News That Matters

प्रॉपर्टी विवाद में बहू ने अपने भाई से करवा दी सास की हत्या, हथियारों के लिए भी दिए थे पैसे



फरीदाबाद। बल्लभगढ़ में व्यापारी पत्नी के हत्याकांड में क्राइम ब्रांच ने बड़ा खुलासा करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना की मुख्य सूत्रधार मृतक की बहू अभी फरार है। व्यापारी पत्नी की हत्या प्रॉपर्टी विवाद में हुई थी। प्रॉपर्टी को लेकर सास बहू में विवाद होता था। बहू सास से रंजिश रखने लगी थी। बहू ने साजिश रचकर अपने भाई और उसके दोस्तों से सास की हत्या करा दी। इसके लिए बहू ने हथियार खरीदने के लिए अपने भाई को 50 हजार रुपए भी दिए थे। इस बात का खुलासा पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने किया। वह गुरुवार को सेक्टर 21 पुलिस कमिश्नर कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे।

  1. बल्लभगढ़ के ब्राह्मण वाड़ा निवासी तेल कारोबारी भुवनेश की पत्नी शकुंतला की 12 जनवरी 2019 को गोली मार दी गई थी। घटना के वक्त वह सुबह दूध लेने पड़ोस के कॉलोनी में जा रही थी। आदर्श नगर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था।

  2. शकुंतला की 15 जनवरी को इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि मृतका शकुंतला की तेरहवीं के बाद भुवनेश के फोन पर 28 जनवरी को 50 लाख रुपए कि फिरौती की मांग भी की गई थी। जिस पर थाना शहर बल्लबगढ़ में फिरौती मांगने का मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने हत्यारों को का सुराग देने वालों को एक लाख रुपए इनाम देने की भी घोषणा की थी। पुलिस कमिश्नर ने इस घटना की जांच क्राइम ब्रांच डीएलएफ को सौंप दी थी।

  3. पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने बताया कि केस की प्रारंभिक जांच अंदरूनी पहलुओं पर की गई। जांच में ये बात सामने आई कि मृतका शकुंतला व बहू पूजा का आपसी लड़ाई झगड़ा रहता था। जिस कारण पूजा अपनी सास से रंजिश रखती थी। बहू को लगता था कि उसकी सास अपनी प्रॉपर्टी अपनी बेटी के नाम करने वाली है।

  4. इसी वजह से बहू का सास के साथ मनमुटाव चलता रहता था। पारिवारिक एंगल को ध्यान में रखते हुए मृतका की बहू और उसके परिवार को जांच में शामिल करने की कोशिश की गई। लेकिन आरोपी पूजा और उसका भाई नीरज कोई सहयोग नहीं कर रहे थे। इसके बाद नीरज के दोस्तों को भी जांच में शामिल किया गया।
    ससुर भुवनेश के शक जताने पर पुलिस नीरज व उसके दोस्तों से सख्ती पूछताछ करना शुरू किया। पूछताछ में खुलासा हुआ कि शकुंतला की हत्या नीरज ने अपने दोस्त अर्जुन के साथ मिलकर बहन पूजा के कहने पर की थी। पूजा ने ही अपनी सास को मरवाने के लिए 50 हजार रुपये भी दिए थे। उन्हीं पैसों से वारदात को अंजाम देने के पिस्टल व कारतूस खरीदे गये थे।

  5. पुलिस कमिश्नर ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरेापियों की पहचान गांव मलेरना बल्लभगढ़ निवासी पूजा का भाई नीरज, उसका दोस्त अर्जुन कुमार, भगत उर्फ भगतु और पलवल के गांव जटोला निवासी नीरज के रूप में हुई है।

  6. उक्त चारों आरोपियों को अदालत में पेश किया गया। जिसमें मुख्य आरोपी नीरज पुत्र दिनेश कुमार और उसके दोस्त अर्जुन कुमार को 4 दिन का पुलिस रिमांड पर लिया गया है। पुलिस रिमांड के दौरान वारदात में प्रयोग पिस्टल, मोटरसाइकिल बरामद करेगी। आरोपी भगत उर्फ भगतु और नीरज तंवर को नीमका जेल भेज दिया गया।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      पुलिस गिरफ्त में आरोपी।

      Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *