News That Matters

Tag: थे

राजस्थान में आज ही के दिन हुए थे प्रथम लोकसभा चुनाव, 67 साल में बढ़े 4 करोड़ 9 लाख मतदाता

राजस्थान में आज ही के दिन हुए थे प्रथम लोकसभा चुनाव, 67 साल में बढ़े 4 करोड़ 9 लाख मतदाता

Rajasthan
टोंक (एम.असलम).राजस्थान में प्रथम लोकसभा चुनाव आज से करीब 67 साल पहले 27 मार्च 1952 को ही हुए थे। मतदान एवं उसके बाद मतगणना आज ही के दिन हुई। प्रथम लोकसभा आम चुनाव में 70 प्रत्याशियों ने अपना भाग्य आजमाया, जिनके भाग्य का फैसला राज्य के 76 लाख 76 हजार 419 मतदाताओं में से 34 लाख 26 हजार 957 मतदाताओं अपने मत का प्रयोग करके किया। इस चुनाव में 36.45 प्रतिशत मतदान हुआ।प्रथम आम चुनाव से अब तक राज्य में मतदाताओं की संख्या 4 करोड़ 9 लाख बढ़ गई, जबकि लोकसभा सीटे 18 में से बढ़कर 25 ही हुई है। गौरतलब है कि पहले आम चुनाव के मुकाबले महिला मतदाताओं की संख्या तिगुनी हो गई है। राज्य में 17वीं लोकसभा के लिए 4 करोड़ 84 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। महिला मतदाताओं की संख्या करीब 2 करोड़ 32 लाख से अधिक है। 1952 में हुए लोकसभा चुनाव में 50 प्रतिशत से अधिक मतदान अलवर व ना
अश्विन ने फील्ड पर किया वो काम, जिसके खिलाफ थे धोनी और कोहली, सबने मिलकर लिया था ये फैसला

अश्विन ने फील्ड पर किया वो काम, जिसके खिलाफ थे धोनी और कोहली, सबने मिलकर लिया था ये फैसला

Indian Sports
नई दिल्ली. राजस्थान रॉयल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच खेले गए मैच में जोस बटलर के रनआउट को लेकर रविचंद्रन अश्विन की आलोचना हो रही है। अश्विन की बॉलिंग के दौरान बटलर क्रीज से आगे निकल गए। इसी दौरान अश्विन ने उन्हें रनआउट कर दिया था। इस तरह के रनआउट को 'मांकड़िंग' कहा जाता है। आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने कहा कि फ्रेंचाइजी की टीमों के कप्तान और मैच रेफरी इस तरह से रनआउट के खिलाफ थे। यह एक मीटिंग में तय हुआ था और इसमें विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी भी मौजूद थे। हालांकि, अश्विन ने कहा कि यह सहज प्रतिक्रिया थी, इसमें खेलभावना कहां से आ गई? बीसीसीआई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने भी कहा कि अश्विन को खेल की मर्यादा बनाए रखनी चाहिए थी।राजीव शुक्ला ने ट्वीट किया- कप्तानों, मैच रेफरी के बीच मीटिंग हुई थी। यहां मैं भी आईपीएल चेयरमैन के तौर पर मौजूद था। यहां तय हुआ था कि
राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के बाहर लगा रहे थे ‘मैं भी चौकीदार’ के नारे, कार्रवाई के लिए चुनाव अधिकारी को दी शिकायत

राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के बाहर लगा रहे थे ‘मैं भी चौकीदार’ के नारे, कार्रवाई के लिए चुनाव अधिकारी को दी शिकायत

Delhi
भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थकों के लिए एक परेशान करने वाली खबर है। यदि किसी भी सार्वजनिक जगह पर इकट्‌ठा होकर ‘मैं भी चौकीदार’ या फिर कोई अन्य नारा लगाने के लिए सोच रहे हैं तो चुनाव परिणाम आने तक इसे टाल दें, वर्ना सख्त कार्रवाई हो सकती है। ऐसे ही एक मामले में दिल्ली पुलिस ने चुनाव अधिकारी को कार्रवाई के लिए शिकायत दी है। जानकारी के मुताबिक रविवार को राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के बाहर इकट्‌ठा होकर कुछ लोग ‘मैं भी चौकीदार’ के नारे लगा रहे थे। दिल्ली पुलिस की ओर से बताया गया है कि मेट्रो स्टेशन के बाहर इकट्ठे होकर लगाए जा रहे नारों को मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन माना गया है और चुनाव अधिकारी को शिकायत दी है। वहीं चुनाव अधिकारी की ओर से बताया गया है कि इस संबंध में नियमों के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। राजनीतिक पार्टियों के खिलाफ 16 नई एफआईआर दर्ज की गईं मॉडल
मुंबई में बार गर्ल बनकर रही दिल्ली की मेराज बानो, होटल से दुबई में दोस्त को भेजे थे सुसाइड के लाइव फोटो

मुंबई में बार गर्ल बनकर रही दिल्ली की मेराज बानो, होटल से दुबई में दोस्त को भेजे थे सुसाइड के लाइव फोटो

Rajasthan
जयपुर. राजधानी के जालूपुरा इलाके में स्थित होटल कुबेर में शनिवार देर रात को फंदा लगाकर खुदकुशी करने वाली मेराज खातून बानो (28) मुंबई में बार गर्ल थी। प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि करीब 12 घंटे से ज्यादा समय तक वह होटल के कमरे में फंदे पर लटकी रही। उसके हाथों की नस कटने से खून रिसता रहा। नजदीक ही उसका मोबाइल फोन पड़ा था। इसी फोन से मेराज खातून बानो ने खुदकुशी से पहले दुबई में मौजूद अपने एक परिचित युवक को सुसाइड का लाइव फोटो भेजा। जिसमें वह फंदालगाकर लटकतेनजर आ रही थी।जालूपुरा पुलिस के मुताबिक खुदकुशी से पहले मोबाइल पर वीडियो कॉल के जरिए मेराज ने विदेश में मौजूद परिचित युवक को फोन किया। जिसमें वह अपने चाकू से हाथ की नसें काटते हुए नजर आ रही है। साथ ही वह कुछ भी बोलती हुई भी नजर आ रही थी।एडिशनल डीसीपी धर्मेंद्र सागर ने बताया कि मौके परकोई सुसाइड नोट नहीं लिखा था। नाहीं,
फारूक अब्दुल्ला ने कहा- मुख्यमंत्री बनने के लिए 1500 करोड़ रुपए देने को तैयार थे जगन

फारूक अब्दुल्ला ने कहा- मुख्यमंत्री बनने के लिए 1500 करोड़ रुपए देने को तैयार थे जगन

India
नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने आंध्र प्रदेश के कड़प्पा में चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि वायएसआर कांग्रेस नेता जगनमोहन रेड्डी मुख्यमंत्री बनने के लिए 1500 करोड़ रुपए देने को तैयार थे।अब्दुल्ला ने कहा, 'मैं जगन को वो बात याद दिलाना चाहता हूं, जो उन्होंने मुझसे उनके पिता के निधन के बाद कही थी। उन्होंने कहा था कि यदि कांग्रेस उन्हें (जगन को) मुख्यमंत्री बनाती है, तो वे 1500 करोड़ रुपए देने को तैयार हैं। मैं पूछना चाहता हूं कि इतने रुपए उनके पास कहां से आए?' आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Lok Sabha Election News and Updates 26 March Dainik Bhaskar
जब 10 हजार फीट ऊंचे बर्फीले पहाड़ों में तैनात शहीद हरि की निकली अंतिम यात्रा तो 3 KM सिर्फ लोग ही लोग नजर आ रहे थे, अंतिम सेल्यूट में बोला जुड़वा सैनिक भाई- पाकिस्तान से भाई की मौत का बदला जरूर लूंगा

जब 10 हजार फीट ऊंचे बर्फीले पहाड़ों में तैनात शहीद हरि की निकली अंतिम यात्रा तो 3 KM सिर्फ लोग ही लोग नजर आ रहे थे, अंतिम सेल्यूट में बोला जुड़वा सैनिक भाई- पाकिस्तान से भाई की मौत का बदला जरूर लूंगा

Rajasthan
मकराना/नागौर (राजस्थान)।पुंछ के शाहपुरा सेक्टर में देश की रक्षा करते हुए रविवार तड़के करीब साढ़े 3 बजे मकराना तहसील के जूसरी गांव निवासी हरि भाकर (21) शहीद हो गए। सोमवार को सैनिक सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव में किया गया।शहीद के जुड़वां भाई हरेंद्र ने कहा,'हरि मेरे जुड़वां भाई थे और मुझसे दो मिनट बड़े भी। मैं अभी जीआरसी जबलपुर में नौ माह की ट्रेनिंग पर हूं। उनका चयन 2016 में हो गया था। वे मुझे बहुत प्यार करते थे। उनमें बचपन से ही देशभक्ति का जज्बा था इसलिए वे पुलिस व सेना की वीरता से जुड़ी फिल्में ही देखते थे और मुझे भी प्रेरित करते थे। पाकिस्तान की नापाक करतूतें सुनकर उनका खून खौल उठता था। भाई से प्रेरित हो मैंने भी सेना में जाने का मन बनाया। 8-9 बार भर्ती रैलियों में शामिल हुआ मगर किसी न किसी कारण रिजेक्ट होता रहा। मैंने उम्मीद छोड़ दी तो भाई ने कह

ऑस्कर जीतकर जब पहुंची अपने घर तो कुछ ऐसा हुआ स्वागत, जो कभी देते थे ताने आज पहना रहे माला

Indian Education
 गांव सादुल्लापुर में दीपक प्रधान के आवास पर ऑस्कर विजेता स्नेहा गुर्जर का गांव वालों ने स्वागत किया। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
एटीएम ही उठा ले जाते थे बदमाश, 2 अरेस्ट

एटीएम ही उठा ले जाते थे बदमाश, 2 अरेस्ट

Delhi
नई दिल्ली | क्राइम ब्रांच ने एटीएम मशीन लूटने वाले एक गैंग के 2 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इनके नाम नरेंद्र व देशराज हैं जो रोहतक से ताल्लुक रखते हैं। यह गैंग एनसीआर में एटीएम मशीन लूट की 7 वारदात कर चुका था। पुलिस का दावा है इनके पकड़े जाने पर 6 मामले सुलझा लिए गए हैं। डीसीपी क्राइम डॉ. रामगोपाल नाईक ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर में एटीएम मशीन चोरी की कई घटनाएं सामने आ चुकी थीं। पुलिस ने इन वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों के बारे में जानकारी जुटाई और फिर शनिवार को दोनों बदमाशों को पकड़ लिया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
6 माह में दो बार रेजीडेंट एसो. ने तुड़वाए थे छत्ते, फिर किसी ने नहीं संभाला, बच्चे ने पत्थर मारा तो बिफरी मक्खियों ने ली एक जान

6 माह में दो बार रेजीडेंट एसो. ने तुड़वाए थे छत्ते, फिर किसी ने नहीं संभाला, बच्चे ने पत्थर मारा तो बिफरी मक्खियों ने ली एक जान

Haryana
डीएलएफ कॉलोनी के पार्क में हनी बी के अटैक में एक बुजुर्ग 65 वर्षीय नरेंद्र ईश्पुनियानी की जान चली गई। 11 लोगों को पीजीआई में दाखिल होना पड़ा। दरअसल डीएलएफ पार्क में मधुमक्खियों ने करीब एक साल से पेड़ों पर डेरा डाल रखा है। करीब छह महीने में रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन और स्थानीय लोग अपने स्तर पर दो बार मधुमक्खियों के छत्तों को तुड़वा चुके हैं। एसो. ने तो एक शहद बेचने वाले को 500 रुपए देकर इन छत्तों को तुड़वाया था। लेकिन पार्क की हरियाली से हर बार पहाड़ी मधुमक्खियों ने दाेबारा अपना डेरा बना लिया। इस पर जिम्मेदारों ने ध्यान देना भी बंद कर दिया और रविवार को एक जिंदगी को इस लापरवाही का खामियाजा भुगतना पड़ा। रविवार को छुट्टी के चलते पार्क में दोपहर को खासी भीड़ थी। अमूमन इस पार्क में रोजाना दिन में भी लोग जुटते हैं। बुजुर्गों की कई टोलियां यहां पर दिनभर ताश खेलती हैं। रविवार को
एटीएम मशीन काटकर रुपए चोरी करने आए थे बदमाश

एटीएम मशीन काटकर रुपए चोरी करने आए थे बदमाश

Delhi
द्वारका के मोहन गार्डन इलाके में बाइक सवार 3 बदमाश स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम मशीन को काटकर रुपए चोरी करने आए थे। केबिन में घुसते ही सीसीटीवी कैमरे पर काले रंग का स्प्रे किया और गैस कटर से मशीन काटने लगे। इस बीच केबिन के अंदर बैठे केयर टेकर ने सूझबूझ दिखाते हुए शोर मचाकर उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। उसने बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन तीनों बाइक सहित फरार हो गए। आरोपी बदमाश अपने साथ लाए सामान 1 गैस कटर, 2 गैस सिलेंडर, एक आयरन रॉड, ब्लैक कलर का स्प्रे मौके पर छोड़कर भाग निकले। घटना रविवार तड़के 4 बजे की है। केयर टेकर की पहचान अंकित कुमार के रूप में हुई है। केयर टेकर की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्जकर आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है। घटना के वक्त अंकित एटीएम केबिन के अंदर वाले रूम में बैठा था। केयर टेकर की सूझबूझ से नहीं कर पाए वारदात Download Daini