News That Matters

Tag: बचने

Assam Floods: बाढ़ से बचने के लिए एक घर में घुसा बंगाल टाइगर, बेड पर कर रहा था आराम

India
असम काजीरंगा नेशनल पार्क के जानवर भी बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ से बचकर कई जानवर इधर उधर भागे। यहीं से भागा एक बंगाल टाइगर एक घर में जा घुसा और बेड पर आराम कर रहा था। Jagran Hindi News - news:national

स्मार्ट TV के जरिए हैकर्स आपके बेडरूम में रख रहे हैं नजर, ये हैं बचने के तरीके

Indian Technology
हाल ही में गुजरात में स्मार्ट टीवी हैक करके एक दंपती के निजी पलों को रिकॉर्ड करने का मामला सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक हैकर्स ने स्मार्ट टीवी को पहले हैक किया और उसमें लगे कैमरे की मदद से दंपती के बेडरूम का निजी वीडियो बनाया। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
हमले से बचने को कैट्स की नई तरकीब, नहीं भेजा जा रहा ट्रेकिंग लिंक

हमले से बचने को कैट्स की नई तरकीब, नहीं भेजा जा रहा ट्रेकिंग लिंक

Delhi
नई दिल्ली| एंबुलेंस सर्विस कैट्स ने नकाबपोशों के हमले से बचने के लिए नया तरीका निकाला है। एंबुलेंस बुक करने वाले को भेजा जाने वाला ट्रेकिंग लिंक फिलहाल नहीं भेजा रहा। वहीं हड़ताली कर्मचारियों थोड़े नर्म हुए हैं। अब कर्मचारी इस बात पर राजी होते नजर आ रहे हैं कि यदि कर्मचारियों की सैलरी सीधे सरकार की तरफ से आए तो वह काम पर लौटने को तैयार हैं। अगर ऐसा नहीं हुआ तो कर्मचारी बीबी-बच्चों के साथ विरोध प्रदर्शन करेंगे।कैट्स एंबुलेंस 102 पर कॉल करने के बाद एंबुलेंस कितनी देर में मरीज के पास पहुंचेगी। इसके लिए प्रशासन फोन करने वाले को उसके फोन नंबर पर एंबुलेंस का ट्रेकिंग लिंक भेजता था, ताकि मरीज के परिजनों को पता चल सके कि एंबुलेंस कहां पर है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
पुलिस से बचने के लिए नहीं, जिंदगी बचाने के लिए इस्तेमाल करें हेल्मेट : बलकार सिंह

पुलिस से बचने के लिए नहीं, जिंदगी बचाने के लिए इस्तेमाल करें हेल्मेट : बलकार सिंह

Punjab
सरकारी कन्या सीनियर सेकेंडरी स्कूल सादिक में नशा विरोधी और ट्रैफिक नियमों की जानकारी देने के लिए सेमिनार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के दौरान एसआई वकील सिंह बराड़, एएसआई बेअंत सिंह संधू, लालजीत सिंह और जसबीर सिंह जस्सी ने छात्रों को विषय संबंधी जानकारी दी। ट्रैफिक एजुकेशन सेल के हवलदार बलकार सिंह ने ट्रैफिक नियमों संबंधी जानकारी देते हुए बताया कि किस तरह ट्रैफिक नियमों की पालना न करने से साल में लाखों लोग मौत के मुंह में चले जाते हैं, कई विकलांग हो जाते हैं और कई घायल हो जाते हैं। दो पहिया वाहन वाले यह समझ कर हेल्मेट इस्तेमाल न करें कि चालान से बचना है बल्कि यह सोच कर करें कि हमने अपनी जिंदगी बचा कर रखनी है। चार पहिया वाहन वाले सीट बेल्ट का इस्तेमाल करें अपने कागजात पूरे रखें और ट्रैफिक नियमों का पालन करें। वकील सिंह थाना प्रमुख सादिक ने कहा कि अक्सर देखा गया है जब

मंजिलें और भी हैं : कम उम्र में शादी से बचने के लिए पुलिस में भर्ती हुई

Indian Education
मैं महाराष्ट्र के बीड जिले की रहने वाली हूं। यहां के ग्रामीण इलाकों में खेतों में काम कराने के लिए अठारह वर्ष से कम उम्र की दुल्हनों की तलाश रहती है। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
मार्केटिंग बोर्ड ने दुकानदारों को जुर्माने से बचने के लिए दिया तीन माह का समय

मार्केटिंग बोर्ड ने दुकानदारों को जुर्माने से बचने के लिए दिया तीन माह का समय

Haryana
बहल | मार्केट कमेटी द्वारा आवंटित दुकानों व व्यावसायिक प्लाट पर समयावधि में निर्माण न कराने को लेकर डाली गई भारी भरकम फीस व जुर्माना से बचने के लिए मार्केटिंग बोर्ड ने एक अवसर देते हुए तीन महीने का समय दिया है। इसको लेकर सोमवार को प्लाटधारकों व मार्केटिंग बोर्ड के सचिव व चेयरमैन के बीच बैठक हुई है। बैठक में 2001 व 02 में आवंटित प्लाट धारकों को ब्याज पर 20 प्रतिशत व जुर्माना माफी की योजना का प्रस्ताव दिया गया है। इसके लिए प्लाट धारकों को 15 जुलाई से 14 अक्टूबर तक का समय दिया गया है। इसमें प्लाट धारकों को कम्प्लाइंस सर्टिफिकेट लेना होगा। इसके बावजूद भी जिला स्तर की कमेटी का गठन किया जाएगा जिसमें मार्केटिंग बोर्ड के अधिकारी व प्लाटधारक शामिल होंगे। बैठक हर शुक्रवार को भिवानी में आयोजित की जाएगी जिसमें प्लाट धारकों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा। इसके अलावा निर्माण संबंध

मैच के दौरान मधुमक्खियों के झुंड का हमला, बचने के लिए जमीन पर लेटे क्रिकेटर

Indian Sports
स्टर ली स्ट्रीट। श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के बीच शुक्रवार को यहां खेले गए आईसीसी विश्व कप मुकाबले के दौरान मैदान में दिलचस्प नजारा देखने को मिला। खेल-संसार
डायबिटीज, थायरॉइड, हाइपर टेंशन से बचने के लिए करें ये बदलाव

डायबिटीज, थायरॉइड, हाइपर टेंशन से बचने के लिए करें ये बदलाव

Health
खानपान में अत्यधिक ट्रांस फैट, सैचुरेटेड फैट वाली चीजें लेने व तनाव से हाई कोलेस्ट्रॉल, हाइपरटेंशन, डायबिटीज, थायरॉइड की आशंका बढ़ती है। अल्कोहल व वायरल इंफेक्शन से भी डायबिटीज होती है। आयोडाइज्ड साल्ट की कमी से थायरॉइड की दिक्कत होती है। सामान्यत: 150 माइक्रोग्राम लेनी चाहिए।सुबह सूर्योदय से पहले जागेंसुबह छह से पहले उठने की आदत डालें। रात में दस बजे तक बिस्तर पर जाएं। दवाओं के साथ परहेज भी करें। नियमित व्यायाम करें। शारीरिक गतिविधि से मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। इन बीमारियों में फायदा मिलता है। इनफर्टिलिटी : वर्किंग कपल में दिक्कत बढ़ीहाल ही एक रिसर्च में पाया गया कि जो लोग पूरी नींद नहीं लेते हैं, उनमें स्पर्म काउंट कम होता है। वर्किंग कपल में तनाव व प्रदूषण से भी फर्टिलिटी कम होती है। पुरुषों में टाइट अंडरगारमेंट, स्मोकिंग, अल्कोहल कारण है। खुश रखें। सप्ताह में एक दिन आउटिंग पर जाएं। चाइनीज
द. अफ्रीका-श्रीलंका मैच के दौरान मैदान पर आ गईं मधुमक्खियां, बचने के लिए जमीन पर लेट गए सभी खिलाड़ी

द. अफ्रीका-श्रीलंका मैच के दौरान मैदान पर आ गईं मधुमक्खियां, बचने के लिए जमीन पर लेट गए सभी खिलाड़ी

Indian Sports
खेल डेस्क. विश्व कपमें श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के बीच डरहम में हुए मैच में उस वक्त अजीबोगरीब नजारा दिखा, जब मैदान पर हजारोंमधुमक्खियां आ गईं। ये घटनाश्रीलंकाई पारी के दौरान 48वें ओवर में हुई, जब उसका स्कोर 194/8 रन था।इसवजह से करीब 5-10 मिनट तक खेल रुका रहा। इस दौरान वहां मौजूद अंपायर समेत सभी प्लेयर्स जमीन पर लेट गए थे। इस घटना का फोटो ICC ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया। साथ ही बताया कि दोनों देशों के बीच मैच के दौरान ऐसी घटना एकबार पहले भी हो चुकी है।इस मैच में श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए 204 रन का लक्ष्य दिया। अफ्रीकी टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। जिसके बाद श्रीलंका की पूरी टीम 49.3 ओवर में 203 रन पर ऑलआउट हो गई। उसके लिए कुसल परेरा और अविष्का फर्नांडो ने 30-30 रन की पारी खेली। दक्षिण अफ्रीका के लिए ड्वाएन प्रिटोरियस और क्रिस मॉरिस
नीलगाय से बचने के प्रयास में बेकाबू पिकअप पुलिया से गिरी, चालक सहित दो जनों ने दम तोड़ा

नीलगाय से बचने के प्रयास में बेकाबू पिकअप पुलिया से गिरी, चालक सहित दो जनों ने दम तोड़ा

Rajasthan
ये भी पढ़ेंबाड़मेर हादसा: मरने वालों की संख्या 15 पहुंची, जंग लगे ढांचे पर खड़ा पंडाल कथावाचक का ही थाटोंक. जिले केदूनी थाना इलाके में गुरुवार देर रात को तेज रफ्तार पिकअप बेकाबू होकर पुलिया से नीचे गिर गई। हादसे में पिकअप में सवार दो जनों की मौत हो गई। हादसे का पता करीब 12 घंटे बाद शुक्रवार दोपहर को चला। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। जहां एक व्यक्ति की मौत हो चुकी थी। जबकि पिकअप में सवार दूसरा युवक गंभीर रुप से घायल था। वह तड़प रहा था। उसे तत्काल अस्पताल पहुंचाया। जहां शुक्रवार शाम को दम तोड़ दिया।पुलिस के अनुसार शवों की शिनाख्त चंदवाजी, जयपुर निवासी गोपाल व ओमप्रकाश के रुप में होना बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार हादसा गुरुवार देर रात को नेशनल हाइवे 52 पर विजयगढ़ और बंथली मोड़ के बीच पुलिया पर हुआ। जब पिकअप कोटा से सब्जी की सप्लाई कर जयपुर की तरफ जा रही थी। तभी पुलिया प