News That Matters

Tag: चुके

राजस्थान ने अपटन को दोबारा कोच बनाया, चार साल पहले दे चुके हैं कोचिंग

राजस्थान ने अपटन को दोबारा कोच बनाया, चार साल पहले दे चुके हैं कोचिंग

Indian Sports
मुंबई. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन से पहले राजस्थान रॉयल्स ने पैडी अपटन को अपना मुख्य कोच नियुक्त किया है। अपटन चार साल तक रॉयल्स के कोच रह चुके हैं। उनकी कोचिंग में रॉयल्स 2013 सीजन के सेमीफाइनल में पहुंचा था। वह उसी साल चैम्पियंस लीग के फाइनल में भी पहुंचा था। अपटन की कोचिंग में टीम ने घरेलू मैदान पर खेले गए लगातार 13 मैचों में जीत दर्ज की थी। वे 2015 तक टीम के कोच थे।रॉयल्स के क्रिकेट प्रमुख जुबिन भरूचा ने कहा, "अपटन टीम में जो अनुभव और ज्ञान लेकर आएंगे उसकी तुलना नहीं की जा सकती। हम टीम में उन्हें वापस जोड़कर उत्साहित महसूस कर रहे हैं। हम नए सीजन की शुरुआत के लिए तैयार हैं।"रॉयल्स के मालिक मनोज बदाले ने कहा, "हमें यह घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है कि अपटन टीम में शामिल हो रहे हैं। हम रॉयल्स परिवार में उनका दोबारा स्वागत करते हैं। वे एक ऐसे व्यक्ति
23 देश घूम चुके हैं चाय का स्टॉल चलाने वाले दंपती, आनंद महिंद्रा ने की थी तारीफ

23 देश घूम चुके हैं चाय का स्टॉल चलाने वाले दंपती, आनंद महिंद्रा ने की थी तारीफ

India
तिरुवनंतपुरम. कोच्चि के रहने वाले विजयन और उनकी पत्नी की उम्र 70 साल से ज्यादा है। पिछले 56 साल से दोनों यहां एक चाय का स्टॉल चलाते हैं। हालांकि, इनकी दुकान पर आने वाले बहुत कम लोगों को मालूम है कि यह जोड़ा 23 से ज्यादा देश घूम चुका है।हाल ही में महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ने एक ट्वीट कर इस दंपती के बारे में दुनिया को बताया है। महिंद्रा ने कहा, “यह दंपती भले ही दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट- फोर्ब्स में शामिल न हों। लेकिन यह उनकी असल संपत्ति जीवन के प्रति उनका नजरिया है।” उन्होंने आगे लिखा, “अगली बार जब भी मैं शहर जाऊंगा तब मैं उनके यहां चाय और उनके दौरों की याद के बारे में जानना चाहूंगा।”विजयन और उनकी पत्नी अब तक सिंगापुर, अर्जेंटीना, पेरू, ब्राजील और स्विट्जरलैंड जा चुके हैं। आनंद महिंद्रा के ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर जोड़े की काफी चर्चा हो रही
9667161273 नंबर से फोन आए तो मत उठाइए , इस नंबर से कॉल कर 150 लोगों के खाते से निकाल चुके 8 करोड़

9667161273 नंबर से फोन आए तो मत उठाइए , इस नंबर से कॉल कर 150 लोगों के खाते से निकाल चुके 8 करोड़

Rajasthan
सीकर/श्रीमाधोपुर. मोबाइल में भीम एप से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने वालों को कस्टमर केयर के नाम पर ठगी का शिकार बनाया जा रहा है। पीएनबी कस्टमर केयर पर शिकायत दर्ज कराने वाले डेढ़ सौ से ज्यादा लोगों के साथ 8 कराेड़ की ठगी की जा चुकी है। एक ही मोबाइल नंबर 9667161273 का इस्तेमाल किया जा रहा है। श्रीमाधोपुर के नरेंद्र शर्मा के उदाहरण से इसे समझ सकते हैं।श्रीमाधोपुर निवासी नरेन्द्र पुत्र महेश कुमार शर्मा की मोबाइल शॉप है। उन्होंने भीम एप से अपने परिचित को पांच हजार रुपए ट्रांसफर किए। रुपए ट्रांसफर नहीं होने पर पीएनबी के कस्टमर केयर पर शिकायत दर्ज कराई। कस्टमर केयर ने सात दिनों में रुपए वापस आने की बात कहीं। दो दिन बाद उसके पास 9667161273 नंबर से फोन आया और कहा कि ट्रांजेक्शन के बारे में जो शिकायत दर्ज करवाई है वो राशि हम आपके खाते में भेज रहे है। एक लिंक आपके मोबाइल पर भेजा जा रहा
आम आदमी पार्टी छोड़ चुके एडवाेकेट फूलका ने बनाया सिख सेवक संगठन, एसजीपीसी को राजनीति से निकालने का ऐलान

आम आदमी पार्टी छोड़ चुके एडवाेकेट फूलका ने बनाया सिख सेवक संगठन, एसजीपीसी को राजनीति से निकालने का ऐलान

Punjabi Politics
लुधियाना। पहले विधायक पद तो हाल ही में 3 जनवरी को आम आदमीपार्टी की प्राथमिक सदस्यता छोड़ चुके एडवोकेट हरविंदर सिंह फूलका ने बुधवार को अपने संगठन का ऐलान कर दिया। उन्होंने इसे सिख सेवक संगठन का नाम दिया है। साथ ही इस मौके पर ऐलान किया पंजाब को नशे से तो शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को राजनीति के चंगुल से निकालना ही उनका खास मकसद होगा। इससे पहले उन ही की तरह आम आदमी पार्टी छोड़ चुके एक और नेता सुखपाल खैहरा नेमंगलवार को पंजाबी एकता पार्टी का ऐलान किया है। कुल मिलाकर पंजाब में आने वाले दिनों में एक रोचक माहौल बनने वाला है।अक्टूबर में पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल से दिल्ली से मुलाकात के बाद फूलका ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। तब उन्होंने कहा था कि बरगाड़ी बेअदबी प्रकरण और बहबल कलां गोली कांड में कार्रवाई नहीं होने के चलते वे प्रदेश सरकार से नाराज है। सरकार को दोषियों
सवर्ण आरक्षण: आप-एनसीपी का समर्थन; माया, पासवान व अठावले कर चुके हैं मांग

सवर्ण आरक्षण: आप-एनसीपी का समर्थन; माया, पासवान व अठावले कर चुके हैं मांग

India
दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने गरीब सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने के केंद्र सरकार के प्रस्ताव का समर्थन किया है।  केजरीवाल इसे भाजपा का चुनावी... Live Hindustan Rss feed
80 वर्ष पूर्ण कर चुके पेंशनरों का होगा सम्मान

80 वर्ष पूर्ण कर चुके पेंशनरों का होगा सम्मान

Rajasthan
राजस्थान पेंशनर समाज उप शाखा बोरावड़ की मासिक बैठक का आयोजन रविवार को न्यू बाल गीतांजली पब्लिक स्कूल में हाजी शहबाज खां की अध्यक्षता में किया गया। उप शाखा सचिव रमेशचंद्र छीपा ने गत बैठक की कार्यवाही व क्रियान्वयन से सम्बन्धित रिपोर्ट से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि आयकर की श्रेणी में आने वाले पेंशनर्स जो आयकर में छूट लेना चाहे वह अपने छूट सम्बन्धित दस्तावेज फरवरी 2019 के प्रथम सप्ताह में यूको बैंक बोरावड़ के सहायक प्रबन्धक रविन्द्र सागर को समय पर जमा करवा देवे, ताकी आयकर से उन्हें छूट दी जा सके। इस दौरान सभी सदस्यों ने 26 जनवरी को 80 वर्ष पूर्ण कर चुके पेंशनर्स को सम्मानित करने के लिए भी चर्चा की। इस अवसर पर संरक्षक घनश्यामलाल रांकावत द्वारा स्वरचित काव्य का विमोचन पेंशनर शंकरलाल गोस्वामी द्वारा किया गया। इस अवसर पर पेंशनर्स समाज के सभी सदस्यों ने पुस्तक के रचयिता रांक
मकान बदल चुके 1 लाख डिफाॅल्टरों से होगी वसूली

मकान बदल चुके 1 लाख डिफाॅल्टरों से होगी वसूली

Haryana
पानीपत(मनोज कुमार).बिजली निगमों के डिफाॅल्टरों में एक लाख से ज्यादा अपना घर बदल चुके हैं, दूसरी जगह जा चुके हैं। इसलिए निगम के कर्मचारी अब उन्हें ढूंढ-ढूंढकर उनके बकाया बिलों की वसूली करेंगे। इसके लिए निगम की ओर से प्लानिंग की जा रही है।अभी बिलों के निपटान के लिए 31 जनवरी तक बिजली निपटान योजना का समय बढ़ाया जा चुका है। अब इस तक इस योजना के तहत निगमों में तीन हजार करोड़ के बिल निपटा दिए हैं। इनमें 2600 करोड़ रुपए का जुर्माना और ब्याज माफ करते हुए निगमों ने 400 करोड़ रुपए जमा किए हैं। अभी दो हजार करोड़ रुपए के बिल और बाकी हैं। एक बार डिफाॅल्टर राशि जीरो करने के बाद यह दोबारा बिल पेंडिंग न हो, इसके लिए भी निगम अगले पांच वर्ष तक की प्लानिंग कर ली है। अब स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे, जो प्री-पेड और पोस्ट पेड होंगे। जो मोबाइल बिलों की तरह जमा होंगे।यदि कोई प्री-पेड कनेक्शन लेगा तो उसे

एमी जैक्सन के मंगेतर हैं 3600 करोड़ के मालिक, जा चुके हैं जेल

Entertainment
साल 2019 के पहले दिन बॉलीवुड अभिनेत्री एमी जैक्सन ने अपने बॉयफ्रेंड जॉर्ज पानायिरोटौ से सगाई की। एमी ने सोशल मीडिया पर अपनी सगाई की हायमंड रिंग दिखाते हुए फोटो भी शेयर किया हैं। दोनों ने एक-दूसरे को लगभग 3 साल तक डेट किया। एमी और जॉर्ज की मुलाकात ... मनोरंजन
एडवोकेट फूलका ने आम आदमी पार्टी की सदस्यता छोड़ी, महीनों पहले दे चुके विधायक पद से इस्तीफा

एडवोकेट फूलका ने आम आदमी पार्टी की सदस्यता छोड़ी, महीनों पहले दे चुके विधायक पद से इस्तीफा

Punjabi Politics
लुधियाना। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एडवाेकेट एचएस फूलका ने गुरुवार को आम आदमी पार्टी की सदस्यता छोड़ दी। लोकसभा चुनाव के लिए विभिन्न पार्टियों की तरफ से अभियान शुरू हो जाने के बीचयह घटना पंजाब आम आदमी पार्टी के लिए बड़ा झटका है। उन्होंने अभी तक अपना आगामी रुख तो साफ नहीं किया है, पर जहां इस्तीफे की वजह है बरगाड़ी बेअदबी मामले केआरोपियों पर कार्रवाई नहीं होने से नाराजगी जाहिर करते हुए महीनों पहले विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। यह इस्तीफा भी अभी मंजूर नहीं हुआ है।मिली जानकारी के मुताबिक 11 अक्टूबर कोफूलका दिल्ली गए थे। वहां उनकी मुलाकात पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल से हुई। मुलाकात के बाद उन्होंने इस्तीफा देने का फैसला लिया। उन्होंने साफ किया था कि वह बरगाड़ी बेअदबी प्रकरण और बहबल कलां गोली कांड में कार्रवाई नहीं होने के चलते प्रदेश की सरकार से नाराज हैं। फूलका का कहना
पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन के गिर चुके जनाधार के लिए संजीवनी बन सकते हैं मोदी

पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन के गिर चुके जनाधार के लिए संजीवनी बन सकते हैं मोदी

Punjab
जालंधर. भारतीय जनता पार्टी गुरुवार (3 जनवरी) से पंजाब से अपने लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करने जा रही है। 20 राज्यों में होने वाली 100 रैलियों में एकगुरदासपुर के पुडा ग्राउंड में हो रहीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यहरैली पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन के गिरते जा रहे जनाधार के लिए संजीवनी का काम कर सकती है। इस वक्त भले ही गठबंधन के पासप्रदेश की 13 में से 5 लोकसभा सीटें हैं, लेकिन कुल मिलाकर हालात ठीक नहीं है। गठबंधन के 5 सांसदों में राष्ट्रीय स्तर की पार्टीभाजपा के पास सिर्फ एक ही सांसद है। इसके अलावा पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू भी गठबंधन की राह में दीवार बनकर खड़े हैं।कैसे हुआअकाली-भाजपा को नुकसान:2017 में विधानसभा चुनाव में अकाली-भाजपा गठबंधन कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बाद तीसरे नंबर रहा था। अकाली दल का ग्रामीण इलाकों में खासा असर है, वहीं भाजपा की पकड़ कस्बाई