News That Matters

Tag: बीमार

इस मंदिर में भक्त करते हैं कुत्ते की पूजा और रोज चढ़ते हैं प्रसाद, मान्यता ऐसी कि समाधि की मिट्टी लगाने से पागल या बीमार बच्चे हो जाते हैं ठीक

इस मंदिर में भक्त करते हैं कुत्ते की पूजा और रोज चढ़ते हैं प्रसाद, मान्यता ऐसी कि समाधि की मिट्टी लगाने से पागल या बीमार बच्चे हो जाते हैं ठीक

Haryana
पानीपत/ थर्मल।धार्मिक मान्यता है कि अगर किसी की आस्था कहीं जुड़ जाए तो वह स्थान या व्यक्ति उसके लिए भगवान हो जाता है। आस्था के कारण ही लोग धार्मिक स्थलों पर पहुंचकर नतमस्तक होते हैं। इन सभी धार्मिक स्थलों पर उनके ईष्ट देव या देवी-देवताओं की उपस्थिति मानी जाती है, लेकिन पानीपत से 10 किलोमीटर दूर ही पानीपत थर्मल पावर स्टेशन के पास स्थित कुकड़ा अखाड़ा डेरा में एक ऐसा भी मंदिर हैं, जहां कुत्ते की वफादारी की पूजा होती है। इस मंदिर में कुत्ते की समाधि बनी है।कुत्ते के काटने पर 4 किलो गुड़ का चढ़ता है प्रसादमान्यता है कि कुत्ते के समाधि के पास ही बने तालाब की मिट्टी पागल या किसी भी अन्य प्रकार के कुत्ते के काटने वाली जगह पर लगाने से काटे जाने का असर समाप्त हो जाता है। हर दिन कुत्ते की प्रतिमा पर लोग प्रसाद चढ़ाते हैं और उसे एक-दूसरे को बांटते हैं। यह समाधि लक्खा बंजारे के कुत्त
जानें क्या है मिट्टी और धूप से बच्चों के बीमार होने की वजह

जानें क्या है मिट्टी और धूप से बच्चों के बीमार होने की वजह

Health
मौसम बदलते ही सबसे पहले बच्चे बीमार क्यों पड़ते हैं, इस बारे में क्या आपने कभी सोचा है। इसका आम जवाब होगा कि बच्चों में बीमारियों से लड़ने की इम्युनिटी कम होने के कारण ऐसा होता है लेकिन डॉक्टर इसकी एक बड़ी वजह हाइजीन हाइपोथीसिज्म को मानते हैं। इसका मतलब हमारी उस आदत से है जिसमें हम आजकल बच्चों को बहुत ज्यादा साफ-सफाई से रहने पर जोर देते हैं या फिर वे घरों में एसी में रहते हैं, बाहर मैदान-मिट्टी में खेलने नहीं जाते हैं जिससे उनका बाहरी चीजों से सीधा सम्पर्क नहीं हो पाता है। जब बच्चे बाहरी वातावरण के ज्यादा सम्पर्क में नहीं आएंगे तो उनका शरीर किसी दूसरे माहौल को तुरंत स्वीकार करने का आदी नहीं होगा और जैसे ही वे दूषित तत्वों या किटाणुओं के सम्पर्क में आएंगे तुरंत बीमार पड़ जाएंगे। पल्मोनरी विशेषज्ञ (श्वसम तंत्र ) इसकी एक वजह एलर्जी की समस्या होना भी हो सकती है। किसी भी चीज से शरीर की अतिसंवेद
एसएस जैन सभा के संरक्षक संतोष कुमार जैन का निधन, डीएमसी में दाखिल काफी समय से बीमार जैन

एसएस जैन सभा के संरक्षक संतोष कुमार जैन का निधन, डीएमसी में दाखिल काफी समय से बीमार जैन

Punjabi Politics
जालंधर। देशभर में विख्यात जैन समाज की प्रमुख संस्था एसएस जैन सभा के संरक्षक और एसएस जैन सभा के अध्यक्ष, समाज रत्न, संघ गौरव और श्री श्रावक रत्न अवार्ड से अलंकृत हुए राजेश जैन (लोहे वाले) तथा राजन जैन के पिता संतोष कुमार जैन का बुधवार को निधन हो गया। वह पिछले कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रहे थे और डीएमसी अस्पताल लुधियाना में उपचाराधीन थे। बुधवार को निधन की खबर मिलते ही राज्यभर से जैन समाज के सदस्य उनके निवास स्थान 310 जेपी नगर में जुटने शुरू हो गए।इस दौरान विभिन्न धार्मिक, सामाजिक और राजनीतिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने जैन परिवार को सांत्वना दी। इस दौरान सांसद चौधरी संतोख सिंह, पूर्व मंत्री अवतार हैनरी, विधायक बावा हैनरी, विधायक राजिंदर बेरी, विधायक सुशील रिंकू, मेयर जगदीश राज राजा, पूर्व विधायक केडी भंडारी, भाजपा के जिला प्रधान रमन पब्बी, भाजपा के देहाती प्रधान अमरजीत सिंह अ

#Metoo का असर: बीमार पड़े आलोकनाथ, गुजर रहे मेंटल ट्रामा से

Entertainment
भारत में चल रहे #Metoo कैंपेन का शिकार बने आलोकनाथ की तबीयत बिगड़ गई है। सोमवार देर रात को लेखिका विनता नंदा ने फेसबुक पोस्ट के जरिए उनपर बलात्कार का आरोप लगाया था। मनोरंजन

प्रियंका चोपड़ा और सोनाली बेन्द्रे पहुंचे बीमार ऋषि कपूर से मिलने, देखिए तस्वीर

Entertainment
न्यूयॉर्क में मेडिकल ट्रीटमेंट ले रहे ऋषि कपूर से अनुपम खेर के बाद प्रियंका चोपड़ा और सोनाली बेन्द्रे मिलने पहूंचे। जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। मनोरंजन
मानसिक बीमार 11वीं के छात्र ने की आत्महत्या

मानसिक बीमार 11वीं के छात्र ने की आत्महत्या

Rajasthan
भास्कर संवाददाता|बिछीवाड़ा गांव खजुरी में मानसिक रूप से बीमार एक 11वीं कक्षा के छात्र में अपने ही घर में पिछवाड़े में स्थित पशुघर में फांसी का फंदा लगाकर जान दे दी। इसके बाद तो गांव में सनसनी फैल गई और गांव के लोग इकट्ठे हो गए। स्कूली छात्र की दिमागी हालात ठीक नहीं थी। एएसआई प्रतापसिंह ने बताया कि खजुरी निवासी दिनेश फलेजा (18) पुत्र शंकर फलेजा मीणा ने घर के पशुघर में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। वह राउमावि खजूरी में कक्षा 11 वीं में अध्ययनरत था। दिनेश के पिता सरकारी स्कूल में अध्यापक है। वह घर से सुबह स्कूल के लिए रवाना हुए थे। उसकी मां घर पर खाना पका रही थी। दिनेश ने घर के पास एक बल्ली से फांसी का फंदा लगाकर लटक गया। उसकी छोटी बहन पशुओं का चारा डालने गई थी तो उसने उसे लटके हुए देखा तो उसने अपनी मां को बताया। पति शंकर का सूचना दी। वह घर आया और दिनेश को लेकर

आपकी आंखों की रोशनी छिनने से लेकर दिमागी तौर पर आपको बीमार बना रहा मोबाइल

India
विशेषज्ञों के जरिए जानते हैं, आखिर क्यों मोबाइल की लत बड़ी समस्या बनती जा रही है और क्या है इसका समाधान? Jagran Hindi News - news:national
ग्यासपुरा में गंदे पानी से लोग हो रहे बीमार, कोई सुनवाई नहीं

ग्यासपुरा में गंदे पानी से लोग हो रहे बीमार, कोई सुनवाई नहीं

Punjab
वाॅर्ड 29 के ग्यासपुरा और आसपास छह महीने से फैले सीवर के पानी से लोग परेशान है पर निगम अफसर चुप हैं। लोगों ने कई बार शिकायतें की और प्रदर्शन भी किए पर कोई सुनवाई नहीं हुई। गंदगी से कई लोग बीमार हो चुके है। ये समस्या ग्यासपुरा, गुरु तेग बहादुर नगर, मक्कड़ कॉलोनी लाल चक्की वाली गली में है। कौंसलर प्रभजोत कौर के ससुर निर्मल सिंह से शिकायतें कीं तो निगम अधिकारी आए, जायजा लेकर फिर नहीं लौटे। इलाके के सुभाष सिंगला ने बताया कि सीवरेज की पाइपें ब्लॉक होने से गंदा पानी सड़कों जमा रहता है जिसे मच्छर पैदा हो रहे हैं। टूटी सड़कों से निकलना मुश्किल है। कई राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के पास भी समस्याएं बताईं, लेकिन उनकी ओर से भी कोई हल नहीं किया गया। रविवार विधायक सिमरजीत सिंह बैंस ने भी इलाके का दौरा किया। यहीं नहीं स्ट्रीट लाइटें भी ज्यादातर बंद रहने से चोरी, लूट, झपटमारी की वारदातें
10 दोस्त ने अपनी कमाई से 2 हजार बीमार लोगों का करा चुके हैं इलाज, 12 गरीबों के घर बनवाए, 8 परिवार को हर महीने दे रहे राशन

10 दोस्त ने अपनी कमाई से 2 हजार बीमार लोगों का करा चुके हैं इलाज, 12 गरीबों के घर बनवाए, 8 परिवार को हर महीने दे रहे राशन

Punjabi Politics
अमृतसर/अजनाला ।मदद के लिए जितने हाथ जुड़ जाएं कम हैं। इसी सोच के साथ दस दोस्तों ने 12 साल पहले समाज की सेवा का बीड़ा उठाया। अपनी कमाई का छोटा सा हिस्सा निकाल कर बीमारों, बेसहारों की मदद करने और गरीब परिवारों के बच्चों को शिक्षा का उजाला देना अपना मकसद बना लिया। समय आगे चलता गया तो जरूरतमंदों की गिनती भी बढ़ती गई, लेकिन मदद कम न हो तो दसवंद सेवा सोसायटी को तीन साल पहले 2015 में रजिस्टर्ड करवा दिया। लोगों तक आवाज पहुंचाने के लिए हाईटेक हुए और सोशल मीडिया पर दसवंद सेवा के नाम से पेज तैयार किया। इसका फायदा यह पहुंचा कि आज जर्मनी, कनाडा और अॉस्ट्रेलिया से भी लोग सहायता के लिए आ रहे हैं।मदद के लिए लोग विदेश भी आएसंस्था के प्रधान लखविंदर सिंह ने बताया कि पहले 10 लोग थे और अब उनके साथ अनगिनत हैं। फायदा समाज को हो रहा है। सोशल मीडिया तक पहुंचने का फायदा हुआ कि लोग मदद के लिए विदेशो
दिन और रात के मौसम में दाेगुना अंतर, बीमार हो रहे लोग

दिन और रात के मौसम में दाेगुना अंतर, बीमार हो रहे लोग

Rajasthan
जालोर | ठंड को लेकर लोगों में अभी इंतजार बना हुआ है। बार बार बदल रहे मौसम से तापमान भी घटबढ़ रहा है। रात में कंबल ओढ़कर सोने वाले लोग दिन में एसी चलाकर बैठ रहे। मौसम का यह उतार चढ़ाव लोगों को बीमार बनाने के लिए काफी है। दिन और रात के तापमान में दोगुने का अंतर बीमारियों को आमंत्रण दे रहा है। रविवार को जहां न्यूनतम तापमान 24 डिग्री था वहीं अधिकतम तापमान 40 डिग्री रिकार्ड किया गया। पिछले एक हफ्ते से मौसम का यह उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। दिन में चलने लगे पंखे-एसी :दिन में गर्मी बढ़ने पर लोग पंखे-एसी चलाकर गर्मी दूर कर रहे हैं। बाजार में भी कूलर-पंखे की दुकानें सजने-संवरने लगी है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar