News That Matters

Tag: चक्र

वायुसेना ने विंग कमांडर Abhinandan के लिए ‘वीर चक्र’ की सिफारिश की, साथ ही कश्‍मीर से तबादला भी

India
भारतीय वायुसेना ने विंग कमांडर Abhinandan के लिए वीर चक्र की सिफारिश की है। इससे पहले खबर थी कि भारतीय वायुसेना ने विंग कमांडर अभिनंदन का कश्‍मीर से तबादला कर दिया है। Jagran Hindi News - news:national
टॉप 10 न्यूज: IAF ने विंग कमांडर अभिनंदन का नाम ‘वीर चक्र’ के लिए भेजा, पढ़ें देश और दुनिया की प्रमुख खबरें

टॉप 10 न्यूज: IAF ने विंग कमांडर अभिनंदन का नाम ‘वीर चक्र’ के लिए भेजा, पढ़ें देश और दुनिया की प्रमुख खबरें

India
भारतीय वायु सेना (आईएएफ) ने विंग कमांडर अभिनंदन का नाम 'वीर चक्र' के लिए प्रस्तावित किया है। बालाकोट हमले के बाद पाकिस्तान की ओर से किए गए हवाई युद्ध में अभिनंदन ने अदम्य साहस का परिचय देते... Live Hindustan Rss feed
विंग कमांडर अभिनंदन की पोस्टिंग श्रीनगर एयरबेस से बाहर की गई, वीर चक्र के लिए भेजा नाम

विंग कमांडर अभिनंदन की पोस्टिंग श्रीनगर एयरबेस से बाहर की गई, वीर चक्र के लिए भेजा नाम

India
नई दिल्ली. भारतीय वायुसेना ने विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की पोस्टिंग श्रीनगर एयरबेस से बाहर कर दी है। सूत्रों के मुताबिक सरकार ने यह कदम कमांडर की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया है। सेना ने उनका नामवीर चक्र के लिए भी भेजा है। 12 मिराज 2000 पायलट के नाम भी वायु सेना मेडल के लिए भेजे गए हैं। अभिनंदनने मिग 21 से पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराया था, जबकि मिराज 2000 के पायलट्स ने पाकिस्तान में मौजूद आतंकी कैंपों परबमबारी की थी।नए स्थान पर हुई कमांडर की पोस्टिंगसरकारी सूत्रों के मुताबिक कमांडर अभिनंदन केपोस्टिंग ऑर्डर आ चुके हैं। श्रीनगर से बाहर पश्चिमी क्षेत्र में किसीएयरबेस परअभिनंदन की पोस्टिंग होगी।एक बार फिट हो जाने के बाद उन्हें विमान उड़ाने की अनुमतिमिल जाएगी। सेना में दिए जाने वाले शौर्य पुरस्कारों मेंपरम वीर चक्रऔर महावीर चक्र के बाद वीर चक्र कानाम आता है।
चलता जा रहा है खादी का चक्र

चलता जा रहा है खादी का चक्र

Delhi
गांधीजी के विचारों में जहां खादी का महत्व स्वतंत्रता की ध्वजा रूप के साथ निरंतर आगे बढ़ते रहना था। ध्वजा में मौजूद चक्र यह दर्शाता था कि जीवन का पहिया कभी भी नहीं थमता है। यह हमेशा चलता रहता है और बदलाव आता रहता है। बदलाव ही जीवन का सत्य है। खादी में और भी बहुत सी खूबियां हैं। यह पूरी तरह इको-फ्रेंडली है तो इसके निर्माण में थोड़ अंश भी बेकार नहीं जाता। त्वचा पर हल्की-फुल्का अहसास कराने वाली खादी वर्तमान में अभिजात्य और बुद्धिजीवी वर्ग से जुड़ी आधुनिक भारतीय महिलाओं में काफी पसंद की जाती है। त्वचा के रोमछिद्रों के लिए सुकून देने वाली होने के कारण आरामदायक और स्टाइलिश होने के गुणों के कारण खादी आज देश का गौरव बन चुकी है। आज के दौर में जहां फैशन का समावेश सभी क्षेत्रों में है, वहीं खादी का कपड़ा अपने अनूठेपन के कारण अपना विशेष स्थान बनाने में सक्षम हुआ है। पिछले साल फैशन
यूथ अकाली दल ने परमवीर चक्र विजेता शहीद मेजर भूपिंदर की प्रतिमा संग खेली पुष्प होली

यूथ अकाली दल ने परमवीर चक्र विजेता शहीद मेजर भूपिंदर की प्रतिमा संग खेली पुष्प होली

Punjab
यूथ अकाली दल ने भारत नगर चौक के पास परमवीर चक्र विजेता शहीद मेजर भूपिंदर सिंह की प्रतिमा पर पुष्प वर्षा कर होली मनाई। यूथ अकाली दल प्रधान गुरदीप सिंह गोशा ने मेजर भूपिंदर सिंह जैसे सैनिकों संग होली की खुशियां मनाने से युवा पीढ़ी में देश के प्रति प्रेम और सैनिकों के प्रति सम्मान की भावना का संचार होगा। उन्होंने जनमानस से आग्रह किया कि वह राष्ट्रीय पर्वों के साथ सामाजिक त्योहार भी सैनिकों संग मनाकर बच्चों को सैनिकों की कुर्बानी से अवगत करवाएं। इस मौके पर तजिंदर सिंह टिंकू, आशू बैंस, राकेश खन्ना, सन्नी बेदी, जीवन सिद्धू, गौरव, अतुल, मेहुल, हन्नी बैंस, जश वरदान, सिमरन मान, कवलप्रीत बंटी, शैफी वर्मा, मनप्रीत सिंह कक्कड़, राहुल शर्मा, जसप्रीत सिंह, सुखविंदर सिंह, शुभम और मनप्रीत लाडी उपस्थित थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

राष्‍ट्रपति ने दो जवानों को मरणोपरांत दिया कीर्ति चक्र

India
भारतीय सेना के सिपाही विजय कुमार और सीआरपीएफ के कांस्टेबल प्रदीप कुमार पांडा को आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मरणोपरांत कीर्ति चक्र से अलंकृत किया। Jagran Hindi News - news:national
आपका ऊर्जा चक्र जगाएंगी सूर्य नमस्कार की बारह मुद्राएं

आपका ऊर्जा चक्र जगाएंगी सूर्य नमस्कार की बारह मुद्राएं

Health
सूर्य का एक चक्र बारह साल, तीन महीनों का होता है। इसलिए सूर्य नमस्कार में बारह मुद्राएं या बारह आसन बनाए गए हैं। सूर्य नमस्कार का उद्देश्य मुख्य रूप से अपने भीतर एक ऐसे आयाम का निर्माण करना है, जहां आपके शारीरिक चक्र, सूर्य के चक्रों के साथ तालमेल बनाएं। आपकी ग्रहणशीलता अच्छी है तो कुदरती तौर पर आपके चक्र, सौर चक्र के तालमेल में होंगे। 'आपका' सौरमंडलआप जो हैं, उसी का विस्तृत रूप है यह सौरमंडल। एक सौर चक्र को पूरा होने में बारह साल, तीन महीने और कुछ दिन का वक्त लगता है। आपकी प्रणाली, आपकी ऊर्जा-प्रणाली को भी ठीक इतना ही वक्त लगना चाहिए। जब आप उतना ही समय लेंगे तो आपके चक्र पूरी तरह सूर्य के साथ तालमेल में होंगे। ऐसे में आप महसूस करेंगे कि आपका सिस्टम बिना किसी तरह के घर्षण के चल रहा है। सूर्य-क्रिया इस दिशा में एक शक्तिशाली प्रक्रिया है। सूर्य-क्रिया की यह प्रक्रिया आपके चक्रों को बड़ा करती

सुरक्षा चक्र तोड़कर धोनी से मिलने पहुंचा दर्शक, माही ने भी खूब झकाया…

Indian Sports
नागपुर। महेंद्र सिंह धोनी का विकेटों के बीच दौड़ में कोई सानी नहीं और मंगलवार को उनकी यह तेजी मैदान पर तब काम आई, जब उन्होंने एक प्रशंसक को चकमा देने की कोशिश की जो सुरक्षा चक्र तोड़कर इस पूर्व कप्तान को गले लगाने के लिए मैदान पर पहुंच गया था। धोनी ... खेल-संसार
अमर, वीरता, त्याग और रक्षक चक्र पर केंद्रित युद्ध स्मारक का उद्घाटन आज

अमर, वीरता, त्याग और रक्षक चक्र पर केंद्रित युद्ध स्मारक का उद्घाटन आज

India
नई दिल्ली.पुलवामा हमले के बाद हर तरफ सैनिकों की बात हो रही है। इस बीच, शहीद सैनिकों के सम्मान में देश का पहला नेशनल वॉर मेमोरियल तैयार हो गया है। राजधानी दिल्ली में इंडिया गेट के पास 40 एकड़ एरिया में बने इस मेमोरियल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। मेमोरियल को देश की रक्षा की खातिर शहीद होने वाले 25 हजार 942 से वीर जवानों की याद में बनाया गया है।शुरुआती लागत करीब 500 करोड़ रुपएनेशनल वॉर मेमोरियल को ऐसे तैयार किया गया है, जिससे राजपथ और इसकी भव्य संरचना के साथ कोई छेड़छाड़ न हो। इससे लगे प्रस्तावित नेशनल वॉर म्यूजियम के लिए उपयुक्त डिजाइन तय करने की प्रक्रिया चल रही है। इसकी शुरुआती लागत करीब 500 करोड़ रुपए है और इसे तैयार होने में अभी कुछ साल और लगेंगे। षटभुज(हेक्सागोन) आकार में बने मेमोरियल के केंद्र में 15 मीटर ऊंचा स्मारक स्तंभ बनाया
अनियमित मासिक चक्र, बालों की मजबूत और दस्त के लिए फायदेमंद है तुलसी

अनियमित मासिक चक्र, बालों की मजबूत और दस्त के लिए फायदेमंद है तुलसी

Health
तुलसी की पत्तियां कई बीमारियों का इलाज करती हैं। कैंसर जैसे लाइलाज रोग में तुलसी असरकारक है। यह जुकाम, खांसी व सांस की तकलीफ में भी फायदेमंद होती है। तुलसी के तेल से सिर में मालिश करने से रक्त का संचार दुरुस्त होता है। महिलाओं में मासिक चक्र की अनियमितता को दूर करने के लिए तुलसी के पत्तों का रस लाभदायक होता है। बालों की मजबूती के लिए गर्म जैतून के तेल में तुलसी का तेल मिला लें और सिर में मालिश करें। तुलसी व आंवला पीसकर सिर पर लगाने से रूसी की समस्या भी खत्म होती है। मुंहासे होने पर तुलसी की पत्तियों को पीसकर लेप बना लें। 20-25 मिनट तक लगा रहने दें और बाद में चेहरा धो लें। सर्दी या फिर हल्का बुखार है तो मिश्री, काली मिर्च और तुलसी के पत्ते का काढ़ा पीना फायदेमंद होता है। तुलसी के पत्तों को जीरे के साथ मिलाकर पीसकर चटनी बनाकर दिन में 3-4 बार चाटने से दस्त रुक जाते हैं। Patrika : India's Lea