News That Matters

Tag: आपकी

Day 9: हेयर स्टाइल जो करेगा आपकी डांडिया ड्रेस को कॉम्प्लिमेंट

Day 9: हेयर स्टाइल जो करेगा आपकी डांडिया ड्रेस को कॉम्प्लिमेंट

Entertainment
नवरात्रि का पहला दिन हो या आख़िरी लोगों में उत्साह की कमी कभी नहीं दिखती। नवरात्रि के नौवें दिन भी महिलाएं उतने ही उत्साह से पंडाल में डांडिया करने आती हैं और जब बात हो दुर्गा माँ की विदाई की तो महिलाएं अपनी तैयारी में भी कोई कमी नही करती।हम आज बताएँगे की नवरात्रि के आखिरी दिन किस तरह का लुक आपको बनाएगा सेंटर ऑफ अट्रैक्शन और कौन- सा हेयर स्टाइल करेगा उसको कॉम्प्लिमेंट:1. डांडिया नाइट्स के लिए बोल्ड कलर का चयन करना ही बेहतर होगा। हल्के रंग की ड्रेस से आपका आकर्षण फीका पड़ सकता है। तो जो भी ड्रेस चूज़ करें वो ब्राइट कलर की ही पहने ताकि डांडिया की धूमधाम और चमक में आपके कपड़े फ़ीके न पड़ें।2. ड्रेस के साथ कॉम्प्लिमेंट करने के लिए बड़े बड़े ईयर-रिंग या ऑक्सीडाइज्ड नेकपीस पहन सकते हैं पर ध्यान रहे कि दोनों में से कोई एक ही ज्वेलरी पहने ताकि आपका लुक बैलेन्स लगे।3. अगर आप अपनी आंखो क
बदलाव : सरकार आपके ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में करने वाली है बड़ा बदलाव, पुलिस पलभर में निकाल लेगी आपकी पूरी डिटेल

बदलाव : सरकार आपके ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में करने वाली है बड़ा बदलाव, पुलिस पलभर में निकाल लेगी आपकी पूरी डिटेल

India
न्यूज डेस्क। सड़क परिवहन मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस (DL) और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC) को स्मार्ट करने का फैसला लिया है। जुलाई 2019 से सभी राज्यों के DL और RC एक जैसे कलर, डिजाइन और फीचर्स वाले होंगे। अभी स्टेट के हिसाब से DL और RC में कलर, डिजाइन में अंतर होता है।सरकार ने लिया फैसलासड़क परिवहन मंत्रालय के मुताबिक स्मार्ट DL में ड्राइवर से जुड़ी तमाम जानकारियां होंगी। यानी क्या ड्राइवर ऑर्गन डोनर है या फिर क्या ड्राइवर स्पेशल डिजाइन गाड़ी चलाता है। इसके साथ, लाइसेंस से व्हीकल और ड्राइवर के पुराने रिकॉर्ड के बारे में भी पता चल जाएगा। स्मार्ट DL और RC की मदद से उत्सर्जन नॉर्म्स से जुड़े फीचर्स की जानकारी भी मिलेगी। इससे पॉल्यूशन कंट्रोल करने में मदद मिलेगा।ऐसा होंगे नए DL और RCनए DL और RC में माइक्रोचिप और QR कोड भी होगा। साथ ही, नियर फील्ड कम्युनिकेशन (NFC) का फीचर भ
पार्किंग से आपकी कार गायब हुई तो मिलेगा ऑटो!

पार्किंग से आपकी कार गायब हुई तो मिलेगा ऑटो!

Punjab
ऊपरवाला न करे, पार्किंग से अगर आपकी कार गायब हो गई तो बदले में ऑटो मिलेगा! क्योंकि ओवरचार्जिंग के चक्कर में पार्किंग ठेकेदार पब्लिक को ‘लूटने’ पर उतर आए हैं। फिरोजगांधी पार्किंग साइट पर बुधवार को कार की पार्किंग पर थ्री व्हीलर की पर्चियां काटी गईं। ऐसे में यह किसी की कार चोरी हो जाती है तो कानून कॉन्ट्रैक्टर ऑटो जैसे वाहन से ही भरपाई के लिए बाध्य होगा। ठेकेदार के कारिंदे ऐसा इसलिए कर रहे हैं क्योंकि कार का पार्किंग रेट है 10 रुपए जबकि थ्री व्हीलर का 20 रुपए। पार्किंग स्लिप की डिटेल पर आम आदमी ज्यादा गौर नहीं करता, इसलिए यह ‘लूट’ जारी है। यही नहीं, टू-व्हीलर का रेट 5 की बजाय 10 रुपए लिया जा रहा है। गौर हो कि नगर निगम ने अगस्त के आखिर में शहर की 11 पार्किंग साइट्स तीन कांट्रेक्टरों को 3.18 करोड़ में तीन साल के लिए अलॉट की थी, लेकिन अब इनकी मनमानी के आगे निगम नतमस्तक है। जा
छोड़ दें ईर्ष्या वर्ना बिगड़ जाएगी आपकी सेहत

छोड़ दें ईर्ष्या वर्ना बिगड़ जाएगी आपकी सेहत

Health
स्वस्थ रहने के लिए आपको ईर्ष्या करना छोड़ना होगा। अगर ईर्ष्या मन से नहीं जाएगी तो मन में कई तरह के विकार पैदा हो जाएंगे। ये विकार शरीर पर भी बुरा असर डालेंगे। अगर आप किसी से ईर्ष्या करते हैं तो तुरंत इस आदत को बदल डालिए। न करें शरीर को खराबकई बार इंसान को समझ ही नहीं आता कि आखिर वह बार-बार बीमार क्यों पड़ जाता है। अगर थोड़ा गहराई से विचार करेंगे तो इसका कारण पता लग जाएगा। कई लोग स्वास्थ्य संबंधी सभी नियमों का पालन करते हैं, अच्छा खाते हैं, समय पर उठते और सोते हैं, एक्सरसाइज करते हैं पर फिर भी बीमार रहते हैं। दरअसल बीमारी उनके मन में हैं। वे किसी न किसी इंसान से ईर्ष्या करते हैं और मन ही मन कुढ़ते हैं। इस कारण से वे खुलकर जी ही नहीं पाते और अपना शरीर भी खराब कर लेते हैं। यह आदत बहुत लोगों को घेरे रहती है। किसी का भला नहीं होताईर्ष्या करने वाला व्यक्ति बहुत ज्यादा नकारात्मक होता है। वह खुद क
सूरत बताती है आपकी सेहत का हाल, एेसे जानें

सूरत बताती है आपकी सेहत का हाल, एेसे जानें

Health
चेहरा केवल व्यक्तित्व ही नहीं हमारी सेहत के बारे में भी बता सकता है। ब्रिटिश स्किन फाउंडेशन के शोधकर्ताओं के अनुसार चेहरे को देखकर आप किसी की लाइफ स्टाइल, उसका खान-पान, स्मोकिंग और एल्कोहल हैबिट को जान सकते हैं। आइए जानते हैं कि हमारा चेहरा कैसे हमारी सेहत के बारे में बताता है। स्किनगर्दन पर गहरे रिंग्सजरा आईने के सामने जाएं और देखें कहीं आपकी गर्दन पर गहरे रिंग्स तो नहीं बने हुए हैं। अगर हैं तो इसका मतलब है आपको मीठा बहुत पसंद है और आपकी डाइट में शुगर और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है। तो जनाब, सावधान क्योंकि गर्दन पर मौजूद इन धुंधले, गहरे भूरे रंग के रिंग्स आपको डायबिटीज की तरफ भी खींच सकते हैं। यह रिंग्स शरीर में मौजूद इंसुलिन नामक हार्मोन के सही से काम न करने के कारण बन जाते हैं। इसके बचने का सबसे आसान तरीका अपना वजन कम कीजिए। त्वचा में पीलापन - अगर आप अपनी त्वचा में पीलापन महसू
अब अल्फाबेट से सुधरेगी आपकी सेहत, घटेगा तनाव, दिल रहेगा तंदुरुस्त

अब अल्फाबेट से सुधरेगी आपकी सेहत, घटेगा तनाव, दिल रहेगा तंदुरुस्त

Health
स्कूली दिनों का अक्षर और अल्फाबेट का ज्ञान अब आपकी सेहत संवारने में भी काम आ सकता है। अंकों और अंग्रेजी शब्दों के आकार में संगीत पर थिरकने की बोक्वा ग्रुप डांस थैरेपी दुनियाभर में पसंद की जा रही है। इसे वजन और तनाव घटाने, दिल को तंदुरुस्त रखने और शरीर का लचीलापन बनाए रखने में मददगार बताया जा रहा है। अमरीका में लॉस एंजिल्स के फिटनेस ट्रेनर पॉल मावी ने आठ साल में इस शैली को तैयार किया। भारत के बड़े शहरों में भी बोक्वा का चलन बढ़ रहा है। एक घंटे में 1200 कैलोरी होती है बर्नबोक्वा कठिन परिश्रम कराने वाली शैली है। ट्रेनर एक घंटे में 1200 कैलोरी जलाने का दावा करते हैं। इसमें अफ्रीकन संगीत पर पैरों के मूवमेंट से एक, दो, तीन, और ए, बी, सी, डी जैसे अंक और अक्षर बनााने होते हैं। एक घंटे एक्सरसाइज के बाद रेस्ट लेंइस कार्डियो वर्कआउट में एक घंटा पसीना बहाने के बाद शरीर को आराम देने की प्रक्रिया होती ह
नवरात्रि व्रत में ये चीजें रखेगी आपकी सेहत का ध्यान, यहां जानिए क्या

नवरात्रि व्रत में ये चीजें रखेगी आपकी सेहत का ध्यान, यहां जानिए क्या

Health
यदि आप भी नवरात्र के दौरान उपवास रखते हैं तो सेहत से जुड़ी कुछ बातों पर ध्यान देना जरूरी है। क्योंकि नौ दिन के व्रत के दौरान लापरवाही बरतने से सेहत बिगड़ भी सकती है। जैसे पाचन गड़बड़ाने के साथ अनचाहा वजन बढ़ता है या कई बार कमजोरी के कारण चक्कर आने, बेहोशी छाने और बीपी घटने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। व्रत करने से शरीर में बनी रहती ऊर्जा कभी-कभी भूखे रहना या उपवास करना हमारे शरीर के लिए फायदेमंद भी होता है। इस दौरान अन्न आदि न खाने से हमारे पाचन तंत्र को आराम मिलता है। शरीर में ऊर्जा बनी रहती है जिसका इस्तेमाल हम नियमित खाते रहने से नहीं कर पाते हैं। व्रत के दौरान संतुलित खाना खाने से भी हमारी सेहत अच्छी रहती है। इस दौरान जो चीजें हम बाकी दिनों में नहीं खा पाते, उन्हें भी खाया जाता है। जैसे साबूदाना, कुट्टू, सिंघाड़े का आटा आदि। इनसे मिलने वाले पोषक तत्त्व पेट के साथ खासतौर पर दिमा
अपने दांतों का एेसे रखें ध्यान, ताकि आपकी मुस्कुराहट रहे बरकरार

अपने दांतों का एेसे रखें ध्यान, ताकि आपकी मुस्कुराहट रहे बरकरार

Health
एक सर्वे में ये बात सामने आई है कि भारतीय अपने दांतों को लेकर बहुत लापरवाह होते हैं। लगभग साठ प्रतिशत भारतीय डेंटिस्ट की सेवाएं लेने से कतराते हैं। अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में कुछ बातें शामिल करके और कुछ आदतों को छोड़ कर आप अपने दांतों को आसानी से स्वस्थ रख सकते हैं। ज्यादा पानी पिएं और खाने के बाद नियमित कुल्ला करें। नियमित कुल्ला करने से मसूड़ों और दांतों के बीच फंसे भोजन के कण बाहर निकल आते हैं। इससे मुंह में सड़न नहीं होती और बदबू नहीं आती। अपने खाने में सेब, खीरा, गाजर जैसे फलों को शामिल करें। ये आपके दांतों को प्राकृतिक रूप से साफ करते हैं और मसूड़ों की समस्या भी दूर करते हैं। शुगर फ्री और दांतों को चमकदार बनाए रखने वाले च्युइंगम प्रोड्क्टस भी दांतों को साफ रखने में सहायक होते हैं। इनका संतुलित इस्तेमाल आपके पाचन को भी बेहतर बनाता है। ठंडे पेय लेते वक्त स्ट्रॉ का उपयोग करें ताकि आपके
एटीएम ढूंढने से लेकर शॉपिंग तक दैनिक भास्कर एप पर पूरी होंगी आपकी रोजमर्रा की जरूरतें

एटीएम ढूंढने से लेकर शॉपिंग तक दैनिक भास्कर एप पर पूरी होंगी आपकी रोजमर्रा की जरूरतें

India
दैनिक भास्कर एप पर लीजिए नया एक्सपीरियंस असिस्टेंस फीचर के साथ। असिस्टेंस टेप में आपको मिलेंगी शॉपिंग, रिमाइंडर्स, डेली फन, क्रिकेट के अपडेट जैसी 10 से ज्यादा सर्विस।असिस्टेंस की सर्विसेज का ऐसे करें इस्तेमाल... Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar App Assistance feature Dainik Bhaskar

आपकी आंखों की रोशनी छिनने से लेकर दिमागी तौर पर आपको बीमार बना रहा मोबाइल

India
विशेषज्ञों के जरिए जानते हैं, आखिर क्यों मोबाइल की लत बड़ी समस्या बनती जा रही है और क्या है इसका समाधान? Jagran Hindi News - news:national