News That Matters

दूसरे सत्र का पहले दिन ही हंगामेदार रहा, विपक्षी सदस्यों ने की नारेबाजी



जयपुर। 15वीं विधानसभा के दूसरे सत्र का पहला दिन ही हंगामेदार रहा। विपक्षी सदस्यों ने गुर्जर आरक्षण और किसान कर्जमाफी के मुद्दे पर सरकार को घेरा। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के हनुमान बेनीवाल और बसपा के सदस्यों ने भी गुर्जरों को पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग करते हुए नारेबाजी की। विरोध कर रहे सदस्य वैल में पहुंच गए और सरकार विरोधी नारे लगाने लगे तथा वहीं धरने पर बैठ गए।

  1. दूसरी ओर भाजपा सदस्यों ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया।इन सदस्यों ने किसानों की संपूर्ण कर्जमाफी मामले में सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। इस शोर-शराबे की वजह से विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी।

  2. बेनीवाल ने गुर्जर आरक्षण का मुद्दा उठाया। बेनीवाल के साथ रालोपा की विधायक इंद्रा और बसपा के राजेंद्र सिंह गुढ़ा, जोगिन्दर सिंह अवाना सहित चार सदस्य भी आसन के आगे आ गए और गुर्जरों को आरक्षण के लिए दिल्ली सरकार को प्रस्ताव भेजने की मांग करने लगे। बसपा और रालोप के सदस्य आसन के आगे धरने पर बैठ गए। करीब आधा घंटा नारेबाजी और शोरगुल होता रहा और सदन की कार्यवाही भी चलती रही। इस पर विधानसभा अध्यक्ष ने एक बजे सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी।

  3. इससे पहले शून्यकाल में नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने किसानों का संपूर्ण कर्जमाफ करने की मांग करते हुए कहा कि किसानों के साथ यह धोखा है। कटारियाने सरकार से पूछा कि वह स्पष्ट कर दे कि सरकार कितने लाख किसानों का कितने करोड़ रुपए का कर्जा माफ करेगी।

  4. यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय पचास हजार रुपए किसानों के माफ करते समय यह नहीं बताया गया। इस पर विपक्षी सदस्यों ने इसका विरोध किया और किसानों के संपूर्ण कर्ज माफ को लेकर बोलने लगे। इसके बाद विपक्षी सदस्य आसन के आगे आकर नारेबाजी करने लगे। भाजपा सदस्यों ने कर्जमाफी धोखा है धोखा है किसानों का पूरा कर्जा माफ करो के नारे लगाते रहे।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      राजस्थान विधानसभा।

      Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *