बालतोड़ का इलाज 100% बेस्ट बालतोड़ की दवा Baltod Ke Liye Allopathic Medicine – बालतोड़ की अंग्रेजी दवा, टेबलेट, कैप्सूल

हेलो दोस्तों आज हम फिर से लेकर आये है एक और आपकी हेल्थ से जुड़ा हुआ बहुत ही महत्तव पूर्ण आर्टिकल को लेकर और आज के इस आर्टिकल का विषय होने वाला है बालतोड़ की अंग्रेजी दवा, टेबलेट, कैप्सूल है या  भी नहीं अगर बालतोड़ की टेबलेट है तो उसका नाम क्या है उसका सेवन  कैसे करना है कोनसी कोनसी ऐसे कॉन्डीशन में आप ले सकते हो इसके आलावा आपको बालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज कोनसा है , ऐसे कोनसे घरेलू तरिके है जिस से बालतोड़ का इलाज हो सकता है इन सब की जानकारी आपको यही पर मिलने वाली है इसके आलावा आपको बालतोड़ के बारे में ही और जानकारी मिलने वाली है तो इस आर्टिकल को आप सुरु से अंत तक ध्यान से पढ़ लीजिए ।

बालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज | बालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज

तो आपको बताने की कोई जरूरत नहीं है की आखिर ये बालतोड़ क्या होता है फिर भी हम आपको बता देते है की ये बालतोड़ किसी को भी हो सकती है और ये कोई गंभीर रोग नहीं है जिस से आपको बहुत ही टेंशन हो तो ये बालतोड़ ये जिस हीस्सो में जयदा बाल होते है जैसे की हाथ पर , सिने पर , पैरो पर और कभी कभी तो जांघों के बीच में भी ये बालतोड़ हो सकता है जयदा कर के जब इन हिस्सों के जो बाल होते है जो जड़ से टूट जाते है जिस में कभी कभी नहाते वक्त , कपडे पहनते वक्त या फिर कभी कभी बहुत ही जयदा फिट कपडे पहन लेते है तब उसको निकलते समय गलती से बाल भी निकल आते है , मालिश करते करते भी जाने अनजाने में बाल ये निकल आ जाते है और उसके बाद वही जगह पर छोटी से गाठ जैसे देखने को मिल जाता है फिर कुछ वक्त के बाद वही गाठ की जगह पर एक फोड़ा देखने को मिल जाता है उसको ही आम भाषा में बालतोड़ बोलते है ।

बालतोड़ ये कितना जयदा दर्द वाला हो सकता है ये भी बताने की बात नहीं है बालतोड़ होने के बाद एक तरिके से पुरे शरीर पर ही असर होता है ऐसा लोग बोलते है । बालतोड़ में दर्द तो होता है पर उसके साथ साथ पुरे शरीर में अजीब सी बैचेनी भी होती है तो अगर आप ये आर्टिकल पढ़ रहे हो तो आप शयदा ऐसे ही दर्द से गुजर रहे होंगे ।

आपको बता देते है की बाजार में ऐसे कुछ दवा है जिसका सेवन करने से सच में फयदा होता है बालतोड़ सुखाने की टेबलेट भी है पर हर किसी के लिए असरदार नहीं होते है क्यू की कभी कभी लक्षण तो बालतोड़ के होते है पर वो कुछ और ही हो सकता है इसलिए आपको अभी ही बता देते है की ये आर्टिकल में जो भी बालतोड़ की टेबलेट का नाम या फिर बालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज करने से पहले आप अपने डॉक्टर से जांच करवा ले क्यू की छोटी बीमारी कब बड़ी हो जाये ये कोई बता नहीं सकता है इसलिए आप इंटरनेट या फिर यूट्यूब पर कोई भी आर्टिकल को पढ़ कर खुद से कोई भी इलाज मत कीजिये ।

बालतोड़ का इलाज और दवा

तो अभी हम आपको बता देते है की आखिर बालतोड़ का इलाज और दवा क्या है तो सब से पहले ये जान लेते है की आखिर ये किस का रोग है तो बालतोड़ भी एक तरिके से त्वचा का रोग है । पर इस में भी अगर आप आपने आप को साफ ही नहीं रखते हो तो ये बालतोड़ होने का चास बहुत जयदा होता है । अपने शरीर को साफ नहीं रखने से बालतोड़ क्या इससे भी जयदा खतरनाक बीमारी हो सकती है इसलिए आप अपने आप को मन से भी बहार से भी साफ रखिये ।

तो बालतोड़ का संक्रमण ये तभी बढ़ जाता है तब उसको बढ़ने के लिए शरीर से ही मदत मिलती है जिस में त्वचा के ऊपर अगर गन्दगी मिल जाये तो और भी ये संक्रंमण बढ़ने लग जाता है । तो बालतोड़ को पहचाना भी बहुत ही आसान है जिस में बालतोड़ का जो फोड़ा होता है जिस के साइड्स में लाल सफ़ेद पीला जैसा कलर आपको देखने को मिल जाता है और साइड्स में सूजन भी देखने को मिल जाती है । और कुछ समय के बाद संक्रमण बढ़ाने के बाद उस ही फोड़े में पस जो होता है वो भी भर जाता है और वही पस दर्द का कारन बन जाता है तो इसको भी आप घरेलू तरिके से भी ठीक कर सकते हो ।

बालतोड़ के कारण – Baltod Ke Karn in Hindi

तो अभी हम आपको बहुत ही आसान शब्दों में और जितना डिटेल में बताने की कोशिश कर देते है तो बालतोड़ के कारण ये आम तोर पर स्टेफिलोकोकस ऑरियस इस जीवाणु के कारण होता है । हमने ऊपर कहा था की जहा पर बाल होते है वह पर बालतोड़ हो सकता है जैसे की पैर पर , हाथो पर , इनके आलावा भी ये नाक में बी हो सकता है जी हां आपने सही सुना नाक के अंदर के जीवाणु के कारण ये भी हो सकता है ।

इसके आलावा भी कभी कभी डायबिटीज के कारण भी हो सकता है तो ये भी बात ध्यान रखने वाली है । जो लो जयदा केमिकल युक्त प्रोडूक का इस्तेमाल ज्याद करते है और जिनका शरीर ही अंदर से कमजोर होता है उनमे ये समस्या ये बहुत देखने को मिल जाती है ।

इसके आलावा भी और कारन हो सकते है वो आपको आपने डॉक्टर ही बात सकते है एक बार फिर से बता देते है की ये आर्टिकल सिर्फ अधिक जानकारी के लिए है इसका उपयोग आप अपने शरीर पर मत कीजिये ।

बालतोड़ का इलाज और दवा

1 एलोवेरा जूस

तो एलोवेरा जूस ये करीब करीब हर एक होम्योपैथिक इलाज में काम आता है । बहुत से लोगो को बालतोड़ के लिए क्रीम चाहिए होती है तो उस क्रीम के बजाए आप एलोवेरा जूस का इस्तेमाल कर के देख सकते हो । इसके लिए आप जितना हो सकता है उतना फ्रेश एलोवेरा ले लीजिए और अगर आपको कही पर नहीं मिलता तो आप बाजार में फेश एलोवेरा पल्प मिलता है उसको आप इस्तेमाल में ला सकते हो ।

तो एलोवेरा का जो रस होता है वो आपको निकाल लेना है और जहा पर बालतोड़ हुआ है वह पर लगा देना है अगर आप ऐसा ये फेश एलोवेरा का रस 3 से 4 बार लगा देते हो कुछ ही दिनों में आपको बालतोड़ कम हो रहा है ऐसा देखने को मिल जायेगा । तो ये एलोवेरा जूस लगाने के बाद बालतोड़ के साइड्स में जो सूजन और दर्द होता है वो भी कम होने लग जायेगा ।

2 हल्दी पेस्ट | बालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज

हल्दी को भी आयुर्वेद में अलग ही जगह है तो हल्दी में एंटीबैक्टीरियल तत्व होते है जिस के कारण हल्दी की पेस्ट ये बालतोड़ पर बहुत ही असरदार होती है तो इसलिए आपको 1 चम्मच हल्दी को लेना है और उसको अदरक को मिलाकर जो पेस्ट त्यार होती है  वो पेस्ट आपको जहा पर बालतोड़ हुआ है वह पर ये हल्दी अदरक वाली पेस्ट करीब 15 मिनिट ऐसे ही लगा कर आप छोड़ दीजिये और उसके बाद वो पेस्ट को नार्मल पानी से हलके पानी से धो लीजिये ।

3 लहसुन

लहसुन का भी इस्तेमाल बालतोड़ की दवा के रूप में कर सकते हो । लहसुन में पहले से ही एलिसन इस नाम का तत्व होता है जो की बालतोड़ जैसे संक्रमण के लिए बहुत ही असरदार होते है । तो इस उपाय के लिए आपको लहसुन की 3 से 4 कालिया लेनी है और उन कलियों को कैसे भी कूट कर उनका रस निकाल लेना है और वही रस को आपको जहा पर बालतोड़ हुआ है वह दिन में करीब 2 से 3 बार लगा दीजिये और हां जितनी बार भी लगा देते है उतनी बार आपको फेश रस निकाल लेना है और एक बात याद रखिये की रस लगाने के बाद आपको धोना नहीं है वैसा ही रस को सूखने देना है ।

4 टी ट्री ऑइल

टी ट्री ऑइल में एंटीबैक्टीरियल तत्व गन होता है जिस के कारण ये बालतोड़ को मिटाने के लिए असरदार होता है तो आपको कुछ जयदा नहीं करना है सिर्फ जहा पर बालतोड़ हुआ है वह पर ये एंटीबैक्टीरियल तत्व से भरा हुआ टी ट्री ऑइल लगा देना है ऐसा आपको दिन में 3 से 4 बार कर देना है आपको कुछ ही वक्त में दर्द और सूजन कम हो रही है ऐसा महसूस हो जायेगा ।

ये तेल होने के कारन आपको बता देते है की बजार में ऐसे नकली ब्रांड भी मजूद है अगर आप वो टी ट्री ऑइल लगा देते हो तो आपको तकलीफ जयदा हो सकती है तो आप बचकर रहिये ।

5 प्याज | बालतोड़ का होम्योपैथिक इलाज

आज तक आपने प्याज का इस्तेमाल ये बालो पर करते हुए देखा होगा पर प्याज ये बालतोड़ के लिए भी होता है जिस में आपको सब से पहले प्याज का एक टुकड़ा लेना है और उस टुकड़े को जहा पर बालतोड़ हुआ है वह लगा लेना है और उसको आपको किसी रस्सी से हलके से बाँध लेना है और ये आपको पुरे एक दिन तक कवर कर के रखना चाहिए और दिन के अंत होने तक जो बालतोड़ होने के कारण जो फोड़ा आया था वो अपने आप ही फुट जायेगा और अंदर की गन्दगी बहार आ जाएगी और आपको राहत मिल जाएगी ।

6 गर्म पानी

सब से आसान तरीका है बालतोड़ के इलाज का वो है गर्म पानी की सिकाई करना तो सब से पहले आपको साफ़ कपडा लेना ही होगा और बाद में थोड़ा सा गरम पानी कर के उसमे कपडे को भोगो के निचोड़कर उस कपडे को उस हिस्से पर हलके साथ से लगा लेना है इस से बालतोड़ की सूजन कम होगी ही और बालतोड़ भी कम होने लग जायेगा ।

7 नीम और हल्दी

तो हल्दी कितनी गुणकारी होती है वो हमने पहले ही आपको बता दिया था उसके साथ ही नीम भी उतनी ही गुणकारक होती है तो इसके लिए आपको नीम के कुछ पत्तो का रस निकाल लेना है और उसके बाद थोड़ी सी हल्दी में वो नीम का रस मिलकार अचे से घोल लेना है फिर वो नीम और हल्दी का लेप तैयार होगा वो आपको प्रभवित हिस्सों पर लगा देना है और लगा लेने के बाद जब वो पेस्ट सुख जाएगा फिर आपको वो थोड़े हलके पानी से धो लेना है और ऐसा ही आपको दिन में 2 से 3 बार कर लेना है नीम में भी एंटीफंगल, एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल तत्व होने के कारन बहुत जल्दी असर होता है बालतोड़ पर ।

बालतोड़ की दवा Boils Medicine| बालतोड़ सुखाने की टेबलेट

तो अभी इस हिस्से में हम आपको बालतोड़ सुखाने की टेबलेट , बालतोड़ की टेबलेट इस सब की जानकारी देने वाले है इस आपको क्रीम से लेकर गोलिया की जानकारी मिलने वाली है तो आपको बात देते है की ये दवा 2 से 3 में बालतोड़ का इलाज कर देती है । इस आर्टिकल में कोई भी दवा हो या फिर कोई भी घरेलू इलाज हो उसको करने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरुरी लेनी होगी । इस आर्टिकल में जो भी दवा और तरिके बताये है वो सिर्फ आपकी अधिक जानकारी के लिए है तो आप खुद से कोई भी दवा और तरिके का अपनी मर्जी से इस्तेमाल मत कीजिये ।

1. Flexon Tablet

2 Odoxil 500mg –

3 Aciloc RD –

ये ऐसे कुछ दवा है वो की baltod ka ilaj’ के लिए सब से बेस्ट माने जाते है तो हम एक के कर के इनका सेवन कैसे करना है वो बता देते है

1. Flexon Tablet  – इस दवा का इस्तेमाल करना ये बहुत ही आसान है और जयदा गोलिया भी नहीं लेनी है आपको सिर्फ 1 गोली सुबह खाने के बाद और एक गोली रात को खाने के बाद ऐसे एक दिन में 2 गोलिया लेनी है ऐसा आपको सिर्फ दो दिन तक करना है यानि आपको 4 गोलिया लेनी है 2 दिन में और अगर हम इस की कीमत देखते है तो 10 रूपये से कम में आपको ये सारे 4 गोलिया आपको मिल जाएगी ये आपको नजदीगी मेडिकल स्टोर और ऑनलाइन स्टोर पर भी आसानी से मिल जाएगी । हर दवा के जैसे इसके भी बहुत हलके फुल्के साइड इफ़ेक्ट है जो की आपको डॉक्टर आपको बात देंगे ।

2 Odoxil 500mg – ये जो दवा है इसका भी सेवन ऊपर जो दवा है उस जैसे ही करना है यानि की 2 दिन तक दिन में 2 Odoxil 500mg की गोलिया लेनी है यानि की इसके भी 4 गोलिया 2 दिन में लेनी होगी सुबह खाने के बाद और शाम को खाने के बाद 1 गोली लेनी होगी । और पहले दिन का ही डोज लेने के बाद आपको बालतोड़ का असर कम होने में रहत मिल जाएगी ।

और अगर हम इन दवा की कीमत देखते है तो 1 Odoxil 500mg की एक गोली 5 रूपये में मिल जाती है और ये  भी किसी भी केमिस्ट पर ऑनलाइन प्लेटफार्म जैसे अमेज़न पर आसानी से मिल जाते है ।

3 Aciloc RD –  ये Aciloc RD जो दवा है ये स्पेशल कंडीशन में ही लेनी होगी तो ये दवा उन लोगो के काम में आती है जिनको एसिडिटी होती है या फिर शरीर में गर्मी होती है और जिनको गभराहट जैसे समस्या होती है उन लोगो के लिए ये Aciloc RD दवा कमा में आती है और हर एक दवा की तरह इस को भी डॉक्टर की सलाह पर ही सेवन कीजिए ।

इन चीजों को करने से बचें

तो अभी हम आपको बहुत ही शार्ट में बता देते है की आपको आखिर क्या  नहीं करना होगा जिस से आपको तकलीफ ना हो और ये बालतोड़ जयदा फैले भी नहीं तो आपको निचे जो बता रहे है वैसे आपको सावधानी रखनी होगी ।

अगर आपको बालतोड़ हुआ है तो आप पानी में जाने से बचिए जी हां और अगर आप स्विमिंग करने का सोच रहे हो तो आप उस पानी में देख लीजिए की पानी साफ है या नहीं जैसे की हमने पहले ही कहा था की बालतोड़ जैसे समस्या ये ऐसे ही होती है । और इसके साथ साथ अगर आप पूल में जाते हो तो आप पूल से आने के बाद आप साफ पानी से नाहा लीजिये ।

स्किन में केमिकल प्रोडक्ट ये कम कीजिये क्यू की केमिकल ये हमारे शरीर पर विपरीत असर डालता है इसलिए जितना हो सकता है उतना केमिकल रहित प्रोडक्ट को ताल दीजिये ।

आप इतने तो समझदार तो हो पर बालतोड़ के होने पर उस जगह और उसके आस पास जखम सही होने तक वैक्स या फिर शेव मत कीजिए । बस यही कुछ ऍम बाते आपको ध्यान रखने की जरुरत है इसके आलावा आप भी अपने से ख्याल रखिये

तो ये थी फोड़े फुंसी की टेबलेट नाम , बालतोड़ की टेबलेट और बालतोड़ के रिलेटेड सारी जानकारी तो इस आर्टिकल का मकसद आपको थोड़ी बहुत कॉमन जानकारी देना ही है । तो इस आर्टिकल का उपयोग या फिर आर्टिकल में दी हुई मेडिसिन और उपचार खुद से बिना किसी डॉक्टर की सलाह के ना करे ।

Leave a Comment