News That Matters

Tag: बाद

घुटने की सर्जरी के बाद स्टेन वावरिंका की सफल वापसी, फाइनल में दाखिल

Indian Sports
रोटरडम (नीदरलैंड्स)। 2 बार के ग्रैंडस्लैम विजेता स्टेन वावरिंका ने घुटने की सर्जरी के बाद वापसी करते हुए शनिवार को अपने पहले फाइनल में जगह बनाई। खेल-संसार

153 रन की पारी खेलने के बाद 58 स्थान की छलांग लगाई इस बल्लेबाज ने, विराट नंबर एक पर कायम

Indian Sports
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट की दूसरी पारी में 153 रन बनाने वाले इस बल्लेबाज को टेस्ट रैंकिंग में 58 स्थान का फायदा मिला है। वहीं विराट कोहली दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज बने हुए हैं। Jagran Hindi News - cricket:headlines
पुलवामा हमला : तिरंगे में लिपटी पति की देह देख बेहोश हुई पत्नी, होश आने पर बिलखते हुए बोली- वो कहकर गए थे 20 दिन बाद लौटूंगा तो सब घूमने चलेंगे और…

पुलवामा हमला : तिरंगे में लिपटी पति की देह देख बेहोश हुई पत्नी, होश आने पर बिलखते हुए बोली- वो कहकर गए थे 20 दिन बाद लौटूंगा तो सब घूमने चलेंगे और…

Rajasthan
कोटा (राजस्थान)। पुलवामा आतंकी हमले में शहीद होने वाले 40 सीआरपीएफ जवानों में से पांच राजस्थान के हैं। इन्हीं में से एक हैं, कोटा जिले के सांगोद क्षेत्र स्थित विनोद कलां गांव के 43 वर्षीय हेमराज मीणा। शहीद मीणा ने करीब 18 साल पहले नौकरी शुरू की थी और 61वीं बटालियन में सेवा दे रहे थे। वह एक दिन पहले ड्यूटी पर पहुंचे थे। घर से विदा होने से पहले उन्होंने परिवार को भरोसा दिया था कि वह 20 दिन में वापस आएंगे। लेकिन चार दिन बाद ही तिरंगे में लिपटी उनकी पार्थिव देह घर पहुंची।परिवार के साथ घूमने जाने का था वादा- शहीद हेमराज के बड़े भाई रामबिलास ने बताया कि जाने से पहले हेमराज महाराष्ट्र के नागपुर में ट्रेनिंग पर गए थे। ट्रेनिंग से लौटते वक्त सोमवार रात कुछ देर के लिए गांव आए थे। चंद घंटे घर पर बिताकरमंगलवार सुबह करीब छह बजे लौट गए थे।- बुधवार को ही जम्मू-कश्मीर पहुंचे थे। मंगलाव
पुलवामा हमले के बाद का वीडियो आया सामने, जवान ने ही किया था कैमरे में कैद

पुलवामा हमले के बाद का वीडियो आया सामने, जवान ने ही किया था कैमरे में कैद

Delhi
वीडियो डेस्क. पुलवामा हमले को लेकर कई दिन बाद भी नई बातें और वीडियो सामने आ रहे हैं। हमले मेंबाल-बाल बचे जवान वहां के खौफनाक मंजर के बारे में बता रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया परवायरल हो रहा है जो हमले के बाद का बताया जा रहा है। इस वीडियो में कुछ जवान जमीन पर पोजिशन लिए नजर आ रहे हैं। ये वीडियो भी किसी जवान द्वारा ही शूट किया लग रहा है।सतना का जवान बचा बाल-बाल- 14 फरवरी की शाम जम्मू और कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में40 जवान शहीद हुए हैं।साथ ही इसमें कई जवान बाल-बाल भी बचे। बचने वालों में मध्यप्रदेश के सतना का जवान नत्थूलाल चौधरी भीहै। वायरल हो रहे इस वीडियो में नत्थूलाल भी नजर आ रहेहैं, जिनको घटना में मामूली चोट आई है। गौरतलब है कि78 गाड़ियों में सवार होकर सीआरपीएफ के जवान जा रहे थे। तभी 350 किलो विस्फोटक से लदे वाहन को सीआरपीएफ की बस से भिड़ा दिया गया
तलाक के बाद BF के साथ 16 साल लिवइन में रही ये एक्ट्रेस, अब है सिंगल मदर

तलाक के बाद BF के साथ 16 साल लिवइन में रही ये एक्ट्रेस, अब है सिंगल मदर

Entertainment
मुंबई. टीवी सीरियल 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' फेम मंदिरा उर्फ अचिंत कौर 40 साल की हो चुकी हैं। अचिंत टीवी शो 'जमाई राजा' में निया शर्मा की मां का रोल प्ले कर चुकी हैं। लेकिन रियल लाइफ में भी अचिंत एक बेटे प्रीतरंजन की मां हैं। अचिंत का बेटा 24 साल का है जिसकी वो सिंगल मदर है। दरअसल प्रीतरंजन उनके पहले पति से हुआ बेटा है जिससे उनका अब डायवोर्स हो चुका है। डायवोर्स के बाद इनके साथ रिलेशन में रहीं अचिंत...पति से डायवोर्स के बाद अचिंत एक्टर मोहन कपूर के साथ रिलेशन में रही हैं। दोनों 16 साल तक एक दूसरे के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहे। जिसके बाद दोनों अलग हो गए। कई बार इवेंट्स में मोहन को अचिंत और उनके बेटे प्रीतरंजनके साथ देखा गया है।ऐसी ही मां-बेटे की बॉन्डिंगसोशल मीडिया पर अचिंत अक्सर बेटे प्रीतरंजन के साथ फोटोज शेयर करती नजर आती हैं। अचिंत के बेटे प्रीतरं
नमाज के बाद पाकिस्तान का पूतला फूंका

नमाज के बाद पाकिस्तान का पूतला फूंका

Punjab
जालंधर | पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर आतंकी हमले के खिलाफ शुक्रवार को खांबड़ा की मस्जिद कूबा में जुम्मे की नमाज के बाद पाकिस्तान का पूतला फूंका गया। पंजाब वक्फ बोर्ड के सदस्य मोहम्मद कलीम आजाद की अगुवाई में एकत्रित लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी कर केंद्र सरकार के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने की मांग की। कलीम आजाद ने शहीद जवानों के परिवारों के साथ हमदर्दी जाहिर करते हुए कहा कि दुख की इस घड़ी में पूरा देश उनके साथ है। शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाना चाहिए। इस मौके पर एम आलम मजाहिरी, काशिफ काजमी, कलीम काजमी, अलाउद्दीन चांद, शहादत अली, मोहम्मद अंसार खान, मोहम्मद अकबर अली, इमाम साबित, मोहम्मद इरफान, शरीफ ठेकेदार, खलील, किताब उद्दीन खान अन्य मौजूद रहे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Jalandhar News - blast of pak
पुलवामा अटैक: ‘द कपिल शर्मा’ शो से बाहर हुए सिद्धू, बयान के बाद मचा था बवाल

पुलवामा अटैक: ‘द कपिल शर्मा’ शो से बाहर हुए सिद्धू, बयान के बाद मचा था बवाल

Entertainment
गुरुवार को पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर नवजोत सिंह सिद्धू के बयान के बाद से हंगामा हो गया है। दरअसल, सिद्धू ने इस हमले की निंदा करते हुए कहा था, कुछ लोगों की वजह से क्या आप पूरे मुल्क को गलत ठहरा... Live Hindustan Rss feed
किसानों के लिए 24 फरवरी को ये बड़ा काम करने जा रहे हैं पीएम मोदी, जिसके बाद होगा किसानों को ये फायदा..

किसानों के लिए 24 फरवरी को ये बड़ा काम करने जा रहे हैं पीएम मोदी, जिसके बाद होगा किसानों को ये फायदा..

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। देश में जैसे जैसे लोकसभा चुनाव पास आ रहे है चुनावी पारा चढ़ता जा रहा है। देश की राजनीतिक पार्टियां लगातार तैयारियां कर रही है तो वही नेता भी रैलियों, भाषणों के माध्यम से वोटर को आकर्षित करने की कोशिश कर रहे हैं। एक तरफ जहां पीएम मोदी लगातार रैलियां कर रहे है तो वहीं दूसरी और राहुल गांधी भी अलग अलग प्रदेशों में दौरे कर लोगों के साथ पार्टी कायकर्ताओं के साथ चर्चा कर रहे है और रैलियोें को संबोधित कर रहै है। गुर्जर आंदोलनः राजस्थान में नौ दिनों के बाद आज समाप्त हुआ गुर्जर आंदोलन, किरोड़ी बैंसला ने की घोषणा इधर देश के पीएम नरेंद्र मोदी आगामी 24 फरवरी को गोरखपुर में किसानों की एक रैली को संबोधित करेंगे। साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगे। जानकारों की माने तो पीएम मोदी पार्टी के किसान मोर्चा के राष्ट्रीय सम्मेलन के समापन समारोह में हिस्सा ले
ब्लास्ट के बाद उड़ गए शरीर के चीथड़े, मंगनी की अंगूठी से हुई रोपड़ के कुलविंदर की पहचान

ब्लास्ट के बाद उड़ गए शरीर के चीथड़े, मंगनी की अंगूठी से हुई रोपड़ के कुलविंदर की पहचान

Punjabi Politics
रोपड़. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में ब्लास्ट के बाद हमारे वीरों के अंग छिन्न-भिन्न हालत में जहां-तहां बिखरे थे, जिनमें रोपड़ जिले के 28 वर्षीय कुलविंदर सिंह की पहचान हाथ में कुछ दिन पहले पहनी मंगनी की अंगूठी से हुई। 8 नवंबर को माता-पिता के इकलौते लाल की शादी की तारीख तय की जा चुकी थी। नया घर बनाने के साथ तैयारियां शुरू हो चुकी थी, लेकिन इन खुशियों को, तैयारियों को अचानक ग्रहण लग गया। Dainik Bhaskar की टीम शहीद के घर पहुंची तोपिता दर्शन सिंह के तन पर बेटे की वर्दी वाली जैकेट थी, वहीं मुंह में बोलने के लिए एक शब्द भी नहीं। दिल पर पत्थर रख आखिर बात करना मजबूरी बन गया।साथ ही माता अमरजीत कौर का भी रो-रोकर बुरा हाल है।24 दिसंबर 1992 को जिले के गांव रौली में जन्मे कुलविंदर ने 12वीं कक्षा के बाद आईटीआई की थी। फिर नंगल से एसी की आईटीआई करने के बाद 21 साल की उम्र में सीआरपीएफ की 92वी