News That Matters

Tag: जेईई

सुमनदीप कौर ने जेईई मेन में 94.9% और हरलीन ने लिए 85% अंक

सुमनदीप कौर ने जेईई मेन में 94.9% और हरलीन ने लिए 85% अंक

Punjab
चीफ खालसा दीवान चेरिटेबल सोसायटी की ओर से चल रही शैक्षणिक संस्था श्री गुरु हरिकृष्ण सीनियर सेकेंडरी स्कूल झब्बाल की छात्राओं ने बीते दिन करवाई जेईई मेन की परीक्षा में सुमनदीप कौर ने 94.9%, हरलीन ढिल्लों ने 85% और अर्शदीप कौर ने 77.25% नंबर हासिल कर अपने माता-पिता और स्कूल का नाम रोशन किया है। इस दौरान स्कूल की प्रिंसिपल उमरिंदर कौर ने छात्राओं को शुभकामनाएं दी और कहा कि छात्राएं ऐसे ही भविष्य में सफलता हासिल करने के लिए अथक मेहनत करें। वहीं छात्राओं ने अपने अभिभावकों के साथ-साथ अपने स्कूल का नाम भी रोशन किया है। वहीं प्रिंसिपल ने छात्राओं को जीवन में और भी मेहनत कर सफलता हासिल करने के लिए प्रेरित किया ताकि वे कामयाब हो सकें। सुमनदीप कौर हरलीन ढिल्लों अर्शदीप कौर Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Tarantaran News -
आईआईटीयंस क्लाॅसेज का प्रणव मित्तल जेईई मेन का मालवा टॉपर

आईआईटीयंस क्लाॅसेज का प्रणव मित्तल जेईई मेन का मालवा टॉपर

Punjabi Politics
विक्ट्री चिह्न बनाते आईआईटीएंस के विद्यार्थी। बठिंडा|जेईई मेन के जनवरी सेशन के एग्जाम के नतीजे शनिवार को घोषित हुए। बठिंडा का प्रणव मित्तल 99.73 परसेंटाइल के साथ मालवा में प्रथम स्थान पर रहा। इस खुशी को आईआईटीएंस क्लासेज के 8 अन्य छात्राओं ने 99 परसेंटाइल से ज्यादा स्कोर करके और बढ़ा दिया। इनमें चेतन गर्ग 99.59 परसेंटाइल, अनिरुद्ध अरोड़ा 99.58 परसेंटाइल, अमीशा 99.47 परसेंटाइल, डेवी गर्ग 99.35 परसेंटाइल, शुभम कुमार 99.15 परसेंटाइल, हिमांशु गोयल 99.12 परसेंटाइल, आर्यन भारद्वाज 99.04 परसेंटाइल तथा अभिनव मंगला 99.04 परसेंटाइल शामिल हैं। इसके अलावा 27 विद्यार्थियों ने 95 परसेंटाइल से ज्यादा जबकि 46 ने 90 परसेंटाइल से ज्यादा स्कोर लिया। प्रणव के पिता मुरली मित्तल ने इस अवसर पर अध्यापकों का मुंह मीठा कराया तथा कहा कि प्रणव की सफलता का श्रेय आईआईटीयंस टीम की कड़ी मेहनत व कुशल मार्
जेईई मेन परीक्षा 2019 के नतीजे जारी,15 छात्रों के 100 पर्सेंटाइल

जेईई मेन परीक्षा 2019 के नतीजे जारी,15 छात्रों के 100 पर्सेंटाइल

Delhi
इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीई और बी-टेक दाखिले के लिए एनटीए ने जेईई मेन परीक्षा-2019 के पेपर-1 के नतीजे शनिवार को घोषित कर दिए। इसमें 15 छात्रों का स्कोर 100 पर्सेंटाइल रहा है। जेईई मेन परीक्षा के पहले पेपर के लिए 9,29,198 ने रजिस्ट्रेशन किया था और 8,74,469 ने परीक्षा दी थी। परीक्षा आठ शिफ्ट में 9 से 12 जनवरी तक 258 शहरों में कराई गई थी। परीक्षा के एक सप्ताह के भीतर नतीजे घोषित किए गए हैं। इस बार जेईई मेन की एक और परीक्षा अप्रैल में होनी है। दूसरी परीक्षा का परिणाम आने के बाद संयुक्त रैंकिंग जारी की जाएगी, जिसके बाद मई में जेईई-एडवांस का पेपर होगा। इसके बाद आईआईटी में दाखिले की प्रक्रिया शुरू होगी। -सात दिन में ही आया रिजल्ट| पढ़ें| पेज 12 पर 100 पर्सेंटाइल वाले परीक्षार्थी ध्रुव अरोड़ा - एमपी राज आर्यन - महाराष्ट्र साई किरण -तेलंगाना चेतन रेड्डी - आंध्र प्रदेश संबित

सात दिन में घोषित हुआ जेईई मेन रिजल्ट, पंद्रह छात्रों को मिले सौ पर्सेंटाइल

Indian Education
इंजीनियरिंग कॅालेजों में दाखिले के लिए पहली बार कंप्यूटर आधारित जेईई मेन परीक्षा का रिजल्ट घोषित हो गया है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने शनिवार को परीक्षा के महज सात दिन बाद ही नतीजे जारी कर दिए हैं। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
जेईई मेन्स में पटियाला के जयेश ने पाई 100 पर्सेंटाइल, डॉक्टर माता-पिता ने दिया पूरा साथ

जेईई मेन्स में पटियाला के जयेश ने पाई 100 पर्सेंटाइल, डॉक्टर माता-पिता ने दिया पूरा साथ

Punjab
जालंधर/पटियाला (बलराज सिंह)। कामयाबी के लिए हर किसी को अपना एक रूटीन बनाकर चलना पड़ता है, जिसके दम पर आप दूसरों का साथ हासिल कर सकते हैं। यह बात पटियाला के 18 साल के लड़के जयेश सिंगला पर बिलकुल सौ टका फिट बैठती है। शनिवार को घोषित हुए ज्वाइंट इंजीनियरिंग एंट्रेंस मेन्स के रिजल्ट में उसे 100 पर्सेंटाइल मिली है, जिसके बाद परिवार में खुशी के साथ-साथ हैरानी का माहौल है। जयेश के माता-पिता दोनों डॉक्टर्स हैं, लेकिन उन्होंने बेटे की रुचि का ख्याल रखा और बेटे ने दोनों के साथ की लाज। अब उसका अगला टारगेट आईआईटी से कंप्यूटर इंजीनियरिंग करना है।दरअसल शनिवार को ज्वाइंट इंजीनियरिंग एंट्रेंस मेन्स का रिजल्ट घोषित हुआ है। इसमें देशभर से कुल 8 लाख 74 हजार स्टूडेंट्स अपनी योग्यता आजमायी थी। पटियाला के एसएटी नगर का रहने वाला जयेश इन होनहार स्टूडेंट्स में से एक चुनिंदा चेहरे के रूप में उभरकर
चैस का शौकीन है जेईई टॉपर शुभांकर, आईआईटी मुंबई जाना चाहता है

चैस का शौकीन है जेईई टॉपर शुभांकर, आईआईटी मुंबई जाना चाहता है

Rajasthan
कोटा/ जयपुर। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने सभी को चौंकाते हुए 31 जनवरी की बजाय 19 जनवरी को ही जेईई मेन-1 का परिणाम जारी कर दिया है। इसमें राजस्थान के दो स्टूडेंट्स शुभांकर गंभीर और सबमित बेहरा ने 100 पर्सेंटाइल हासिल कर बाजी मारी है। राजस्थान के कोटा के शुभांकर ने मैथ्स और फिजिक्स में 100पर्सेंटाइल हासिल कर टॉप 15 स्टूडेंट्स में जगह बनाई है।शुभांकर ने कोटा केरेजोनेंससे कोचिंग ली है।350 मार्क्स हासिल करने वालाकोटा का शुभांकर आईआईटी, मुंबई में जाना चाहता है। शुभांकरचैस का शौकीन है। शुभांकर ने बताया कि रोज छहसे सात घंटे पढ़ाई ने उसे सक्सेज दिलाई है। शुभांकर के पिता गिरीश गंभीर कोटा के डीसीएम में सिविल इंजीनियर हैं। मां निशा हाउसवाइफ हैं। शुभांकर की एक बहन प्रियंका है।शुभांकर ने कहा कि वह एग्जाम में स्ट्रेस फ्री होकर अपीयर हुआ, इससे उसे अच्छे मार्क्स मिले। एग्जाम से पहले
NTA JEE Main result 2019: जेईई मेन पेपर-1 का रिजल्ट घोषित हुआ

NTA JEE Main result 2019: जेईई मेन पेपर-1 का रिजल्ट घोषित हुआ

India
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने आज (19 जनवरी को) जेईई मेन की परीक्षा के पेपर-1 का परिणाम जारी कर दिया है।  जेईई मेन की परीक्षा 8 से 12 जनवरी 2019 के बीच आयोजित की गई थी। यह परीक्षा देशभर के 258 शहरों... Live Hindustan Rss feed
साइकोमेट्रिक तरीके से तैयार हो रहे हैं जेईई और नीट के पेपर

साइकोमेट्रिक तरीके से तैयार हो रहे हैं जेईई और नीट के पेपर

Delhi
अमित कुमार निरंजन|नई दिल्ली इंजीनियरिंग (जेईई मेन), मेडिकल (नीट) और मैनेजमेंट (सीमेट) की प्रवेश परीक्षा का प्रश्न पत्र साइकोमेट्रिक तरीके से तैयार किया जा रहा है। इस तरीके से सवालों की गुणवत्ता भी बढ़ेगी। यही नहीं परीक्षा के बाद प्रश्न पत्र का आकलन करने पर कुछ अस्पष्ट सवाल के चलते अतिरिक्त अंक देने पड़ते थे, अब इसकी भी संभावना बेहद कम हो जाएगी। इस तरीके से तैयार पेपर में इस बात का भी ध्यान रखा गया है कि सवालों का स्तर हिन्दी व अंग्रेजी मीडियम वालों के लिए समान रहे। ये परीक्षाएं मानव संसाधन मंत्रालय की संस्था नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) पहली बार करवाएगी। 8 जनवरी से शुरू होने वाली इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा जेईई का प्रश्न पत्र पिछले सालों की अपेक्षा छात्रों को बदला हुआ मिलेगा। क्याेंकि इसे साइकोमेट्रिक डाटा का विश्लेषण कर तैयार किया गया है। चेयरपर्सन ने यह भी बताया प