News That Matters

Tag: आदेश

ट्रम्प ने ईरान पर हमले का आदेश दिया, अफसरों से चर्चा के बाद फैसला बदला

ट्रम्प ने ईरान पर हमले का आदेश दिया, अफसरों से चर्चा के बाद फैसला बदला

India
लंदन. अमेरिकी जासूसी ड्रोन मार गिराए जाने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सेना को ईरान पर हमला करने का आदेश दिया था। मीडिया रिपोर्ट में कहा गया कि अपने अफसरों से चर्चा करने के बाद ट्रम्प ने अपना फैसला बदल दिया।चर्चा में ट्रम्प प्रशासन के सीनियर अधिकारी शामिल हुए। भारतीय समयानुसारगुरुवार रात 12.30 बजे ईरान पर हमला करने की आशंका जताई जा रही थी। ईरान के रडार और मिसाइलों कीबैटरी निशाने पर थी।रिपोर्ट में ट्रम्प प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी का हवाला देते हुए कहा गया कि लड़ाकू विमान और जंगी जहाज हमला करने की स्थिति में थे, लेकिन इस आदेश को रद्द कर दिया गया। इससे पहले ट्रम्प ने ईरान को चेतावनी दी थी कि जासूसी ड्रोन को गिराकर उसने बड़ी गलती की है।ईरान ने बुधवार को हार्मोज्गान प्रांत में अमेरिका केजासूसी ड्रोन को मार गिराया था।राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प कीचेतावनी के बाद अमेरिक

निजी व डीम्ड विश्वविद्यालय नहीं भर पाएंगे मेडिकल व डेंटल की सीटें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये आदेश

Indian Education
निजी और डीम्स यूनिवर्सिटीज अब पीजी मेडिकल और डेंटल कोर्सेज की खाली 603 सीटें नहीं भर पाएंगे। सुप्रीम कोर्ट ने Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
बीड जिले में 4605 महिलाओं के गर्भाशय निकाले गए, सरकार ने दिए जांच के आदेश

बीड जिले में 4605 महिलाओं के गर्भाशय निकाले गए, सरकार ने दिए जांच के आदेश

India
बीड. महाराष्ट्र के बीड जिले में पिछले तीन साल में 4,605महिलाओं के गर्भाशय निकाले गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रीएकनाथ शिंदे नेमंगलवार को विधान परिषद में यह जानकारी दी। शिंदे नेबताया कि स्वास्थ्यमंत्रालय के मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित एक समिति गर्भाशय निकालने के मामलों की जांच करेगी।ये भी पढ़ें39 साल की महिला का असामान्य गर्भाशय; 38 बच्चे पैदा हो चुके, इनमें 6 जोड़े जुड़वांगन्ना मजदूर महिलाओं के ज्यादामामलेशिवसेना विधायक नीलम गोर्हे ने विधान परिषद में यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि बीड जिले में गन्ने के खेत में काम करने वाली महिलाओंके गर्भाशय निकाल लिए गए, ताकि माहवारी के चलते उनके काम में ढिलाई न आए।99 प्राइवेट हॉस्पिटल में हुएऑपरेशनशिंदे ने सदन को बताया कि जिले में सामान्यप्रसवों (नॉर्मल डिलिवरी) की संख्या सिजेरियन की संख्या से कहीं ज्यादा है। बीड जिले के सिविल सर्जन की अध्यक
आखिरकार गाय के मालिकाना हक को लेकर जारी विवाद का हो गया पटाक्षेप, ओमप्रकाश को गाय सौंपने का आदेश

आखिरकार गाय के मालिकाना हक को लेकर जारी विवाद का हो गया पटाक्षेप, ओमप्रकाश को गाय सौंपने का आदेश

Rajasthan
जोधपुर. एक गाय के मालिकाना हक को लेकर एक शिक्षक और पुलिस कांस्टेबल के बीच करीब दस माह से जारी विवाद का आज पटाक्षेप हो गया। कोर्ट ने कांस्टेबल ओमप्रकाश के पक्ष में फैसला सुनाते हुए उसे गाय सौंपने का आदेश दिया। दो माह पूर्व गाय को दोनों दावेदारों के मकान से कुछ दूरी पर गाय को खुला छोड़ा गया था। इस पर गाय ओमप्रकाश के मकान की तरफ गई थी, हालांकि वह उसके मकान में प्रविष्ट नहीं हुई थी।महानगर मजिस्ट्रेट संख्या तीन मदन चौधरी की कोर्ट ने आज इस बहुचर्चित मामले में अपना फैसला ओमप्रकाश के पक्ष में सुनाया। कोर्ट ने गाय के ओमप्रकाश के मकान की तरफ जाने को ही मुख्य आधार मान उसे गाय सौंपने का आदेश सुनाया।यह है मामलाशहर के मंडोर थाना क्षेत्र में शिक्षक श्याम सिंह और कांस्टेबल ओमप्रकाश के बीच एक गाय के मालिकाना हक को लेकर अगस्त 2018 से एक विवाद चल रहा है। मामला मंडोर थाने में दर्ज कराया गया
लिखित मंजूरी के बाद ही पानी व सीवरेज का कनेक्शन लेने के आदेश

लिखित मंजूरी के बाद ही पानी व सीवरेज का कनेक्शन लेने के आदेश

Punjab
संगरूर| अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट राजेश त्रिपाठी ने आदेश जारी किए हैं कि जिला संगरूर के शहरी/ग्रामीण क्षेत्रों में हर एक जरूरतमंद व्यक्ति समर्थ अधिकारी की लिखित प्रवानगी के बाद ही पानी की सप्लाई/सीवरेज के कनेक्शन लगाएगा व अपने स्तर पर नाजायज तौर पर पानी की सप्लाई का कनेक्शन नहीं लगाएगा। यह आदेश 12 अगस्त 2019 तक लागू रहेंगे। अादेश में कहा गया है कि कुछ व्यक्तियों द्वारा शहरों व गांवों में नाजायज तौर पर अनधिकृत वाटर सप्लाई/सीवरेज कनेक्शन अपने स्तर पर लगा लिए जाते हैं। कई बार ऐसी वजह के कारण गलियों नालियों का गंदा पानी पीने वाले पानी में मिल जाता है। इस कारण बीमारी फैल सकती है व जान-माल का नुकसान हो सकता है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar

सरकार का TV Channels को आदेश, अब भारतीय भाषाओं में दिखाने होंगे टीवी कार्यक्रम के टाइटल

India
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने टीवी चैनलों को आदेश दिया है कि वो अब कार्यक्रम के अंत व शुरुआत में अग्रेजी के अलावा भारतीय भाषाओं में टाइटल का प्रयोग करें। Jagran Hindi News - news:national
सीएम अशोक गहलोत ने सरिस्का में बाघ एसटी-16 की मौत की जांच के दिए आदेश

सीएम अशोक गहलोत ने सरिस्का में बाघ एसटी-16 की मौत की जांच के दिए आदेश

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। सरिस्का बाघ परियोजना में बाघ एसटी-16 की मौत के मामले में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उच्चस्तरीय प्रशासनिक जांच के आदेश दे दिए है। इस आदेश के बाद अब प्रशासन में हल चल मच गई है। राजस्थान के शिक्षा मंत्री की इस घोषणा के बाद विद्यार्थियों और शिक्षकों की खुशी का नहीं रहेगा ठिकाना खबरों की माने तो सहकारिता विभाग के प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है जो इस बाघ की मौत के मामले में जांच कर रिपोर्ट पेश करेंगे। अशोक गहलोत ने बाघ की मौत को गंभीरता से लेते हुए इसकी जांच करने और लापरवाह कार्मिकों एवं अधिकारियों की जिाम्मेदारी तय करने के आदेश दिये हैं। जांच अधिकारी अपनी रिपोर्ट में सरिस्का बाघ परियोजना क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था के आंकलन और सरिस्का में प्रबंधन व्यवस्था एवं विभिन्न सुविधाओं के सुधार पर भी सुझाव देंगे। राजस्थान में भाजपा विध
निगम स्टोर में मिली गंभीर खामियां, कमिश्नर ने वाहनों के तेल से जुड़े भुगतान रोकने के आदेश दिए

निगम स्टोर में मिली गंभीर खामियां, कमिश्नर ने वाहनों के तेल से जुड़े भुगतान रोकने के आदेश दिए

Haryana
नगर निगम के स्टोर की जांच में कमिश्नर पूजा चांवरिया को कई गंभीर खामियां मिलीं हैं। इसी वजह से उन्होंने सफाई कार्य में लगे वाहनों के तेल से जुड़े बिलों का भुगतान रोक लिया है। इसकी जांच के लिए ईओ दीपक सूरा की अगुवाई में एक जांच कमेटी भी बनाई गई है। कमेटी जांच के बाद बिलों के भुगतान को लेकर रिपोर्ट पेश करेगी। कमिश्नर ने खस्ताहाल पड़े स्टोर की भी रिपेयर करवाने के आदेश दिए। बुधवार को कमिश्नर पूजा चांवरिया ने निगम के स्टोर का औचक निरीक्षण किया था। कमिश्नर ने यहां तैनात कर्मचारी को वाहनों से जुड़ा पूरा रिकार्ड दिखाने के आदेश दिए। दस्तावेजों की जांच में कमिश्नर को कई गंभीर खामियां मिली। जांच के दौरान स्टोर में कोई वाहन भी नहीं मिला। तब कमिश्नर ने वाहनों की सूची के साथ हर महीने खर्च हो रहे तेल के भुगतान से जुड़ा पूरा रिकाॅर्ड पेश करने के आदेश दिए। कंडम गाड़ियों का भी मांगा रिकाॅर्ड
योगी पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले पत्रकार को तुरंत रिहा करने का आदेश

योगी पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले पत्रकार को तुरंत रिहा करने का आदेश

India
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी पर पत्रकारप्रशांत कनौजिया की गिरफ्तारी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई की। कोर्ट ने कहा कि सरकार को इस मामले में उदारता दिखाते हुए पत्रकार को तुरंत रिहा करना चाहिए। शीर्ष कोर्ट ने यह भी कहा कि इस तरह की टिप्पणी नहीं की जानी चाहिए, लेकिन क्या इस मामले में गिरफ्तारी न्यायपूर्ण है?राज्य सरकार को इस मामले में सही एक्शन लेना चाहिए।जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस अजय रस्तोगी की बेंच ने कहा कि ऐसे कमेंट पब्लिक में नहीं होने चाहिए। कानून के तहत कार्रवाई जारी रहे, लेकिन पत्रकार को तुरंतरिहा किया जाना जरूरी है। बेंच नेकहा कि नागरिकों की स्वाधीनता अटल है। इससे कोई समझौता नहीं किया जा सकता। यह (स्वतंत्रता)हमेंसंविधान से मिली है और इससे कोई छेड़छाड़ नहीं हो सकती।राहुल ने कहा- उत्तर प
डीसी ने मानसून से पहले बरसाती नालों की सफाई करवाने के दिए आदेश

डीसी ने मानसून से पहले बरसाती नालों की सफाई करवाने के दिए आदेश

Punjabi Politics
डीसी घनश्याम थोरी ने जिले की समूह नगर कौंसिल के ईओ को शहरी क्षेत्रों में से गुजरने वाले बरसाती नालों को मानसून के मौसम से पहले साफ करवाने के आदेश जारी किए हैं। उन्होंने कहा है कि सफाई कार्यों में विभागीय स्तर पर किसी भी तरह की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। संगरूर नगर कौंसिल के ईओ राकेश अरोड़ा ने बताया कि डीसी के निर्देशों पर संगरूर की सीमा में आते बरसाती नालों की सफाई का कार्य जेसीबी मशीनों से करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नालों में से निकलने वाली गंदगी को उठाने के लिए 5 ट्रालियां लगाई गई हैं। बस स्टैंड, पटियाला गेट, गुरुद्वारा सिंह सभा साहिब, सुनामी गेट, रणबीर कॉलेज से सुनाम रोड आदि स्थानों से गुजरते गंदे नाले को निर्धारित समय पर साफ कर लिया जाएगा। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar