News That Matters

शातिर बदमाशों को पकड़ने के लिए हाईटेक हो रही दिल्ली पुलिस, हाई स्पीड वाहनों से की जाएगी बॉर्डर और हाईवे की निगरानी




दिल्ली पुलिस बॉर्डर, हाइवे और एयरपोर्ट पर बदमाशों को पकड़ने के लिए महज 6.28 सेकेंड में 100 की स्पीड से चलने वाली बाइक और मजबूती से स्पीड व खराब रास्ते में साथ देने वाली स्कॉर्पियो कार उतारने वाली है। 650 सीसी वाली इंटरसेप्टर बुलेट 170-180 की स्पीड से संतुलित दौड़ सकती है जबकि अभी जो बाइक है उसमें 100 किमी प्रतिघंटा की स्पीड पहुंचने पर बैलेंस नहीं बन पाता। दिल्ली पुलिस स्कॉर्पियो और 410 सीसी की एडवेंचर रॉयल एनफील्ड हिमालयन, 500 व 650 सीसी वाली रॉयल एनफील्ड इंटरस्पेटर बाइकें खरीद रही है। ये गाड़ियां और बाइकें पूरी तरह से हाईटेक होंगी। इनमें वायरलेस, मेडिकल किट, जीपीएस सिस्टम समेत अन्य अत्याधुनिक सुविधाएं होंगी। दिल्ली पुलिस के जन सूचना अधिकारी रसद व आपूर्ति के शरत कुमार सिन्हा ने बताया कि पहले चरण में 47 स्कॉर्पियो खरीदी जा रही हैं। इनमें 15 स्कॉर्पियो की डिलिवरी हो गई है। जबकि 16 स्कॉर्पियो लाइन में है। इनके अलावा 48 पावरफुल टु-वीलर का ऑर्डर दिया गया है। इनमें 410, 500 व 650 सीसी वाली बुलेट इंटरस्पेटर, रॉयल एनफील्ड शामिल है। ये गाड़ियां पहली बार दिल्ली पुलिस के लिए खरीदी जा रही हैं। इन्हें पूरी बारीकी से समझने के बाद ही खरीद का फैसला लिया गया है। बुलेट बाइकों का भी पहले ट्रायल लिया गया। देखा गया कि क्या ये गाड़ियां व बाइकें दिल्ली पुलिस के लिए कामयाब होंगी।

बाइक और गाड़ियों में वायरलेस, मेडिकल किट, जीपीएस सिस्टम समेत अन्य अत्याधुनिक सुविधाएं होंगी

बाइकों की कीमत

650 सीसी बाइक

20,6,135 रुपए

500 सीसी बाइक

17,5,967 रुपए

410 सीसी बाइक

1,58,010 रुपए

अभी हैं 160 से 180 सीसी की बाइक

इससे पहले दिल्ली पुलिस के पास टीवीएस, पल्सर और बुलेट कंपनी की बाइकें हैं, जो कम पावर 160 से 180 सीसी की बाइकें हैं। मौजूदा हालात व बदमाशों द्वारा हाई स्पीड के वाहनों के प्रयोग के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है।

बॉर्डर के इलाकों व हाइवे पर होंगी तैनात

डीसीपी शरद कुमार सिन्हा ने बताया कि खास यह है कि इन पावरफुल गाड़ियों को दिल्ली के भीड़-भाड़ वाले इलाकों में नहीं लगाया जाएगा। इन्हें बॉर्डर के इलाकों वाले हाइवे पर तैनात किया जाएगा। इनमें आईजीआई एयरपोर्ट रोड, महरौली, बदरपुर, सिंघु बॉर्डर, कापसहेड़ा, द्वारका, बवाना-नजफगढ़ और आनंद विहार व सीमापुरी बॉर्डर जैसे हाईवे शामिल हैं।

ज्यादातर गाड़ियां हुईं पुरानी| पुलिस अधिकारी के मुताबिक वर्तमान में दिल्ली पुलिस के पास जिप्सी, इनोवा, टवेरा और अन्य कंपनियों की गाड़ियां हैं। इनमें से अधिकतर पुरानी हो चुकी हैं। इन्हें चलाने वाले कुछ ड्राइवरों ने बताया कि 60-70 प्रति घंटे की स्पीड से अधिक भगाते हैं तो बैलेंस बिगड़ने लगता है। इन गाड़ियों से बदमाशों का पीछा नहीं किया जा सकता, जिससे बदमाश हाई स्पीड गाड़ियों से भागने में कामयाब हो जाते हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


New Delhi News – high speed vehicles high speed vehicles for catching vicious criminals high speed vehicles border and highway monitoring

Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *