News That Matters

Tag: तरीका

अहिंसा बदलाव लाने का सबसे कारगर तरीका; 106 साल में 64% हिंसक आंदोलन असफल, जबकि 54% अहिंसक सफल

अहिंसा बदलाव लाने का सबसे कारगर तरीका; 106 साल में 64% हिंसक आंदोलन असफल, जबकि 54% अहिंसक सफल

Delhi
अहिंसा में हिंसा के मुकाबले बदलाव लाने की ताकत अधिक है। पिछले सौ वर्षोंं में हुए 323 जन आंदोलनों पर की गई स्टडी से यह बात निकलकर सामने आई है। यह स्टडी 1900 से 2006 के बीच हुए हिंसक और अहिंसक जन आंदोलनों पर की गई है। स्टडी हार्वर्ड कैनेडी स्कूल की प्रोफेसर एरिका चेनोवेथ और मारिया जे स्टीफन ने की है। चेनोवेथ कहती हैं कि 20 वीं सदी में सिर्फ 36% हिंसक आंदाेलन सफल और 64% असफल रहे। जबकि इस दौरान 54% अहिंसक अभियान सफल रहे। यानी हिंसक आंदोलनों की तुलना में अहिंसक आंदोलन बदलाव लाने में दो गुना ज्यादा सफल रहे। अहिंसक आंदोलन में हिंसक आंदोलन की तुलना में चार गुना लोग शामिल होते हैं। 1940 के दशक यानी दूसरे विश्वयुद्ध के बाद से अहिंसक आंदोलनों की सफलता की दर लगातार बढ़ी है। सिर्फ 1960 और 1970 के दशक में हिंसक आंदोलनों की सफलता की दर थोड़ी बढ़ी। चेनोवेथ के अनुसार अगर कोई आंदोलन हिंस
सावधान! क्लोनिंग के बाद अब आया ठगी का नया तरीका: जेब में रखा ATM हो सकता है स्कैन, नई तकनीक इजाद कर खातों में सेंध लगा रहे साइबर ठग

सावधान! क्लोनिंग के बाद अब आया ठगी का नया तरीका: जेब में रखा ATM हो सकता है स्कैन, नई तकनीक इजाद कर खातों में सेंध लगा रहे साइबर ठग

Rajasthan
बीकानेर (राजस्थान)।ये खबर बेचैन करने वाली है। क्योंकि यह सीधे आपकी जेब से जुड़ा है। क्योंकि आपकी जेब में रखा एटीएम कब स्कैन हो जाए ये पता भी नहीं चलेगा। अपराधी नई तकनीक की स्कैनिंग मशीन से डुप्लीकेट एटीएम तैयार कर खातों से रुपए निकाल रहे हैं। पुलिस ने एटीएम स्कैन कर खातों से रुपए उड़ाने वाले गिरोह के सरगना को झारखंड से दबोचा है, जो देशभर में वारदातें कर चुका है।तकनीक बढ़ने से अपराध भी हाईटेक हो गए हैं। एटीएम से रुपए निकालने के लिए अब अपराधियों ने कार्ड स्कैनिंग का तरीका इजाद कर लिया है। ऐसी मशीन तैयार की गई है, जो आपकी जेब में रखे एटीएम को भी स्कैन कर लेगी। अपनी जेब या जहां कहीं भी एटीएम है, मशीन नजदीक आते ही स्कैन कर देगी। ऐसा कर खातों से रुपए निकालने वाला गैंग सक्रिय है। कोटगेट पुलिस ने झारखंड से गैंग के शातिर सरगना को पकड़ा है। एसएचओ धरम पूनिया ने बताया कि गया निवासी सं
Voter List 2019 / लोकसभा चुनाव से पहले वोटर लिस्ट में चेक करें अपना नाम, ये है तरीका

Voter List 2019 / लोकसभा चुनाव से पहले वोटर लिस्ट में चेक करें अपना नाम, ये है तरीका

India
नई दिल्ली.चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है और 11 अप्रैल से वोटिंग प्रक्रिया शुरू भी हो जाएगी। अगर आप 18 साल या 18 साल से ऊपर की आयु के हैं तो आप मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। लेकिन क्या आपने वोटर लिस्ट में अपना नाम चेक किया है। नहीं...तो आप आसानी से कर सकते हैं। राष्ट्रीय मतदाता सेवा की ऑफिशियल वेबसाइट पर लॉग इन करके और कुछ आसान स्टेप्स को फॉलो करने के बाद आप अपना नाम आसानी से वोटर लिस्ट में देख सकते हैं। आपका वोट आपका हक है और इस एक वोट का इस्तेमाल कर आप आने वाले 5 सालों के लिए बेहतरीन सरकार चुन सकते हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि वोटिंग से पहले अपना नाम वोटिंग लिस्ट में ज़रूर देख लें। ताकि ये हक आपसे छिन न जाएं। आप नीचे दिए कुछ स्टेप्स फॉलो कर अपना नाम वोटर लिस्ट में चेक कर सकते हैं।How to Vote / कैसे करें वोट, गूगल डूडल से जानें, डूडल बनाकर मतदाताओं क

IT Engineers के गांव में चुनाव प्रचार का है अलग तरीका, ये है इकलौता संस्कृत भाषी गांव

India
इस गांव ने उस वक्त संस्कृत भाषी बनने का बीड़ा उठाया जब कुछ लोग संस्कृत को ब्राह्मणों की भाषा बताकर इसका विरोध कर रहे थे। यहां हर वर्ग और हर धर्म के लोग संस्कृत बोलते हैं। Jagran Hindi News - news:national
जस्टिस इंदु मल्होत्रा ने कहा, अध्यादेश कानून बनाने का आदर्श तरीका नहीं

जस्टिस इंदु मल्होत्रा ने कहा, अध्यादेश कानून बनाने का आदर्श तरीका नहीं

India
न्यायमूर्ति इंदु मल्होत्रा ने बुधवार को कहा कि अध्यादेश कानून बनाने का आदर्श मार्ग नहीं है, कानून बहस के जरिए लाया जाना चाहिए क्योंकि उससे उसकी कमियां दूर करने में मदद मिलती है। उन्होंने कहा कि वैसे... Live Hindustan Rss feed

शादी का खाना खाकर 70 बाराती हुए बीमार, ऐसे हालात से बचने का ये है तरीका

India
मंगलवार की रात किशनगढ़ में बारातियो के खाना खाने के बाद अचानक से इन लोगों की तबीयत खराब हो गई जिसके बाद इन लोगों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। Jagran Hindi News - news:national
वीवीपैट की पर्चियां गिनने का मौजूदा तरीका सबसे बेहतर है: चुनाव आयोग

वीवीपैट की पर्चियां गिनने का मौजूदा तरीका सबसे बेहतर है: चुनाव आयोग

Delhi
वीवीपैट की 50% पर्चियाें का ईवीएम के साथ मिलान करने संबंधी 21 विपक्षी दलों की मांग पर चुनाव आयोग ने शुक्रवार काे सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया। आयोग ने कहा कि वीवीपैट पर्चियां गिनने का मौजूदा तरीका सबसे बेहतर है। याचिकाकर्ता मौजूदा तरीके में बदलाव के लिए काेई अाधार नहीं बता पाए हैं। याचिका खारिज करने की मांग करते हुए अायाेग ने कहा कि नमूनाें की संख्या अगर बढ़ा दी गई तो भी मौजूदा विश्वास के स्तर में बेहद नगण्य इजाफा हाेगा। यह पहले से ही 99.9936% है। अायाेग ने कहा कि विपक्ष की अाेर से उठाए गए मुद्दाें पर विचार अाैर अध्ययन के बाद ही वीवीपैट पर्चियां गिनने का माैजूदा तरीका अपनाया गया है। याचिकाकर्ता�”ं की मांग के अनुसार ताे चुनाव परिणाम घोषित करने में पांच-छह दिन लग जाएंगे। हालांकि, आयोग ने कहा कि भविष्य में होने वाले चुनावाें में एेसे सुझावाें पर विचार किया जा सकता ह

लोकसभा चुनाव 2019: घर बैठे वोटर कार्ड में बदलें एड्रेस, यह है तरीका

Indian Technology
How to change address in voter id card online: आप में से कई लोग ऐसे होंगे जिनके मतदाता पहचान पत्र (वोटर कार्ड) में एड्रेस गलत होगा या फिर एड्रेस बदलने की जरूरत होगी। तो चलिए आज हम आपको घर बैठे वोटर कार्ड में ऑनलाइन एड्रेस बदलने का तरीका बताते हैं। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala

आधार कार्ड खो गया है, मोबाइल नंबर भी रजिस्टर्ड नहीं तो ऐसे बनाएं नया आधार कार्ड, ऑनलाइन तरीका जानें

Indian Technology
How to get aadhaar card if mobile number is not registered: यदि आपका आधार खो गया है और आपका मोबाइल नंबर भी रजिस्टर्ड नहीं है तो फिर आप परेशान हो सकते हैं। तो चलिए आज हम आपको ऐसी स्थिति में नया आधार कार्ड निकालने का आसान तरीका बताते हैं। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
सेहत काे नहीं लगता उबाला हुआ दूध, ये है सही तरीका

सेहत काे नहीं लगता उबाला हुआ दूध, ये है सही तरीका

Health
आमतौर पर हम दूध को उबाल आने तक गर्म करते हैं लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि पूरी तरह उबाला गया दूध सेहत के लिहाज से उतना फायदेमंद नहीं होता। इसके पूरा लाभ के लिए इसे पाश्च्युरीकृत करके पीना चाहिए। वजह : दूध में 'केसीन' एवं 'वे' दो तरह के प्रोटीन, विटामिन (ए, डी, ई, के) और कैल्शियम होते हैं। जब हम दूध को उबाल आने तक गर्म करते हैं तो इससे विटामिन व कैल्शियम की मात्रा नष्ट हो जाती है। साथ ही दोनों प्रोटीन अवस्था बदल लेते हैं। इससे दूध में इनका असर घट जाता है। ऐसे करें पाश्च्युरीकृत :दूध निकलने के बाद उसे 72 डिग्री सेल्सियस पर करीब 15 सेकंड तक गर्म करना चाहिए यानी दूध में उबाल आने के कुछ मिनट पहले ही उसे उतार लें और तुरंत किसी ठंडे स्थान पर रखें। गर्म करके ठंडा कर देने से दूध पाश्च्युरीकृत हो जाता है। पाश्च्युरीकृत दूध में उसके पौष्टिक गुण तो रहते ही हैं, सूक्ष्माणु (जीवाणु-कीटाणु) भी नहीं पन