News That Matters

Tag: जाइए

खुश हो जाइए… दिल्ली पहुंचा मानसून

खुश हो जाइए… दिल्ली पहुंचा मानसून

Delhi
दिल्ली-एनसीआर में पूरे हफ्ते कभी हल्की, कभी मध्यम तो कहीं-कहीं भारी बारिश भी हो सकती है। शनिवार को हल्की से मध्यम बारिश(15-64 मिमी), रविवार को फुहार या हल्की बारिश, 8 जुलाई को कहीं कहीं भारी बारिश(64 मिमी से 155 मिमी) तक हो सकती है। इसके बाद 11 जुलाई तक हल्की बारिश जारी रहेगी। इस बीच अधिकतम तापमान 32-36 डिग्री के बीच और न्यूनतम तापमान 25-28 डिग्री के बीच रह सकता है। मौसम विभाग ने कहा- आज और कल हल्की, 8 जुलाई को ज्यादा बारिश की संभावना Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today New Delhi News - be happy delhi reached monsoon Dainik Bhaskar

गोलमाल 5 और सिंघम 3 के लिए हो जाइए तैयार, सूर्यवंशी में भी अजय देवगन आएंगे नजर

Entertainment
अजय देवगन और रोहित शेट्टी ने मिल कर कई सफल फिल्में दी हैं। सिंघम और गोलमाल सीरिज़ बेहद पॉपुलर हुई हैं। इस समय रोहित शेट्टी 'सूर्यवंशी' नामक मूवी बना रहे हैं जिसमें लीड रोल में अक्षय कुमार हैं। मनोरंजन

Shocking: अगर हैं बर्गर खाने के शौकिन, तो हो जाइए सावधान; ना पड़ जाए अस्पताल जाने की नौबत

India
पुणे में साजिद पठान नामक एक शख्स के बर्गर में कांच का तुकड़ा निकला है। आदमी ने दावा किया कि कांच के टुकड़े का कुछ हिस्सा उसके पेट में चला गया है। अब 31 वर्षीय व्यक्ति का अस्पताल मे Jagran Hindi News - news:national

फोल्डेबल स्मार्टफोन को जाइए भूल, LG कर रहा स्ट्रैचेबल डिस्प्ले पर काम

Indian Technology
स्मार्टफोन मार्केट में फोल्डेबल फोन का नया ट्रेंड शुरू हो रहा है लेकिन एक कंपनी ऐसी भी है जो इस ट्रेंड से हटकर कुछ डेवलप कर रही है Jagran Hindi News - technology:tech-news
कम पैसे में एलईडी बल्ब और पंखे चाहिए तो पोस्ट ऑफिस जाइए

कम पैसे में एलईडी बल्ब और पंखे चाहिए तो पोस्ट ऑफिस जाइए

Haryana
शुरुआती चरण में डाकघर को 20 हजार बल्ब, पांच-पांच सौ ट्यूब लाइट और पंखे दिए जाएंगेसोनीपत। डाकघर में आमजन को लेकर प्रदान किए जाने वाली सुविधाओं में अब नया नाम बिजली उपकरणों का होगा। पूर्व में सोना एवं गंगा जल के साथ जहां ग्राहकों को डाक घर से जोड़ा गया तो वहीं पासपाेर्ट केन्द्र के रूप में लोगों को अपने ही शहर में बड़ी सेवा लाभ की खुशी मिली।अब इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुए शहर के डाकघरों में लोगों को एलईडी के बल्ब की बिक्री भी मंगलवार से शुरू हो जाएगी। डाक प्रशासन की ओर से उजाला योजना के तहत केन्द्र परिसर में ही स्थायी काउंटर बनाए जाएंगे। सोमवार को डाक घर में इसके लिए समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें डाक घर अधीक्षक एसके भारद्वाज, सहायक अधीक्षक एसके सिंघल, कंपनी के क्षेत्रीय प्रबंधक नितिन भट्‌ट, रोहित सिसोदिया एवं संजय आदि ने एक उपभोक्ता अमित को बिल एवं बल्ब भेंट कर योजना का श
जनवरी में डाइटिंग का आइडिया भूल जाइए, कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के एक शोध में दावा

जनवरी में डाइटिंग का आइडिया भूल जाइए, कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के एक शोध में दावा

Health
अगर आप जनवरी में डाइटिंग के आइडिया पर काम कर रहे हैं तो यकीन मानिए कोई फायदा नहीं होगा। जनवरी में तो डाइटिंग भूल ही जाएं। कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के एक शोध में दावा किया गया है कि नए साल में डाइटिंग... Live Hindustan Rss feed
स्मार्टफोन को सिरहाने रखने की आदत है तो संभल जाइए, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

स्मार्टफोन को सिरहाने रखने की आदत है तो संभल जाइए, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

Health
स्मार्टफोन से एक पल की भी दूरी बर्दाश्त नहीं होती? सोते समय स्मार्टफोन को सिरहाने रखने की आदत है? अगर हां तो संभल जाइए। ब्रिटेन की एक्जिटर सहित कई यूनिवर्सिटी के अध्ययन में मोबाइल से निकलने वाली... Live Hindustan Rss feed
पार्टी बनाइए, चुनाव में कूद जाइए, वोटर निराश नहीं करेगा

पार्टी बनाइए, चुनाव में कूद जाइए, वोटर निराश नहीं करेगा

Rajasthan
जयपुर। चुनावों को लोकतंत्र का महाकुंभ ऐसे ही नहीं कहा जाता। जिस प्रकार हर चार साल बाद होने वाले कुंभ के धार्मिक आयोजन में भारत की बहुरंगी संस्कृति के दर्शन होते हैं, वैसे ही चुनावों में लोकतंत्र के अलग अलग रंग दिखाई देते हैं। इनमें दलों का दंगल पिछले कुछ चुनावों से ज्यादा ही घनघोर होता नजर आ रहा है।राजस्थान विधान सभा के चुनावी सफर को देखें तो पिछले करीब तीन दशक से राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय पार्टियों के साथ ही छोटे छोटे दलों की चुनावों में भागीदारी तेजी से बढ़ी है जिन्हें रजिस्ट्रीकृत अमान्यता प्राप्त दल कहा जाता है।लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 29क के तहत ऐसे दलों का पंजीकरण किया जाता है। निर्वाचन आयोग ने हाल ही में पांच राज्यों के ऐसे 132 दलों को चुनाव चिन्ह आवंटित किए है जिनमें 40 दल राजस्थान के हैं।वैसे भारत में ऐसी दो हजार से ज्यादा रजिस्ट्रीकृत अमान्यता प्र
अगर आप भी टार्इट बेल्ट बांधने के शाैकिन ताे हाे जाइए सावधान, जानिए कितना हाे रहा है नुकसान

अगर आप भी टार्इट बेल्ट बांधने के शाैकिन ताे हाे जाइए सावधान, जानिए कितना हाे रहा है नुकसान

Health
नई स्टडी में सामने आया है कि ज्यादा टाइट बेल्ट लगाने वाले लोगों में गले का कैंसर होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। स्कॉटलैंड के विशेषज्ञ मानते हैं कि टाइट बेल्ट से पेट का एसिड गले तक पहुंच जाता है, जिससे कैंसर का खतरा पैदा होता है। ग्लास्गो यूनिवर्सिटी के अनुसार मोटे लोगों में इसका खतरा और भी बढ़ जाता है। स्टडी में पाया गया कि जो लोग बेल्ट ज्यादा टाइट लगाते हैं, उनमें एसिड की समस्या ज्यादा पाई जाती है। मोटे लोगों में यह समस्या और भी ज्यादा गंभीर पाई गई। शोध के अनुसार टाइट बेल्ट लगाने से पेट और ग्रासनली पर जोर पड़ता है, जिससे एसिड ऊपर की तरफ लीक होने लगता है। और ज्यादा समय तक ऐसा होते रहने की स्थिति में गले में कैंसर होने का खतरा बढ़ा देता है। 55 साल से ज्यादा की उम्र वाले लोगों में भी इसका खतरा ज्यादा रहता है। एसिड रिफ्लक्स बना कारण शोधकर्ताओं की माने तो अब दूसरी तरह के कैंसर की वजाय गले के

कहीं ऐसा न हो लोकसभा चुनाव में आप बूथ से निराश होकर लौटें, हो जाइए सचेत

India
आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सरकारी तंत्र सक्रिय हो चुका है। इसलिए आपके सचेत होने की भी जरूरत है। Jagran Hindi News - news:national