News That Matters

शर्मसार होती मानवता देखिए: दर्दनाक हादसे में महिला की स्पॉट पर मौत, इतना भयानक था ये हादसा कि जिंद बचे जख्मियों को 2 क्रेन और एक जेसीबी की मदद से निकाला बाहर



रोपड़ (पंजाब)।रविवार दोपहर 12.08 पर फिर टिप्पर को ओवरटेक कर रही स्विफ्ट डिजायर कार पर बजरी से भरा टिप्पर असंतुलित होकर पलट गया। कार में परिवार के तीन सदस्य थे जिनमें महिला की मौत हो गई। मृतका के साथ पिछली सीट पर बैठा बेटा गंभीर जख्मी हो गया। उसे सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां पर तैनात डॉक्टरों ने वरिंदर पाल सिंह को प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआई रेफर कर दिया। कार चला रहे मृतका के पति को मामूली चोटें लगीं। वहीं टिप्पर चालक मौके से फरार हो गया। मृतका की पहचान रजिंदर कौर (54), कार चालक सतपाल सिंह (58) और उसके बेटा वरिंदर पाल सिंह (19) के रूप में हुई है।

घटना के बाद वहां पर कोई मदद कर रहा था तो कुछ लोग वीडियो बनाने में लगे रहे। वहीं कुछ ने तो गहने चुरा लिए। जख्मियों को क्रेन व लोगों की मदद से पुलिस ने बाहर निकालकर एंबुलेंस में डाला तो घटनास्थल के नजदीक झुग्गी में रहने वाले लोगों ने गाड़ी में पड़े मृतका का मंगलसूत्र उठाकर ले जाने लगा तो ट्रैफिक पुलिस सिटी के इंचार्ज बलवीर सिंह ने उसे पकड़ लिया और उनसे मंगलसूत्र लेकर सिटी पुलिस के सुपुर्द कर दिया। वहीं मृतका के परिजनों ने कहा कि मृतका के कान में से एक झुमका और कड़ा गायब है।

दो क्रेन और जेसीबी से 40 मिनट के बाद जख्मी बाहर निकाले, टिप्पर चालक फरार
ट्रैफिक व सिटी पुलिस ने दो क्रेन व एक जेसीबी तथा लोगों के सहायता से करीब 40 मिनट के बाद कार में बुरी तरह से फंसे लोगों को निकालकर दो को बचा लिया। हादसे के बाद कार में फंसे वरिंदर पाल सिंह ने हौसला नहीं हारा और वह अपने परिवार व दोस्तों को फोन करता रहा कि उनकी कार पर टिप्पर पलट गया है। इसी कारण वह मौत को चकमा दे गया। हादसे वाली जगह से कुछ दूरी पर एक स्पेयर पार्ट्स की दुकान में लगे सीसी कैमरों में घटना कैद हो गई। सिटी पुलिस ने मृतक के परिजनों के बयानों पर मामला दर्ज कर पोस्टमार्टम के बाद लाश परिवार को दे दी।

करीब डेढ़ महीने पहले भी यहां पर हुआ था हादसा
दुकानदार व लोग हादसे की सूचना पुलिस को देकर कार में फंसे लोगों को निकालने में लग गए। वहीं घटना के बाद हाइवे पर दोनों तरफ जाम लग गया। बाद में सिटी व ट्रैफिक पुलिस ने दोनों वाहनों को वहां से हटाकर ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू बनाया। बता दें कि 7 दिसंबर को इसी जगह पर इनोवा कार चालक टिप्पर को पास करने की कोशिश कर रहा था कि टिप्पर असंतुलित होकर सामने से आ रही रोडवेज की बस के साथ टकराने के बाद पलटा और ओवरटेक कर रही इनोवा कार भी इसकी चपेट में आकर क्षतिग्रस्त हो गई थी।

भतीजे की मंगनी में लुधियाना जा रहे थे
कार चालक के छोटे भाई रविंदर सिंह ने बताया कि उसके बेटे की मंगनी के समागम में वह अलग-अलग कारों में अपने परिवारों के साथ लुधियाना जा रहे थे। जैसे ही वह लुधियाना के नजदीक पहुंचे तो उन्हें फोन पर खबर मिली कि उनके भाई सतपाल सिंह की गाड़ी का एक्सिडेंट हो गया और उसमें भाभी की मौत हो गई तथा भतीजा जख्मी हो गया जिसके बाद वह सिविल अस्पताल रोपड़ पहुंचे।

लोग बोले- सिग्नल लाइटें लगे तो कम होंगे हादसे
लोगों ने मांग की कि शार्टकट के चलते लुधियाना इसी रास्ते से जाते हैं इसलिए यहां लाइटें लगाई जाएं। वहीं पुलिस के मुताबिक लाइटें लगाने के लिए सड़क बनाने वाली कंपनी को पत्र लिखकर भेजा है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Punjab News Woman killed in accident

Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *