News That Matters

Tag: पैसे

पॉलिसी के पैसे दिलाने का झांसा देकर मारी ढाई लाख रुपए की ठगी, पर्चा

पॉलिसी के पैसे दिलाने का झांसा देकर मारी ढाई लाख रुपए की ठगी, पर्चा

Punjab
लुधियाना|पॉलिसी के पैसे ज्यादा दिलाने का झांसा देकर एक महिला समेत तीन नौसरबाजों ने एक व्यक्ति से ढ़ाई लाख रुपए की ठगी मार ली। थाना दुगरी की पुलिस ने दुगरी के सुखदेव सिंह की शिकायत पर राधे कृष्ण कपूर, रंधावा और रेखा चौहान के खिलाफ मामला दर्ज किया है। एएसआई गुरमेल सिंह ने बताया कि शिकायतकर्ता की 10-12 साल पुरानी तीन पॉलिसी थी। उसे उक्त आरोपियों ने शिकायतकर्ता को फोन कर खुद को आईआरडीए का ऑडिट अफसर बता पॉलिसी के पैसे कई गुना ज्यादा दिलाने का झांसा देकर 50 हजार ले लिए। इसके बाद दो लाख रुपए ओर ओर मांगे, शक होने पर शिकायतकर्ता ने पैसे देने से इंकार कर दिया। जिसके बाद आरोपियों के फोन बंद आने लगे तो ठगी का पता चला। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
खेड़ी कलां के सरपंच पर सरकारी पैसे के दुरुपयोग का आरोप

खेड़ी कलां के सरपंच पर सरकारी पैसे के दुरुपयोग का आरोप

Punjabi Politics
शेरपुर| गांव खेड़ी कलां में मौजूदा पंचायत के पंचों ने गांव के सरपंच पर सरकारी पैसों का दुरुपयोग करने के आरोप लगाए हैं। आरोप है कि सरपंच द्वारा प्रतिदिन अपनी प|ी की हाजिरी मनरेगा के तहत लगाई जा रही, जबकि वह काम पर नहीं जा रही है। वहीं सरपंच ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है। खेड़ी कलां के पंच गुरमीत सिंह, पंच सुरिंदर कौर व गांववासी जसवंत सिंह, दर्शन सिंह ने प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान आरोप लगाते हुए कहा कि सरपंच व कुछ अन्य पंचायत सदस्यों द्वारा मिलकर सरकारी पैसे का दुरुपयोग किया जा रहा है। इसके सबूत और गवाह उनके पास हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सरपंच द्वारा अपनी प|ी के नाम पर रोजाना मनरेगा के काम में हाजिरी लगाई जा रही है, जबकि उसकी प|ी एक दिन भी काम पर नहीं गई। इसी तरह सरपंच द्वारा गांव में अपने चहेतों की हाजिरी डाली जा रही है। उन्होंने मांग की कि इन घपलों क
कूल्हा बदलने के मांगे 1 लाख रु., पीड़ित ने कहा-पैसे नहीं, डॉक्टर बोले- पैसे हों तो भर्ती हो जाना, ऑपरेशन हो जाएगा

कूल्हा बदलने के मांगे 1 लाख रु., पीड़ित ने कहा-पैसे नहीं, डॉक्टर बोले- पैसे हों तो भर्ती हो जाना, ऑपरेशन हो जाएगा

Delhi
दिल्ली सरकार दावा करती है कि सरकारी अस्पतालाें में गरीबों को मुफ्त इलाज होता है, लेकिन जमीनी हकीकत जुदा है। दिलशाद गार्डन स्थित जीटीबी अस्पताल में बोन टीबी से पीड़ित मरीज को कूल्हा बदलने में 1 लाख रुपए का खर्च बताकर इलाज करने से मना कर दिया गया। पीड़ित परिवार मरीज को लेकर भटक रहा है। इस बाबत भास्कर ने जब अस्पताल के एमएस से पूछा तो उन्होंने कहा कि परीक्षण कर बताएंगे। राजकिशोर, प|ी और 3 बच्चों के साथ लोनी में रहते हैं। उनकी प|ी उमरावती देवी को 2 साल पहले टीबी हो गई थी। इलाज जीटीबी अस्पताल में चल रहा था। एक साल तक दवा खाने के बाद एक्सरे रिपोर्ट के आधार पर हडि्डयों में टीबी बताया गया। डॉक्टरों ने कहा कि दवा से ठीक हो जाएगी। करीब 7 माह बाद राजकिशोर को डॉक्टरों ने बताया कि टीबी के चलते उनकी प|ी का कूल्हा खराब हो गया है, उसे बदलना पड़ेगा। खर्च 1 लाख रुपए आएगा। राजकिशोर ने दिल्ली
टोल टैक्स पर मंत्री गडकरी बाेले- अगर अच्छी सेवा चाहिए ताे अापकाे पैसे ताे देने हाेंगे

टोल टैक्स पर मंत्री गडकरी बाेले- अगर अच्छी सेवा चाहिए ताे अापकाे पैसे ताे देने हाेंगे

Delhi
एजेंसी | नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि टाेल टैक्स खत्म नहीं हाेगा। गडकरी ने मंगलवार काे लाेकसभा में कहा, ‘टाेल जिंदगीभर बंद नहीं नहीं हाे सकता। कम ज्यादा हाे सकता है। टाेल का जन्मदाता मैं हूं।’ उन्हाेंने बाजार का नियम समझाते हुए कहा कि अगर अापकाे अच्छी सेवा चाहिए, ताे इसके लिए पैसे का भुगतान करना हाेगा। सरकार के पास पैसा नहीं है। पिछले 5 सालाें में 40 हजार किमी नेशनल हाईवे बनाया है। इसके लिए पैसे चाहिए। उन्होंने मंत्रालय की अनुदान मांगाें पर चर्चा के जवाब में टाेल टैक्स खत्म करने की मांग काे खारिज किया। ( पेज-13 भी पढ़ें ) Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today New Delhi News - minister on toll tax gadkari bailey if you want good service you will have to pay Daini
चार बदमाशों ने आॅटो चालक पर हमला कर पैसे छीने

चार बदमाशों ने आॅटो चालक पर हमला कर पैसे छीने

Haryana
यमुनानगर | बाइपास चौक पर चार बदमाशों ने एक आॅटो चालक पर हमला कर पैसे छीन लिए। उसने शिकायत पुलिस को दी है। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। गुलाब नगर निवासी राममेहर ने पुलिस को बताया कि वह आटो लेकर बाईपास चौक पर खड़ा था। तभी चार युवक आए और उसके साथ मारपीट कर धमकाने लगे। उनहोंने ने उससे 15 हजार रुपए छीन लिए। विरोध करने पर वे धमकी देकर गए। इसके बाद उसने सूचना पुलिस को दी। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
बैंक में पैसे जमा कराने आए 2 प्रवासियों को बातों में उलझा 98 हजार ले उड़े नौसरबाज

बैंक में पैसे जमा कराने आए 2 प्रवासियों को बातों में उलझा 98 हजार ले उड़े नौसरबाज

Punjabi Politics
पठानकोट | ढांगू रोड स्थित स्टेट बैंक आफ इंडिया मेन ब्रांच (एसबीआई) में दो नौसरबाजों ने पैसे जमा कराने आए बिहार के दो युवकों को फार्म भरने के बहाने बातों में उलझाया और बातें करते हुए अॉटो में बिठाकर चक्की पुल की ओर ले गए। वहां पर दोनों युवकों से 98 हजार रुपए लेकर फुर्र हो गए। घटना मंगलवार सवेरे साढ़े 11 बजे की है। बिहार के जिला अडरिया के गांव उरलाह निवासी जतिंद्र कुमार व मुकेश कुमार ने बताया कि वह पठानकोट के बारठ साहब साइड रह रहे हैं। धान लगाकर पैसे एकत्र किए थे। मंगलवार को वह और उनके साथी गांव जाने की तैयारी में थे। सभी के पास पैसे थे। वह इतने पैसे साथ ले जाने की बजाए बैंक में जमा कराना चाहते हैं। इस लेकर जतिंद्र कुमार ने अपने जीजा और दो अन्य साथियों के 70 हजार रुपए और मुकेश कुमार ने 28 हजार रुपए जमा करवाने थे। जतिंद्र व मुकेश के मुताबिक उनके बाकी साथी पठानकोट कैंट स्टे
हर बिजली बिल पर 500 रु. तक ज्यादा वसूले जा रहे, फ्यूल सरचार्ज 37 की जगह 55 पैसे ले रहे

हर बिजली बिल पर 500 रु. तक ज्यादा वसूले जा रहे, फ्यूल सरचार्ज 37 की जगह 55 पैसे ले रहे

Rajasthan
जयपुर (श्याम राज शर्मा).जयपुर डिस्कॉम फ्यूल सरचार्ज गलत तरीके से लागू कर उपभोक्ताओं से करीब 80 करोड़ रुपए ज्यादा वसूल रहा है। इससे हर बिजली बिल पर 100 से 500 रु. तक ज्यादा भार बढ़ गया। इसे लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय ने भी डिस्कॉम से जवाब तलब किया है।राजस्थान विद्युत विनियामक आयोग ने फ्यूल सरचार्ज की अधिकतम सीमा 15% को अप्रैल 2019 से लागू करने को कहा था। मगर डिस्कॉम इंजीनियरों ने अपनी सुविधानुसार जनवरी 2019 से 55 पैसे प्रति यूनिट की राशि जोड़ दी। जबकि इस दरमियान केवल 37 पैसे प्रति यूनिट ही वसूली होनी थी। इतनी ही नहीं प्रदेश की जयपुर, जोधपुर और अजमेर डिस्कॉम की बिजली खरीदने का रेट एक है, लेकिन फ्यूल सरचार्ज की राशि अलग-अलग जोड़ी गई है। अजमेर डिस्कॉम उपभोक्ताओं से केवल 35 पैसे प्रति यूनिट वसूल रहा है, जबकि जयपुर डिस्कॉम 55 पैसे प्रति यूनिट के हिसाब से बिलिंग कर रहा है। बिजली
गाजियाबाद में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, बीमा के नाम पर ऐंठते थे पैसे, तीन गिरफ्तार

गाजियाबाद में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, बीमा के नाम पर ऐंठते थे पैसे, तीन गिरफ्तार

India
गाजियाबाद के विजयनगर पुलिस ने प्रताप विहार में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है। इस दौरान तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर 1.90 लाख रुपये, 18 फोन, चार टैब, मोबाइल आदि बरामद किया है। आरोपी लोगों को कॉल... Live Hindustan Rss feed
पैसे दिलाने का झांसा दे भतीजी को चाचा ले गया होटल, पिस्तौल दिखा किया सामूहिक दुष्कर्म

पैसे दिलाने का झांसा दे भतीजी को चाचा ले गया होटल, पिस्तौल दिखा किया सामूहिक दुष्कर्म

Haryana
सदर थाना क्षेत्र के एक गांव की महिला के साथ पिस्तौल के बल पर कई लोगों ने होटल के अंदर सामूहिक दुष्कर्म किया। महिला ने बताया उसका चाचा उसे धोखे से होटल पर ले आया। इसके बाद आरोपियों ने उसे कई घंटे तक होटल पर रखा। आरोपियों ने शराब के नशे में उसके साथ बारी बारी से दुष्कर्म किया। महिला थाना पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपी चाचा सहित कई लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया है। महिला घटना से सदमे में है। पुलिस की कई टीमें आरोपियों की तलाश कर रही हैं। पीड़ित महिला ने बताया कि उसका भाई मकान बना रहा है। भाई को पैसों की जरूरत थी। उन्होंने पैसे 5 प्रतिशत ब्याज पर लेने के लिये चाचा से बात कर रखी थी। चाचा आज सुबह उसे गांव से पैसे दिलाने की बात कह कर ले गया था। वह चाचा की बाइक पर सवार हो ली। चाचा उसे ककरोई के रास्ते एक होटल पर ले गया। होटल पर उसे अलग कमरे में बैठा दिय
शराब पीने को पैसे नहीं मिले तो गोली मारकर ले ली 66 साल की मां की जान

शराब पीने को पैसे नहीं मिले तो गोली मारकर ले ली 66 साल की मां की जान

Punjabi Politics
बठिंडा. बठिंडा में बुधवार रात एक युवक ने 66 साल की अपनी मां को सिर्फ इसलिए गोली मार दी कि उसे शराब पीने के लिए पैसे नहीं मिले। महिला की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं वारदात को अंजाम दे भाग रहे आरोपी को लोगों ने धर-दबोचा। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची तो आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया गया। बहरहाल हत्या का मामला दर्ज करके पुलिस रिमांड पर लेने की जुगत में है।मामला बठिंडा जिले के गांव मेहमा सूरजा का है। यहां का गुरतेज सिंह गांव में ही बाल काटने की दुकान किए हुए है। गुरमीत सिंह नामक एक व्यक्ति ने बताया कि साला गुरतेज सिंह शराब पीने का आदी है। वह अक्सर पैसों के लिए अपनी मां के साथ मारपीट करता था। आए दिन के विवाद के चलते मां उससे अलग रहने लग गई, लेकिन बुधवार रात जब उसे शराब पीने के लिए और कहीं पैसे नहीं मिलते तो वह करीब साढ़े 8 बजे अपनी मां के पास आया। मां ने पैसे देने से इनकार