News That Matters

Tag: क्यों

जानिए लड़कियों को क्यों लगती है जल्दी चोट

जानिए लड़कियों को क्यों लगती है जल्दी चोट

Health
उचित प्रशिक्षण और खेलने की सही तकनीक की कमी जैसे क्रिकेट बैट पकड़ने का गलत तरीका, इसपर ग्रिप नहीं चढ़ाना, गार्ड या हेलमेट न लगाना, रनिंग से जुड़े गेम्स में दौड़ने वाले जूतों की कमी। 'वॉर्म अप' और 'कूलिंग डाउन' जैसे अभ्यास, ओवरलोडिंग और सक्रिय मांसपेशियों का बार-बार इस्तेमाल करने से खिलाड़ियो को चोट का खतरा रहता है। युवाओं को खासकर इनसे बचना चाहिए क्योंकि हड्डी या मांसपेशियों पर किसी भी तरह की चोट आगे चलकर परेशानी बन सकती है। जानें बचाव व उपचार के बारे में- खतरा अधिक : महिला व पुरुष दोनों को खेल के दौरान चोट लग सकती है। महिलाओं के लिगामेंट मुलायम होने के साथ उनमें मसल मास भी कम होता है। ऐसे में इन मुलायम ऊतकों में चोट लगने की आशंका रहती है। कुश्ती, रग्बी आदि के खिलाड़ियों को भी चोट लगने का खतरा रहता है। लक्षण-व्यक्ति का प्रदर्शन समय के साथ लगातार घट रहा हो या बार-बार की जाने वाली गतिविधि (स
जानिए क्लब फुट के बारे में, क्यों होती है ये समस्या, क्या है इसका उपचार

जानिए क्लब फुट के बारे में, क्यों होती है ये समस्या, क्या है इसका उपचार

Health
मांसपेशियों को हड्डियों से जोड़ने वाले ऊतक छोटे हो जाते हैं। ऐसे में प्रभावित पैर टखने से अंदर की ओर मुड़ जाता है। क्लब फुट क्या है?क्लब फुट, एक या दोनों पैरों को प्रभावित करने वाली जन्मजात विकृति है। आमतौर पर पैर के पंजे 90 डिग्री पर होते हैं। लेकिन रोग के कारण मुड़ाव आने से पैरों का आकार या स्थिति असामान्य हो जाती है। मांसपेशियों को हड्डियों से जोड़कर रखने वाले ऊतक सामान्य से छोटे हो जाते हैं। इससे पैर टखने से अंदर मुड़ जाता है। इसके लक्षण क्या हैं?आमतौर पर पैर का अगला भाग नीचे-अंदर की ओर मुड़ा होता है, पैर इतने अधिक मुड़ जाते हैं कि ऐसे लगते हैं कि वो उल्टे हों। प्रभावित पैर दूसरे से लगभग एक सेमी.छोटा हो सकता है। पैर असामान्य दिखने के बावजूद इसमें कोई दर्द या परेशानी नहीं होती है। रिस्क फैक्टर क्या हैं?माता-पिता दोनों को या किसी एक को यह रोग है तो बच्चों में इसके होने की आशंका दोगुनी हो

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने बताया, क्यों यूपी में निजी विश्वविद्यालयों पर दिया जा रहा है जोर

Indian Education
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि नया कानून बनने के बाद प्रदेश में नए निजी विश्वविद्यालयों की स्थापना के रास्ते Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
निजी स्कूलों को अब शैक्षणिक सत्र के बीच में ही देनी होगी कितनी बढ़ाई है फीस और क्यों

निजी स्कूलों को अब शैक्षणिक सत्र के बीच में ही देनी होगी कितनी बढ़ाई है फीस और क्यों

Haryana
अभिभावकों सहित विभिन्न संगठनों की ओर से निजी स्कूल संचालकों से मनमानी फीस को लेकर लगाए जा रहे आरोप के मद्देनजर शिक्षा निदेशालय ने प्राइवेट स्कूलों से फीस स्ट्रक्चर की जानकारी मांगी है। स्कूलों को 21 अगस्त तक ऑनलाइन मैनेजमेंट इन्फार्मेशन सिस्टम (MIS) पोर्टल पर सारी डिटेल देनी होगी। स्कूलों की फीस संरचना में पारदर्शिता रखने के लिए यह कवायद की जा रही है। सोनीपत सीबीएसई के करीब 78 तथा अन्य निजी स्कूल करीब 450 है। विभागीय जानकारी के अनुसार स्कूलों को क्लास वाइज फीस की जानकारी http://hryedumis.gov.in में फीस इन्फार्मेशन में जाकर यह जानकारी अपलोड करनी होगी। निदेशालय ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारी, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी और प्राइवेट स्कूलों को इस संबंध में ई-मेल कर सूचित किया है। जिन स्कूलों को ऑनलाइन फॉर्म भरने में परेशानी आएगी। उनके लिए हेल्प ई-मेल आईडी और फोन नंबर
यूपी BJP अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने योगी के मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा, जानें क्यों

यूपी BJP अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने योगी के मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा, जानें क्यों

India
उत्तर-प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सोमवार को योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने पार्टी के 'एक-व्यक्ति, एक-पद' के नियम को ध्यान... Live Hindustan Rss feed
द्रोणाचार्य पुरस्कार की दौड़ में क्यों पिछड़े जसपाल राणा, हुआ खुलासा

द्रोणाचार्य पुरस्कार की दौड़ में क्यों पिछड़े जसपाल राणा, हुआ खुलासा

Indian Sports
द्रोणाचार्य पुरस्कारों के लिए जसपाल राणा (Jaspal Rana) के नाम की घोषणा नहीं होने के बाद हुए विवाद पर 12 सदस्यीय चयन समिति के एक सदस्य ने कहा कि उनके मार्गदर्शन में खेल रहे किसी भी खिलाड़ी ने आधिकारिक... Live Hindustan Rss feed

19 साल का ये धावक ‘उसेन बोल्ट’ को दे रहा टक्कर, जनिए अखिर इसे क्यों ढूंढ रहे हैं किरण रिजिजू

India
सोशल मीडिया पर विडियो वायरल होने के बाद मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के ट्वीट पर खेल मंत्री किरण रिजिजू ने संज्ञान लिया था। Jagran Hindi News - news:national
Hepatitis: जानिए हेपेटाइटिस क्यों होता है इसके लक्षण क्या हैं

Hepatitis: जानिए हेपेटाइटिस क्यों होता है इसके लक्षण क्या हैं

Health
Hepatitis: हेपेटाइटिस वायरल इंफेक्शन है। यह बीमारी लिवर को प्रभावित करती है। लिवर का काम शरीर के सभी अंगों को पोषक तत्त्व पहुंचाना होता है। हेपेटाइटिस के संक्रमण से लिवर में सूजन आ जाती है। इससे व्यक्ति को पीलिया हो जाता है। यह संक्रामक बीमारी है जो लापरवाही करने पर एक से दूसरे व्यक्ति में भी फैल सकती है। जानलेवा भी हो सकती है। डॉ क्टर्स की मानें तो हेपेटाइटिस बी व सी सबसे ज्यादा खतरनाक होते हैं। इसके मरीजों को लिवर सिरोसिस होने की आशंका रहती है। इसमें मरीजों का लिवर सिकुड़कर काम करना बंद कर देता है। कई बार लिवर में पानी भर जाता है। खून की उल्टियां होने लगती हैं और शरीर पर सूजन आ जाती है। मरीज को लिवर कैंसर होने की आशंका बढ़ जाती है। ऐसे में इस बीमारी से बचाव ही सबसे कारगर उपाय है। इसके लिए धारदार चीज जैसे इंजेक्शन, रेजर्स या टूथब्रश दूसरे से साझा न करें। असुरक्षित यौनसंबंध न बनाएं और दूषि
आखिर क्यों ओडिशा का यह शख्स पेड़ के ऊपर ‘घर’ बनाकर रह रहा है?

आखिर क्यों ओडिशा का यह शख्स पेड़ के ऊपर ‘घर’ बनाकर रह रहा है?

India
ओडिशा के क्योंझर जिले के कुसुमिता गांव का एक शख्स जंगली हाथियों से भरे क्षेत्र में सुरक्षित रहने के लिए एक अस्थायी ढांचे पर पेड़ ऊपर रह रहा है। बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले जंगली हाथियों ने... Live Hindustan Rss feed
Raksha Bandhan 2019: इस गांव में नहीं मनाया जाता है रक्षाबंधन, जानें क्यों निभाई जा रही है अजीब परंपरा

Raksha Bandhan 2019: इस गांव में नहीं मनाया जाता है रक्षाबंधन, जानें क्यों निभाई जा रही है अजीब परंपरा

India
देशभर में बहनों को भाइयों की कलाई पर राखी बांधने का बेसब्री से इंतजार है। भाई भी रक्षा सूत्र बंधवाकर बहनों को उपहार देने की तैयारी में जुटे हैं मगर एक गांव ऐसा भी है जहां रक्षाबंधन मनाने की बात तो... Live Hindustan Rss feed