News That Matters

Tag: करते

जटायू पक्षी होकर भी नारी का अपमान सहन नहीं कर सके और कुछ इंसान तो नारी का ही अपमान करते हैं

जटायू पक्षी होकर भी नारी का अपमान सहन नहीं कर सके और कुछ इंसान तो नारी का ही अपमान करते हैं

Punjabi Politics
दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की ओर से राहों रोड पर चल रही तीन दिवसीय श्री हरि कथा के अंतिम दिन साध्वी वीरेशा भारती ने कहा कि भक्त को प्रभु पर अटूट विश्वास होना चाहिए। जैसा विश्वास भक्त प्रहलाद, संत कबीर आदि को था। भक्त का विश्वास चट्टान से भी मजबूत होना चाहिए। भक्त किसी भी संकट से भयभीत नहीं होता बल्कि प्रभु कृपा से विकट समस्या का समाधान खोज लेता है। भक्त जटायू जी ने माता सीता की रक्षा करते हुए अपने प्राण तक अर्पित कर दिये। भक्तराज जटायू ने हमें सीख दी कि भक्त प्रभु के कार्य इतने अच्छे ढंग से करें कि प्रभु प्रसन्न हो जाएं। जटायू जी ने नारी शोषण के विरुद्ध आवाज बुलंद की। पक्षी होकर भी नारी का अपमान सहन नहीं कर सके और तुम इंसान होकर भी नारी का अपमान करते हो। वर्तमान समय में नारी की दशा बहुत दयनीय है। नारी आज हर क्षेत्र में उन्नति कर रही है, परन्तु यह भी सच है कि पुत्र की च
पहले आईआईटीयन जो सीएम बने, उनकी सादगी, साफगोई की विपक्षी भी तारीफ करते थे

पहले आईआईटीयन जो सीएम बने, उनकी सादगी, साफगोई की विपक्षी भी तारीफ करते थे

India
पणजी. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार कोनिधन हो गया। वे पहले आईआईटीयन थे जो किसी राज्य के मुख्यमंत्री बने। पर्रिकर की सादगी और साफगोई की विरोधी भी तारीफ करते थे। उन्हें मुख्यमंत्री रहने के दौरान भी स्कूटर पर गोवा की सड़कों पर देखा जाना आम था। साल 2001 में पर्रिकर को आईआईटी बॉम्बे ने विशिष्ट एल्यूमिनी अवॉर्ड से सम्मानित किया था।मनोहर गोपालकृष्ण पर्रिकर का जन्म गोवा के मापुसा में 13 दिसंबर 1955 को हुआ था। पर्रिकर स्कूली शिक्षा के दौरान ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे। उन्होंने 1978 में आईआईटी बॉम्बे से मेटालर्जिकल इंजीनियरिंग में स्नातक किया था। इसके बाद वे 26 साल की उम्र में मापुसा के संघ चालक बने। 1988 में भाजपा में शामिल हुए।इस दौरान वे राम जन्मभूमि आंदोलन का भी प्रमुख हिस्सा रहे।स्कूटर से जाते थे विधानसभागोवा के मुख्यमंत्री होने के बावजूद पर्रिकर
महिला सरपंच को पास बैठने से लेडी MLA ने रोका; इशारा करते हुए बोली- जमीन पर लोगों के साथ जाकर बैठिए

महिला सरपंच को पास बैठने से लेडी MLA ने रोका; इशारा करते हुए बोली- जमीन पर लोगों के साथ जाकर बैठिए

Rajasthan
जोधपुर, राजस्थान। सोशल मीडिया पर ओसियां विधायक दिव्या मदेरणा का एक और वीडियोवायरल हुआ है। वीडियो में विधायक दिव्या मदेरणा महिला सरपंच का अपमान करती दिखीं हैं।विधायक सरपंच चंदू देवी को अपने पास मंच पर बैठने से रोकती है और कुर्सी से उठा कर जमीनपर दर्शकों के साथ बैठने का इशारा करती हैं। जिसके बाद सरपंच जमीन पर लोगों के बीच जाकरबैठ जाती हैं। यह वायरल वीडियो ओसियां के पास खेतासर गांव का है। वीडियो को लेकर विधायकसाहिबा की जमकर किरकिरी हो रही हैं। महिला जनप्रतिनिधि होते हुए भी किया मेरा अपमान- सरपंचकार्यक्रम में अपमान के बावजूद सरपंच ने किसी तरह का विरोध नहीं किया और जाकर पंडाल मेंबैठना उचित समझा। वायरल वीडियो को लेकल विधायक दिव्या मदेरणा की कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आईं है। वहीं महिला सरपंच का कहना था कि विधायक मदेरणा ने एक महिला जनप्रतिनिधि होते हुए भी मेरा अपमान कर बराबर न

फिल्म के लिए ऑनलाइन टिकट बुक करते हैं तो इस खबर को जरूर पढ़ें

Indian Technology
BookMyShow : आपने गौर किया होगा कि किसी फिल्म का टिकट जब आप ऑनलाइन बुक करते हैं तो आपको 157.82 रुपये देने पड़ते हैं लेकिन जब आप इसी टिकट को बुकमायशो के काउंटर पर जाकर खरीदते हैं तो आप 138 रुपये देने पड़ते हैं। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
मीट की दुकानों पर बाल मजदूरी करते चार बच्चे कराए मुक्त

मीट की दुकानों पर बाल मजदूरी करते चार बच्चे कराए मुक्त

Haryana
यमुनानगर | चाइल्ड लाइन-1098 टीम ने थाना शहर पुलिस के साथ बाल मजदूरी को लेकर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। इसमें इंडस्ट्रियल एरिया स्थित मीट मार्किट से 4 बच्चों को बाल मजदूरी कर मुक्त कराया गया। बच्चे मीट की दुकानों पर बहुत गंदे व बदबूदार हालात में काम कर रहे थे। चाइल्ड लाइन से को-ऑर्डिनेटर भानू प्रताप ने बताया कि सभी बच्चे काफी कम उम्र के हैं। बच्चों को रेस्क्यू करने के बाद चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के आदेशानुसार बालकुंज भेज दिया गया। आगे की कार्रवाई बाल कल्याण समिति के आदेशानुसार होगी। मौके पर उनकी टीम में रविंद्र मिश्रा व थाना सिटी यमुनानगर प्रभारी चमनलाल व उनकी टीम मौजूद रही।। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar

आज के दौर में भी यहां पर संचार के लिए नहीं है मोबाइल, लोग चिट्ठी के लिए करते हैं इंतजार

India
जब पूरी दुनिया सोशल मीडिया और फोर जी के दौर से गुजर रही है स्मार्ट फोन लोगों की जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुके हैं ऐसे में खत के भरोसे रहने वाले लोगों की मुश्किलों को आसानी से समझा जा सकता है। Jagran Hindi News - news:national
दहशत फैलाने के लिए बेरहमी से पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर करते थे वायरल, 3 अरेस्ट

दहशत फैलाने के लिए बेरहमी से पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर करते थे वायरल, 3 अरेस्ट

Haryana
फरीदाबाद। फरीदाबाद पुलिस ने एक ऐसे गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है, जो अवैध वसूली व अन्य वारदात को अंजाम देने के साथ-साथ दहशत फैलाने के लिए मारपीट करते थे। आरोपी इस मारपीट का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी वायरल कर देते थे। अलग-अलग जगह मामले दर्ज होने पर पुलिस ने कार्रवाई कर इनके तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है।क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 की टीम द्वारा नचौली भूपानी निवासी गैंग का सरगना कुलभूषण उर्फ कुल्लू पुत्र ज्ञानचंद समेत तीन को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से तमंचा, लोहे के रॉड, घटना में प्रयोग की जाने वाली कार भी बरामद की गई है।शहर के कई थानों में इनके खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज है। पकड़े गए अन्य बदमाशों की पहचान शाहबाद तिगांव निवासी दीपक पुत्र महेंद्र व भारत कॉलोनी खेड़ी पुल निवासी अंकित पुत्र श्याम सुंदर के रूप में हुई है।एसीपी ने बताया कि क्राइम ब्रा

YouTube वीडियो देखकर करते हैं इलाज, तो देख लीजिए इस लड़की की हालत

Indian Technology
यह बात हम आपसे इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि गूगल पर दवाई खोजना या तो आपकी जान ले सकता है या फिर आपको इतना बीमार बना सकता है कि आप इलाज के काबिल नहीं रह जाएंगे। आज हम आपको दो ऐसी ही स्टोरी बताने वाले हैं कि आप भी चौंक जाएंगे। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
पुलवामा हमले में था जैश-ए-मोहम्मद का हाथ, ये सबूत करते हैं साबित

पुलवामा हमले में था जैश-ए-मोहम्मद का हाथ, ये सबूत करते हैं साबित

India
Pulwama terror attack: पुलवामा आतंकी हमले की जांच में दौरान भारत को पुख्ता सबूत मिले हैं कि पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद (JeM) आतंकी संगठन ही इसमें शामिल था। हालांकि जैश ने खुद भी इस हमले की... Live Hindustan Rss feed
12वीं बोर्ड परीक्षा में कान में ब्लूटूथ लगाकर नकल करते हुए छात्र को पकड़ा

12वीं बोर्ड परीक्षा में कान में ब्लूटूथ लगाकर नकल करते हुए छात्र को पकड़ा

Haryana
रोहतक।हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन व सचिव की ओर से लगातार बरती जा रही सख्ती का आलम यह है कि केंद्रों में हररोज छात्रों की ओर से नकल करने के नए तरीके सामने आ रहे हैं। मंगलवार को जिले के परीक्षा केंद्रों पर 12वीं कक्षा की भौतिक विज्ञान (फिजिक्स) व अर्थशास्त्र विषय की परीक्षा कराई गई। महम ब्लॉक में बोर्ड चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह ने औचक निरीक्षण किया। महम के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में कान में ब्लूटूथ लगाकर नकल करते हुए छात्र को पकड़ा।कैथल निवासी छात्र कुरुक्षेत्र से कोचिंग व रोहतक जिले के खरैंटी गांव के एक प्राइवेट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में 12वीं में नॉन अटैंडिंग में दाखिला लिए हुए था। उसका नकल का केस बनाकर चेयरमैन ने पुलिस को शिकायत देने के आदेश दिए। हालांकि लिखित शिकायत नहीं मिलने से केस दर्ज नहीं हो सका है।बिना आईकार्ड के सेंटर में ड्यूटी दे रहे