News That Matters

Tag: फायदों

जानें अमरूद और करेले के फायदों के बारे में

जानें अमरूद और करेले के फायदों के बारे में

Health
अमरूद का फल ही नहीं पत्ते भी लाभकारी हैं। आइए जानते हैं इनके फायदों के बारे में। दांतदर्द और मसूढ़ों की सूजन में आराम के लिए इसके 15-20 ताजा पत्ते पानी में उबालें। जब पानी आधा रह जाए तो इसमें सेंधा नमक या फिटकरी मिलाएं और ठंडा होने पर कुल्ला करें।अमरूद के पत्तों पर कत्था लगाकर चबाने से मुंह के छाले ठीक होते हैं।माइग्रेन के दर्द में इसके पत्तों का लेप सूर्योदय से पहले माथे पर लगाने से आराम मिलता है।गठिया रोगी इसके कुछ पत्तों को पीसकर दर्द वाली जगह पर लेप लगाएं। अमरूद के कुछ पत्तों को पानी में उबालें व इन्हें पीस लें। इस लेप को फुंसियों पर लगाने से आराम मिलेगा।अमरूद के पत्तों से तैयार किए गए 10 ग्राम काढ़े को पीने से जी घबराने और उल्टी की समस्या नहीं रहती। विशेषज्ञ की सलाह से खाएं करेला - करेला प्रकृति का वरदान है जिसे डायबिटीज के मरीज को खाने की सलाह दी जाती है लेकिन इसे प्रयोग करने के संबं
सर्दी में करें इन तेलों का इस्तेमाल, जानें इनके फायदों के बारे में

सर्दी में करें इन तेलों का इस्तेमाल, जानें इनके फायदों के बारे में

Health
तिल का तेल - तिल विटामिन ए व ई से भरपूर होता है। तिल के हल्के गर्म तेल को त्वचा पर लगाने से निखार आता है। इस तेल की सिर में मालिश करने से बाल लंबे होते हैं। तिल के तेल में थोड़ा सोंठ पाउडर व एक चुटकी हींग पाउडर डालकर गर्म कर लें। ठंडा होने पर इस मिश्रण से मालिश करने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। राई का तेल - इस मौसम में बच्चों की मालिश राई के तेल से करने से निमोनिया व सर्दी के अन्य रोगों में लाभ मिलता है। नारियल का तेल - नारियल के तेल में कर्पूर मिलाकर त्वचा पर लगाने से दाद, खाज, खुजली की परेशानियां दूर होती हैं। त्वचा के जलने पर नारियल का तेल लगाने से निशान नहीं पड़ते। मूंगफली का तेल - यह तेल खाने में स्वादिष्ट और पचने में हल्का होता है। इससे शरीर को प्रोटीन मिलता है। यह रक्त में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम कर हृदय रोगों से बचाता है। जोड़ों के दर्द में इस तेल की मालिश से लाभ होता ह

एक प्लेटफॉर्म पर 10 लाख से अधिक युवाओं को एकत्रित करने का लक्ष्य, जानें फायदों की जानकारी

Indian Education
गुंटुर, 9 जनवरी, 2019 : हमारे संविधान का नारा है, ‘‘जनता के लिए, जनता द्वारा, जनता का’’। हमारे संविधान से प्रेरणा लेते हुए आज ‘यंग आर्मी’ का लॉन्च हुआ। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
बहुउपयोगी है खीरा और ककड़ी, जानें इसके फायदों के बारे में

बहुउपयोगी है खीरा और ककड़ी, जानें इसके फायदों के बारे में

Health
खीरे और ककड़ी में पाया जाने वाला टारटरेट एसिड शरीर में मौजूद कार्बोहाइड्रेट्स को ऊर्जा में परिवर्तित करने में सहायता करता है जिससे कार्बोहाइड्रेडट्स कोशिकाओं में फैट के रूप में जमा नहीं हो पाते हैं। इसके अलावा खीरा व ककड़ी अनेक साधारण और गंभीर बीमारियों से बचाव में भी सहायक होती हैं। भरपूर पोषक तत्वों की उपस्थिति के कारण हैल्थ एक्सपर्ट इन्हें सुपर फूड यानी सर्वोत्तम आहार की श्रेणी में रखते हैं। खाने के अलावा खीरे का उपयोग किचन में सिंक साफ करने, स्टील बर्तनों पर दाग हटाने, पेन का लिखा मिटाने और जूते पॉलिश करने तक में किया जाता है। तासीर ठंडी होने की वजह से इसे ब्यूटी पार्लर में भी काम में लिया जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक खीरे में 96 प्रतिशत मात्रा पानी की होती है जो प्राकृतिक रूप से शुद्ध होता है। खीरे और ककड़ी में विटामिन बी, बी-2, बी-3, बी-5 और बी-6 के अलावा विटामिन सी, फॉलिक एसिड, कै
फलों के रंगों में छिपे हैं ढेर सारे गुण, जानिए इनके फायदों के बारे में

फलों के रंगों में छिपे हैं ढेर सारे गुण, जानिए इनके फायदों के बारे में

Health
फलों के अलग-अलग रंग उनमें मौजूद पोषक तत्वों की जानकारी देते हैं। इसलिए अपनी डाइट में तरह-तरह के रंगों वाले फल शामिल करें। आइये जानते हैं कौन से रंग का फल खाने से क्या फायदा होता है। पीले या केसरिया फल -संतरा, गाजर, अनानास जैसे फलों में बीटा कैरोटीन काफी मात्रा में होता है। जिसे शरीर विटामिन ए में बदल देता है इससे शरीर में विटामिन-ए की पूर्ति होती है। इससे त्वचा, दांत व हड्डियों की सेहत दुरुस्त रहती है। लाल भी फायदेमंद - तरबूज, टमाटर, स्ट्रॉबेरी आदि लाल रंग के फलों में लाइकोपीन और एंथासायनिंग होते हैं। साथ ही इन फलों में एंटीऑक्सीडेंट से भी भरपूर होते हैं। ये फल त्वचा की रंगत निखारने के साथ-साथ कैंसर से भी बचाते हैं। ये भी हैं उपयोगी - बैंगनी : इस रंग के अंगूर, पत्तागोभी, चुकंदर, काली गाजर, बैंगन आदि सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। जामुन में एंटी डायबिटीक गुण, बैंगन में एंटी कैंसर क्लोर
जानें सर्दियों में मेथी के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में

जानें सर्दियों में मेथी के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में

Health
मेथी का नाम उन खास औषधियों में शामिल है, जो लाभदायक होती हैं। यह भूख बढ़ाने में सहायक होती है। मेथी में कड़वापन उसमें उपस्थित पदार्थ 'ग्लाइकोसाइड' के कारण होता है। मेथी में फास्फेट, लेसिथिन, विटामिन डी, प्रोटीन और लौह अयस्क होता है, जो स्वास्थ्य की हर जरूरत को पूरा करते हैं। हरी मेथी के गुण - रोज सुबह-शाम मेथी का रस पीने से मधुमेह में आराम मिलता है।मेथी की सब्जी में अदरक, गर्म मसाला डालकर खाने से लो ब्लड प्रेशर में आराम होता है।बच्चों के पेट में कीड़े हो जाने पर मेथी का 1-2चम्मच रस रोज पिलाने से फायदा होता है।रोज हरी मेथी खाने से गैस की तकलीफ में आराम मिलता है।मेथी को सुखाकर उसे ठंडे पानी में भिगोएं। अच्छी तरह भीगने पर मसलकर छान लें। उस पानी में शहद मिलाकर एक बार रोगी को पिलाएं तो लू में लाभ होता है। सर्दी-जुकाम के कारण जिन लोगों को हमेशा कफ की समस्या रहती हो उन्हें तिल या सरसों के तेल में
जानिए लौंग, सौंफ और इलायची के इन फायदों के बारे में

जानिए लौंग, सौंफ और इलायची के इन फायदों के बारे में

Health
लौंग के फायदे मसाले के रूप में लौंग का इस्तेमाल शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेट्स, सोडियम और हाइड्रोक्लोरिक एसिड भरपूर मात्रा में मिलते हैं। इसमें मौजूद यूजेनॉल ऑयल दांतों के दर्द से आराम दिलाने में लाभदायक है। अगर गर्दन में दर्द या गले में सूजन है तो सरसों के तेल में लौंग मिलाकर मालिश करने से फायदा होता है। घबराहट या उल्टी आने पर लौंग भूनकर उसका पिसा पाउडर शहद के साथ लेने से लाभ मिलता है। इलायची से सफर में नहीं होगी उल्टीवैसे तो इलायची का इस्तेमाल ज्यादातर मसाले के तौर पर होता है लेकिन इसके कई औषधीय गुण भी हैं। गले में खराश हो तो सुबह और शाम इलायची चबाने के बाद गर्म पानी पी लें, अगर गले में सूजन हो तो मूली के रस के साथ छोटी इलायची पीसकर पी लें। अगर कई केले खा लिए हैं तो एक छोटी इलायची खा लें इससे केले जल्दी पच जाएंगे। यात्रा