News That Matters

Punjabi Politics

Punjabi Politics, Political News

नौवीं ब्रह्म ज्योति शोभा यात्रा में दिखाई जाएंगी ऐतिहासिक झांकियां

नौवीं ब्रह्म ज्योति शोभा यात्रा में दिखाई जाएंगी ऐतिहासिक झांकियां

Punjabi Politics
भारतीय वाल्मीकि धर्म समाज की तरफ से भगवान वाल्मीकि महाराज जी के प्रगट दिवस के उपलक्ष्य में नौंवी ब्रह्म ज्योति विशाल शोभा यात्रा सोमवार को निकाली जाएगी। शनिवार को उपकार नगर में प्रेस कान्फ्रेंस में इसके लिए प्रचार सामग्री रिलीज करते हुए भावाधस के राष्ट्रीय सर्वोच्च निर्देशक वीर शिरोमणि अश्विनी सहोता ने बताया कि यह शोभा यात्रा सुबह 9 बजे छावनी मोहल्ले से निकाली जाएगी। जिसमें भावाधस के राष्ट्रीय मुख्य सर्वोच्च निर्देशक परम पूज्यनीय धर्म गुरु डाॅ. देव सिंह अद्वैती जी महाराज भी शामिल होंगे। शोभा यात्रा की शुरूआत सांसद रवनीत सिंह बिट्‌टू, केबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु और मेयर बलकार संधू करेंगे। इस शोभा यात्रा में हिस्सा लेने के लिए निगम कमिश्नर कंवलप्रीत बराड़ मुलाजिमों को सोमवार की आधे दिन की छुट्‌टी दे चुकी हैं। इस मौके विजय मानव, इंद्रपाल चौहान, डाॅ. डीपी खोसला, विक्की सहोत
रेलवे ट्रैक पर विरोध कर रहे लोगों को हटाने पहुंची पुलिस पर पथराव, मौत के आंकड़ों में गड़बड़ी का आरोप

रेलवे ट्रैक पर विरोध कर रहे लोगों को हटाने पहुंची पुलिस पर पथराव, मौत के आंकड़ों में गड़बड़ी का आरोप

Punjabi Politics
अमृतसर. रविवार को अमृतसर के जोड़ा फाटक परट्रैक को जाम करकेप्रदर्शन कर रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। घटना में एक पुलिसकर्मी और एक मीडियाकर्मी को चोट आई हैं। इसके बाद पुलिस ने लाठी पटककर लोगों को वहां से खदेड़ा।दरअसल, शुक्रवार को हादसे में मारे गएमृतकों के परिजन यहांविरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका आरोप है कि प्रशासनिक स्तर पर उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। साथ ही, परिजनों ने पुलिस परहादसे मेंमारे गए लोगों केआंकड़ों में गड़बड़ी का भीआरोप लगाया है।रेलवे अधिकारियों ने बताया कि इस ट्रैक सेट्रेन गुजरनी हैं। इसके लिए सुरक्षाबलों ने प्रदर्शन कर रहे लोगों से वहां से हटने के लिए कहा। लेकिन, उनकी बात सुनने के बजाए लोग बिफर गए और पथराव कर दिया। ट्रैक से एक मालगाड़ी और एक फिर एक एक्सप्रेस ट्रेन गुजारा जाना है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमृतसर हादसे में ‘रावण’ की मौत पर बोले दोस्त- ‘लंकेश’ कहकर चिढ़ाते थे उसे, लेकिन वो जो कर गया उसे भुला नहीं पाएंगे, हमारा हीरो है वो

अमृतसर हादसे में ‘रावण’ की मौत पर बोले दोस्त- ‘लंकेश’ कहकर चिढ़ाते थे उसे, लेकिन वो जो कर गया उसे भुला नहीं पाएंगे, हमारा हीरो है वो

Punjabi Politics
अमृतसर. जोड़ा फाटक पर रावण दहन के वक्त हुए रेल हादसे में रामलीला में 'रावण' बने 32 वर्षीय दलबीर सिंह भी नहीं रहे। लेकिन मौत से पहले 8 जिंदगियां बचाकर वो लोगों के दिलों में अमर हो गए हैं। उनके एक पड़ोसी कृष्णलाल ने कहा, 'हम अकसर लंकेश कहकर उसे चिढ़ाते थे। लेकिन शुक्रवार की शाम उसने जो किया, उसे हम भुला नहीं पाएंगे। वो हमारा हीरो है।' इस हादसे में 59 लोगों की मौत हुई है, जबकि दर्जनों घायल हुए हैं। उनमें से कइयों की हालत नाजुक बताई जा रही है।'मैंने उसे रोते हुए देखा...'- रेल हादसे के वक्त दलबीर का एक दोस्त राजेश मौके से कुछ ही मीटर की दूरी खड़ा होकर रावण दहन देख रहा था।- घटना को याद करते हुए उसने बताया 'मैंने दलबीर को रोते हुए देखा था। उसने भागकर कम से कम ट्रैक पर खड़े 8 लोगों को धकेलकर उन्हें बचाया था। लेकिन खुद को ट्रेन के नीचे आने से नहीं बचा
अमृतसर रेल हादसे के बाद धूरी लाइन पर सजी दुकानें और मंडियाें पर एक्शन लेने की तैयारी में रेलवे महकमा

अमृतसर रेल हादसे के बाद धूरी लाइन पर सजी दुकानें और मंडियाें पर एक्शन लेने की तैयारी में रेलवे महकमा

Punjabi Politics
धूरी रेलवे लाइनों के नजदीक रोजाना सज रही सब्जी मंडी, दुकानों और हर साल लग रहे दशहरा को लेकर रेलवे अब एक्शन के मूड में दिखाई दे रही है। लेकिन ये एक्शन किसकी तरफ से लिया जाना है, इसके बारे में असमंजस सा बना हुआ है। स्टेशन डायरेक्टर का कहना है कि उन्होंने आरपीएफ को मौके पर जाकर चैक करते हुए रिपोर्ट बनाने के आदेश दिए हैं। जबकि रेलवे के इंजीनियरिंग महकमे के एडीईन (असिस्टेंट डिवीजनल इंजीनियर) ने का तो यह कहना है कि उन्हें धूरी लाइन पर होने वाले दशहरा पर्व के बारे में पता ही नहीं है। इसके बारे में वह चैक करवाएंगे। कुल मिलाकर लुधियाना धूरी लाइन पर हुई इंक्रोचमेंट और हो रहे कार्यक्रमों पर किसने कैसे एक्शन लेना है, यह आपस में महकमों की उलझन बना हुआ है। शनिवार को भी भास्कर ने धूरी रेलवे लाइनें पर सजी मंडी और वहां से गुजरी शताब्दी एक्सप्रेस की देखा। ट्रेन से मात्र की दूरी पर ही मंड
सांझी शोभायात्रा में शामिल होगी भावाधस, 28 का कार्यक्रम रद्द

सांझी शोभायात्रा में शामिल होगी भावाधस, 28 का कार्यक्रम रद्द

Punjabi Politics
लुधियाना। भारतीय वाल्मीकि धर्म समाज (भावाधस) के मुख्य संचालक नरेश धींगान ने 28 अक्टूबर को गुरू नानक भवन में होने वाला राज्य स्तरीय विशाल समागम रद्द करते हुए सांसद रवनीत सिंह बिट्टू की अगवाई में निकाली जा रही सांझी शोभायात्रा में शामिल होने की घोषणा की है। धींगान ने बताया कि सांसद बिट्टू, कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशू व विधायक सुरिंदर डाबर की अपील पर संगठन ने यह फैसला लिया। उन्होंने कहा कि सांसद रवनीत बिट्टू की पहल पर वाल्मीकि समाज से जुड़े सभी संगठनों द्वारा 22 अक्टूबर को दरेसी मैदान से सांझी शोभायात्रा निकाली जानी है। इसके पीछे अलग-अलग गुटों व संगठनों में बंटे वाल्मीकि समाज को एक करने की कोशिश की जा रही है। इसी कारण उन्होंने सामाजिक एकता को पहल देते हुए 28 अक्टूबर को गुरू नानक भवन में कराया जाने वाला राज्य स्तरीय विशाल समागम रद कर दिया है। ताकि सांझी शोभायात्रा में ही भ
अमृतसर ट्रेन हादसा : मृतकों की आत्मिक शांति, घायलों के सेहतमंद होने की कामना

अमृतसर ट्रेन हादसा : मृतकों की आत्मिक शांति, घायलों के सेहतमंद होने की कामना

Punjabi Politics
अमृतसर में हुए ट्रेन हादसे के बाद लोगों ने जगह-जगह कैंडल मार्च निकालकर श्रद्धांजलि अर्पित की। भाजपा जिला कमेटी ने रेल की चपेट में आने से मरने वाले लोगों व घायलों के प्रति गहरा दुख जताया है। यूथ अकाली दल ने अमृतसर में दशहरा मेले के दौरान ट्रेन हादसे में मारे गए बेकसूर लोगो की आत्मिक शांति के लिए कैंडल मार्च का आयोजन कर श्रद्धसुमन अर्पित किए। लुधियाना फर्स्ट क्लब जामा मस्जिद राष्ट्र सेविका समिति ने स्थापना दिवस पर किया पथ संचलन रेल दुर्घटना में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी लुधियाना. स्थापना दिवस पर राष्ट्र सेविका समिति ने पथ संचलन और शस्त्र-शास्त्र पूजन का आयोजन शनिवार को किया। सर्वप्रथम अमृतसर में रेल दुर्घटना के दौरान मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी गई। इसी वजह से पथ संचलन भी बिना घोष के सीधे-साधे ढंग से संपन्न किया गया। पथ संचलन हैबोवाल जस्सियां रोड स्थित राइजिंग
शादी की सालगिरह मनाने मम्मी-पापा के पास गई थी बेटी, मेला देखने पहुंची और एक धक्का लगा तो ट्रैक पर गिर गए मां-बेटी

शादी की सालगिरह मनाने मम्मी-पापा के पास गई थी बेटी, मेला देखने पहुंची और एक धक्का लगा तो ट्रैक पर गिर गए मां-बेटी

Punjabi Politics
फगवाड़ा (पंजाब)।दशहरा उत्सव पर अमृतसर में हुए दिल दहला देने वाले हादसे में फगवाड़ा के गांव के भुल्लाराई की एक महिला और उसकी डेढ़ साल की बेटी की मौत हो गई। उसकी पहचान रजनी पत्नी गगनदीप और उसकी डेढ़ साल की बेटी नवनूर के रूप में हुई है। महिला और उसकी बेटी का शव दोपहर को उनके गांव लाया गया। मृतक के पति गगन ने बताया कि उसकी 6 साल पहले शादी हुई थी। वह अपनी पत्नी तथा दो बच्चियों के साथ अमृतसर गए थे। दशहरे के बाद 21 अक्टूबर को उनकी शादी की सालगिरह है, जो उन्होंने अमृतसर में मनानी थी लेकिन सालगिरह से एक दिन पहले ही मातम का माहौल बन गया।हादसे में पति बचा, लेकिन पत्नी और बेटी की हो गई मौतगगन ने बताया कि रावण दहन के बाद जब रेलवे लाइनों से एक ट्रेन गुजरी तो वह ट्रैक से एक साइड में खड़े थे। ट्रेन की रफ्तार के कारण हादसे का शिकार हुए व्यक्तियों कि तेजी से धक्का लगने से उसकी पत्नी रजनी ज
सुबह से शाम तक जलती रहीं चिताएं…. एक साथ 20 से ज्यादा हुए दाह संस्कार, श्मशान में लकड़ियां भी पड़ गईं कम

सुबह से शाम तक जलती रहीं चिताएं…. एक साथ 20 से ज्यादा हुए दाह संस्कार, श्मशान में लकड़ियां भी पड़ गईं कम

Punjabi Politics
अमृतसर।अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल के माइनर ऑर्थो ऑपरेशन थिएटर में हादसे में मारे गए लोगों के शव रखे गए थे। रात से ही लोग अपनों की शिनाख्त के लिए पहुंच रहे थे। जैसे-जैसे शवों की शिनाख्त होती गई, उन्हें पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाता रहा। शनिवार देर रात तक 59 शवों में से सिर्फ एक की पहचान नहीं हो सकी। डॉक्टरों ने बताया कि हादसे में जख्मी करीब 150 लोगों में से 40 की हालत गंभीर है। इस दौरान सरकार और प्रशासन की संवेदनहीनता भी देखने को मिली। सीएम अमरिंदर सिंह के अस्पताल आने तक इमरजेंसी के दरवाजे बंद रखे गए। जब सीएम पहुंचे तो पीड़ितों के घर वालों को अस्पताल के बाहर पार्किंग में खड़ा कर दिया गया। अस्पताल के बाहर खड़ी संबंधियों की गाड़ियों को भी हटा दिया गया। इतना ही नहीं पुलिस ने घायलों के बयान लिए।30 से ज्यादा लोगों का किया अंतिम संस्कारदूसरी तरफ, श्मशाम घाट में भी प्रशासन का ग
अमृतसर ट्रेन हादसे के एक दिन बाद भी बेटे को मिला सिर्फ चेहरा मिला, बाकी शरीर के लिए बेटे की फोटो लेकर भटक रहा परिवार

अमृतसर ट्रेन हादसे के एक दिन बाद भी बेटे को मिला सिर्फ चेहरा मिला, बाकी शरीर के लिए बेटे की फोटो लेकर भटक रहा परिवार

Punjabi Politics
अमृतसर. जोड़ा रेलवे फाटक के पास हुए हादसे ने दशहरे की खुशी मातम में बदल दी। चश्मदीदों का कहना है कि पटाखों के शोर में किसी को ट्रेन का हॉर्न सुनाई नहीं दिया और दो ट्रेनें पटरियों पर खड़े लोगों को रौंदते हुए गुजर गईं। मंजर ऐसा था कि किसी का पैर कहीं पड़ा था, तो किसी का सिर कहीं पड़ा था।पूरी रात बेटे की लाश कोढूंढता रहा परिवारहादसे के बाद रेलवे ट्रैक पर पड़े एक सिर की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। ये कृष्ण नगर में रहने वाले मनीष की है। उनका पूरा परिवार शुक्रवार रात से ही बेटे की लाश का बाकी हिस्सा तलाश रहा है। उनकी मांग है कि उनके बेटे की लाश के बाकी अवशेष दिलाने में पुलिस मदद करे।बेटे के कटे सिर की तस्वीर लेकर ढूंढते रहेघटना के बाद से ही जोड़ा फाटक के पास रहने वाले विजय कुमार 18 घंटे तक मोबाइल पर अपने बेटे मनीष के कटे सिर की तस्वीर लेकर ढूंढते रहे। पुलिस और अस्पत
अमृतसर हादसे का असर: आज 5 ट्रेनें रद्द

अमृतसर हादसे का असर: आज 5 ट्रेनें रद्द

Punjabi Politics
लुधियाना| अमृतसर में दशहरे मेले के दौरान हुए हादसे के कारण शनिवार को करीब 34 ट्रेनें प्रभावित रहीं। रविवार को भी कुछ ट्रेनें रद्द रहेंगी। इनमें ट्रेन नंबर- 12242 अमृतसर-चंडीगढ़, ट्रेन नंबर-54602 अमृतसर-हिसार, ट्रेन नंबर-54604, ट्रेन नंबर-54605, ट्रेन नंबर-54606 लुधियाना-हिसार रद्द रहेंगी। इसके अलावा ट्रेन नंबर-19326 को लुधियाना में, ट्रेन नंबर-12014 को जालंधर, ट्रेन नंबर-14674 और ट्रेन नंबर-15210 को अंबाला से ही चलाया जाएगा। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar