News That Matters

IT Engineers के गांव में चुनाव प्रचार का है अलग तरीका, ये है इकलौता संस्कृत भाषी गांव

इस गांव ने उस वक्त संस्कृत भाषी बनने का बीड़ा उठाया जब कुछ लोग संस्कृत को ब्राह्मणों की भाषा बताकर इसका विरोध कर रहे थे। यहां हर वर्ग और हर धर्म के लोग संस्कृत बोलते हैं।
Jagran Hindi News – news:national

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *