News That Matters

Tag: पोस्टमार्टम

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा-75 साल के बुजुर्ग की गला घोट कर की गई थी हत्या, केस

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा-75 साल के बुजुर्ग की गला घोट कर की गई थी हत्या, केस

Haryana
गांव पिंजौरा में बुजुर्ग की गला घोट कर हत्या की गई थी। यह खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के आधार पर अब छपर पुलिस ने इस मामले में हत्या का केस दर्ज कर लिया है। हत्या का केस दर्ज होने के बाद शक की सुई गांव के ही कई लोगों पर जाएगी। क्योंकि माना जा रहा है बुजुर्ग की हत्या में किसी गांव वाले का ही हाथ है। बुजुर्ग का शव उसके घर से मात्र 50 मीटर की दूरी पर मिला था। पुलिस का कहना है इस मामले में जो भी शामिल था उसका जल्द खुलासा कर देंगे। छप्पर पुलिस एसएसओ ललित कुमार का कहना है रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने हत्या केस दर्ज की है। रिपोर्ट में बुजुर्ग की मौत गला घोटने से होने की बात सामने आइ है। घर से 50 मीटर दूर मिला था शव सरस्वतीनगर के गांव पिंजौरा में 75 साल का अख्तर अली शनिवार को रात साढ़े सात बजे घर पर यह कहकर गया था कि वह दुकान से बीड़ी लेने जा रहा है। वह दुकान
ड्रग तस्करी के मामले में गिरफ्तार एएसआई ने की थी आत्महत्या, हुआ पोस्टमार्टम

ड्रग तस्करी के मामले में गिरफ्तार एएसआई ने की थी आत्महत्या, हुआ पोस्टमार्टम

Punjab
अमृतसर.ड्रग तस्करी के आरोप में गिरफ्तार एएसआई अवतार सिंह ने एसटीएफ की कस्टडी में कल खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी। बुधवार को पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 176 के तहत अवतार सिंह का पोस्टमाॅर्टम करवाया। तीन डॉक्टरों के बोर्ड ने पोस्टमॉर्टम की इस प्रक्रिया को अंजाम दिया है। अब सारी घटना की न्यायिक जांच होगी।ये था मामला: मोहकमपुरा थाना प्रभारी जगजीत सिंह ने बताया कि अमृतसर देहाती और एसटीएफ ने नशा तस्करी के आरोप में एएसआई अवतार सिंह और जोरावर सिंह को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के लिए एसटीएफ ने उन्हें अपनी कस्टडी में रखा था। बीती कल सुबह अवतार सिंह ने अपनी तबियत खराब होने की बात की थी। जिस पर उसे एसटीएफ के मुंशी वरियाम सिंह ने बैरेक से बाहर निकाला। इस दौरान अवतार ने पानी मांगा।मुंशी के पानी लेने जाने के बाद अवतार सिंह ने पास ही पड़े एमुनेशन बॉक्स से रायफल निकाल कर खुद को गोली म
पुलिस कह चुकी थी हमारे हाथ में कुछ नहीं, एसपी के आदेश पर केस दर्ज कर दफनाए बच्चों के शव निकलवा पोस्टमार्टम कराया

पुलिस कह चुकी थी हमारे हाथ में कुछ नहीं, एसपी के आदेश पर केस दर्ज कर दफनाए बच्चों के शव निकलवा पोस्टमार्टम कराया

Haryana
चिट्टा मंदिर के पास टाॅयलेट के गड्ढे में गिरने से सगे भाइयों दक्ष (6) और यश (3) की मौत मामले में पुलिस ने मकान मालिक मोतीलाल और उसके भाई पर केस दर्ज किया है। केस दर्ज कराने के लिए 4 दिन पहले मृतक बच्चों के पिता ज्ञान सिंह ने सदर यमुनानगर थाने में शिकायत दी थी तब पुलिस ने उन्हें घटना की रात बिना पोस्टमार्टम शव लेने और हंगामा करने का हवाला देकर कहा कि इस मामले में केस दर्ज करना उनके हाथ में नहीं रहा। इस पर पीड़ित परिवार मंगलवार को एसपी से मिला। एसपी कुलदीप सिंह यादव ने परिवार की पीड़ा समझते हुए इसमें केस दर्ज करने के आदेश दिए और बच्चों का पोस्टमार्टम कराने का भी फैसला लिया। सदर यमुनानगर पुलिस ने मकान मालिक और उसके भाई पर केस दर्ज कर बुधवार को दफनाए बच्चों को कब्र से निकाला गया। इसके बाद उनका सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम हुआ। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिय
दोस्तों के बीच युवक की गोली लगने से मौत पर हंगामा, केबिनेट मंत्री के आश्वासन पर हुआ पोस्टमार्टम

दोस्तों के बीच युवक की गोली लगने से मौत पर हंगामा, केबिनेट मंत्री के आश्वासन पर हुआ पोस्टमार्टम

Rajasthan
संत कुमार कौशिक/भरतपुर. जिले के रंजीत नगर स्थित हुंडई मोटर्स में शनिवार देर रात कोगोली लगने से हुई मंजीत सिंह की हत्या के मामले मेंपरिजनों ने आरबीएम अस्पताल की मोर्चरी पर हंगामा कर दिया। रविवार को मृतक मंजीत सिंह के परिजनों व रिश्तेदारों ने अस्पताल की मोर्चरी के बाहर मौजूदपुलिसकर्मियों से धक्कामुक्की की और स्ट्रेचरसहित शव को करीब तीन सौ मीटर दूर रीको रोड स्थित सर्कुलर रोड पर ले गए। जहां जाम लगाकर शव के साथ प्रदर्शन शुरु कर दिया।इस बीच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मूल सिंह राणा, डीएसपी हवा सिंह व कोतवाली थानाप्रभारी अतिरिक्त पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे। समझाईश कर पोस्टमार्टम करवाने का प्रयास किया। लेकिन परिजन नहीं मानें। अंत में, केबिनेट मंत्री और स्थानीय विधायक विश्वेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच कर दोषियों को कड़ी सजा दिलाने का आश्वासन दिया
तीन घंटे तक पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर का इंतजार करते रहे परिजन

तीन घंटे तक पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर का इंतजार करते रहे परिजन

Haryana
नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम ड्यूटी करने वाले चिकित्सक समय पर नहीं पहुंच रहे हैं। इसके कारण परिजनों को तीन घंटे का लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। रविवार को भी ऐसा ही अव्यवस्था अस्पताल में बनी। अटाल गांव से आए लोगों को मृतक जयकंवर का पोस्टमार्टम समय पर न किए जाने से परेशानी का सामना करना पड़ा। परेशान होकर विरोध किया और इमरजेंसी वार्ड में जा पहुंचें। कड़ी आपत्ति जताने पर खुद पीएमओ डॉक्टर आदर्श मौके पर पहुंचें और परिजनों को शांत कर पोस्टमार्टम करवाने की बात कही। किसान का मिला था डिवाइन सिटी के पास शव : अटाल गांव के किसान जयकंवर का शव शनिवार देर शाम संदिग्ध परिस्थितियों में डिवाइन सिटी के पास मिला था। पुलिस ने सूचना मिलने पर शव को बरामद कर नागरिक अस्पताल पहुंचाया था।रमेश कुमार, सुरेंद्र, जागेराम ने आरोप लगाया कि वह सुबह समय पर अस्पताल पहुंच गए थे। परंतु पोस्टमार्टम करने वाला
अस्पताल में शव पहुंचने से 48 घंटे पहले हो चुकी थी सरपंच की पत्नी की हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला घोटने से हुई मौत

अस्पताल में शव पहुंचने से 48 घंटे पहले हो चुकी थी सरपंच की पत्नी की हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला घोटने से हुई मौत

Haryana
राई | प्रीतमपूरा गांव के सरपंच अनिल कुमार की प|ी प्रीति की फांसी लगने से नहीं मौत नहीं गला दबाने से हत्या हुई थी। हत्या भी सोनीपत के नागरिक अस्पताल में शव पहुंचने से 48 घंटे पहले हुई थी। यह पुष्टि सोनीपत के नागरिक अस्पताल में प्रीति के शव का पोस्टमार्टम करने वाली दो डॉक्टरों की टीम ने अपनी रिपोर्ट में दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कुंडली थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस के सामने अब सरपंच व उसके साले के इस बयान की जांच करना चुनौती बन गया है। इसमें दोनों ने कहा था कि प्रीति की मौत घर में ही फांसी लगने से हुई है। प्रीतमपूरा गांव के सरपंच अनिल कुमार की प|ी प्रीति की मौत हो गई थी। सोनीपत के सदर थाना पुलिस व कुंडली थाना पुलिस के सामने शव मिलने की अलग-अलग लोकेशन गई थी। जिस आधार पर पुलिस प्रीति की मौत के मामले को संदिग्ध मानकर जांच
फैक्ट्री में करंट लगने से बच्चे की मौत, पुलिस ने कब्र से शव निकाल पोस्टमार्टम को भेजा

फैक्ट्री में करंट लगने से बच्चे की मौत, पुलिस ने कब्र से शव निकाल पोस्टमार्टम को भेजा

Delhi
गांधी नगर इलाके में ढाई साल के एक बच्चे की फैक्ट्री में करंट लगने से मौत हो गई। इस घटना के बाद शनिवार रात ही परिजनों ने शव को दफना भी दिया, लेकिन इस बात की जानकारी पुलिस को मिली तो शव कब्र से बाहर निकाला गया। शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस ने उसे परिजनों के हवाले कर दिया। मामले में पुलिस ने लापरवाही से हुई मौत का मुकदमा दर्ज किया है। फैक्ट्री मालिक इस घटना के बाद से फरार है। मृत बच्चे की पहचान अमृत राज के तौर पर हुई। पुलिस के मुताबिक बच्चे के पिता अजय राय मूलरूप से सहरसा (बिहार) के रहने वाले हैं। छह बेटियों के बाद उनके घर में अमृत का जन्म हुआ था। उनका परिवार श्याम ब्लॉक गांधी नगर में रहता है। शनिवार को अजय काम पर गया हुआ था। उनका बेटा गली में खेलते हुए प्लास्टिक का सामान बनाने वाली फैक्ट्री में चला गया। वहां बच्चे ने एक मशीन को छू दिया, जिस कारण उसे जोर का करंट ल
छह दिन बाद पता चला डाक्टर रीना की मौत का कारण, सामने आई चौंकाने वाली पोस्टमार्टम रिपोर्ट

छह दिन बाद पता चला डाक्टर रीना की मौत का कारण, सामने आई चौंकाने वाली पोस्टमार्टम रिपोर्ट

India
स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर रीना की मौत के छह दिन बाद सोमवार को उनकी मौत का कारण पता चला। डाक्टर रीना की चौंकाने वाली पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आ गई। डाक्टर रीना के सीढी से गिरकर मरने की बात... Live Hindustan Rss feed
सड़क हादसे में पांच दोस्तों की मौत का मामला, एक दिन बाद हुआ शवों का पोस्टमार्टम

सड़क हादसे में पांच दोस्तों की मौत का मामला, एक दिन बाद हुआ शवों का पोस्टमार्टम

Rajasthan
मनीष बावलिया.अलवर. शहर केएमआईए थाना क्षेत्र के रामगढ़ रोड स्थित बख्तल की चौकी के पास बाइक सवार 5 लोगों की कुचलने से दर्दनाक मौत के बाद सोमवार की सुबह पुलिस ने पांचों मृतकों के पोस्टमार्टम करवाया। जिसके बाद शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया है। बताया जा रहा है कि मृतक महेश मीणा एमआईए में बीएसएनएल में कार्यरत था। उससे मिलने के लिए सुनील, लोकेश, नरेंद्र और मुकट मिलने गए थे।जानकारी अनुसार, पांचों अलवर वापिस आ रहे थे तभी ट्रेलर ने ओवरटेक करने का प्रयास किया। बख्तल की चौकी के समीप इनकी बाइक सड़क के किनारे कीचड़ में फिसल गई। जिससे पांचों कंटेनर के नीचे बाइक समेत आ गए। जिससे मौके पर ही चार लोगों की मौत हो गई। जबकि एक युवक को घायल अवस्था में इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहा उसकी भी मौत हो गई। घटना के बाद कंटेनर चालक मौके से फरार हो गया।घटना की सूचना पर मोके पर पहुंची एमआईए थाना पुल
हिसार के मेडिकल आॅफिसर से पोस्टमार्टम की 3 रिपोर्ट बरामद

हिसार के मेडिकल आॅफिसर से पोस्टमार्टम की 3 रिपोर्ट बरामद

Haryana
कैंसर पीड़ितों का बीमा कर, इसके बाद उनकी हादसे में मौत दिखाकर क्लेम लेने के मामले में एसटीएफ सोनीपत ने हिसार में कार्यरत डाॅक्टर अमित, आरोपी पदम, नरेश व सोनीपत के जोनी सरोहा को रिमांड पूरा होने पर बुधवार कोर्ट में पेश किया। चारों आरोपियों को कोर्ट से न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। डीएसपी शमशेर ने बताया कि हिसार में कार्यरत आरोपी मेडिकल आफिसर अमित के घर से फर्जी पोस्टमार्टम की तीन रिपोर्ट बरामद की हैं। इसके साथ आरोपी नरेश जो धर्मखेड़ी हिसार का रहने वाला है उसके पास से कैंसर पीड़ित महिला राजपति जिसकी मौत हो चुकी है उसके पति चांद की चेक बुक बरामद की है। चांद बेरी झज्जर का रहने वाला है।आरोपी पदम से बीमा पॉलिसी के काफी दस्तावेज बरामद किए गए हैं। अब पुलिस उन बीमा एजेंट का पता कर रही है जो इस मामले में संलिप्त थे। इस पूरे मामले का खुलासा एसटीएफ ने 19 अप्रैल 2019 को किया था।