News That Matters

विभिन्न समाजसेवी संगठनों से जुड़े युवाओं ने डीसी दफ्तर के समक्ष शुरू की भूख हड़ताल




गांव भगवानपुरा में बोरवेल में गिरे दो वर्षीय फतेहवीर को बचाने में नाकाम रही पंजाब सरकार व प्रशासन के खिलाफ विभिन्न संगठनों से जुड़े नौजवानों की ओर से डीसी दफ्तर के समक्ष भूख हड़ताल शुरू की गई। मांग की गई कि घटना की न्यायिक जांच कर जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए। चेतावनी दी कि यदि सरकार द्वारा जल्दी कानूनी कार्रवाई न की गई तो रविवार से कैबिनेट मंत्री विजयइंदर सिंगला की कोठी का घेराव कर धरना दिया जाएगा व चक्का जाम किया जाएगा।

प्रदर्शन को संबोधित करते हुए रणदीप सिंह दियोल ने कहा कि यदि सरकार चाहती तो फतेहवीर को बोरवेल से जीवित बाहर निकाला जा सकता था, परंतु प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही के कारण मासूम फतेहवीर की जान चली गई। इस कारण बच्चे की मौत के जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारी हैं, जिनके खिलाफ कत्ल का केस दर्ज होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि सरकार समय रहते तकनीक के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन करवाती तो फतेहवीर को बचाया जा सकता था। उन्होंने कहा कि अफसोस है कि प्रशासन कई दिन तजुर्बे ही करता रहा। दो वर्षीय मासूम फतेहवीर का पंजाब सरकार ने तकनीक की कमी के कारण कथित कत्ल किया है। उन्होंने कहा कि यदि पंजाब में जनता ही सुरक्षित नहीं है तो सीएम को कुर्सी पर रहने का कोई हक नहीं। उन्होंने मांग की कि घटनाक्रम की न्यायिक जांच कर जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई को अमल में लाया जाए। इस दौरान रणदीप दियोल, संत अतर सिंह सेवा क्लब के प्रधान राजवीर सिंह, ब्राह्मण सभा के प्रतिनिधि कोमलदीप जोशी, शक्तिमान स्पोर्ट्स क्लब के प्रतिनिधि खैहरा, समाजसेवी नवदीप सिंह भूख हड़ताल पर बैठे। इस मौके पर विक्रम सैनी, हरमन कौड़ा, पवन गर्ग, जोगी राम साहनी, सुखविंदर सिंह, नीरू तुली, लक्ष्मी देवी, अभी गौड, लवली शेरों, जीवन शर्मा आदि उपस्थित थे।

संगरूर में डीसी दफ्तर के समक्ष भूख हड़ताल में नारेबाजी करते लोग।

विधायक अमन अरोड़ा ने फतेहवीर के परिवार के साथ जताया शोक

सुनाम|आप विधायक अमन अरोड़ा की ओर से गांव भगवानपुरा में बोरवेल में गिर जिंदगी की जंग हारने वाले दो वर्षीय फतेहवीर के परिवार के साथ मुलाकात की गई। विधायक अमन अरोड़ा पिछले कुछ दिनों से परिवार को मिलने विदेश गए हुए थे। विधायक अमन अरोड़ा ने कहा कि यह काफी दुखदायक घटना है, जिसने उन्हें अंदर से झिंजोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि जरूरत है कि इस तरह की आपदा के साथ निपटने के लिए एक अच्छी तरह से लैस टास्क फोर्स बनाई जाए जो तकनीक के रूप में आधुनिक ढंग से जरूरी ऑपरेशन करने में माहिर हो। उन्होंने कहा कि पंजाब में करीब 14 लाख ट्यूबवेल हैं, जिनमें से बड़ी संख्या में पानी गहरा हो जाने के कारण हर वर्ष बंद हो जाते हैं। ऐसे में सरकार को सुचेत रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसी घटना से निपटने के लिए प्रभावी नीति बनानी चाहिए ताकि ऐसी घटनाएं दोबारा न घटें। इस मौके पर फतेहवीर के दादा रोही सिंह, मुकेश जुनैजा, हरप्रीत हंझरा आदि उपस्थित थे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Sangrur News – young people associated with various social welfare organizations started hunger strike before dc office


Sangrur News – young people associated with various social welfare organizations started hunger strike before dc office

Dainik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *