News That Matters

Tag: निकली

कोर्ट के आदेश पर अपने मालिक का फैसला करने निकली गाय, कांस्टेबल के मकान के सामने जाकर ठहरी

कोर्ट के आदेश पर अपने मालिक का फैसला करने निकली गाय, कांस्टेबल के मकान के सामने जाकर ठहरी

Rajasthan
जोधपुर. दो दावेदारों के मालिकाना हक में उलझी एक गाय शनिवार को कोर्ट के आदेश अपने मालिक का फैसला करने निकली। कोर्ट के आदेश पर गाय को आज दोनों दावेदारों के घर से पांच सौ मीटर दूर छोड़ कर देखा गया कि यह किसके घर जाती है। गाय कांस्टेबल के मकान से कुछ दूरी पर जाकर खड़ी हो गई। गाय ने मकान में प्रवेश नहीं किया। वहीं शिक्षक का मकान इससे कुछ दूरी पर है । अब कमिश्नर की रिपोर्ट पर कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा।कोर्ट के आदेश पर आज शाम गाय को लेकर कोर्ट की तरफ की नियुक्त कमिश्नर व वकील गाय को लेकर चैनपुरा बावड़ी स्थित नयाबास क्षेत्र में पहुंचे। यहां इस गाय के मालिकाना हक को लेकर दावा करने वाले शिक्षक श्यामसिंह परिहार व पुलिस कांस्टेबल ओमाराम विश्नोई के मकान से काफी पहले उसे वाहन से उतार दिया। इसके बाद गाय काफी देर तक इधर-उधर भटकती रही। इसके बाद धीरे-धीरे आगे बढ़ते हुए यह पुलिल कांस्टेबल ओमार
विपक्षी दल बोले-वोट किसी को, पर्ची किसी और की निकली

विपक्षी दल बोले-वोट किसी को, पर्ची किसी और की निकली

Delhi
कांग्रेस, टीडीपी और आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि ईवीएम से साथ लगे वीवीपैट से गलत पर्चियां निकल रही हैं। इसे लेकर कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी, कपिल सिब्बल, दिल्ली के सीएम केजरीवाल और आंध्र के सीएम चंद्रबाबू नायडू समेत कई नेताओं ने दिल्ली में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की। सभी बोले कि वे इस मुद्दे को लेकर सुप्रीम कोर्ट जा रहे हैं। कम से कम 50% मतदान पर्चियों का मिलान ईवीएम से होना चाहिए। सिंघवी बोले- ईवीएम बटन दबाया तो उसके साथ लगी वीवीपैट मशीन से निकली पर्ची सिर्फ 3 सेकंड के लिए नजर आई। ऐसा लगातार हो रहा है कि वोट किसी को दिया, पर्ची किसी दूसरी पार्टी की निकली। केजरीवाल ने कहा कि- इंजीनियर होने के नाते में समझता हूं कि ईवीएम को भाजपा के हिसाब से प्रोग्राम किया गया है। मोदी के हेलीकॉप्टर में बक्सा क्यों था, उसमें क्या था: कांग्रेस नई दिल्ली | कांग्रेस ने एक वीडिय
पत्नी बीमार होने पर सोने की अंगूठी-बाली बेचने गया बुजुर्ग, जांच में निकलीं नकली

पत्नी बीमार होने पर सोने की अंगूठी-बाली बेचने गया बुजुर्ग, जांच में निकलीं नकली

Delhi
लाजपत नगर इलाके में एक ज्वेलर से धोखाधड़ी करने के आरोप में 60 साल के बुजुर्ग को अरेस्ट किया गया है। उसने ज्वेलर की दुकान पर सोने की अंगूठी और कान की बाली बेच दी। एडवांस के तौर पर 5 हजार रु. भी ले लिए। लेकिन जब ज्वेलर ने तेजाब डालकर ज्वेलरी को चैक किया तो वह नकली पाई गई। इसके बाद उसने पुलिस बुला ली। आरोपी ललित कुमार ईस्ट रोहताश नगर का रहने वाला है। पुलिस की जांच में यह बात सामने आई कि आरोपी ने यह ज्वेलरी कुछ साल पहले किसी ओर से सोना समझकर 15-20 हजार रु. में खरीदी थी। वह खुद भी धोखा खा गया, जिसे अब इस बारे में पता चला। लाजपत नगर टू में राजीव मल्होत्रा की रोशन भाई ज्वेलर्स के नाम से दुकान हैं। 5 अप्रैल की दोपहर एक बुजुर्ग प|ी की बीमारी का हवाला देकर सोने की अंगूठी और एक जोड़ी कान की बाली बेचने आया था। ज्वेलर ने ज्वेलरी रख ली और टोकन मनी के तौर पर उसे 5 हजार रु. दे दिए। बाकी
किचन से घिसटते हुए बाहर निकली महिला, वो खून से लथपथ थी-उसके पेट में चाकू घुसा था…यह देख चीखने लगीं दो देवरानियां

किचन से घिसटते हुए बाहर निकली महिला, वो खून से लथपथ थी-उसके पेट में चाकू घुसा था…यह देख चीखने लगीं दो देवरानियां

Punjab
दीनानगर (पंजाब). घर में घुस कर एक हमलावर ने महिला के पेट में किरच घोंप कर उसे बुरी तरह से जख्मी कर दिया। चीख सुनकर बचाव में आए ससुर भी हमले में जख्मी हो गए। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर फरार हो गया। गंभीर रूप से घायल ज्योति देवी को जालंधर के कैपिटोल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।आरोपी की पहचान डालिया गांव निवासी 32 वर्षीय हरप्रीत सिंह हैप्पी के रूप में हुई है। सोमवार की रात करीब 8.40 बजे वह न्यामता गांव पैदल पहुंचा और एक घर में घुस कर विवाहित से जबरदस्ती की कोशिश की। वह अपने साथ किरच और दातर लेकर आया था। हमले में गंभीर रूप से जख्मी महिला और ससुर को गुरदासपुर के सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां ज्योति की हालत देख वहं से रेफर कर दिया गया। वारदात से दो घंटे देरी से पहुंची बहरामपुर पुलिस बयान लेकर अगली कार्रवाई में जुटी है।महिला का पति तलविंदर सैनी सऊदी अरब में है। आन

छत्‍तीसगढ़: पहली बार किन्नरों का हुआ सामूहिक विवाह, रायपुर में ऐसी निकली बारात, राष्‍ट्रपति ने दी बधाई

India
देश में पहली बार किन्नरों का सामूहिक विवार शनिवार को आयोजित हुआ। इसमें 15 जोड़ों का विवाह हुआ। इस विवाह में शामिल जोड़ों को राष्‍ट्रपति ने बधाई दी। Jagran Hindi News - news:national
सिर मेें तेज दर्द निकली दुर्लभ बीमारी

सिर मेें तेज दर्द निकली दुर्लभ बीमारी

Health
अनदेखा न करें कोई दर्द अक्सर हम शरीर में होने वाले दर्द को अनदेखा कर देते हैं। यदि समय पर इलाज न लिया जाएं तो कभी-कभी ये लापवाही गंभीर रूप ले लेती है। ऐसा ही कुछ बयालीस वर्षीय एक महिला के साथ हुआ। उन्हें पिछले काफी समय से सिरदर्द था। ऐसे में उन्होंने कई दर्द निवारक दवाएं खाई। जब दर्द तेज हुआ तो एमआरआइ, सिटी स्कैन व एंजियोग्राफी की गई। जांच पता चला कि मस्तिष्क की चार प्रमुख धमनियों में से आगे की दोनों और पीछे की एक धमनी बंद है। केवल पीछे की एक धमनी से रक्त तेजी से मस्तिष्क तक पहुंच रहा था। ऐसे में धमनी की सतह पर एक गुब्बारा बन गया है और इस गुब्बारे में से लीकेज होने के कारण मरीज को तेज दर्द हो रहा था। यदि गुब्बारा फट जाता तो गंभीर परिणाम हो सकते थे। बाद में फ्लो डायवर्टर उपकरण से गुब्बारे में जाने वाले रक्त के प्रवाह को अवरुद्ध किया गया। कुछ समय के बाद गुब्बारा बंद हो गया और रक्त संचार भी म
जब 10 हजार फीट ऊंचे बर्फीले पहाड़ों में तैनात शहीद हरि की निकली अंतिम यात्रा तो 3 KM सिर्फ लोग ही लोग नजर आ रहे थे, अंतिम सेल्यूट में बोला जुड़वा सैनिक भाई- पाकिस्तान से भाई की मौत का बदला जरूर लूंगा

जब 10 हजार फीट ऊंचे बर्फीले पहाड़ों में तैनात शहीद हरि की निकली अंतिम यात्रा तो 3 KM सिर्फ लोग ही लोग नजर आ रहे थे, अंतिम सेल्यूट में बोला जुड़वा सैनिक भाई- पाकिस्तान से भाई की मौत का बदला जरूर लूंगा

Rajasthan
मकराना/नागौर (राजस्थान)।पुंछ के शाहपुरा सेक्टर में देश की रक्षा करते हुए रविवार तड़के करीब साढ़े 3 बजे मकराना तहसील के जूसरी गांव निवासी हरि भाकर (21) शहीद हो गए। सोमवार को सैनिक सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव में किया गया।शहीद के जुड़वां भाई हरेंद्र ने कहा,'हरि मेरे जुड़वां भाई थे और मुझसे दो मिनट बड़े भी। मैं अभी जीआरसी जबलपुर में नौ माह की ट्रेनिंग पर हूं। उनका चयन 2016 में हो गया था। वे मुझे बहुत प्यार करते थे। उनमें बचपन से ही देशभक्ति का जज्बा था इसलिए वे पुलिस व सेना की वीरता से जुड़ी फिल्में ही देखते थे और मुझे भी प्रेरित करते थे। पाकिस्तान की नापाक करतूतें सुनकर उनका खून खौल उठता था। भाई से प्रेरित हो मैंने भी सेना में जाने का मन बनाया। 8-9 बार भर्ती रैलियों में शामिल हुआ मगर किसी न किसी कारण रिजेक्ट होता रहा। मैंने उम्मीद छोड़ दी तो भाई ने कह
तीन दिन भूखी-प्यासी तड़पती रही मां, जैसे ही बच्चे ने आंखें खोलकर देखा, तो झरने से बह निकलीं पथराई आंखें

तीन दिन भूखी-प्यासी तड़पती रही मां, जैसे ही बच्चे ने आंखें खोलकर देखा, तो झरने से बह निकलीं पथराई आंखें

Haryana
हिसार, हरियाणा। एक मां का दर्द शायद कोई दूसरा नहीं समझ सकता! यह इमोशनल स्टोरी एक मासूम बच्चे और उसकी मां की दर्द से जुड़ी है। डेढ़ साल का मासूम खेलते वक्त 60 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था।-घटना 20 मार्च की शाम को हुई थी। करीब 24 घंटे सेना और NDRF की मदद से रेस्क्यू चला। इस दौरान मां पास में बैठी भगवान से दुआ करती रही। बच्चे को सुरक्षित निकाला गया, लेकिन उसने आंखें नहीं खोलीं। करीब 3 दिन बाद जब बच्चे को होश आया, तो खुशी से मां की आंखें झर-झर बह पड़ीं।-बालसमंद गांव के रहने वाले नदीम को सोमवार को होश आया, तो डॉक्टरों ने राहत की सांस ली। नदीम सर्वोदय हॉस्पिटल के ICU में भर्ती है। बच्चे के आंखें खोलते ही उसे नली से दूध और जूस पिलाया गया। इस दौरान मां पास खड़ी-खड़ी रोती रही...ईश्वर को धन्यवाद देती रही।-हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. उमेश कालरा के मुताबिक, नदीम का इन्फेक्शन और निमोनिया
नाखून के नीचे की गांठ निकली ग्लोमस ट्यूमर

नाखून के नीचे की गांठ निकली ग्लोमस ट्यूमर

Health
नाखून के नीचे दर्द थापचास साल की उम्र के आसपास के इस मरीज को पिछले कई महीनों से नाखून के नीचे दर्द था। दर्द होने पर वे दर्द निवारक गोली खा लेते थे। लेकिन जब दर्द बढ़ता गया तो डॉक्टर को दिखाया। जांच में यह ग्लोमस ट्यूमर निकला। यह ट्यूमर नाखून के नीचे की तरफ होता है और ट्यूमर के कारण इसमें तेज दर्द होता है।क्या है ग्लोमस ट्यूमर यह नाखून के पीछे या उसके पास होता है। इसमें एक गांठ बन जाती है। अब चूंकि यह गांठ त्वचा के अंदर होती है इसलिए सामान्यत: मरीज का एकदम से इसपर ध्यान नहीं जाता है। लगातार दर्द नहीं होने के कारण भी लोग अक्सर इसे अनदेखा कर देते हैं और डॉक्टर के पास देर से जाते हैं। इसका दर्द नाखून से किसी भी चीज के टच होने या ठंडे पानी में अंगुली डालने पर होता है।हड्डी को भी हो सकता है नुकसान यदि ग्लोमस ट्यूमर बढ़ जाता है तो अंगुली को नुकसान पहुंच सकता है। यदि लंबे समय तक (जो कि कई साल तक

स्नातकों के लिए निकली अनेक पदों पर भर्तियां, पावर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन लिमिटेड में नौकरी का मौका

Indian Education
KPTCL Recruitment 2019 कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन लिमिटेड में अनेक पदों के लिए भर्तियां होने जा रही हैं। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala