News That Matters

Tag: फ्लू

जिले में स्वाइन फ्लू बी-कैटेगरी मरीजों की संख्या 101 पहुंची, विभाग ने बांटी टैमी फ्लू

जिले में स्वाइन फ्लू बी-कैटेगरी मरीजों की संख्या 101 पहुंची, विभाग ने बांटी टैमी फ्लू

Punjabi Politics
जिले में स्वाइन फ्लू बी-कैटेगरी के 24 मरीज और नए सामने आए हैं। इन मरीजों में ज्यादातर महिलाएं, बुजुर्ग व बच्चे हैं, जिनका उपचार शहर के प्राइवेट अस्पताल में चल रहा है। वहीं, भोआ एरिया के नरोट मेहरा में एक मरीज में स्वाइन फ्लू पाॅजिटिव आया है। सेहत विभाग का कहना है कि स्वाइन फ्लू बी-कैटेगरी के मरीजों को टैमी फ्लू व सिरप देकर ट्रीटमेंट शुरू कर दिया है। इसके साथ ही स्वाइन फ्लू बी-कैटेगरी मरीजों की संख्या 77 से बढ़कर 101 पहुंच गई है। उधर, सेहत विभाग की जिला एपिडिमोलॉजिस्ट डाॅ. सुनीता का कहना है कि इस बार फरवरी व मार्च महीने तक हुई बारिश से ठंड है, जिससे पूरे पंजाब में ही स्वाइन फ्लू का प्रकोप है। सेहत विभाग द्वारा लोगों को अवेयर किया जा रहा है। स्वाइन फ्लू की 3 कैटेगरी हैं। ए कैटेगरी के लक्षण-बुखार, खांसी, खारिश हैं। ऐसे मरीज आम फ्लू की तरह ही देखे जाते हैं। ऐसे मरीजों को टै
स्वाइन फ्लू से जिले में तीसरी मौत, नरोट मेहरा में एक पाॅजिटिव मरीज आया सामने

स्वाइन फ्लू से जिले में तीसरी मौत, नरोट मेहरा में एक पाॅजिटिव मरीज आया सामने

Punjabi Politics
जिले में स्वाइन फ्लू से तीसरी मौत हुई है। वहीं, नरोट मेहरा में एक स्वाइन फ्लू पॉजिटिव मरीज मिला है। इसके साथ ही जिले में स्वाइन फ्लू बी-कैटेगरी के 24 केस और सामने आए हैं। मृतक महिला मंजू निवासी खानपुर एरिया की रहने वाली थी। महिला की मौत की रिपोर्ट आने पर सेहत विभाग ने जांच की पता चला कि स्वाइन फ्लू से महिला की मौत हुई है। महिला को बुखार और खांसी-जुकाम था। परिवार वालों ने मंजू को सुजानपुर से दवा ली, लेकिन मंजू की हालत में सुधार नहीं हुआ। परिजनों ने मंजू को प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया जहां 2 दिन भर्ती रही, लेकिन सुधार नहीं हुआ। इस पर डाॅक्टर्स ने उसे रेफर कर दिया। परिजन उसे जालंधर के प्राइवेट अस्पताल में ले आए जहां महिला ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। महिला के टेस्ट की रिपोर्ट आई तो स्वाइन फ्लू पाॅजिटिव निकला। बता दें कि इससे पहले ढांगू की पुष्पा देवी और रानीपुर झिक
स्वाइन फ्लू : पहली बार में लगता है आम फ्लू जैसा, अपनाएं ये सावधानियां और जानें इसके लक्षण व बचाव के उपाय

स्वाइन फ्लू : पहली बार में लगता है आम फ्लू जैसा, अपनाएं ये सावधानियां और जानें इसके लक्षण व बचाव के उपाय

Health
हम सब सेहत का कितना भी ख्याल क्यों न रखते हों, पर वायरस कहीं न कहीं से शरीर में घुसने का रास्ता ढूंढ़ ही लेते हैं। मामला स्वाइन फ्लू का हो, तो दिक्कत और बड़ी होती है, क्योंकि यह वायरस बहुत जल्दी... Live Hindustan Rss feed
स्वाइन फ्लू : पदमपुरा के सियागों की ढाणी के 58 घरों में स्क्रीनिंग

स्वाइन फ्लू : पदमपुरा के सियागों की ढाणी के 58 घरों में स्क्रीनिंग

Rajasthan
क्षेत्र के पदमपुरा के सियागों की ढाणी में निवासी एक व्यक्ति को स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई। इस पर चिकित्सकीय टीम ने मंगलवार को क्षेत्र के 58 घरों में स्क्रीनिंग की, साथ ही 294 लोगों के स्वास्थ्य की जांच भी की। चिकित्सकों के अनुसार स्क्रीनिंग में 48 को खांसी-जुकाम व चार लोग बुखार से पीड़ित पाए गए। इस दौरान 18 ग्रामीणों को टेमीफ्लू की दवा दी। इसके साथ ही 30 घरों में टेमोफास की दवा डाली गई। चिकित्सकीय टीम में चिकित्सक नीरज वर्मा, मेल नर्स अशोक शर्मा, फिजियोथेरेपी चिकित्सक भगवती प्रसाद, आर.के. एस.के. सुनील टांक, लेब टेक्नीशियन सुनील कुमार, गजेंद्र सिंह और विनोद शर्मा मौजूद रहे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Falsund News - rajasthan news swine flu screening in 58 houses of padampura cement plant
छतरियां गांव में मिला स्वाइन फ्लू का एक और मामला

छतरियां गांव में मिला स्वाइन फ्लू का एक और मामला

Haryana
बड़ागुढ़ा | क्षेत्र के गांव छतरियां में स्वाइन फ्लू पॉजीटिव का मामला सामने आया है। गांव छतरियां में 27 वर्षीय राजकुमार मंदबुद्धि था जिसे खांसी जुकाम की शिकायत थी। उसे सिरसा के नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां उसकी रिर्पोट करवाई गई। जांच में स्वाइन फ्लू पाया गया। अब उसे गांव में घर पर ही उसका उपचार किया जा रहा है। इसी परिवार में पहले भी एक 3 वर्ष के बालक को स्वाइन फ्लू हुआ था जोकि अब बिल्कुल ठीक है। स्वाइन फ्लू पीडि़त के पिता हंस राज ने बताया कि बड़ागुढ़ा से स्वास्थ्य विभाग की टीम आई। टीम सदस्य घर पर बाकी सदस्यों को भी दवाई भी देकर गए है। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम एचआई सतबीर सिंह, एमएचपीडब्लयू पवन कुमार, एएनएम पूनम व आशा वर्कर रेखा रानी ने जहां परिवार के सदस्यों को दवाई उपलब्ध करवाई वहीं गांव में 93 घरों में विजिट करते हुए 15 स्लाइड भी बनाई गई। इस परिवार मे
स्वाइन फ्लू बेकाबू : 55 दिन, 3940 पॉजिटिव में से 136 मौत

स्वाइन फ्लू बेकाबू : 55 दिन, 3940 पॉजिटिव में से 136 मौत

Rajasthan
जयपुर। प्रदेश में स्वाइन फ्लू का मिशिगन वायरस थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालात ये हैं कि चिकित्सा विभाग की ओर से रोकने के बावजूद पॉजिटिव व मौत के ग्राफ में लगातार इजाफा हो रहा है। रविवार को 40 और पॉजिटिव मिलने से आंकड़ा 3 हजार 940 के पार हो गया है। इसके अलावा दो और मौत होने पर 55 दिन में 136 मौत हो गई।ये भी पढ़ेंYeh bhi padheinहालांकि स्वाइन फ्लू मामलों और पॉजिटिव में राजस्थान देश में पहले नंबर पर हैं। प्रदेश में सबसे ज्यादा पॉजिटिव मामलोंमें जयपुर व मौत में जोधपुर पहले नंबर पर है। इससे चिकित्सा विभाग की ओर से किए जा रहे इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे हैं। प्रभावित जिलों में जयपुर समेत जोधपुर, उदयपुर, बीकानेर, कोटा व बाड़मेर शामिल हैं।किस जिस में कितने पॉजिटिव व मौत जिला केसेज डैथ जयपुर 1620 08 जोधुपर 425 31 बाड़मेर 241 14 चूरू
स्वाइन फ्लू से बल्लुआना की महिला की मौत, जिले में मरने वालों की संख्या पहुंची 8

स्वाइन फ्लू से बल्लुआना की महिला की मौत, जिले में मरने वालों की संख्या पहुंची 8

Punjab
स्वाइन फ्लू वायरस पूरी तरह सक्रिय हो चुका है। इसी वायरस से बल्लुआना गांव की एक महिला की मौत हो गई है, जिससे जिले में इस वायरस से मरने वालों की संख्या 8 हो गई। जानकारी के अनुसार जिले के गांव बल्लुआना वासी 60 वर्षीय महिला मलकीत कौर को करीब 10 दिनों तेज बुखार था, जिसके चलते पारिवारिक सदस्यों ने इलाज के लिए उसे बठिंडा के निजी अस्पताल में दाखिल करवाया। इलाज के दौरान स्वाइन फ्लू के लक्षण नजर आए, जिसके बाद डाक्टरों ने उसे रेफर कर दिया। परिजन महिला मरीज को लेकर शहर के एक मल्टी स्पेशलिस्ट अस्पताल पहुंचे। प्राथमिक उपचार के बाद बुधवार को उसे लुधियाना के लिए रेफर कर दिया गया। वीरवार सुबह महिला की मौत हो गई। फिलहाल सेहत विभाग को उक्त मरीजों की अभी आफिशियल जानकारी नहीं मिली है। सेहत विभाग के अनुसार जिले में स्वाइन फ्लू से 6 लोगों की मौत हुई है, जबकि संख्या 8 तक पहुंच गई है। खास बात य
स्वाइन फ्लू का मिशिगन वायरस बेकाबू : 45 दिन, 3190 पॉजिटिव में से 120 मौत

स्वाइन फ्लू का मिशिगन वायरस बेकाबू : 45 दिन, 3190 पॉजिटिव में से 120 मौत

Rajasthan
जयपुर। प्रदेश में जानलेवा स्वाइन फ्लू का मिशिगन वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। चिकित्सा विभाग की ओर से स्क्रीनिंग अभियान चलाने के बाद भी पॉजिटिव व मौत के मामले के ग्राफ में लगातार इजाफा हो रहा है। इस साल 45 दिन में अब तक 3190 पॉजिटिव केसेज में से 120 लोगों की मौत हो चुकी है।बुधवार को भी वायरस ने छह लोगों की जान ले ली थी। इनमें झुन्झनू में दो और जयपुर, चूरू, अलवर व चित्तोड़गढ़ में एक-एक मौत शामिल है। प्रभावित जिलों में जयपुर समेत बीकानेर, जोधपुर, उदयपुर, बाड़मेर, कोटा, सीकर, झुन्झुनू आदि है। इधर, एडीज एजिप्टाई मच्छर के काटने से डेंगू के मामले में भी जयपुर नंबर वन पर है।जिला : मौतजोधपुर : 28बाड़मेर: 10उदयपुर: 9बीकानेर : 9चूरू : 8जयपुर: 6नागौर: 6जैसलमेर : 5श्रीगंगानगर : 4सीकर: 3झुन्झुनू : 3अलवर : 3पाली: 2अजमेर : 2भीलवाड़ा: 2हनुमानगढ़: 2चित्तोड़गढ़: 2प्रातपगढ़: 2र
स्वाइन फ्लू से खन्ना में 50 साल के व्यक्ति की मौत

स्वाइन फ्लू से खन्ना में 50 साल के व्यक्ति की मौत

Punjabi Politics
खन्ना/लुधियाना| खन्ना के भादला नीचा गांव में 50 साल के व्यक्ति की स्वाइन फ्लू से मौत हो गई। इसके बाद खन्ना और आसपास के इलाके में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की तादाद छह तक पहुंच गई है। जानकारी के अनुसार भादला नीचा की 50 वर्षीय व्यक्ति 26 फरवरी को तेज बुखार हुआ था। इसके चलते वह पहले उन्हें एसपीएस ले गए, जहां उन्होंने हालत बिगड़ती देख उन्हें उसी दिन फोर्टिस अस्पताल मोहाली में रेफर कर दिया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। एसएमओ डॉ. मनोहर लाल से बातचीत की गई तो उन्होंने स्वाइन फ्लू से मौत की पुष्टि कर दावा किया कि महकमे की तरफ से पुख्ता इंतजाम हैं। उधर, इलाके में स्वाइन फ्लू का प्रकोप बढ़ने के बाद लोगों में रोष है। अकाली-भाजपा का एक डेलीगेशन एडीसी को मिला। उन्होंने नगर कौंसिल पर लापरवाही बरतने का आरोप लगा जिम्मेदार अफसरों पर कार्रवाई की मांग की। इस पर एडीसी जसपाल सिंह ने ईअो से
स्वाइन फ्लू से एक ही दिन में 5 जिलों में छह लोगों की मौत, 3172 केस पॉजिटिव

स्वाइन फ्लू से एक ही दिन में 5 जिलों में छह लोगों की मौत, 3172 केस पॉजिटिव

Rajasthan
जयपुर.प्रदेश में जानलेवा स्वाइन फ्लू का मिशिगन वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। चिकित्सा विभाग की ओर से स्क्रीनिंग अभियान चलाने के बाद भी पॉजिटिव व मौत के मामले के ग्राफ में लगातार इजाफा हो रहा है। बुधवार को वायरस ने छह और लोगों की जान ले ली है। इनमें झुन्झनू में दो और जयपुर, चूरू, अलवर व चित्तौड़गढ़ में एक-एक मौत शामिल है।प्रदेश में अब तक 44 दिन में 119 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी तरह से 62 नए मामले मिलने पर पॉजिटिव का आंकड़ा 3172 हो गया है। प्रभावित जिलों में जयपुर समेत बीकानेर, जोधपुर, उदयपुर, बाड़मेर, कोटा, सीकर, झुन्झुनू आदि है। इधर, एडीज एजिप्टाई मच्छर के काटने से डेंगू के राज्य में 110 केसेज मिल चुके है। सबसे ज्यादा जयपुर में, दूसरे नंबर पर कोटा व तीसरेे नंबर पर जोधपुर जिला है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today