News That Matters

Tag: आनेजाने

सर्विस वोटर के दफ्तर तक पहुंचेगा ऑनलाइन पोस्टर बैलेट, दिव्यांगों को मिलेगी आने-जाने की सुविधा

सर्विस वोटर के दफ्तर तक पहुंचेगा ऑनलाइन पोस्टर बैलेट, दिव्यांगों को मिलेगी आने-जाने की सुविधा

Delhi
नई दिल्ली.दिल्ली में अभी तक रजिस्टर 1,41,83,055 वोटर्स में दिव्यांग 37,407 और सर्विस वोटर 10,622 रजिस्टर हैं। वहीं चुनावी मशीनरी में करीब 1.70 लाख लोग लगेंगे। सीईओ दिल्ली डॉ. रणबीर सिंह ने बताया कि इस साल सर्विस वोटर्स के लिए चुनाव आयोग ऑनलाइन बैलेट पेपर(इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिशन ऑफ पोस्टल बैलेट सिस्टम) की व्यवस्था कर रहा है। इसमें बैलेट पेपर फाइनल होने पर पोस्ट से बैलेट पेपर संबंधित सर्विस वोटर के ऑफिस तक भेजने में जो टाइम खर्च होता था अब नहीं लगेगा।ये भी पढ़ेंजब लालकिले के सामने चुनावी नतीजों को स्कोरबोर्ड पर लिखा गया तो देखने के लिए उमड़ पड़ी भीड़इंचार्ज के पास सुरक्षित तरीके से ऑनलाइन पोस्टर बैलेट पहुंचेगा जिसे वो प्रिंट करके लिफाफे के साथ वोटर को देगा। वापस रिटर्निंग ऑफिसर तक वोट पहुंचने की प्रक्रिया पहले की ही तरह है। दिव्यांग वोटर्स के लिए चुनाव अधिकारी विशेष व्यवस्था
कालूपुर चुंगी पर भरा गंदा पानी, काठमंडी की ओर आने-जाने वाले वाहन चालकों को परेशानी

कालूपुर चुंगी पर भरा गंदा पानी, काठमंडी की ओर आने-जाने वाले वाहन चालकों को परेशानी

Haryana
शहर में सीवर पाइप लाइन की व्यवस्था ठीक नहीं हाे पा रही है। एक स्थान पर सुधार किया जाता है तो दूसरे स्थान पर ओवरफ्लो की समस्या हो जाती है। पिछले दिनों नगर निगम द्वारा सूरी पेट्रोल पंप वाली सड़क पाइप डालकर समस्या को खत्म करने का प्रयास किया गया था। इसके बाद कालूपुर चुंगी पर सीवर ओवर फ्लो होने लगा है। अब यहां हमेशा पानी भरा रहता है। इस कारण यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। स्थानीय निवासियों ने कई बार इसकी शिकायत भी की लेकिन समस्या के समाधान को लेक कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। स्थानीय लोगों ने बताया कि करीब एक सप्ताह से यहां पानी भरा रहता है। इस कारण कई बार बाइक सवार इसमें फंस जाते हैं। वहीं गंदगी होने के कारण व्यापार भी प्रभावित हो रहा है। काठ मंडी रोड पर भी कई जगह ओवरफ्लो : कालूपुर चुंगी से काठमंडी की तरफ बढ़ने पर कुछ दूरी पर ही काल
साइकिल कहीं आने-जाने का साधन ही नहीं पर्यावरण बचाने और फिट रहने का जरिया भी

साइकिल कहीं आने-जाने का साधन ही नहीं पर्यावरण बचाने और फिट रहने का जरिया भी

Punjab
एनेक्स मीडिया मार्केटिंग नेटवर्क की ओर से पीएयू ग्राउंड में शुक्रवार से इंडिया इंटरनेशनल साइकिल, फिटनेस एंड आउटडोर स्पोर्ट्स एक्सपो (सीफोस) का आगाज हो गया। इसका उद्घाटन केंद्रीय राज्य मंत्री विजय सांपला ने किया। इसके बाद उन्होंने कारोबारियों को संबोधित करते कहा कि साइकिल आने-जाने का साधन ही नहीं, बल्कि पर्यावरण को साफ रखने और अपने आपको स्वस्थ रखने का जरिया भी है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि बढ़ रहे प्रदूषण और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त होते लोगों को देख साइकिलिंग को प्रमोट करने के लिए लगाई गई यह एग्जीबिशन सराहनीय कदम है। सांपला ने दिग्गज कारोबारियों की ओर इशारा करते कहा आप राजा के समान हैं और केंद्र सरकार हर समस्या के समाधान के लिए आपके साथ है। वहीं हीरो मोटर्स के एमडी पंकज मुंजाल ने बताया कि साइकिलिंग के प्रति लोगों के बढ़ रहे रुझान को देखते हुए बाइसाइकिल इंडस्ट्री में अपार

दिल्ली एयरपोर्ट पर आने-जाने वाली 11 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रहीं रद

India
पाकिस्तान में एयर स्पेस बंद होने के कारण शुक्रवार को भी दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (आइजीआइ) से कई अंतरराष्ट्रीय सेवाओं का संचालन नहीं हुआ। Jagran Hindi News - news:national
वरिष्ठ नागरिकों की तरह पूरे देश में कहीं भी आने-जाने पर मिलेगी थर्ड जेंडर को रियायत

वरिष्ठ नागरिकों की तरह पूरे देश में कहीं भी आने-जाने पर मिलेगी थर्ड जेंडर को रियायत

Punjab
फिरोजपुर। भारतीय रेलवे साल 2019 के पहले दिन से ही ट्रांसजेंडरों (किन्नरों) को बड़ा तोहफा देने जा रहा है। यह तोहफा सीनियर सिटीजन पुरूष-महिला की तरह ही ट्रांसजेंडर को रेल किराये के रूप में मिलेगा। इस संबंध में रेलवे बोर्ड के डायरेक्टर पैसेंजर मार्केटिंग शैली श्रीवास्तव ने आदेश जारी कर दिए हैं। आदेश के तहत रेलवे अपने सॉफ्टवेयर में बदलाव कर रहा है। अब रिजर्वेशन फार्म में लिंग के विकल्प में पुरुष, महिला व ट्रांसजेंडर (टी) भी उपलब्ध होगा।किन्नरों द्वारा पिछले लंबे समय से रेलवे से सीनियर सिटीजन पुरुष, महिला की तरह ही खुदको भी सीनियर सिटीजन में शामिल कर रेल टिकट किराये पर रियायत दिए जाने की मांग की जा रही थी, जिसे रेलवे द्वारा अब मान लिया गया है। रेलवे ने सीनियर सिटीजन पुरुषों की तरह ही 60 साल की उम्र वाले किन्नरों को भी रेल टिकट पर 40 फीसद की छूट दी है, जबकि 58 साल पूरी करने व
गंदे पानी की निकासी न होने के चलते गांव दगोड़ के लोगों को आने-जाने में परेशानी

गंदे पानी की निकासी न होने के चलते गांव दगोड़ के लोगों को आने-जाने में परेशानी

Punjabi Politics
गांव दगोड़ में गंदे पानी की निकासी न होने को लेकर गांववासियों में रोष है। इस कारण गांव के श्मशानघाट को जाने वाले रास्ते पर लोगों को मुश्किल हो रही है। नीरज कुमार, बलदेव सिंह, शुभम, अशोक कुमार, नीलम, रामकुमारी, रजनी, सिमरन आदि ने बताया कि उन्होंने इस समस्या को 7 महीने में कई बार पंचायत के पास उठाया है और समस्या जस की तस है। उन्होंने यह भी बताया कि उक्त रास्ते के साथ एक नाला भी बना हुआ है जो पूरा नहीं बनाया है इस कारण गंदा पानी वहां से लोगों के खेतों में जाता है जिसके चलते फसल को भी नुकसान हो रहा है। गांव के कुछ लोगों ने पानी के रास्ते में ढेर लगाए हैं। लोगों ने कहा कि इससे बीमारी फैलने की जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। गांववासियों ने जल्द समस्या का हल करने की मांग की। वहीं इस बारे में दर्शन सिंह, बीडीओ ने कहा कि समस्या के संबंध में अभी शिकायत नहीं आई है। गांववासी इस संबंध
आने-जाने वाले लोगों को हो रही परेशानी, 48 घंटों में उतार दें दिशासूचकों से इललीगल एड

आने-जाने वाले लोगों को हो रही परेशानी, 48 घंटों में उतार दें दिशासूचकों से इललीगल एड

Punjabi Politics
शहर में दिशासूचकों पर लगे राजनीतिक, धार्मिक समेत सभी तरह की इललीगल एडवरटाइजमेंट बोर्ड उतारने के लिए तहबाजारी ब्रांच को 48 घंटे का टाइम दिया गया है। निगम इन्फोर्समेंट विंग के इंचार्ज जोनल कमिश्नर जसदेव सिंह सेखों ने सोमवार को जोन सी दफ्तर में मीटिंग के दौरान ये आदेश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि बिना मंजूरी के लगे इन एडवरटाइजमेंट्स से दिशासूचक ढक दिए गए हैं, जिससे यहां से गुजरने वालों को परेशानी हो रही है और खासकर बाहरी लोगों को ज्यादा दिक्कत होती है। उन्होंने कहा कि दिशासूचक पर लगे बोर्ड चाहे किसी भी पार्टी या संगठन के हों और चाहे उसमें खुद उनकी फोटो लगी हो, सब मंगलवार शाम तक उतर जाने चाहिए। दिशासूचकों पर लगी एडवरटाइजमेंट उतारने का काम सोमवार शाम से ही शुरू करने को कह दिया गया था। उन्होंने तहबाजारी ब्रांच के अफसरों को कहा कि फिलहाल लोगों को हो रही असुविधा को देखते हुए
सुधा भारद्वाज के घर पुलिस का कड़ा पहरा, हर आने-जाने वाले पर रखी जा रही नजर

सुधा भारद्वाज के घर पुलिस का कड़ा पहरा, हर आने-जाने वाले पर रखी जा रही नजर

India
भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले में गिरफ्तार की गईं प्रोफेसर एवं मानवाधिकार कार्यकर्ता सुधा भारद्वाज के घर पर पुलिस ने कड़ा पहरा लगा दिया है। यहां तैनात पुलिस के जवानों की सुधा भारद्वाज से मिलने के लिए आने... Live Hindustan Rss feed
एक स्कूल ऐसा भी…जहां आने-जाने का रास्ता ही नहीं, खेतों के बीच से होकर जाते हैं नन्हें स्टूडेंट

एक स्कूल ऐसा भी…जहां आने-जाने का रास्ता ही नहीं, खेतों के बीच से होकर जाते हैं नन्हें स्टूडेंट

Punjabi Politics
पगडंडी का सहारा, सड़क बनाने के लिए दो बार निशानदेही हुई लेकिन दोनों बार राजनीतिक रुकावट आड़े आ गई। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें दैनिक भास्कर