News That Matters

Tag: गिरा

रोचक खबरें: मीटिंग के दौरान ऊपर से गिरा 5 फुट का अजगर, वायरल हुआ वीडियो, पढ़ें ऐसी ही दिलचस्प खबरें

रोचक खबरें: मीटिंग के दौरान ऊपर से गिरा 5 फुट का अजगर, वायरल हुआ वीडियो, पढ़ें ऐसी ही दिलचस्प खबरें

India
चीन के एक बैंक में मीटिंग के दौरान कर्मचारियों पर छत से अजगर गिर गया। 5 फुट का यह अजगर पंखे से गिरा था। इसके बाद वहां खलबली मच गई। यहां पढ़ें ऐसी दिलचस्प खबरें- वायरल Video: मीटिंग के दौरान... Live Hindustan Rss feed
हादसा: पंक्चर की दुकान पर फटा कंप्रेशर तो 12 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत, कोई 40 फुट दूर जा गिरा तो किसी के कान-टांगे और पीठ से निकले मांस के टुकड़े

हादसा: पंक्चर की दुकान पर फटा कंप्रेशर तो 12 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत, कोई 40 फुट दूर जा गिरा तो किसी के कान-टांगे और पीठ से निकले मांस के टुकड़े

Punjabi Politics
लुधियाना। सड़क पर लगा रखे पंक्चर के अड्डे पर रखा कंप्रेशर 60 पौंड ज्यादा हवा भरने से जोरदार धमाके के साथ फट कर 40 फुट दूर जा गिरा। इस दौरान पास में खेल रहा अमित(12) भी कंप्रेसर के साथ उछल कर दूर जा गिरा जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में आसपास खड़े लोगों में से एक के सिर में रॉड धंस गई जबकि अन्य तीन लोगों के शरीर में दुकान पर पड़े औजार धंस गए।धमाका इतना तेज था कि टूट गए आस-पास के दुकानों के शीशेधमाके के कारण आसपास की दुकानों के शीशे भी टूट गए। वहां खड़े साइकिलों के परखचे तक उड़ गए। इलाके में भगदड़ मच गई। गंभीर रूप से जख्मी ग्यासपुरा के शीशपाल सिंह(40), संजीव कुमार (38), गुरमेल नगर के सगे भाई विक्की(20), सिक्की(15) को प्राइवेट अस्पताल पहुंचाया गया। खबर लिखे जाने तक विक्की को डिस्चार्ज कर दिया गया था। सूचना मिलने पर थाना डाबा की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने अमित की
शर्मनाक वीडियो: डम्पर से टकराई कार, 8 की मौत, 60 फीट दूर जाकर गिरा यह बच्चा; यूं बैठा-बैठा तड़पता रहा

शर्मनाक वीडियो: डम्पर से टकराई कार, 8 की मौत, 60 फीट दूर जाकर गिरा यह बच्चा; यूं बैठा-बैठा तड़पता रहा

Rajasthan
उदयपुर, राजस्थान। शनिवार को हुए एक भीषण एक्सीडेंट के बाद कुछ लोगों ने फिर इंसानियत को शर्मिंदा कर दिया। एक घायल मासूम वहां बैठा-बैठा तड़प रहा था, लेकिन कुछ लोग उसका दर्द बांटने के बजाय वीडियो बनाते रहे। हादसा उदयपुर से 50 किमी दूर जयसमंद-सलूंबर मार्ग पर खेराड़ गांव के पास हुआ। सुबह करीब 11 बजे स्विफ्ट डिजायर कार गिट्‌टी से भरे खड़े डंपर से टकरा गई थी। हादसे में द मॉरल एकेडमी स्कूल के 3 बच्चों और 5 लेडी टीचरों की मौत हो गई थी। यह बच्चा और दो टीचर गंभीर घायल हैं।ये हुए घायल: स्कूल संचालिका प्रेक्षा चौधरी, सलूंबर निवासी 6 वर्षीय करण सिंह और 19 वर्षीय पायल शर्मा।-टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार घटनास्थल से 40 फीट दूर जाकर पलट गई। कार पलटने से पहले 2 बच्चे और 3 टीचर कार से बाहर दूर जा फिंके। यह 6 साल का मासूम करीब 60 फीट दूर जाकर गिरा।-कार में 4 बच्चे व 7 टीचर बैठी थीं। मृत
शर्मनाक CCTV फुटेज: 4 महिलाओं ने लातें मार-मारकर गिरा दिया 4 महीने का गर्भ

शर्मनाक CCTV फुटेज: 4 महिलाओं ने लातें मार-मारकर गिरा दिया 4 महीने का गर्भ

Punjabi Politics
अमृतसर, पंजाब। अमृतसर से इंसानियत को शर्मसार करने वाला वीडियो सामने आया है। इसमें कुछ महिलाएं एक गर्भवती को लातों से मार रही हैं। इस घटना में उसे गर्भपात हो गया। मामला अवैध संबंधों का बताया जा रहा है। पीड़ित महिला की मानें तो पुलिस पिछले तीन दिन से कार्रवाई की बजाय दोनों पक्षों में समझौता कराने के लिए कहती रही। जब घटना का सीसीटीवी सार्वजनिक हो गया तो मजबूर होकर केस दर्ज करना पड़ा। बहरहाल मामले की जांच जारी है।-पीड़ित महिला की पहचान अमृतसर के फैजपुरा की रहने वाली कंवलजीत के रूप में हुई है। उसका कसूर सिर्फ इतना है कि वह अपनी एक सहेली रंजना का घर टूटने से बचाने की कोशिश कर रही थी। कंवलजीत ने रंजना को बस इतना ही बताया था कि उसके पति के गीता नामक एक महिला के साथ ताल्लुक हैं। इसी बात से खफा गीता 4 महिलाओं के साथ कंवलजीत के घर पहुंच गई। इन सभी ने कंवलजीत को बुरी तरह से लात मार-म
अक्टूबर के पहले हफ्ते में गिरा पारा, रातें ठंडी, दिन का पारा सामान्य से 1 डिग्री कम

अक्टूबर के पहले हफ्ते में गिरा पारा, रातें ठंडी, दिन का पारा सामान्य से 1 डिग्री कम

Punjab
मॉनसून के विदा होते ही मौसम में जबरदस्त बदलाव देखने को मिल रहा है। अक्टूबर के पहले सप्ताह में ही मैक्सिमम और मिनिमम पारा एक से दो डिग्री माइन्स में चल रहा है। इसके कारण रातें ठंडी होने लगी हैं। मौसम में इस तरह के बदलाव का कारण ये है कि मॉनसून की शुरूआत से लेकर विदाई तक शहर में हुई जबरदस्त बारिश से नमी की मात्रा काफी बढ़ गई है। पिछले एक सप्ताह से दिन में तेज धूप निकलने का असर भी मौसम पर दिख रहा है। इसके चलते दिन के बाद रात में पारा एक दम से 10 से 12 डिग्री नीचे गिर जाता है। इस बदले मौसम ने जहां हेल्थ के प्रति लोगों को बड़ी राहत प्रदान की है। वहीं, विंटर सीजन के कारोबार के आई तेजी से शहर के कारोबारियों के चेहरों पर रौनक ला दी है। आईएमडी के डायरेक्टर डीडी दूबे के मुताबिक अक्टूबर आखिरी तक पारा और ज्यादा गिरेगा और ठंड बढ़नी शुरू हो जाएगी। मौसम महकमे के मुताबिक उत्तरी पाकिस्तान
जुगाड़/ साढ़े 3 साल का बच्च खेलते हुए 30 फीट गहरे बोरवेल में जा गिरा, किसान ने एक देसी Idea से 45 मिनट में बच्चे को निकाला सुरक्षित

जुगाड़/ साढ़े 3 साल का बच्च खेलते हुए 30 फीट गहरे बोरवेल में जा गिरा, किसान ने एक देसी Idea से 45 मिनट में बच्चे को निकाला सुरक्षित

Haryana
अम्बाला (हरियाणा)। पंजोखरा साहिब में गुरुवार को 30 फीट गहरे बोरवेल में गिरे साढ़े तीन साल के कर्ण को एक किसान ने देसी जुगाड़ से 45 मिनट में ही बाहर निकाल लिया। बच्चे को बोरवेल से निकालने के बाद प्राथमिक सामुदायिक केंद्र ले जाया गया, जहां उसने उल्टियां कीं। इसके बाद उसे अम्बाला कैंट रेफर किया गया। डॉक्टरों ने बताया कि अगर बच्चा एक घंटा और बोरवेल में रह जाता तो जान जा सकती थी, क्योंकि गर्दन से नीचे का हिस्सा पानी में रहने से ठंडा पड़ चुका था।ये जुगाड़ बना जीवनरक्षकखतौली गांव की किरण घास लेने साथ लगते पंजोखरा साहिब के खेतों में घास लेने पहुंची थी। वह अपने तीन साल के बच्चे कर्ण को बैठाकर घास काटने लगी। कर्ण खेलते हुए करीब 10:15 बजे 12 इंच चौड़े 30 फीट गहरे बोरवेल के पास पहुंच गया। वहां ढलान होने से वह फिसलकर बोरवेल में गिर गया। वहीं घास काट रहे बख्शी राम ने मेरे भतीजे गुरप्री
3 साल का कर्ण खेलते हुए 30 फीट गहरे बोरवेल में गिरा, किसान जुगाड़ से 45 मिनट में निकाला

3 साल का कर्ण खेलते हुए 30 फीट गहरे बोरवेल में गिरा, किसान जुगाड़ से 45 मिनट में निकाला

Haryana
अम्बाला.पंजोखरा साहिब के खेतों में एक महिला अपने 3 साल के बच्चे को पास बैठाकर घास काटने लगी। इसी दौरान बच्चा खेलते हुए 30 फीट गहरे बोरवेल में जा गिरा। इससे आसपास अफरा-तफरी मच गई। इसी बीच सूचना मिलने पर एक किसान मौके पर पहुंचा और अपने देसी जुगाड़ से 45 मिनट बाद बच्चे को निकाल लिया।बच्चे को प्राथमिक सामुदायिक केंद्र ले जाया गया। जहां उसने उल्टियां कीं। इसके बाद उसे अम्बाला कैंट रेफर कर दिया गया। डॉक्टरों ने बताया कि अगर बच्चा एक घंटा और बोरवेल में रह जाता तो जान जा सकती थी, क्योंकि गर्दन से नीचे का हिस्सा पानी में रहने से ठंडा पड़ चुका था।खतौली गांव की किरण गुरुवार को घास काटने के लिए साथ लगते गांव पंजोखरा साहिब के खेत में घास काटने गई थी। वह बच्चे को नीचे बैठाकर घास काटने लगी। इसी बीच करीब 10:15 बजे कर्ण खेलते हुए 12 इंच चौड़े बोरवेल के पास पहुंच गया। वहां ढलान होने के कार
अवैध रुप से निर्माणाधीन गोदाम का लेंटर गिरा, 2 मजदूर दबे, 1 की मौत

अवैध रुप से निर्माणाधीन गोदाम का लेंटर गिरा, 2 मजदूर दबे, 1 की मौत

Delhi
नई दिल्ली .राजधानी में 6 दिन के भीतर इमारत से जुड़ा एक और हादसा हो गया। स्वरूपनगर इलाके में अवैध रूप से निर्माणाधीन गोदाम के एक बडे़ हिस्से का लेंटर सोमवार दोपहर को गिर गया। मलबे में दो मजदूर दब गए। दोनों अस्पताल में भर्ती कराए, जहां डॉक्टरों ने एक (पंकज कुमार) को मृत घोषित कर दिया, जबकि दूसरे (धर्मबीर) की हालत स्थिर बताई जा रही है। निर्माणाधीन गोदाम वाली गली में आगे कुछ ही दूरी पर स्वरूप नगर थाना भी है।1 हजार गज के निर्माणाधीन गोदाम मे 250 गज में लेंटर डाला जा रहा था। पहली मंजिल पर लेंटर नहीं डाला और दूसरी पर डालना शुरू। दूसरी मंजिल के लिए लगाया सपोर्ट कमजोर था और गिर गया।गोदाम मालिक सतीश यादव हादसे के बाद मजदूरों की मदद करने की बजाय फरार हो गया। 2 अक्टूबर की छुट्टी होने से लेंटर का काम पूरा करने को अतिरिक्त मजदूर लगाए गए थे। मजदूरों को लेबर चौक से लाया गया था। Do
दर्द से कराह रही थी प्रसूता, नर्स कहती रही- बेड खाली नहीं है इसे बाहर घुमाओ; वार्ड के बाहर खड़े-खड़े हुई डिलीवरी और फर्श पर जा गिरा नवजात

दर्द से कराह रही थी प्रसूता, नर्स कहती रही- बेड खाली नहीं है इसे बाहर घुमाओ; वार्ड के बाहर खड़े-खड़े हुई डिलीवरी और फर्श पर जा गिरा नवजात

Punjabi Politics
होशियारपुर (पंजाब)।होशियारपुर सिविल अस्पताल में शनिवार को मानवीय संवेदनाओं की मौत का जीता-जगता उदाहरण सामने आया है। पुरहीरां की एक गर्भवती महिला को बेड न मिलने की वजह से गायनी वार्ड के बाहर खड़े-खड़े ही डिलीवरी हो गई और फर्श पर गिरने से बच्चे की सिर में चोट आई है। पीड़िता के पति जतिंदर शाह ने बताया कि उसने पत्नी रोशनी को दोपहर 3 बजे अस्पताल लेकर आया था। यहां पर स्टाफ नर्स ने उसे इंजेक्शन लगा कर कहा कि डिलीवरी 10 बजे तक होगी। जब उसने बेड मांगा तो नर्स ने साफ कहा कि कोई बेड खाली नहीं है। बाहर बैठ जाओ। 6 बजे पत्नी को तेज दर्द हुआ तो उसने फिर बेड मांगा लेकिन बेड नहीं मिला। नर्स ने कहा कि इसे बाहर घुमा लाओ। थोड़ी देर में ही महिला ने गायनी वार्ड के बाहर खड़े-खड़े ही बच्चे को जन्म दे दिया। प्रसूता बेहोश होकर गिर पड़ी।लापरवाही का ऐसाआलम देखिए जरा...लापरवाही का आलम देखिए डिलीवरी के बा