News That Matters

Tag: कुछ

पाक के खिलाफ कुछ किए बगैर अपनी पीठ थपथपा रही है सरकार: शिवसेना

पाक के खिलाफ कुछ किए बगैर अपनी पीठ थपथपा रही है सरकार: शिवसेना

India
मुंबई. शिवसेना ने कहा है कि पाक के खिलाफ कड़ा एक्शन लेने की बजाए सरकार केवल इस बात के लिए अपनी पीठ थपथपा रही है कि अमेरिका और फ्रांस जैसे देश पुलवामा हमले पर उसके साथ खड़े हैं। अपने मुखपत्र सामना में उसने लिखा है कि पाक के खिलाफ सरकार को तत्काल कड़ा कदम उठाना चाहिए। सेना ने सवाल किया कि क्या एक्शन के लिए चुनाव का इंतजार है?संपादकीय में लिखा है कि मोदी सरकार प. देशों पर ज्यादा निभर्र न रहे। ये देश पुलवामा हमले पर तो भारत के पक्ष में बयानबाजी कर सकते हैं, लेकिन कश्मीर मामले पर खुलकर कुछ नहीं कह सकते।लेख में कहा गया है कि भारत को अपने दम पर लड़ाई लड़नी होगी। वैसे ही जैसे श्रीलंका ने लिट्‌टे का और अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन का पाकिस्तान में घुसकर खात्मा किया।सेना का कहना है कि लादेन को मार गिराने पर अमेरिका की सारे विश्व ने सराहना की। लिट्‌टे का खत्म करने के लिए श्रीलंका को हर ज

इमरजेंसी की सूचना मिलने पर कुछ पल में पहुंचेगी मदद, देश में विकसित हो रही तकनीक

India
प्रो. अमिता सिंह ने कहा कि आज के दौर में हमारे स्मार्ट फोन का इस्तेमाल बेहद बढ़ गया है। इसमें भी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआइ) का इस्तेमाल हो रहा है उसी तर्ज पर यह भी विकसित होगी। Jagran Hindi News - news:national
शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

Haryana
रेवाड़ी (हरियाणा)।श्रीनगर के पुलवामा (पिंगलेना) में सोमवार को शहीद हुए हरि सिंह चौहान का पार्थिव शरीर मंगलवार सुबह पैतृक गांव राजगढ़ पहुंचा। उनकी शहादत को नमन करने के लिए हजारों लोगों का हुजूम जिंदाबाद के नारे लगाते हुए उनके घर तक पहुंचा गया।शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह, राज्य के शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा, पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह, जनस्वास्थ्य मंत्री डॉ. बनवारी लाल समेत शासन-प्रशासन का पूरा अमला उमड़ा।बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कश्मीर से धारा 370 हटाकर देशद्रोहियों को खत्म क्यों नहीं करतीशहीद हरि सिंह की बड़ी बहन पूनम ने विलाप करते हुए कश्मीर के हालात को कोसा। कहा कि कब तक हमारी जैसी बहनें अपना भाई खोती रहेंगी। कब तक 22-23 साल की पत्नी का सुहाग शहीद होगा। सरकार एक बार में ही धारा 370 हटाकर वहां देशद्
शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

Haryana
रेवाड़ी (हरियाण). श्रीनगर के पुलवामा (पिगलीना) में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए हरि सिंह चौहान का पार्थिव शरीर मंगलवार को पैतृक गांव राजगढ़ पहुंचा। देश के लिए शहादत देने वाले जवानों की अंतिम यात्रा में जन सैलाब उमड़ा। हजारों लोगों ने यात्रा में शामिल होकर बहादुर बेटे को सलामी दी और नम आंखों से जवान की शहादत को नमन किया। गांव में राजकीय सम्मान के साथ शहीद की अंत्येष्टि की गई। 10 माह के बेटे लक्ष्य ने शहीद हरि सिंह को मुखाग्नि दी।सोमवार अलसुबह शहादत के बाद शाम 5 बजे तक पार्थिव शरीर गांव पहुंचने की सूचना थी, मगर देरी के चलते बेस अस्पताल दिल्ली में रखा गया। यहां मंगलवार सुबह करीब 6 बजे सेना के जवान पार्थिव शरीर लेकर रवाना हुए। दिल्ली-जयपुर हाईवे होते हुए शव को गांव लाया गया। पूरे रास्ते शहीद पर फूल बरसाए गए। लगातार शहीद अमर रहे और भारत माता के जयकारे लगते रहे। पाकिस्तान
जानें हमारे खानपान से जुड़ी कुछ भ्रांतियां और सच्चाइयां

जानें हमारे खानपान से जुड़ी कुछ भ्रांतियां और सच्चाइयां

Health
हमारी शारीरिक फिटनेस खानपान और रहन-सहन की आदतों पर निर्भर करती है। क्या खाते हैं, क्या पीते हैं, जीवनशैली और दिनचर्या क्या है, इसका असर हमारी सेहत पर पड़ता है। लेकिन खानपान से जुड़ी इतनी भ्रांतियां हैं कि हम कई बीमारियों को जानबूझकर गले लगा रहे हैं। आयुर्वेद के माध्यम से जानें इससे जुड़ी सच्चाई - शेक में दूध का उपयोग - हम अक्सर आम या केले से बना शेक पीना पसंद करते हैं। लेकिन आयुर्वेद के अनुसार दूध के साथ आम, केला, नारियल, बेर, अखरोट, अनार, कटहल व आंवले का प्रयोग नहीं करना चाहिए। आयुर्वेद के ग्रंथों में इसे विरुद्ध आहार कहा गया है। इन्हें खाने से बेहोशी, आफरा, जलोदर यानी पेट में पानी भर जाना, खून की कमी (एनीमिया), कुष्ठ, बुखार, कमजोरी, पुराना जुकाम, नपुंसकता व अंधापन जैसी समस्या हो सकती हैं। ज्यादा पानी पीने से शरीर की सफाई - आयुर्वेद के अनुसार केवल गर्मी का मौसम ही एक ऐसा मौसम है, जिसमें इ
कुछ अलग हैं ये किसान : साइकिल तक नहीं थी, खेती से कमाई कर गाड़ियों में घूमते हैं

कुछ अलग हैं ये किसान : साइकिल तक नहीं थी, खेती से कमाई कर गाड़ियों में घूमते हैं

Haryana
चौथे एग्री लीडरशिप समिट- 2019 में प्रदेशभर से पहुंचे प्रगतिशील किसानों ने अपनी सफलता के राेचक किस्से बताए।कोटा।कभी मौसम की मार तो कभी बाजार की मार। ऐसे में जहां खेती से लागत भी निकालना मुश्किल होता है, लेकिन प्रगतिशील किसान इसी तरह की चुनौतियों के सामने कामयाबी की इबारत लिख रहे हैं। उनके लिए खेती घाटे का नहीं, बल्कि मुनाफे और उसके साथ शोहरत का भी साधन बन रही है। गन्नौर स्थित अंतरराष्ट्रीय फल व सब्जी मंडी में शुरू हुए चौथे एग्री लीडरशिप समिट- 2019 में प्रदेशभर से पहुंचे प्रगतिशील किसानों ने अपनी सफलता के राेचक किस्से बताए।आंवले से 6 लाख सलाना इनकम महावीर आर्य गुड़गांव के फरूखनगर के किसान ने बताया कि वर्ष 1998 में कपड़े की दुकान से करीब 10 लाख रुपए का सामान चोरी हो गया तो उभर नहीं सका। उन्होंने आंवले का बाग लगाया। उसके खेत में 222 पौधे आंवले के लगे है। हाल में 400 क्विंटल प
कुछ लोग हजारों करोड़ लेकर फरार हो गए, किसानों को मुद्रा लोन तक नहीं : बीरेंद्र सिंह

कुछ लोग हजारों करोड़ लेकर फरार हो गए, किसानों को मुद्रा लोन तक नहीं : बीरेंद्र सिंह

Haryana
गन्नौर (सोनीपत)। गन्नौर की अंतरराष्ट्रीय बागवानी मंडी में शुक्रवार को एग्री लीडरशिप समिट के पहले दिन पहुंचे केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह ने किसानों को उचित लोन नहीं मिल पाने पर तंज कसा। उन्होंने कृषि मंत्री ओपी धनखड़ की ओर इशारा करते हुए कहा कि 'देश में कुछ लोग हजारों करोड़ कर्ज लेकर फरार हो गए। बैंक व्यापारियों को लोन देने में रुचि दिखाते हैं। मुद्रा लोन देने का खूब ढिंढोरा पीटा जा रहा है, लेकिन किसानों को नहीं मिलता।'उन्होंने किसानों से हाथ भी उठवाए और मुद्रा लोन लेने के बारे में पूछा। उन्होंने कहा कि केंद्र ने किसानों की सहायता के लिए 6 हजार सालाना देने की योजना बनाई है। राज्य सरकार चाहे तो इसे और बढ़ा सकती है, किसी ने रोका नहीं है। उन्होंने आश्वासन दिया कि न कलम हाथ से छूटी है न कागज हाथ से, अगर हमें फिर से मौका मिला तो 6 हजार रुपए वार्षिक में और वृद्धि होती रहेगी।
बेटे की शादी की तैयारियों में जुटी थे माता-पिता, कुछ दिन पहले हुई थी मंगनी, अचानक आ गई इकलौते बेटे की शहादत की खबर, पिता ने शहादत के बाद पहन ली है पुत्र की वर्दी…

बेटे की शादी की तैयारियों में जुटी थे माता-पिता, कुछ दिन पहले हुई थी मंगनी, अचानक आ गई इकलौते बेटे की शहादत की खबर, पिता ने शहादत के बाद पहन ली है पुत्र की वर्दी…

Punjab
रोपड़ (पंजाब)।जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए कुलविंदर सिंह के घर का दौरा करने पर उनके परिवार ने उनके बारे में कई बातें बताईं। उनके पिता दर्शन सिंह ने बताया कि सीआरपीएफ की 92वीं बटालियन में सिपाही कुलविंदर सिंह 10 फरवरी को ही तो 10 दिन की छुट्‌टी काटकर ड्यूटी पर वापस लौटे थे। 12 फरवरी को उन्होंने घर पर आखिरी फोन किया था। फोन पर पिता को नए घर को पेंट करवाने के लिए कहा था क्योंकि नबंवर माह में कुलविंदर की शादी होने वाली थी तथा कुलविंदर का नया घर उनके पिता दर्शन सिंह अपनी देखरेख में बनवा रहे थे। मकान का कार्य भी 80 फीसदी मुकम्मल हो चुका है। आज उस नए घर को देक-देखकर परिवार फफक-फफककर रो रहा है।14 फरवरी सुबह मंगेतर से फोन करके की थी आखिरी बातशहीद कुलविंदर सिंह ने 14 फरवरी को सुबह करीब 11 बजे अपनी मंगेतर को फोन कॉल करके बात की थी और बताया था क
पुलवामा हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान का ये वीडियो हो रहा वायरल, बोले- कुछ लोग मेरा सुख-चैन छीनने की कोशिश कर रहे हैं

पुलवामा हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान का ये वीडियो हो रहा वायरल, बोले- कुछ लोग मेरा सुख-चैन छीनने की कोशिश कर रहे हैं

Rajasthan
जयपुर. 14 फरवरी की शाम पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों की बस पर हुए आतंकी हमले के बाद से सोशलमीडिया पर शहीद नारायण लाल गुर्जर का वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वो किसी के बारे में कह रहे हैंकि उन्होंने उनका सुख-चैन छीन लिया है। वो उन्हें सबक सिखाने की अपील कर रहे हैं। गौरतलब है कि पुलवामा हमले में राजसमंद के सपूत नारायण लाल गुर्जर भी शहीद हुए ये। ये वायरल वीडियो घटना से कुछ समय पहलेका ही बताया जा रहा है।आतंकियों ने ऐसे दिया हमले को अंजामगुरुवार को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से कश्मीर की ओर जा रहा था। काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं।जिनमें 2500 से ज्यादा जवान सवार थे। आतंकियों ने जिस बस को निशाना बनाया, उसमें 40 से ज्यादा जवानमौजूद थे। जैश-ऐ-मोहम्मद के आतंकी ने 350 किलो विस्फोटक से लदे वाहन को बस से भिड़ा दिया। जिसके बाद हमारे जवानों के लहू से सड़कें लाल हो गईं। धमाक
कुछ ही दिनाें में माेटापा घटाकर सुडाैल बना देगा गाजर, मूली, नींबू का ये नुस्खा

कुछ ही दिनाें में माेटापा घटाकर सुडाैल बना देगा गाजर, मूली, नींबू का ये नुस्खा

Health
पहले के जमाने में माेटापे का असर बड़ी उम्र के लाेगाें में दिखार्इ देता था, लेकिन आजकल ताे छाेटी उम्र के लाेग भी माेटापे का शिकार हाे रहे हैं।इसका सबसे बड़ा कारण आलसपूर्ण लाइफस्टाइल और अनुचित खानपान है।अगर आप भी माेटापे से परेशान हैं ताे आज हम आपकाे बताने जा रहे हैं एेसे देसी नुस्खें जिन्हें अपनाकर आप कुछ दिन में अपना माेटापा कम कर सकते हैं। आइए जानते हैं क्या है वाे नुस्खे :- नींबू- 25 ग्राम नींबू के रस में 25 ग्राम शहद मिलाकर 100 ग्राम गर्म पानी के साथ प्रतिदिन सुबह-शाम पीने से मोटापा दूर होता है।- एक नींबू का रस प्रतिदिन सुबह गुनगुने पानी में मिलाकर पीने से मोटापे की बीमारी दूर होती है।।- 1 नींबू का रस 250 ग्राम पानी में मिलाकर थोड़ा सा नमक मिलाकर सुबह-शाम 1-2 महीने तक पीएं। इससे मोटापा दूर होता है।- नींबू का 25 ग्राम रस और करेला का रस 15 ग्राम मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करने से मोटापा नष्ट