक के नाम की घोषणा होने के बाद किसी एक नेता के समर्थक भड़क नहीं जाए और शहर में हालात खराब ना हो ऐसे में सुरक्षा ज्यादा बढ़ाई गई है।

Rajasthan-news – rajasthankhabre.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *