News That Matters

Tag: उपाय

कई जानलेवा बीमारियों से बचाव का कारगर उपाय है ये मेवा, खाएंगे तो रहेंगे बिंदास

India
अखरोट शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा और रक्तचाप को नियंत्रित रखता है। डायबिटीज के मरीजों को रोज अखरोट खाने की सलाह दी जाती है। Jagran Hindi News - news:national

त्योहारों पर कंफर्म टिकट की टेंशन होंगी कम, रेलवे ने विशेष ट्रेनों के अलावा किए ये उपाय

India
त्योहारों पर अक्टूबर-नवंबर में ट्रेनों में यात्रियों की संख्या सबसे ज्यादा होती है। प्रयास किया जा रहा है कि हर व्यक्ति सुरक्षित और सुविधाजनक तरीके से अपने गंतव्य तक पहुंच सके। Jagran Hindi News - news:national

विश्व कप से पहले खिलाड़ी चोटिल ना हों इसके लिए ये उपाय निकाला टीम इंडिया ने

Indian Sports
2019 विश्व कप से पहले भारतीय टीम को कई सीरीज खेलनी है और इस दौरान खिलाड़ियों को फिट रखना एक बड़ी चुनौती होगी। Jagran Hindi News - cricket:headlines

गिर के शेरों को नहीं किया जाएगा शिफ्ट, बचाने के लिए किए जाएंगे ये उपाय

India
वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अधिकांश शेरों की मौत कैनाइन डिस्टेंपर वायरस (सीडीवी) और प्रोटोजोआ संक्रमण के कारण हुई है। Jagran Hindi News - news:national

डायबिटीज से मरीजों में बढ़ सकता है कैंसर का खतरा, बचकर रहना हैं तो करें ये उपाय

India
हाल ही में हुए एक अध्ययन में पाया गया है कि डायबिटीज के चलते रोगियों में कई प्रकार के कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। ऐसे रोगियों के बचने की संभावना भी कम हो सकती है। Jagran Hindi News - news:national
रेडक्रास सोसायटी द्वारा चलाया गया जागरूकता अभियान, एड्स से बचने के उपाय बताए गए

रेडक्रास सोसायटी द्वारा चलाया गया जागरूकता अभियान, एड्स से बचने के उपाय बताए गए

Haryana
सोनीपत | रेडक्राॅस सोसायटी द्वारा एड्स से बचने के लिए टीआई प्रोजेक्ट के तहत जागरूकता अभियान चलाया गया। अभियान के तहत लोगों को एड्स से बचने के उपाय बताए गए। इस दौरान डिप्टी सिविल सर्जन डाॅ. तरुण यादव, सचिव सरोज, सीटीएम सुरेंद्र सिंह मौजूद रहे। इन्होंने बारी बारी से एड्स से बचने के उपाय बताए। डाॅ. तरुण ने कहा कि एड्स से मरीज देश में घट रहे हैं। इसका कारण लोग इस बीमारी के प्रति जागरूक हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि सामान्य अस्पताल से इसका इलाज करवाया जा सकता है। यहां नि:शुलक जांच की व्यवस्था सरकार ने की है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
दिल की बीमारियों को दूर रखेंगे ये अचूक उपाय

दिल की बीमारियों को दूर रखेंगे ये अचूक उपाय

Health
भारत में दिल की बीमारियों के कारण होने वाली मौतों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हाई कॉलेस्ट्रॉल, धूम्रपान एवं आनुवंशिक कारणों से दिल की बीमारियों की संभावना बढ़ रही है। दक्षिण-पूर्वी एशियाई आबादी में आनुवंशिक रूप से दिल की बीमारियों की संभावना अधिक होती है। हम आपके दिल को बीमारियों से सुरक्षित रखने के लिए सात तरीके बता रहे हैं। जिसे अपनाकर आप दिल की बीमारियों से दूर रह सकते हैं। सेहतमंद आहार लें : संतुलित और सेहतमंद आहार का सेवन करने से शरीर को सही पोषण मिलता है। जंक फूड में फैट, नमक और चीनी बहुत अधिक मात्रा में होती है, जो समय के साथ हमारे दिल को बीमार बना देती है। अक्सर लोग बिना सोचे समझे प्रोसेस्ड फूड का सेवन करते हैं क्योंकि उन्हें यह बहुत आसान लगता है, लेकिन इस तरह का भोजन हमारी सेहत के लिए अच्छा नहीं है। हमारे आहार में पर्याप्त मात्रा में कैलोरीज, प्रोटीन, विटाम

तनाव में अब अकेले नहीं पड़ेंगे छात्र, जानें विश्वविद्यालयों और कॉलेजों ने क्‍या किया उपाय

India
यदि यह तनाव पढ़ाई से जुड़ा होगा तो शिक्षक ही खुद मदद करेंगे, यदि अन्य कारण होंगे, तो उन्हें परिवार और चिकित्सक की भी मदद दिलाई जाएगी। Jagran Hindi News - news:national

जन स्वास्थ्य की मजूबत होगी नींव, जानिये विश्वविद्यालयों ने क्‍या किए उपाय

India
देश भर के विश्वविद्यालय और कॉलेजों में जन स्वास्थ्य से जुड़े एक नए कोर्स को शुरू करने की मंजूरी दी है। Jagran Hindi News - news:national
ये हैं चिकनगुनिया के लक्षण, बचाव तथा उपाय, चुटकी बजाते दूर होगा शरीर दर्द भी

ये हैं चिकनगुनिया के लक्षण, बचाव तथा उपाय, चुटकी बजाते दूर होगा शरीर दर्द भी

Health
इन दिनों वायरल इंफेक्शन के जरिए फैलने वाली बीमारियों में सबसे ज्यादा खतरनाक बीमारियां तीन मानी जाती है, (1) मलेरिया, (2) डेंगू तथा (3) चिकनगुनिया। इन तीनों के ही लक्षण काफी हद तक मिलते जुलते होते हैं परन्तु उनके फैलने का कारण अलग-अलग तरह के वायरस होते हैं। चिकनगुनिया का फैलावएडिस मच्‍छर के काटने से फैलने वाली चिकनगुनिया बीमारी संक्रामक बीमारी नहीं है वरन केवल तभी फैलती है जब संक्रमित मच्छर किसी स्वस्थ मनुष्य को काट लें। वर्ष 1953 में पहली बार चिकनगुनिया का मामला तंजानिया में पाया गया था, धीरे-धीरे दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में फैलते हुए आज यह एशिया के लगभग अधिकतर देशों में फैल चुका है। चिकनगुनिया के लक्षणइस बीमारी के लक्षण आमतौर पर संक्रमित मच्छर के काटने के 2 दिन से दो हफ्ते के बीच दिखाई देने लगते हैं। इसके लक्षण काफी हद तक वायरल इंफेक्शन, मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों से मिलते जुलत