News That Matters

12 फरवरीः एक क्लिक में पढ़े दिनभर की 5 बड़ी खबरें

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजाने के लिए पीएम मोदी इस तारीख को करने जा रहे है राजस्थान दौरा

इंटरनेट डेस्क।विधानसभा चुनावों के बाद अब सभी पार्टियां लोकसभा चुनावों की तैयारी में लग गई है। सभी पार्टियां लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए चुनावी मैदान में भरसक प्रयास करती नजर आ रही है। इसी बीच मीडिया से खबर आ रही हैं कि पीएम मोदी भी लोकसभा चुनावों की आचार संहिता लगने से पहले राजस्थान दौरे पर आने वाले है।

आपको बता दें कि हाल ही में मीडिया से जानकारी मिली है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 23 फरवरी को टोंक और 26 फरवरी को चूरू में बड़ी सभाओं को सम्बोधित करेंगे। वहीं, मीडिया से ये भी खबर मिल रही हैं कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जयपुर में तीन लोकसभा क्षेत्रों के बूथ स्तर के करीब चार हजार कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे और उन्हें संबोधित करेंगे।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहले 14 फरवरी को टोंक आने वाले थे। लेकिन किसी कारणवश पीएम मोदी के इस कार्यक्रम में कुछ बदलाव किया गया। आपको बता दें कि पीएम मोदी लोकसभा चुनावों से पहले प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के फेवर में माहौल बनाने की तैयारी कर रहे है। आपको बता दें कि 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के लिए कुछ खास नहीं रहा। क्योंकि भारतीय जनता पार्टी को तीन राज्यों में अपनी सत्ता से हाथ धोना पड़ा था।

सीएम अशोक गहलोत करने जा रहे कुछ ऐसा की जिसके बाद बुधवार को समाप्त हो जाएगा गुर्जर आंदोलन!

इंटरनेट डेस्क।गुर्जरों के बढ़ते आंदोलन को लेकर अब सरकार भी चिंतित नजर आ रही है। पिछले पांच दिनों से गुर्जरों ने दिल्ली मुंबई रेलवे ट्रैक को जाम कर रखा है ऐसे में लोगों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा जयपुर आगरा राजमार्ग सहित 10 हाइवे बाधित है जिसके चलते यात्री बसे और अन्य वाहनों का निकलना मुश्किल हो रहा है।

इधर गुर्जर आंदोलन को देखते हुए आज सीएम गहलोत ने अधिकारियों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक की हैं। इसके बाद शाम को 5 बजें सरकार की कैबिनेट बैठक हो सकती है जिसमे कोई निर्णय लिया जा सकता है। खबरों की माने तो कल गुर्जर आरक्षण के लिए विधानसभा में विधेयक रखा जा सकता हैं, इसके लिए प्रारूप को कैबिनेट में अनुमोदित किया जा सकता है।

वैसे सरकार के ही सूत्रों की माने तो उनका कहना है की बुधवार को गुर्जर आंदोलन पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है, जिसके बाद आंदोलन शायद समाप्त हो सकता है। इधर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लगातार गुर्जर समाज के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहे और उन्हें ट्रैक छोड़कर वार्ता करने के लिए आगे आने की बात कह रहे है।

इधर किरोड़ी बैंसला का कहना की गुर्जर उनके हक की लड़ाई लड़ रहे है और वो इस बार अपना हक लेके रहेंगे। सरकार को अपनी और से आरक्षण देने का मसौदा तैयार कर रैलवे ट्रैक पर ही आना होगा।

वैसे आपकों बता दें की प्रदेश के धौलपुर में रविवार को हुई हिंसा के बाद सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए है। इसके साथ ही धौलपुर, दौसा, सवाई माधोपुर, करौली,मलारना डूंगर और टोंक में धारा 144 लागू है।

फिल्म बागी 3 में एक बार फिर टाइगर के साथ नजर आएंगी श्रद्धा कपूर

बॉलीवुड डेस्क।बॉलीवुड में नए एक्शन अभिनेता के रूप में उभरे टाइगर श्रॉफ ने बॉलीवुड मे अपनी अच्छी खासी पहचान बना ली है बता दें की टाइगर श्रॉफ और दिशा पाटनी की फिल्म 'बागी 2' का दर्शको का अच्छा रेस्पोंस मिला था इस फिल्म में टाइगर श्रॉफ के एक्शन को लेकर लोगों में जबरदस्त क्रेज देखने को मिला था इसके बाद टाइगर श्रॉफ फिल्म 'बागी 3' बनाने जा रहे है जिसमें टाइगर श्रॉफ के साथ एक बार फिर दिशा पटानी की जगह श्रद्धा कपूर नजर आएंगी।

आपको बता दें की इससे पहले 2016 में आई फिल्म 'बागी में भी श्रद्धा कपूर और टाइगर श्रॉफ दोनों साथ नजर आए थे। लेकिन 2018 में आई 'बागी2 में टाइगर के साथ दिशा पटानी नजर आई थीं। हालही में इस फिल्म को लेकर श्रद्धा कपूर का एक बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि, '' बागी टीम के साथ वापसी को लेकर मैं काफी उत्साहित हूं। 'बागी में काम करने का अनुभव काफी यादगार रहा था और साजिद सर के साथ मेरी यह तीसरी फिल्म है, टाइगर के साथ दूसरी और अहमद सर के साथ पहली। पटकथा काफी दिलचस्प है और फिल्म का हिस्सा बनकर काफी खुश हूं।

आपको बता दें की इस फिल्म निर्देशन कोरियोग्राफर-फिल्मकार अहमद खान करेंगे 'बागी2 का निर्देशन भी खान ने किया था सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की इस फिल्म के लिए टाइगर ने सीरिया जाकर अपनी ट्रेनिंग की हैं बागी 3 की कहानी का बैकड्रॉप इस बार उसी क्षेत्र का बताया जा रहा है। इस फिल्म में टाइगर के अपोजिट श्रद्धा कपूर को लिया गया हैं। बताया जा रहा है की यह फिल्म छह मार्च 2020 को बड़े पर्दे पर दस्तक देने की संभावना है।

राष्ट्रीय चयनकर्ता प्रमुख प्रसाद ने धोनी के बारे में दे दिया ऐसा बयान कि प्रशंसकों को…

खेल डेस्क।राष्ट्रीय चयनकर्ता प्रमुख एमएसके प्रसाद ने अब इंग्लैंड में इसी साल होने वाले आगामी आईसीसी वनडे विश्व कप में पूर्व भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के खेलने को लेकर एक बड़ा बयान दिया है।पूर्व भारतीय विकेटकीपर और चयनकर्ता प्रमुख प्रसाद का मानना है कि धोनी अपनी हाल की फॉर्म और विशाल अनुभव के कारण विश्व कप में भारतीय टीम के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होंगे।

प्रसाद ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा कि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दौरे पर धोनी जिस तरह खेले हैं उससे यह साफ है कि उन्होंने अपना स्वाभाविक खेल खेलने का निर्णय कर लिया है। यह वहीं धोनी हैं जिन्हें हम जानते हैं। धोनी के बारे में प्रसाद ने यहां तक कह दिया कि एसएस धोनी के अंदर एक ताकत है जिसका वह अपनी बल्लेबाजी में उपयोग करते हैं। हमें उन्हीं पुराने माही की आवश्यकता है। हमें धोनी का पुराना टच दिखाई दे रहा है।

एमएसके प्रसाद कहा कि धोनी विश्व कप में उतरने से पहले इंडियन प्रीमियर लीग में खेलेंगे। उन्हें आईपीएल के दौरान अपनी ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड दौरे की फॉर्म को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी।

इससे पहले प्रसाद ने अजिक्या रहाणे, ऋभष पंत और विजय शंकर को विश्व कप के लिए भारतीय टीम में शामिल किए जाने को लेकर बयान दिया था। उन्होंने इन तीनों ही क्रिकेटरों को आगामी विश्व कप के लिए टीम में शामिल होने की दौड़ में बताया था।

राजस्थान में कोर्ट ने महज 12 दिन में दुष्कर्म के आरोपी को सुनाई ऐसी सजा, अपराध करने से पहले दस बार सोचेंगे…

इंटरनेट डेस्क।कहने वाले सही कहते है की कानून के हाथ बहुत लंबे होते है और जब वो किसी आरोपी कि गिरेबा तक पहुंचते है तो फिर उसे कोई नहीं बचा सकता है। चाहे फिर वो कोई भी क्यों ना हो।

ऐसा ही मामला सामने आया है राजस्थान के सीकर में जहां विशिष्ट न्यायालय ने बिना देर किए कार्रवाई करते हुए दुष्कर्म के आरोपी को सजा सुनाई है। जी हां मामला खाटूश्यामजी कस्बे का है जहां चार वर्षीय बालिका से दुष्कर्म के आरोपी को घटना के बारह दिन में ही न्यायालय ने फैसला सुनाते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई हैं।

खबरों की माने तो इसके लिए सोमवार रात आठ बजे तक न्यायालय खुला रहा और न्यायाधीश अनिल कौशिक ने फैसला सुनाते हुए आरोपी करण उर्फ कालू को आजीवन कारावास की सुनाई। आपकों बता दें की राज्य का यह पहला मामला है जिसकी पुलिस ने घटना के पांच दिन में ही जांच पूरी कर चार्जशीट पेश की और न्यायालय ने महज पांच कार्य दिवस में ही निस्तारण कर सजा सुना दी।

आपको जानकारी के लिए बता दें की आरोपी गुजरात के मोरबी जिले के हलवड थाना क्षेत्र का रहने वाला है और उसने 30 जनवरी को बच्ची को चाकलेट का लालच देकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था, इसी दौरान बच्ची के घर वालों ने आरोपी को रंगेहाथ अपराध करते हुए पकड़ा था।

Rajasthan-news – rajasthankhabre.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *