News That Matters

Tag: ध्यान

भारतीय महिला क्रिकेट टीम का ध्यान विश्व कप 2021 में सीधे प्रवेश पर : मिताली

Indian Sports
मुंबई। भारतीय महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने कहा है कि उनकी टीम का ध्यान 2021 विश्व कप के क्वालीफायर में खेलने से बचने पर है। मिताली ने हालांकि कहा कि चोटिल हरमनप्रीत कौर की गैरमौजूदगी में विश्व चैंपियन इंग्लैंड का ... खेल-संसार
किचन में काम करते समय इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होंगे बीमार

किचन में काम करते समय इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होंगे बीमार

Health
रसोई में हवा की आवाजाही ठीक तरह से न होने पर एलर्जी और अस्थमा से प्रभावित महिलाओं को काफी तकलीफ होती है। उन्हें अस्थमा का अटैक भी आ सकता है। एलर्जी होने पर किचन में छोंक लगाते हुए अधिक छींकें, नाक से पानी व सांस में भारीपन की समस्या बनी रहे तो डॉक्टर को दिखाएं।कई बार रसोई में साफ-सफाई ठीक से नहीं हो पाती। जिससे कॉक्रोच, चूहे व अन्य कीड़े-मकोड़े वहां अपना अपशिष्ट छोड़ते रहते हैं। इस अपशिष्ट से निकलने वाले रसायन रोगी को धीरे-धीरे नुकसान पहुंचाते हैं। कई बार बर्तन धोने के सिंक के पास सीलन हो जाती है और यहां धीरे-धीरे फंगस पनपने लगती है जो एलर्जन के रूप में सांस नली को प्रभावित करती है। इसके अलावा किचन से आने वाली तेज गंध भी एलर्जी को बढ़ाने का काम करती है। रसोई की नियमित साफ-सफाई करें। यहां हवा की आवाजाही के लिए एग्जॉस्ट फैन का प्रयोग करें और दरवाजे, खिड़कियां खुले रखकर क्रॉस वेंटीलेशन का ध्य
जागरूकता : आर्थराइटिस से पीड़ित हैं तो घुटनों का रखें ध्यान

जागरूकता : आर्थराइटिस से पीड़ित हैं तो घुटनों का रखें ध्यान

Health
इस मौसम में कई रोगियों के घुटने का दर्द, अकड़न और असहजता बढ़ जाती है, क्योंकि वातावरणीय दबाव के कारण रक्तसंचार में बाधा होती है और कोमल ऊतकों का लचीलापन घट जाता है। इसे अकसर आयु संबंधी टूट-फूट या मौसमी... Live Hindustan Rss feed
यदि करवा चुके हैं जोड़ प्रत्यारोपण तो इन बातों का ध्यान रखें

यदि करवा चुके हैं जोड़ प्रत्यारोपण तो इन बातों का ध्यान रखें

Health
घुटनों का जोड़ प्रत्यारोपण मरीज को जिन्दगी में एक उमंग और आशा की किरण प्रदान करता है। आमतौर पर देखा जाता है कि मरीजों को जोड़ प्रत्यारोपण से पूर्व की तो सभी जानकारी होती है लेकिन सर्जरी के बाद का ज्ञान कम होता है। हम उस अवस्था की बात कर रहे हैं जब जोड़-प्रत्यारोपण का ऑपरेशन कराए 4-6 हफ्ते गुजर चुके हों। घुटने मोड़ने आदि क्रियाएं - ऑपरेशन के बाद नियमित क्रिया-कलापों के लिए कुर्सी का इस्तेमाल ही ठीक रहता है। लेकिन अगर आपका घुटना पूरा मुड़ता है तो आप पाल्थी मारकर भी बैठ सकते हैं। नियमित रूप से जमीन पर बैठने से बचें। सीढ़ियां चढ़ने के लिए रेलिंग का सहारा लेना चाहिए। नियमित व्यायाम व चेकअप - ऑपरेशन के 4-6 हफ्ते बाद आप घूमने का समय बढ़ाएं और 25-30 मिनट सुबह व शाम व्यायाम करें। मांसपेशियों की ताकत बढ़ाने के लिए घुटने व कूल्हे के व्यायाम करें। घुटना प्रत्यारोपण कराने वाले मरीज साल में एक बार डॉक्ट
इन सवालों के जवाब से जानें क्या खुद पर ध्यान देते हैं आप ?

इन सवालों के जवाब से जानें क्या खुद पर ध्यान देते हैं आप ?

Health
क्या आप भी कामों को इकट्ठा कर उन्हें करने की बजाय उनकी चिंता में दुबले हुए जा रहे हैं। नीचे दिए गए सवालों से सहमत या असहमत होकर अपनी स्थिति जान लें। 1. कोई जब तक टोके या उलाहना न दे, आप काम को टालते जाते हैं?अ: हां ब: नहीं 2. कई बार तो पेंडिंग कामों की वजह से आप पूरे दिन कुछ भी नया नहीं कर पाते और पिछड़ जाते हैं?अ: हां ब: नहीं 3. कामों को टालने के लिए आप अक्सर सेहत, मौसम और मूड का बहाना करते हैं ?अ: हां ब: नहीं 4. आपको याद नहीं कि आखिरी बार कब पूरे एक हफ्ते लगातार मॉर्निंग वॉक या एक्सरसाइज की थी ?अ: हां ब: नहीं 5. आपकी प्राथमिकता में नौकरी या व्यवसाय पहले है ?अ: हां ब: नहीं 6. आप कई लोगों से इसलिए बात नहीं करते क्योंकि आपकी वजह से उनका कोई काम अटका हुआ है ?अ: हां ब: नहीं 7. व्यस्तता से आप अकेले पड़ रहे हैं और फिर भी जो मिलना चाहिए, नहीं मिल रहा ?अ: हां ब: नहीं 8. खुद में जिन बदलावों को महस
जानिए, सर्दी में कैंसर मरीजों के खानपान पर विशेष ध्यान रखना क्यों जरूरी है

जानिए, सर्दी में कैंसर मरीजों के खानपान पर विशेष ध्यान रखना क्यों जरूरी है

Health
सर्दी का मौसम कैंसर रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है। इसकी वजह इस मौसम में नमी अधिक होती है और कैंसर के मरीजों में कीमोथैरेपी या दूसरी दवाइयों के कारण इम्युनिटी घट जाती है। जिससे उनमें संक्रमण का खतरा अधिक हो जाता है। सावधानी बरतने की जरूरत अधिक रहती है। सामान्य लोगों की तुलना में कैंसर मरीजों के शरीर को अधिक गर्म रखने की जरूरत रहती है। इसके लिए ऊनी कपड़े पहनें। सिर, हाथ, पैरों को ढककर रखें। ठंडी हवाओं से खुद का बचाव करें। ठंडी चीजें जैसे आइसक्रीम, कुल्फी आदि से परहेज रखेंं। आप मरीज नहीं तो बरतें ये सावधानी भोजन को दोबारा गर्म करने और रेड मीट खाने से बचें। पोषण युक्त आहार से खतरा कम किया जा सकता है। सब्जियां, फल, फली, साबुत अनाज खानपान में शामिल करें। एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन्स कैंसर कोशिकाओं को बढऩे से रोकते हैं। शक्कर कम लें। खानपान में हमेशा रखें : आहार में टमाटर, ब्रोकली, पत्तागोभी, लह
डाइटिंग करते समय इन बाताें का रखेंगे ध्यान ताे नहीं हाेगा नुकसान

डाइटिंग करते समय इन बाताें का रखेंगे ध्यान ताे नहीं हाेगा नुकसान

Health
अक्सर स्लिम-ट्रिम बॉडी के लिए लोग डाइटिंग का फंडा आजमाते हैं लेकिन इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां नहीं रखते। आइए जानते हैं इनके बारे में:- - हमेशा भरपूर नींद लें। कई बार नींद नहीं लेने की वजह से थकावट का एहसास होता है। इस थकावट में भूख लगती है। कम से कम एक दिन में भोजन से 1200 कैलोरी जरूर लें। - कभी भी एक सप्ताह में 1 किलो से अधिक वजन कम करने की कोशिश नहीं करें वर्ना वजन कम करने का असर चेहरे पर दिखने लगेगा। - खाने से पहले हमेशा पानी पिएं इससे आप भूख से ज्यादा खाने से बच जाएंगे। - खाना स्किप न करें क्योंकि भूखे होने पर खाने का जो भी विकल्प मिलता है हम उस पर टूट पड़ते हैं। - कई शोधों में पाया गया कि जो लोग सिर्फ फल व कच्ची सब्जियों पर आश्रित हो जाते हैं, उनके शरीर में विटामिन बी-12 की कमी और बोन डेंसिटी भी कम हो जाती है। इसलिए खाने के विकल्पों को बदलते रहें। - रोजाना खाने में प्रोटीन शामिल
पापा का ध्यान रखना मम्मा, मैथ टीचर को बख्शना नहीं, सुसाइड नोट लिख छात्रा ने फंदा लगा दी जान

पापा का ध्यान रखना मम्मा, मैथ टीचर को बख्शना नहीं, सुसाइड नोट लिख छात्रा ने फंदा लगा दी जान

Punjab
जालंधर.जालंधर के केएमवी स्कूल की 10वीं की स्टूडेंट तन्वी मेहता ने बुधवार को अपने कपूर कॉलोनी स्थित घर के बेडरूम में फंदा लगाकर जान दे दी। उसके पास से तीन पेज का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने आरोप लगाया कि वह केएमवी संस्कृति स्कूल के मैथ टीचर नरेश कपूर से तंग आकर जान दे रही है।पुलिस ने रैनक बाजार के रहने वाले 32 साल के टीचर नरेश को गिरफ्तार कर लिया है। थाना रामामंडी में आरोपी के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज हुआ है। एसएचओ जीवन सिंह ने कहा कि सुसाइड नोट को हैंड राइटिंग एक्सपर्ट के पास भेजा जा रहा है। उधर, स्कूल मैनेजमेंट ने टीचर को सस्पेंड कर दिया है।प्रॉपर्टी डीलर और फाइनांस का काम करते राजेश मेहता ने बताया कि उनकी बेटी ने मंगलवार रात साथ में डिनर किया। रात 11 बजे बेडरूम में गई। बुधवार सुबह 7 बजे देखा तो बेटी फंदा लगाकर लटकी हुई थी। बेटी को नीचे उतारा त
सर्दियों में करनी है मॉर्निंग वॉक ताे इन बाताें का रखें ध्यान

सर्दियों में करनी है मॉर्निंग वॉक ताे इन बाताें का रखें ध्यान

Health
रेगुलर मॉर्निंग वॉक पर जाने वाले लोगों को सर्दी के मौसम में खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। खासकर अस्थमा के रोगी मुंह और नाक कवर करके ही वॉक पर जाएं। लापरवाही करने पर फेफड़े संबंधी रोग जैसे खांसी, निमोनिया और अस्थमा की तकलीफ बढ़ सकती है। कड़ाके की सर्दी में बुजुर्गों को हल्की धूप निकलने के बाद ही वॉक पर जाना चहिए। सुबह की बजाय शाम को सूरज ढलने से पहले भी वॉक कर सकते हैं। अस्थमा या जोड़ों के दर्द की शिकायत वाले रोगी घर पर ही थोड़ी देर टहल लें और हल्का व्यायाम जैसे अनुलोम-विलोम और प्राणायाम आदि करें। ये भी उपयोगीदौड़ते समय हमेशा नाक से सांस लें और इसे मुंह से छोड़ें। जिन लोगों ने हाल ही में रनिंग शुरू की है वे फुर्ती के साथ न दौड़ें बल्कि बीच-बीच में आराम करें वर्ना आपके पेट में हल्का दर्द भी हो सकता है। सर्दियों में जोड़ों की जकडऩ की समस्या हो तो धूप में बैठकर सरसों या तिल के तेल से मालिश

UP Board Exam 2019:टाइम टेबल बनाते समय रखें इन बातों का ध्यान

Indian Education
यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 07 फरवरी से शुरू होने वाली हैं और ये टाइम है सही स्ट्रेटेजी के साथ रिवीज़न का। ऐसे समय में टाइम टेबल के हिसाब से पढ़ाई करने से आपको यह पता रहता है कि कब और कितना पढ़ना है, इससे बेवजह का प्रेशर अपने आप कम हो जाता है। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala