News That Matters

Tag: नुकसान

सरकार ने स्कूलों से कहा- बच्चों को बताएं कि सरकारी संपत्ति को नुकसान न पहुंचाएं

सरकार ने स्कूलों से कहा- बच्चों को बताएं कि सरकारी संपत्ति को नुकसान न पहुंचाएं

Delhi
नई दिल्ली | दिल्ली सरकार ने राज्य के सभी स्कूलों से कहा कि वे बच्चों को बताएं कि सार्वजनिक संपत्तियों और ऐतिहासिक धराेहरों को नुकसान न पहुंचाएं और न ही किसी को ऐसा करने दें। शिक्षा निदेशालय ने इस संबंध में स्कूलों को चिट्‌ठी लिखी है। स्कूलों को निर्देश दिया है कि वे सार्वजनिक संपत्तियों को विकृत होने से बचाने को सुबह की सभा, पीटीएम के दौरान स्टूडेंट्स को स्कूली इमारतों, ऐतिहासिक स्मारकों, निगम की संपत्तियों और फ्लाइओवरों को नुकसान पहुंचाने के खिलाफ जागरूक करें। निर्देश दिया है कि बच्चों को दिल्ली प्रिवेंशन ऑफ डिफेसमेंट ऑफ पब्लिक प्रॉपर्टी एक्ट-2007 की जानकारी दें। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
100 करोड़ क्लब में शामिल हुई ‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तां’, लेकिन फिल्म को हुआ ये बड़ा नुकसान

100 करोड़ क्लब में शामिल हुई ‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तां’, लेकिन फिल्म को हुआ ये बड़ा नुकसान

Entertainment
आमिर खान की फिल्म Thugs of Hindostan को लगातार ट्रोल किया जा रहा है। क्रिटिक्स से लेकर ऑडियंस तक हर कोई इस फिल्म की  बुराई कर रहा है। हालांकि, इन सब बातों के बीच भी फिल्म ने तीन दिनों के अंदर ही... Live Hindustan Rss feed
नकली उत्पादों से 7 उद्योग क्षेत्रों को 1 लाख करोड़ का नुकसान: फिक्की

नकली उत्पादों से 7 उद्योग क्षेत्रों को 1 लाख करोड़ का नुकसान: फिक्की

Delhi
बाजार में नकली उत्पादों की बिक्री से स्थानीय निर्माताओं के कारोबार पर बुरा असर पड़ रहा है। इससे सिर्फ सात उद्योग क्षेत्रों को 1.05 लाख करोड़ रुपए नुकसान होने का अनुमान है। साथ ही इससे इन उद्योग क्षेत्रों में काम करने वाले लाखों लोगों की नौकरी को भी खतरा पैदा हो गया है। इनमें ऑटो पार्ट्स, अल्कोहल युक्त पेय पदार्थ, कंप्यूटर हार्डवेयर, डिब्बाबंद और व्यक्तिगत उपयोग वाले सामान, सिगरेट और मोबाइल फोन सेक्टर शामिल हैं। फिक्की-कास्केड की रिपोर्ट के मुताबिक अवैध कारोबार से सरकार के राजस्व पर भी असर पड़ रहा है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
हार्डवेयर फैक्टरी में लगी आग, लाखों रुपए का नुकसान, कोई हताहत नहीं

हार्डवेयर फैक्टरी में लगी आग, लाखों रुपए का नुकसान, कोई हताहत नहीं

Punjab
भास्कर संवाददाता| मालेरकोटला इंडस्ट्री एरिया में स्थित हार्डवेयर फैक्टरी में आग लगने से फैक्ट्री मालिक का लाखों रुपए का नुकसान हो गया। हालांकि किसी भी तरह की जानी नुकसान होने से बचाव रहा। आरके इंडस्ट्री के मालिक राजेश कुमार ने बताया कि वीरवार सुबह विश्वकर्मा दिवस के मौके पर करीब साढ़े 11 बजे फैक्टरी में पूजा पाठ करने के बाद घर चले गए थे। इसके बाद करीब डेढ़ घंटे बाद उन्हें फोन आया कि फैक्टरी में से धुंआ निकल रहा है, जिसके बाद वह तुरंत फैक्टरी पहुंचे, जहां जाकर देखा तो हार्डवेयर के समान को आग लगी हुई थी। उन्होंने तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचित किया। उन्होंने बताया कि कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया। आग लगने से उनका करीब 25 लाख रुपए का नुकसान हो गया है। इस मौके पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट पाल सिंह ने भी घटना स्थल पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया। (जमाली) फैक्टरी में लगी आग

जानिए, हिमपात से दक्षिण कश्मीर में कितने पेड़ों का हुआ है नुकसान

India
कश्मीर में बीते सप्ताह हुए हिमपात से दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में 15 लाख सेब के पेड़ बर्बाद हुए हैं। Jagran Hindi News - news:national
बिना डॉक्टरी सलाह के न खाएं केला, संतरा, टमाटर व ये अन्य फल, वरना हो सकता है नुकसान

बिना डॉक्टरी सलाह के न खाएं केला, संतरा, टमाटर व ये अन्य फल, वरना हो सकता है नुकसान

Health
शरीर के विभिन्न अंग, कोशिकाएं और ऊत्तक ठीक ढंग से काम करें इसके लिए बॉडी मेंं पर्याप्त मात्रा में पोटेशियम का होना जरूरी होता है। पोटेशियम की कमी से उल्टी, दस्त, ऐंठन, कमजोरी, दिल की धड़कन की अनियमितता हो सकती है। लेकिन पोटेशियम की अधिकता भी शरीर के लिए नुकसानदेह होती है। इससे युवकों में दिल का दौरा और मांसपेशियों में ऐंठन की समस्या हो जाती है। पोटेशियम के लिए बाजार में कई तरह के सप्लीमेंट उपलब्ध हैं। इन्हें डॉक्टरी परामर्श पर ही लें क्योंकि कई बार इनके दुष्प्रभाव भी होते हैं जैसे उल्टी आना, दस्त, पेट की तकलीफ और जी घबराना अादि। केले, संतरे, स्ट्रॉबेरी, टमाटर, खीरा, गोभी, फूलगोभी, शिमला मिर्च, बैंगन, ब्रसेल स्प्राउट, अजवाइन, ब्रोकली, पालक, हल्दी और ट्यूना फिश में पोटेशियम होता है। इस लिए इन चीजों का ज्यादा मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि ज्यादा मात्रा में शरीर में पोटेशियम पहुंचना
बदल डालो बुरी डिजिटल आदतें, वरना सेहत को होगा नुकसान

बदल डालो बुरी डिजिटल आदतें, वरना सेहत को होगा नुकसान

Health
टेक-सेवी होना प्रोफेशनल और सोशल लाइफ के लिए तो अच्छा है लेकिन इससे पर्सनल लाइफ में इतना कचरा भर रहा है कि आप अनहैल्दी होते जा रहे हैं। अगर आप अच्छा शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य चाहते हैं तो इन तरीकों से अपने डिजिटल कचरे को साफ करें। स्मार्टफोन को आराम दें - सबसे कटकर, अलग हटकर आपको स्मार्टफोन की लत लग चुकी है। आप अपनों के बिना रह सकते हैं, लेकिन अपने स्मार्टफोन के बिना रहना मुश्किल है। अमरीका में एक शोध में सामने आया है कि जितनी बार आप अपने स्मार्टफोन में अपने अपडेट्स चैक करते हैं आपका तनाव उतना ही बढ़ता है। इलाज -हमेशा अपने स्मार्टफोन से चिपके नहीं रहें, इसे भी थोड़ा आराम दें। खुद को और अपने से जुड़े लोगों को समझते हुए बाकी नियमों को अपनाएं। ई-मेल पर कसें लगाम-मान लिया कि आपको डर है कि ईमेल को इग्नोर करके आप खुद का नुकसान भी कर सकते हैं फिर भी ऐसा करना आपके लिए जरूरी हो सकता है। जहां तक हो
दूध और फल न खाएं साथ, कॉम्बो डाइट खाने से पहले जान लें फायदा होगा या नुकसान

दूध और फल न खाएं साथ, कॉम्बो डाइट खाने से पहले जान लें फायदा होगा या नुकसान

Health
खाने-पीने के मामले में कोताही या कंजूसी शायद ही कोई बरतता होगा लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि इतने पैसे खर्च करके आप अपने घर में जो पौष्टिक खाना खा रहे हैं उसका कोई खास फायदा आपको नहीं मिल पा रहा। इसकी बड़ी वजह है गलत फूड कॉम्बिनेशन यानी ऐसी चीजें एक साथ खा लेना जो एक दूसरे के फायदों को बेअसर कर देती हैं। दूध में कॉफी डालकर पीना - अक्सर कई लोगों को सादा दूध पीना अच्छा नहीं लगता और वे स्वाद के लिए इसमें कॉफी डाल लेते हैं। लेकिन यह आदत गलत है इसकी वजह से हमारे खाने में मौजूद आयरन को शरीर इस्तेमाल नहीं कर पाता और बाकी पोषक तत्व भी बर्बाद हो जाते हैं इसलिए खाने से तीन घंटे पहले और बाद में ही कॉफी, ब्लैक टी या ग्रीन टी पीएं। खट्टे व मीठे फल साथ नहीं खाएं - संतरे जैसे खट्टे और केले जैसे मीठे फल एक साथ नहीं खाने चाहिए। इन्हें एक साथ खाने से ये पाचन क्रिया में रुकावट पैदा करते हैं और इससे फलों
केंद्र सरकार की एजेंसी ने जारी किया Alert, स्टीकर लगे फलों को न खरीदें, इसकी गाद का केमिकल पहुंचा सकता है बड़ा नुकसान, एक्सपर्ट ने बताईं फल खरीदने से पहले ध्यान रखने वाली 3 बातें

केंद्र सरकार की एजेंसी ने जारी किया Alert, स्टीकर लगे फलों को न खरीदें, इसकी गाद का केमिकल पहुंचा सकता है बड़ा नुकसान, एक्सपर्ट ने बताईं फल खरीदने से पहले ध्यान रखने वाली 3 बातें

India
न्यूज डेस्क। अगर आप बाजार से स्टिकर लगे फल और सब्जियां खरीदते हैं तो बंद कर दें। फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) ने कहा है कि स्टिकर लगे फल और सब्जियां सेहत के लिए खतरनाक हैं। एक एडवाइजरी में अथॉरिटी ने ग्राहकों को स्टिकर लगे फल-सब्जियां नहीं खरीदने की सलाह दी है। स्टिकर का गुणवत्ता से कोई लेना-देना नहीं होता। उलटे इसके गोंद में मौजूद खतरनाक केमिकल सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं। कई बार स्टिकर के नीचे के हिस्से में फल का रंग और गुणवत्ता भी खराब हो जाती है। व्यापारियों को भी फल-सब्जियों पर स्टिकर नहीं लगाने को कहा है। स्टिकर लगाकर ब्रांड का नाम, बेस्ट क्वालिटी, ओके टेस्टेड या पीएलयू कोड लिखने की इजाजत सरकार भी नहीं देती है। हमने FSSAI के फूड इंस्पेक्टर (इंदौर) मनीष स्वामी से बात कर जाना कि आखिर फलों को खरीदते समय कौन सी बातें ध्यान रखना चाहिए।क्यों लगाए जा
अगर आप भी टार्इट बेल्ट बांधने के शाैकिन ताे हाे जाइए सावधान, जानिए कितना हाे रहा है नुकसान

अगर आप भी टार्इट बेल्ट बांधने के शाैकिन ताे हाे जाइए सावधान, जानिए कितना हाे रहा है नुकसान

Health
नई स्टडी में सामने आया है कि ज्यादा टाइट बेल्ट लगाने वाले लोगों में गले का कैंसर होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। स्कॉटलैंड के विशेषज्ञ मानते हैं कि टाइट बेल्ट से पेट का एसिड गले तक पहुंच जाता है, जिससे कैंसर का खतरा पैदा होता है। ग्लास्गो यूनिवर्सिटी के अनुसार मोटे लोगों में इसका खतरा और भी बढ़ जाता है। स्टडी में पाया गया कि जो लोग बेल्ट ज्यादा टाइट लगाते हैं, उनमें एसिड की समस्या ज्यादा पाई जाती है। मोटे लोगों में यह समस्या और भी ज्यादा गंभीर पाई गई। शोध के अनुसार टाइट बेल्ट लगाने से पेट और ग्रासनली पर जोर पड़ता है, जिससे एसिड ऊपर की तरफ लीक होने लगता है। और ज्यादा समय तक ऐसा होते रहने की स्थिति में गले में कैंसर होने का खतरा बढ़ा देता है। 55 साल से ज्यादा की उम्र वाले लोगों में भी इसका खतरा ज्यादा रहता है। एसिड रिफ्लक्स बना कारण शोधकर्ताओं की माने तो अब दूसरी तरह के कैंसर की वजाय गले के