News That Matters

Haryana

प्रवीन और निक्की बने जिला केसरी

प्रवीन और निक्की बने जिला केसरी

Haryana
रोहतक | जिला स्तरीय कुश्ती अखाड़ा पुरुष और महिला वर्ग में जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी सुखबीर सिंह की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। इसमें पुरुष वर्ग में प्रवीन व महिला वर्ग में निक्की को जिला केसरी और शीलक व सैफाली को जिला कुमार चुना गया। मुख्यातिथि उपनिदेशक खेल राजबीर सिंह व विशिष्टातिथि अशोक गर्ग, जिला खेल अधिकारी झज्जर सत्यदेव मलिक रहे। जिला खेल प्रशिक्षक रणबीर सिंह, मंदीप , बिजेंद्र, अशोक ढाका, प्रदीप गुलिया व नीतू आदि ने सहयोग किया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Rohtak News - haryana news praveen and nikki district district kesari Dainik Bhaskar
शराब लेने आया युवक गल्ले से 2500 रुपए व बाेतल चोरी कर ले गया

शराब लेने आया युवक गल्ले से 2500 रुपए व बाेतल चोरी कर ले गया

Haryana
नामुंडा गांव नहर पुल पर स्थित शराब के ठेके से गल्ले से 2500 रुपए व शराब की बाेतल चाेरी कर लिए गए। मामले की सेल्समेन ने पुलिस में शिकायत दी है। ढोढपुर गांव के विनाेद ने पुलिस बयान में बताया कि वह गांव खलीला के अजीत ठेकेदार के शराब के ठेके पर सेल्समेन है। दाे युवक कार से ठेके पर आए एक युवक शराब लेने अाया। उसकाे एक बाेतल शराब देने लगा ताे वह गेट खाेलकर अंदर अा गया अाैर शराब की पेटी के बारे में रेट पूछने लगा। ठेकेदार से फोन पर बात की अाैर पेटी उठाने के लिए चला गया। युवक काे ठेके से बाहर निकाल दिया था। वापस आए तो गल्ले से ढाई हजार रुपए की नकदी व शराब की बाेतल गायब मिली। पीड़ित सेल्समेन ने पुलिस को मामले की शिकायत दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
रेवाड़ी-महेंद्रगढ़ रोड पर बस और कार की आमने-सामने टक्कर, 1 की मौत, मशक्कत से बाहर निकाली डेडबॉडी

रेवाड़ी-महेंद्रगढ़ रोड पर बस और कार की आमने-सामने टक्कर, 1 की मौत, मशक्कत से बाहर निकाली डेडबॉडी

Haryana
रेवाड़ी। रेवाड़ी में महेंद्रगढ़ रोड पर गांव जाड़रा के पास प्राइवेट बस और ऑल्टो कार की जबरदस्त भिड़ंत हो गई। टक्कर लगने से कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में कार चालक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दो अन्य घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए रेवाड़ी ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। वहीं कार से टक्कर के बाद बस अनियंत्रित होकर रोड से नीचे गड्‌ढ़े में उतर गई। कुछ सवारियों को मामूली चोटें आई हैं।धारूहेड़ा के सेक्टर-4 निवासी 52 वर्षीय राजेंद्र सिंह उर्फ राजू ने कस्बा के भगत सिंह चौक पर हार्डवेयर की दुकान की हुई थी। रविवार को राजेंद्र ऑल्टो कार में सवार होकर किसी काम से कनीना जा रहा था। कार में राजेंद्र के साथ दो व्यक्ति बास रोड निवासी जितेंद्र व जसवंत भी सवार थे। कनीना जाते समय गांव जाडरा के पास सामने से आ रही सवारियों से भरी निजी बस से कार की जोरदार ट
मातृ-दिवस समाराेह में बच्चाें ने दिखाई प्रतिभा

मातृ-दिवस समाराेह में बच्चाें ने दिखाई प्रतिभा

Haryana
समालखा| अाशादीप अादर्श उच्च विद्यालय करहंस में मातृ-दिवस समाराेह का अायाेजन किया गया। समराेह में मुख्यातिथि डिप्टी जिला शिक्षा अधिकारी सराेजबाला व अधिवक्ता पूनम रहीं। सांस्कृतिक कायर्क्रम की प्रस्तुति दी। बच्चों ने अपनी प्रतिभा दिखाई। बच्चाें ने देशभक्ति गीताें की शानदार प्रस्तुति दी। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
कांग्रेस प्रभारी पूछ रहे प्रदेश में किसे बनाएं चेहरा, जबकि 4 साल से जिला-ब्लॉक कार्यकारिणी भंग

कांग्रेस प्रभारी पूछ रहे प्रदेश में किसे बनाएं चेहरा, जबकि 4 साल से जिला-ब्लॉक कार्यकारिणी भंग

Haryana
चंडीगढ़ (मनोज कुमार)। लोकसभा-विधानसभा चुनाव नजदीक आने के साथ हरियाणा कांग्रेस के नए बने प्रभारी गुलाम नबी आजाद प्रदेश के बड़े नेताओं से वन-टू-वन पूछ रहे हैं कि किसे चुनावी चेहरा बनाया जाए। जबकि कांग्रेस पिछले चार साल से ज्यादा समय से प्रदेश में जिला और ब्लॉक कार्यकारिणी का गठन तक नहीं कर पाई।हरियाणा प्रभारी से मिलने के लिए शनिवार को रणदीप सुरजेवाला, किरण चौधरी, कुलदीप बिश्नोई और रेणुका बिश्नोई को छोड़कर बाकी सभी हुड्‌डा समर्थक 12 विधायकों ने मुलाकात की। इससे पहले उन्होंने हुड्‌डा आवास पर बैठक भी की। 12 विधायकों ने आजाद से पूर्व सीएम हुड्‌डा को सीएम चेहरा घोषित करने की मांग की है। हालांकि ये विधायक पहले भी ऐसी मांग करते रहे हैं।प्रभारी गुलाम नबी अभी प्रदेश के नेताओं की नब्ज टटोलने में लगे हैं। वे अपने आवास पर प्रदेश के एमपी, एमएलए से लेकर पूर्व एमएएल और पिछले चुनाव में प्र
माता-पिता की पूजा सबसे बड़ी पूजा : आर्य

माता-पिता की पूजा सबसे बड़ी पूजा : आर्य

Haryana
समालखा | आशादीप स्कूल के प्रबंधक डॉ. देवेंद्र आर्य और नीरज आर्य ने शनिवार को स्कूल में मातृ-पितृ दिवस समारोह का आयोजन किया। जिसमें शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। आर्य ने कहा कि जिस घर में माता-पिता हंसते रहते हैं उसी घर में भगवान बसते हैं। इनकी सबसे बड़ी पूजा मानी जाती है। इस अवसर पर शशि बाला, सुमित कुमार, पल्लवी खन्ना, अनीता यादव, सोनिया मौजूद रहीं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
लोगों की सहभागिता से प्रदेश का लिंगानुपात 914 तक पहुंचा : जैन

लोगों की सहभागिता से प्रदेश का लिंगानुपात 914 तक पहुंचा : जैन

Haryana
पाइट कॉलेज में महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से शनिवार को बालिका दिवस व बालिका सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इसमें मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन रहीं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने बेटियों के लिए चलाई गई योजनाओं के माध्यम से सुखद वातावरण देने के लिए जो संकल्प लिया है, उसे आप और हम मिलकर पूरा करें ताकि महिला सशक्तिकरण के सपने को साकार किया जा सके। उन्होंने कार्यक्रम में पोक्सो एक्ट का कैलेंडर और बुकलेट के विमोचन के साथ महिला हेल्पलाइन 181 नंबर की भी शुरूआत की। ये नंबर महिलाओं की पुलिस संबंधित शिकायतों के साथ अन्य घरेलू शिकायतों के समाधान को लेकर भी कारगर साबित होगा। अभी तक इस पर 100 से ज्यादा शिकायतें आ चुकी हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने पानीपत की धरती से ही बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान शुरू किया और आज उसका असर इस रूप में देखने को म
3 साल पहले दिल के रोग ने जकड़ा तो अंग्रेजी दवा के बजाय मधुमक्खी के जहर से कर लिया इलाज

3 साल पहले दिल के रोग ने जकड़ा तो अंग्रेजी दवा के बजाय मधुमक्खी के जहर से कर लिया इलाज

Haryana
जहरीली खेती न करें किसान, जैविक खेती है जीवन प्रदायक।पानीपत। जिले के गांव बुडशाम के किसान बलबीर सिंह जैविक खेती को समर्पित हैं। वे और उनके भाई रणजीत सिंह पिछले 15 वर्षों से जैविक खेती के प्रचार-प्रसार को समर्पित हैं। स्वयं जैविक खेती करने वाले दोनों भाई अन्य किसानों को भी जैविक खेती करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।बलबीर सिंह के पिता व दादा परंपरागत खेती करते आ रहे थे, जिसमें वे कीटनाशकों का प्रयोग धड़ल्ले से करते थे, लेकिन बलबीर सिंह ने प्रयोग के तौर पर जैविक खेती की ओर कदम बढ़ाया तो फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने कहा कि जैविक खेती की सब्जी, फसलों व फलों के स्वाद का अलग ही मजा आया। उन्हें कीटनाशकों वाली फसलों व जैविक खेती की फसल के बीच का अंतर समझते देर नहीं लगी। बस फिर क्या उन्होंने कीटनाशकों को अलविदा कह दिया। बलबीर के मुताबिक वे सिर्फ गोमूत्र व गाय के गोबर से
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 25 किसानों को 1 लाख रुपए राशि के साथ दिया कृषि रत्न पुरस्कार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 25 किसानों को 1 लाख रुपए राशि के साथ दिया कृषि रत्न पुरस्कार

Haryana
गन्नौर (सोनीपत)। अंतरराष्ट्रीय बागवानी मंडी में चल रही एग्री लीडरशिप समिट के अंतिम दिन रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे। राष्ट्रपति का सम्मान करने के लिए राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर समेत मंत्री, विधायक और सांसद पहुंचे। यहां पहुंचे राष्ट्रपति ने 25 किसानों को कृषि रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया।यहां पहुंचे राष्ट्रपति ने सबसे पहले अंतरराष्ट्रीय बागवानी प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इसके बाद वे मंच पर पहुंचे, जहां राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने शॉल भेंटकर उनका अभिनंदन किया। सीएम मनोहर लाल खट्टर ने राष्ट्रपति को पगड़ी पहनाकर स्वागत किया।यहां कृषि एवं किसान कल्याण विभाग ने हरियाणा की उपलब्धियों को दर्शाते हुए डॉक्यूमेंट्री फिल्म का प्रसारण किया। राष्ट्रपति ने मंच से डिजिटल किसान एप को लॉन्च किया और 25 किसानों को हरियाण
3 साल पहले दिल के रोग ने जकड़ा तो अंग्रेजी दवा के बजाय मधुमक्खी के जहर से कर लिया इलाज

3 साल पहले दिल के रोग ने जकड़ा तो अंग्रेजी दवा के बजाय मधुमक्खी के जहर से कर लिया इलाज

Haryana
गन्नौर। पानीपत जिले के गांव बुडशाम के किसान बलबीर सिंह जैविक खेती को समर्पित हैं। वे और उनके भाई रणजीत सिंह पिछले 15 वर्षों से जैविक खेती के प्रचार-प्रसार को समर्पित हैं। स्वयं जैविक खेती करने वाले दोनों भाई अन्य किसानों को भी जैविक खेती करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।करीब तीन वर्ष पूर्व बलबीर सिंह को हृदय रोग की समस्या ने जकड़ लिया, जिस पर उन्होंने अंग्रेजी दवाओं का सहारा नहीं लिया। अपितु उन्होंने मधुमक्खी के विष को दवा के रूप में प्रयोग किया। वे कहते हैं कि मधुमक्खी का विष कैंसर समेत दिल की बीमारियों में दवा का काम करता है। इसलिए उन्होंने मधुमक्खी पालन की शुरुआत की, जिससे उन्हें बीमारी के उपचार के साथ कमाई के लिए शहद मिला।वे दावा करते हैं कि मक्खियों के काटने से शरीर में जाने वाले विष से उन्हें दिल की बीमारी में राहत मिली है। आज वे जैविक शहद का उत्पादन बड़े स्तर प