News That Matters

Tag: डेंगू

लैब टेक्निशियन आया डेंगू की चपेट में, पीड़ितों की कुल संख्या 26 हुई

लैब टेक्निशियन आया डेंगू की चपेट में, पीड़ितों की कुल संख्या 26 हुई

Punjabi Politics
मोगा।डेंगू ने मोगा मेंडंक मारना शुरू कर दिया है। सेहत विभाग का लैब टेक्निशियन तीन दिन बुखार से जूझता रहा, वहींशनिवार को सरकारी अस्पताल से डेंगू का टेस्ट पॉजिटिव आया है। इसी बीच मोगा जिले में इस साल 26 मरीज डेंगू की बीमारी के शिकार हो चुके हैं, जिनका सरकारी अस्पताल में फ्री इलाज किया गया है।मिली जानकारी अनुसार जिले के गांव खोसा रणधीर निवासी सुखविंदर सिंह ने बताया कि वह इस समय सरकारी अस्पताल नकोदर में लैब टेक्निशियन के तौर पर कार्यरत है। चार दिन पहले तक वह मोगा सरकारी अस्पताल में तैनात था। तीन दिन से बस से नकोदर आने-जाने के चलते उसे बुखार हो गया था। शनिवार को उसने मोगा के सरकारी अस्पताल में डेंगू का टेस्ट करवाने पर पॉजिटिव आया है। ऐसे में उसे सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है।वहीं जिले में मौसम के बदलाव के साथ साथ अब तक डेंगू प्रभावित मरीजों की संख्या 26 तक पहुंच गई
जीका, डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया में कौनसा बुखार है ज्यादा खतरनाक ?

जीका, डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया में कौनसा बुखार है ज्यादा खतरनाक ?

Health
किसी भी बीमारी के सही इलाज के लिए उसकी पहचान व कारणों को जानना जरूरी होता है। वैसे तो जीका वायरस, डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया मच्छरों से होने वाले रोग हैं लेकिन इनकी पहचान आवश्यक है। डेंगू: यह एडीज मच्छर के काटने से होता है। लेकिन इसके मरीज में कॉम्पलीकेशन रेट ज्यादा होती है। यह दो प्रकार का होता है - एक डेंगू फीवर और दूसरा डेंगू शॉक सिंड्रोम। डेंगू शॉक सिंड्रोम में ब्लड प्रेशर व प्लेटलेट्स कम हो जाते हैं जिससे हेमरेजिक फीवर हो जाता है। इससे शरीर में इंटरनल ब्लीडिंग होने लगती है जिससे मरीज की जान तक जा सकती है। इसके मुख्य लक्षणों में तेज बुखार रहना, ललाट पर और आंखों के पीछे दर्द रहता है, ब्रेक बोन फीवर रहता है जिसे हड्डी तोड़ बुखार भी कहा जाता है। कमर दर्द भी काफी रहता है। इसके इलाज में देरी या मरीज लापरवाही बरतता है तो स्थिति बिगड़ जाती है। अपनी मर्जी से बिना डॉक्टर को दिखाए दवाएं खाना
डेंगू और चिकनगुनिया से बचाव को एडवायजरी जारी

डेंगू और चिकनगुनिया से बचाव को एडवायजरी जारी

Punjab
डेंगू के 10 नए मरीज आने से इस साल मरीजों की कुल संख्या 136 तक पहुंच गई है। तेजी से बढ़ रही डेंगू के मरीजों की संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन व सेहत विभाग ने एडवायजरी जारी करते हुए मच्छरों से बचने की अपील की है। इसके साथ ही घर के अंदर या बाहर पानी खड़ा नहीं होने देने की हिदायत भी जारी की गई है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
दिनभर चलीं ठंडी हवाएं, मौसम हुआ खुशनुमा, अब घटेगा डेंगू का असर

दिनभर चलीं ठंडी हवाएं, मौसम हुआ खुशनुमा, अब घटेगा डेंगू का असर

Punjabi Politics
उत्तरी पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर के पास बने वेस्टर्न डिस्टरबेंस के असर से एक चक्रवाती हवाओं का सिस्टम उत्तर-पश्चिम राजस्थान और इसके आसपास बना हुआ है। इसी के चलते बुधवार को मौसम में बदलाव आया। सुबह से ही 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रहीं थी, जो पहाड़ी क्षेत्र से आने के कारण ठंडी रहीं। शाम 6 बजे के बाद आसमान में बादल छाने शुरू हो गए थे। इस तरह से बदले मौसम से मैक्सिमम पारा 31 डिग्री और मिनिमम पारा 20 डिग्री रहा। इससे मौसम तकरीबन ठंडा और खुशनुमा महसूस हुआ। 24 घंटों के दौरान मौसम इसी तरह बना रहेगा। बादल छाने के साथ हवाएं भी चलेंगी। आने वाले दिनों में ठंड बढ़ते ही डेंगू से राहत मिलेगी। वहीं, मौजूदा मौसम में वायरल और डेंगू-मलेरिया जैसी बीमारियां फैलने का खतरा बना हुआ है। 15 लोगों को डेंगू, 126 हुई मरीजों की संख्या लुधियाना। सेहत विभाग की ओर से की जा रही कोशिशों
राजिंदरा अस्पताल की क्लर्क की माैत, डेंगू की आशंका

राजिंदरा अस्पताल की क्लर्क की माैत, डेंगू की आशंका

Punjab
पटियाला | राजिंदरा अस्पताल की क्लर्क राजिंदर काैर की मौत हो गई। मौत का कारण डेंगू बताया जा रहा है। लहल कॉलोनी निवासी राजिंदर कौर का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। सिविल सर्जन डाॅ. मनजीत सिंह ने बताया कि महिला की माैत के कारणाें का पता लगाया जा रहा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar

डेंगू, पीलिया और आंखों के रोगों समेत कई अन्‍य रोगों में रामबाण औषधि है जीवन्तिका

India
गिलोय की पत्तियों में कैल्शियम, प्रोटीन और फास्‍फोरस तने में स्टार्च पाया जाता है। गिलोय शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है। Jagran Hindi News - news:national
डेंगू ने मारी सेंचुरी: 111 मरीज, बचने के लिए रहना होगा सचेत

डेंगू ने मारी सेंचुरी: 111 मरीज, बचने के लिए रहना होगा सचेत

Punjab
डेंगू का डेंजर पीरियड शुरू होते ही इसके लिए जिम्मेदार मादा एडीज मच्छर का डंक भी तेज हो गया है। पिछले छह दिनों में ही जिले के 33 लोग इसका डंक लगने के कारण डेंगू के कंफर्म मरीज बन चुके हैं, जिस कारण सोमवार तक डेंगू के मरीजों की संख्या सेंचुरी को पार करके 111 तक पहुंच चुकी है। सेहत विभाग का कहना है कि 15 नवंबर तक का समय डेंगू के लिए डेंजर पीरियड है। लिहाजा इसके डंक से बचने के लिए खुद भी सावधान रहना पड़ेगा। पिछले साल 31 दिसंबर तक इस मच्छर ने 1083 लोगों को डंक मारकर बीमार किया था। सेहत विभाग के आंकड़ों के मुताबिक एंटी लारवा टीमें लगातार काम कर रही हैं। लोगों के घरों, स्कूलों-कॉलेजों और सरकारी विभागों तक में जाकर कूलरों, छतों पर पड़े पुराने बर्तनों, लॉवर पॉट्स इत्यादि की चेकिंग की जा रही है, ताकि अगर कहीं डेंगू का लारवा दिखाई दे तो उसे तुरंत नष्ट किया जा सके। पिछले हफ्ते तक य
श्रद्धा को हुआ था डेंगू, अब अपनी हैल्थ को लेकर दिया ये अपडेट

श्रद्धा को हुआ था डेंगू, अब अपनी हैल्थ को लेकर दिया ये अपडेट

Entertainment
बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर की तबीयत पिछले कुछ दिनों से ठीक नहीं है। खबरें थी कि उन्हें डेंगू हो गया है। हालांकि श्रद्धा ने अपने फैन्स के लिए एक मैसेज लिखा है। उन्होंने कहा कि वो अब ठीक हो रही हैं।... Live Hindustan Rss feed
दो दिन में 59 जगह मिला डेंगू का लारवा

दो दिन में 59 जगह मिला डेंगू का लारवा

Haryana
टोहाना में डेंगू का रोग थमने का नाम नहीं ले रहा। स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे डोर टू डोर सर्वे के दौरान दो दिनों में 51 जगह डेंगू के लारवा पाए गए हैं। जिससे अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है तथा उन्होंने आमजन व स्वयंसेवी संस्थाओं का आह्वान किया है कि वे साथ दें ताकि इस पर अंकुश लगाया जा सके। स्वास्थ्य विभाग की ओर से तीन हेल्थ इंस्पेक्टरों चंद्रभान, सतपाल व सज्जन कुमार के नेतृत्व में 6 टीमें प्रतिदिन शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर डोर टू डोर सर्वे कर रही है। सर्वे के दौरान दो दिनों में 59 जगह डेंगू के लारवा पाए गए हैं। जिन्हें नोटिस जारी किए गए हैं। लेकिन उसके बावजूद लोग स्वयं जागरूक नहीं हो पा रहे जिस कारण अब विभाग ने लोगों से आग्रह किया है कि कम से अपने-अपने घरों में तो लारवा को पनपने से रोकें ताकि स्थिति को काबू किया जा सके। शनिवार को टीमों ने राजनगर, रामनगर,
डेंगू के 33 नए केस मिले 101 हुई मरीजों की तादाद

डेंगू के 33 नए केस मिले 101 हुई मरीजों की तादाद

Punjab
लुधियाना| डेंगू का डेंजर पीरियड शुरू होते ही इसके लिए जिम्मेदार मादा एडीज मच्छर का डंक भी तेज हो गया है। पिछले छह दिनों में ही जिले के 33 लोग इसका डंक लगने के कारण डेंगू के कंफर्म मरीज बन चुके हैं। इस कारण शनिवार तक डेंगू के मरीजों की संख्या सेंचुरी को पार करके 101 तक पहुंच चुकी है। सेहत विभाग का कहना है कि 15 नवंबर तक का समय डेंगू के लिए डेंजर पीरियड है। लिहाजा इसके डंक से बचने के लिए खुद भी सावधान रहना पड़ेगा। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar