पेट दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट – Pet Dard Ki Tablet Name List – Pet Dard Ki Dawa

हेलो दोस्तों कैसे हो आप तो आज हम बहुत ही कॉमन पर आम तोर पर निग्लेट किया जाने वाला विषय को लेकर आये है तो आज के इस आर्टिकल में आपको पेट दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट की जानकारी यहाँ पर मिलने वाली है इसके आलावा आपको इस ही आर्टिकल में पेट दर्द की अंग्रेजी दवा का नाम क्या है इसका सेवन कैसे किया जाता है इस पेट दर्द के लिए कोई घरेलू उपाय है या नहीं और इस में ही आखिर ये पेट दर्द होता क्यू है क्या ये कोई गंभीर बीमारी के लक्षण है या नहीं इस की भी जानकारी यहाँ पर मिलने वाली है तो अगर आपको भी इस सब के डिटेल में और वो भी आसान शब्दों में तो ये आर्टिकल को सुरु से अंत तक पढ़ लीजिये

पेट दर्द को आम भाषा में  Stomach Pain बोलते है और कभी कभी Stomach Ache इस नाम से भी जाना जाता है तो आपको कंफ्यूज नहीं होना है की हम किस की बात कर रहे है सब नाम का अर्थ ये अंत में पेट दर्द ही होता है । तो ये पेट दर्द ये बहुत ही समान्य बीमारी लगती है पर जिस को होती है उसकी ही असल में पता है की ये हमारे शरीर को हमारे काम पर असर करता है ।

Table of Contents

सामान्य तौर पर पेट में दर्द निम्न कारणों से होता है | pet dard ki tablet

अभी हम सब से पहले देख लेते है की आखिर ये पेट दर्द का कारन क्या है अगर हमको इसका कारन पता होगा तो हम अचे इलाज कर सकते है और आगे हम सावधानी भी रख सकते है । वैसे तो पेट दर्द के कारण बहुत होते है पर हम कुछ ही आम कारन बता देते है ।

1 कब्ज
2 दस्त
3 सीने में जलन
4 अल्सर
5 गुर्दे में पथरी
6 अपेंडिसाइटिस
7 मूत्र संक्रमण
8 फूड पॉइजनिंग
9 इरिटेबल बाउल सिंड्रोम (आंत की सूजन)
10 पेट का कैंसर
11 पित्ताशय की सूजन
12 आंत में रक्त संचार की कमी
13 सीने की जलन
14 पैनक्रिया की सूजन या संक्रमण
15 माहवारी में ऐंठन

खराब पाचन तंत्र | पेट दर्द की दवा

जी हां अगर आपका खराब पाचन तंत्र ही ख़राब है आप जो खा रहे हो वो सही से पच ही नहीं रहा है तो ये प्रॉब्लम होना बहुत ही आम बात है । खराब पाचन से सिर्फ पेट दर्द ही नहीं होता है बल्कि शरीर के दूसरे हिस्सों पर भी असर ये पड़ता रहता है इसलिए आपको अपने पाचन प्रणाली ये सही रखनी होगी ।

तो ये ख़राब पाचन होने से पेट में गैस बन जाता है तो उसके कारण आपके पेट में दर्द हो सकता है ।

खराब खान-पान के कारण

जी हां आज कल जीवन ये इतना फ़ास्ट हो गया है इसलिए आज कल सभी लोग घर के खाने से जयदा बाहर का ही खाना सेवन करना और बहार का खाने पर हमारा ये कंटोल नहीं होता है की वो कैसे बन रहा है , जो खाना बन रहा है वो साफ है या नहीं , कितना पुरांना है , मुंबई जैसे शहर में तो नाली के ऊपर खाना बनते है और वही पर लोगो को देते है तो आम सी बात है असर हो होगा ही ना ।

उसके अलावा भी आज कल फ्रीज ये सब के पास आया है तो कोई कोई लोग एक साथ ही खाना बनाते है तो ये वो भी फेश खाने से इतना ाचा नहीं होगा तो ये भी एक कारण हो सकता है पेट के दर्द का ।

पेट में इंफेक्शन होने पर | पेट दर्द की दवा

जी हां पेट में भी इंफेक्शन हो सकता है और ये इंफेक्शन जयदा कर के  बैक्टीरियल इंफेक्शन की वजह से होती है तो ऐसे कंडीशन में रोगी को पेट में दर्द और बाकी उलटी होना , दस्त होना ऐसे लक्षण भी दिख सकते है ।

उसके आलावा भी बहुत अलग अलग कारन हो सकते है जो की डॉक्टर की आपका परिक्षण कर के बता सकते है ।

पेट दर्द की अंग्रेजी दवा का नाम

अभी हम पेट दर्द की अंग्रेजी दवा का नाम और उसकी जानकारी बता देते है इस दवा की कीमत क्या है आपको इस की खुराक ये कितनी लेनी होगी उसकी जानकारी हम निचे बता रहे है वो एक एक कर के बता देते है ।

1 Tavera M Tablet
2 Ranitidine
3 Simethicone
4 Meftal Spas Tablet
5 Antacid
6 Clomin
7 Loperamide
8 Tramadol
9 Clidinium
10 Diclofenac
11 अशोकारिष्ट

Pet Dard Ki Tablet Name List Simethicone 

तो सब से पहले इस दवा को गैस – X इस ब्रांड के दौरा बनाया जाता है और पेट दर्द की अंग्रेजी दवा का नाम  में सिमेथिकोन ये तत्व पाया जाता है तो ये दवा सिर्फ उस पेट दर्द पर काम करती है जब पेट में गैस ये बन जाती है और उसके कारण डकार, सूजन, और पेट/आंत में दबाव/असुविधा होती है उस सब के इलाज के लिए ते दवा का उपयोग ये किया जाता है । तो इस दवा में जो सिमेथिकोन पाया जाता है वो गैस के बुलबुले कम करता है और आपको रहत पंहुचा देता है ।

इस गैस – X की दवा की कीमत की बात करे तो ये आपको 1540 रूपये में इसका एक पैकेड मिल जाता है जिस में आपको 20 गोलिया मिल जाती है । इस दवा की खुराक की बात करे तो डॉक्टर के निर्देश के नुसार ही लेनी होगी पर आम तोर से डॉक्टर आपको खाने के बाद और सोने से पहले आपकी जरूरत अनुसार खुआक ये डॉक्टर बता देते है ये आपको पानी के साथ नहीं बल्कि ऐसी ही चबा लेनी है ।

Pet Dard Ki Tablet Name List Antacid 

इस Antacid को आलमग सस्पेंशन इस ब्रांड के दौरा ये बनाया जाता है और इसमें एल्युमिनियम और मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइड ये तत्व से ये पेट दर्द के लिए एंटीबायोटिक दवा बनाई जाती है ।

इस दवा का इस्तेमाल ये ख़ास तोर पर पेट में दर्द ये एंटासिड या फिर अम्लता के कारन होती है उसके लिए इस दवा का इस्तेमाल किया जाता है । ये एंटासिड तरल रूप होने के कारण ये पेट में जाकर ये बहुत ही जल्दी असर देखाना सुरु कर देता है और उससे आपको रहत भी जल्दी मिल जाती है पेट दर्द से ।

तो ये भी दवा का सेवन ये डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए आम तोर पर खाना खा लेने के बाद और सोने से पहले अगर डॉक्टर को लगता है की आपके लिए जरुरी है तो तो ऐसे सलाह दे सकते है ।

इस एंटासिड पेट दर्द की अंग्रेजी दवा का कीमत की बात करे तो ये आपको 200 से 220 रूपये में आपको कोई भी मेडिकल स्टोर में आसानी से 100 मिली की बोलता मिल जाएगी ।

Pet Dard Ki Tablet Name List Famotidine

ये जो Famotidine पेट दर्द की अंग्रेजी दवा है वो पेप्सिड एसी इस ब्रांड के दौरा बनाए जाती है । और इस दवा का ख़ास तोर से फैमोटिडाइन ये तत्व पाया जाता है । अभी हम आपको बता देते है की आखिर ये फैमोटिडाइन कैसे काम करती है तो ये दवा बहुत ही अलग अलग बीमारी के लिए किया जाता है पेट और आंतों का अल्सर को ठीक करने के लिए उसके साथ ग्रासनली जैसे बीमारी के लिए और ये दवा से एसिड की मात्रा भी कम होती है तो इसका ये भी एक उपाय है ।

इस Famotidine की खुआर की बात करे तो ये भी डॉक्टर के सलाह पर ही लेनी होगी पर आम तोर पर खाने के साथ या फिर बिना खाने के बिना भी ले सकते हो ये सोने से पहले ये दवा को डायरेक्ट मुँह से लेनी की सलाह देते है ।

पेट दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट अशोकारिष्ट

बहुत से लोगो को पीरियड में पेट दर्द की टेबलेट नाम चाहिए था तो ये दवा उनके लिए ही है तो इस दवा को डाबर अशोकारिष्ट इस ब्रांड के दवारा बनाइए जाती है और इस दवा में अशोक के पेड़ की छाल से अर्क ये तत्व डाला जाता है । इसके आलावा धातकी, मुस्ता, हरीतकी और अमलकी ये भी पाए जाते जो की लड़कियों को पीरियड में पेट में जो दर्द होता है उसको कम करने में ये दवा का इस्तेमाल किया जाता है

इस अशोकारिष्ट की खुआक की बात करे तो दिन में दो बार खाने से पहले डॉक्टर की सलाह पर ये दवा का सेवन करना है । इस दवा की कीमत की बात करे तो 100 रूपये में आपको 450 मिली को बोलत मिल जाएगी ये भी आपको कोई भी मेडिकल स्टोर में आसानी से मिल जायगी ।

Pet Dard Ki Dawa Ka Name Loperamide

इस दवा को इमोडियम इस ब्रांड के दवारा बनाया जाता है जिस में लोपरामाइड ये तत्व पाया जाता है जो की दस्त होने के कारण जो पेट में दर्द होता है उसका इलाज करने के लिए इस दवा का खास तोर पर सेवन किया जाता है ।

इस दवा का सेवन करने के बाद दस्त कम होने लग जाते है और दस्त में जो कम पानी जाने लगता है जिस से आपको जल्दी रहत मिल जाती है इस दवा की सेवन की बात करे तो 2 गोलिया एक दिन में लेने की सलाह देते है जो की एक सुबह और एक शाम को लेनी होगी वो भी डॉक्टर की सलाह के साथ ।

इस दवा की कीमत ये आप इस दवा की कितनी खुआक की मात्रा पर निर्भर करता है जो की कोई भी मेडिकल स्टोर पर मिल जाएगी

पेट दर्द के लीये एंटीबायोटिक Tavera M Tablet

इस Tavera M Tablet  इस इस्तेमला ये Abdominal Pain को ख़त्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है । इस दवा में ख़ास तोर पर Drotaverin और Mefenamic ये दोनों प्रमुख तत्व पाए जाते है ।

ये दवा  पेट की ऐंठन  हो या फिर खिंचाव हो उसको भी कर देता है है उसके साथ ब्लोटिंग जैसे प्रॉब्लम को भी कम कर देता है । अगर हम बात करे की ये दवा कैसे काम करती है तो पेट में दर्द होने के जो केमिकल होते है उसको ये बंद कर देता है और उस से ही पेट को राहत मिल जाती है ।

इस दवा की खुराक की बात करे तो आपको ये डॉक्टर के निर्देश के अनुसार ही लेनी होगी पर आम तोर पर खाना खा लेने के बाद आपको ये डायरेक्ट पानी के साथ लेनी होगी ।

इस दवा के कुछ नार्मल साइड एफ्फेट भी है जिस में उल्टी, दस्त, चक्कर, उनींदापन, सीने में जलन जिसे प्रॉब्लम आ सकती है ।

Ranitidine

ये जो रेनिटिडिन है जो सिर्फ Pet Dard Ki Medicine में से एक है और से पेट में अम्लता बढ़ना, गैस बढ़ जाना, पेट में अल्सर के कारन या फिर एसिडिटी के कारन जो पेट में दर्द होता है उसके लिए इस दवा का इस्तेमाल ये किया जाता है ।

तो ये दवा की मात्रा ये कितनी लेनी ये सब आपकी उम्र कितनी है , आपकी बीमारी की गंभीरता कितनी है उस हिस्सब से इस दवा की मात्रा ये दी जाती है

पेट दर्द के लिए एंटीबायोटिक Tramadol

ये जो Tramadol की दवा है जो सब से पहले कोई पेट के दर्द की गोली नहीं है फिर भी हमने इस गोली को अपने लिस्ट में शामिल किया है ये आपके दिमाग में सवाल आया ही होगा ना तो ये पेनकिलर की गोली है जो की पेट में दर्द हो या फिर शरीर में किसी भी हिस्से में दर्द हो उसको कम करने का काम ये Tramadol की गोली करती है ।

इस दवा का सेवन आपको बहुत ही सावधानी के साथ करना होगा जिस में आप खाना खाने के बाद इस दवा का सेवन कर सकते हो और आपको किस दवा का सेवन कूद से कभी नहीं करना कागिए डॉक्टर की राय जरुरी है जिस में अगर इस Tramadol दवा की जयदा मात्रा ये सेवन करने से  चक्कर आस सकती है , मिलती जैसे लग सकता है और ऐसे ही और साइड इफ़ेक्ट आपको हो सकते है ।

पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies for Stomach Pain in Hindi

तो अभी हम इस पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय बात देते है वो आप कर सकते हो उचित  निगरानी में ।

वॉर्म कंप्रेस | पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय

अगर आपको बहुत ही आसान पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय चाहिए तो वॉर्म कंप्रेस से आसान कोई और तरीका नहीं है तो वॉर्म कंप्रेस नाम सुनकर डरने की बात नहीं है तो ये आप ऐसा समज लीजिये आपको पेट की सीकाईये करनी है तो उसके लिए आप बाजार में जो थैली अति है इलेक्ट्रिक वाली उसका आप इस्तेमाल कर सकते हो या फिर नार्मल गरम पानी वाली भी थैली आती है आप उसका इस्तेमाल कर सकते हो ।

या फिर घर पर कुछ ना हो तो आप सिंपल पानी की बोतल में पानी भर कर ये पेट को लगा सकते हो उसके लिए तो ऐसा आपको करीब 20 मिनिट तक करना है और आप जितना सहन कर सकते ही उतना ही गरम वॉर्म कंप्रेस का इस्तेमाल कर लीजिये ।

तुलसी | पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय

आप जितने भी कोई भी बीमारी के लिए घरेलू उपाय खोजते हो वह पर आपको तुलसी मिल ही जाती है तो इस पेट के दर्द के लिए भी तुलसी का इस्तेमाल किया जाता है ।inkaa  सेवन करना भी बहुत ही आसान है तो इसके लिए आपको सिर्फ तुलसी की 7 से 8 फ्रेश पत्तिया चाहिए तो आप इसका दो तरिके से सेवन कर सकते हो सब से पहले आप ये तुलसी की पत्तियों को डायरेक्ट धो कर भी सेवन कर सकते हो या फिर आप ग्लास पानी में ये पत्तिया दाल कर सेवन कर सकते हो ।

अगर आपको पेट में दर्द ये अल्सर के कारन हो रहा है तो ये तुसली का पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय फायदेमद होता है ।

चावल का पानी

जी हां आपने सही सुना चावल का पानी भी बहुत ही असरदार साबित होता है तो उसके लिए आपको सिर्फ एक कप चावल चाहिए , चार कप पानी और आखिर में शहद चाहिए तो उसके लिए आपको सब से पहले चावल को अचे से 2 से 3 बार धो लेना चाहिए और गैस पर 4 कप गर्म पानी में उसको चावल नरम होने तक पका लीजिये और उसके बाद चावल को अलग कीजिये और पानी को अलग कीजिये और उस पानी को थड़ा होने के लिए बाजु में रख दीजिये और उसके बाद आपको उस पानी में थोड़ा सा शहद मिला लेना है और उस पानी का दिन में 2 बार सेवन कर लेना है ।

तो कभी कभी हमको जयदा खा लेने से अपचन हो जाता है तो उसके कारन ही पेट में दर्द होता है उसके लिए सब से बेस्ट है और इसके आलावा छोटे बचो में भी कभी कभी पेट में दर्द होता है तो उनको भी ये दे सकते हो ।

सेब का सिरका

सेब का सिरका ये बैक्टीरिया के कारण जो पेट में दर्द होता है उसके लिए ये सेब का सिरका काम करता है तो इसमें एंटीमाइक्रोबियल तत्व पहले से ही होते है जिस से आपको पेट के दर्द से आराम हो जाता है । इसका सेवन करना भी बहुत ही आसान है तो उसके लिए आपको सेब का सिरका एक चमच चाहिए उसके बाद आपको गरम पानी और शहद चाहिए ।

इसको  बनने  की विधि  भी बहुत ही आसान है आपको सिर्फ एक ग्लास में गरम पानी लेना है और उसमे ये एक चमच सेब का सिरका और सिर्फ आधा चमच ये शहद मिलाकर आपको डायरेक्ट पी लेना है ।

जीरा

जीरा ये मसाले में डाले जाने एक मामूली तत्व आपके पेट के दर्द को कम कर सक्ता है तो आपको सिर्फ 5 ग्राम जीरा ये अचे से भून लेना है और उसको आप डायरेक्ट एक दिन में 3 से 4 बार अचे से रस आने तक खा सकते हो बिना और आप गर्म पानी में भी सेवन कर सकते हो ।

तो ये जीरा ये आम तोर पर पेट में दर्द, ऐंठन, पेट फूलना , मतली और कब्ज  जैसे छोटी मोठी बीमारी के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है ।

सौंफ |पेट दर्द के लिए घरेलू उपाय

सौंफ का उपयोग ये बहुत सारे लोहग ये मुखवास या फिर खाना खा लेने के बाद करते है तो कभी कभी हम जयदा ही खा लेते है और पेट ये बिगड़ जाता है और उस समय में हमारी पाचन शक्ति होती है वो भी बहुत जी कमजोर जो जाती है तो ऐसे समय में सौंफ का इस्तेमाल किया जाता है ।

इस नुस्के के लिए भी आपको सौंफ , पानी और शहद ही चाहिए और कुछ नहीं । तो आपको एक बर्तन में पानी लेना है और उसमे सौंफ दाल देना है और आपको सौंफ की पाउडर ही दाल लेनी है और करीब 10 मिनिट तक ऐसे हो गैस पर उबाल लेना है उसके बाद आपको वो पानी को ठंडा होने ले लिए रख लेना है और जैसे मुँह में छिलके ना आये उसके लिए आपको वो पानी को छान लेना है और उस में थोड़ा सा शहद मिलाकर पी लेना है ऐसा आप दो बार कर सकते हो एक दिन में ।

हींग

जी हमको पता है हींग ये बहुत जहि स्ट्रांग होती है पर इसमें एंटीस्पास्मोडिक तत्व होता है जिस के कारण आपके पेट के दर्द को बाहत ही जल्दी ख़तम कर देगा । उसकी विधि की बात करे तो आपको एक ग्लास में गर्म पानी ले लेना है और उस में ही चुटकी भर के हींग की पाउडर दाल देनी है और अगर आपके है तो सेंधा नमक दाल दीजिये और अगर नहीं है तो आप नार्मल नामक दाल कर ही पानी ये पी लीजिए ।

पेट दर्द के लिए कुछ और उपाय – Other Tips For Stomach Pain in Hindi.

तो हम कुछ आपको बहुत ही आसान टिप्स बता देते है जो की आप कर सकते हो आप पेट दर्द से बच सकते हो सब से पहले आपको अछि नींद लेनी होगा और एक रूटिंग फ्लो करना होगा ।

भूक लगी भी हो तो पागल के जैसे मत खाये थोड़ा अचे से खाये । अचे से चबा कर ही खाना खा लीजिये , हमेशा आपको जीतन फ्रेश खाना हो सकता है उतना खा लीजिए । शरीर को पानी की कमी महसूस होने मत दीजिये ।

अपने खाने में हरी सब्जी का प्रयोग कीजिये और थोड़ा बहुत व्यायाम कर सकते हो तो ये कुछ बहुत ही मामूली टिप्स है जिस से आप अनचाहे पेट के दर्द से बच सकते हो ।

तो ये थी पेट दर्द की अंग्रेजी दवा का नाम , pet dard ki tablet , और ऐसे ही हमने पेट दर्द के लिए एंटीबायोटिक कोनसी है ये हमने बताया है तो आपको एक बात क्लियर कर देते है की ऊपर जो भी जानकरी दी है वो सिर्फ और सिर्फ आपकी एक्स्ट्रा जानकारी के लिए है तो इस आर्टिकल को पढ़ कर या फिर कोई भी आर्टिकल को पढ़ कर या फिर वीडियो देख कर कोई भी दवा हो या फिर घरेलू नुस्खा अपने आप से बिना किसी डॉक्टर की सलाह लिए बिना ना ले ये करना आपके लिए खतरनाक हो सकता है ।

Leave a Comment