News That Matters

Tag: मरीजों

कैंप में 280 मरीजों ने करवाई आंखों की जांच

कैंप में 280 मरीजों ने करवाई आंखों की जांच

Punjabi Politics
रामपुरा फूल|पुर्नज्योति आई डोनेशन सोसायटी द्वारा पुलवामा आतंकवादी हमले के शहीदों की याद में 31वां आंखों का नि:शुल्क चेकअप तथा ऑपरेशन कैंप आयोजित किया गया। स्थानीय संत त्रिवेणी गिरी पुर्नज्योति आई अस्पताल में आयोजित इस कैंप में डाॅक्टर केपी गिल ने 280 मरीजों की की जांच की। इस दौरान 84 मरीजों को ऑपरेशन के लिए चुना गया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Rampura Phul News - 280 patients examined eye exams Dainik Bhaskar
29658 डैपो वालंटियर रजिस्टर्ड, 17 हजार मरीजों का हो चुका इलाज : डीसी

29658 डैपो वालंटियर रजिस्टर्ड, 17 हजार मरीजों का हो चुका इलाज : डीसी

Punjabi Politics
डीसी प्रदीप कुमार सभ्रवाल ने मंगलवार को जिले के सिविल प्रशासन और पुलिस महकमे के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस मौके पर एडीसी संदीप ऋषि, एसडीएम सुरिंदर सिंह, एसपी जसवंत सिंह और अन्य अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान डीसी प्रदीप सभ्रवाल ने कहा कि नशे के मुकम्मल खात्मे के लिए जिला प्रशासन की तरफ से जागरूकता मुहिम चलाई जा रही है। इसके तहत जिले में नशे के शिकार हो चुके लोग बड़ी संख्या में नशा छोड़ने के लिए आगे आ रहे हैं। उन्होंने सिविल और पुलिस अधिकारियों को हिदायत दी कि वह नशा विरोधी मुहिम को और प्रभावशाली ढंग के साथ लागू करना यकीनी बनाए जिससे नशे की बीमारी से छुटकारा पाया जा सके। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से नशा रोकने के लिए शुरू की गई मुहिम के तहत तरनतारन जिले में डैपो प्रोग्राम को सफलतापूर्वक लागू किया जा रहा है। जिले में अब तक 29658 डैपो वालंटियर रजिस्टर्ड किए गए हैं।
इंजीनियर नीतेश ने वेंटिलेटर पर तड़पते मरीजों के लिए बनाया वेप केयर, प्री-मैच्योर बच्चों के लिए ‘सांस’

इंजीनियर नीतेश ने वेंटिलेटर पर तड़पते मरीजों के लिए बनाया वेप केयर, प्री-मैच्योर बच्चों के लिए ‘सांस’

Rajasthan
सीकर।29 साल के नीतेश जांगिड़ की पहचान बेहद खास है। नीतेश सीकर के गुंगारा में शिवनगर गांव के रहने वाले हैं। पेशे से बैंगलुरू में इंजीनियर नीतेश को हाल ही में फोर्ब्स ने हेल्थ केयर सेगमेट में उल्लेखनीय योगदान के लिए अपनी मैग्जीन में जगह दी है। इन्हें अब 29 साल के युवा डॉक्टर के तौर पर देखा जा रहा है। इसकी वजह है-दो ऐसे आविष्कार जो, जीवन रक्षक है। पहला है-वेप केयर और दूसरा- ‘सांस’। यह दो उपकरण है, जो मरीजों को नया जीवन दे रहे हैं। नीतेश बैंगलुरू में सीओज लैब के को-फाउंडर है।सबसे पहले वेप केयर के बारे में पढ़िए। यह उपकरण वेंटिलेटर पर रखे जाने वाले मरीजों में वेंटिलेटर एसोसिएटेड निमोनिया नामक बीमारी को रोक सकता है। यह संक्रामक बीमारी है। बीमारी कितनी खतरनाक है, इसे इस आंकड़े से समझ सकते हैं। देश में छह लाख लोगों को यह बीमारी हर साल होती है, जिसकी वजह से 2.5 लाख ल
ईस्ट दिल्ली को वर्टिकल गार्डन से बना रहे खूबसूरत, मरीजों का स्वागत कर रहा स्वामी दयानंद अस्पताल के मेन गेट पर बना गार्डन

ईस्ट दिल्ली को वर्टिकल गार्डन से बना रहे खूबसूरत, मरीजों का स्वागत कर रहा स्वामी दयानंद अस्पताल के मेन गेट पर बना गार्डन

Delhi
लुटियंस, साउथ, नॉर्थ और वेस्ट दिल्ली के बाद अब ईस्ट दिल्ली को भी वर्टिकल गार्डन खूबसूरत बना रहे हैं। इसकी शुरुआत दिलशाद गार्डन स्थित एमसीडी के बड़े स्वामी दयानंद से हो गई है। अस्पताल के मेन गेट पर ही गार्डन मरीजों का स्वागत करता हुआ दिखाई दे रहा है। अस्पताल के अलावा 13 और जगहों पर गार्डन बनाने का काम तेजी से चल रहा है। संभावना है कि इस महीने के अंत तक सभी गार्डन बन जाएंगे। अस्पताल, प्राथमिक स्कूल, एमसीडी ऑफिस, पार्क आदि के बाहर गार्डन बना रहा है एमसीडी ईस्ट दिल्ली में अस्पताल, प्राथमिक स्कूल, एमसीडी ऑफिस, पार्क आदि के बाहर एमसीडी की ओर से वर्टिकल गार्डन बनाए जा रहे हैं। स्वामी दयानंद अस्पताल के मेन गेट पर वर्टिकल गार्डन बनकर तैयार हो गया है। इसमें ईडीएमसी साफ तौर पर उभरकर आ रहा है। स्वामी दयानंद अस्पताल के अलावा शाहदरा स्थित एमसीडी के शाहदरा नॉर्थ जोन कार्यालय, मयूर विह
जरूरतमंद दो मरीजों के लिए रक्तदान किया

जरूरतमंद दो मरीजों के लिए रक्तदान किया

Punjabi Politics
बठिंडा| समाज सेवी संस्था साथी वेलफेयर सोसायटी की ओर से दो महिला मरीज के इलाज के लिए लिए रक्तदान किया। सोसायटी सचिव रविकांत अरोड़ा ने बताया कि बठिंडा के निजी अस्पताल में दाखिल भुपिंदर कौर कैंसर की बीमारी से पीड़ित थी, इलाज दौरान अचानक रक्त की जरूरत पड़ने पर सोसायटी सदस्य मोहिंदर सिंह ने रक्तदान किया। इसके अलावा बठिंडा के निजी अस्पताल में दाखिल सुखदीप कौर के इलाज के लिए रक्त की जरूरत पड़ने पर सोसायटी सदस्य प्रदीप कुमार ने रक्तदान किया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
जानिए, सर्दी में कैंसर मरीजों के खानपान पर विशेष ध्यान रखना क्यों जरूरी है

जानिए, सर्दी में कैंसर मरीजों के खानपान पर विशेष ध्यान रखना क्यों जरूरी है

Health
सर्दी का मौसम कैंसर रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है। इसकी वजह इस मौसम में नमी अधिक होती है और कैंसर के मरीजों में कीमोथैरेपी या दूसरी दवाइयों के कारण इम्युनिटी घट जाती है। जिससे उनमें संक्रमण का खतरा अधिक हो जाता है। सावधानी बरतने की जरूरत अधिक रहती है। सामान्य लोगों की तुलना में कैंसर मरीजों के शरीर को अधिक गर्म रखने की जरूरत रहती है। इसके लिए ऊनी कपड़े पहनें। सिर, हाथ, पैरों को ढककर रखें। ठंडी हवाओं से खुद का बचाव करें। ठंडी चीजें जैसे आइसक्रीम, कुल्फी आदि से परहेज रखेंं। आप मरीज नहीं तो बरतें ये सावधानी भोजन को दोबारा गर्म करने और रेड मीट खाने से बचें। पोषण युक्त आहार से खतरा कम किया जा सकता है। सब्जियां, फल, फली, साबुत अनाज खानपान में शामिल करें। एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन्स कैंसर कोशिकाओं को बढऩे से रोकते हैं। शक्कर कम लें। खानपान में हमेशा रखें : आहार में टमाटर, ब्रोकली, पत्तागोभी, लह
राजस्थान सरकार ने मरीजों को दी एक और राहत, अब निजी अस्पतालों में भी इस जांच के लिए नहीं देनी होगी मोटी रकम

राजस्थान सरकार ने मरीजों को दी एक और राहत, अब निजी अस्पतालों में भी इस जांच के लिए नहीं देनी होगी मोटी रकम

Rajasthan
जयपुर। राजस्थान की राजधानी में स्वाइन फ्लू का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है। इससे पीडि़त मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। राजस्थान सरकार के लिए यह विषय चिंता का कारण बना हुआ है। कॉलेजों में प्रतियोगिता दक्षता योजना से विद्यार्थियों को मिल सकेगा ये लाभ इसी को देखते हुए राजस्थान की राजधानी जयपुर के प्रमुख निजी अस्पताल व निजी लैब स्वाइन फ्लू की जांच 31 मार्च 2019 तक 2500 रुपए में करने के लिए सहमत हो गए हैं। अभी तक इस जांच के लिए जयपुर में मरीजों को अलग-अलग निजी लैब व निजी अस्पतालों में 3500 रुपए से अधिक रुपए देने पड़ रहे थे। राजस्थान सरकार ने किसानों को दिया बड़ा झटका, नहीं होगा इस श्रेणी के किसानों का कर्जा माफ, लोकसभा चुनावों में.... निजी अस्पतालों द्वारा कराई जा रही स्वाइन फ्लू की जांच की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए गए हैं। मिशन निदेशक एवं विशिष्

राजस्थान सरकार मरीजों के लिए करने जा रही है एक और बड़ा काम, निशुल्क दवा योजना में होने जा रहा अब…

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। देश से लेकर प्रदेश की सरकारें लोगों के स्वास्थ्य के प्रति पूर्ण रूप से सजग नजर आ रही है। देश में बड़े बड़े सरकारी अस्पताल खोले जा रहे, डाॅक्टरों और मेडिकल स्टाफ की नियुक्तियां की जा रही है। मरीजों के लिए निशुल्क इलाज और साथ ही निशुल्क दवाओं की योजनाए चल रही है। ऐसा ही एक और काम राजस्थान की कांग्रेस सरकार मरीजों के लिए करने जा रही जो कैंसर रोगियों के लिए किसी उपहार से कम नहीं होगा। आठ फरवरी को राजस्थान सरकार किसानों को देने जा रही सबसे बड़ा तोहफा, सुनकर हो जाएंगे खुश... जी हां राजस्थान में अब कैंसर के रोगियों को नई दवाएं भी निशुल्क मिलेगी। राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने कहा की स्वास्थ्य विभाग कैंसर जैसे रोग की रोकथाम एवं उपचार के प्रति गंभीर है। उन्होंने आगे कहा की इसकी जांच सुविधाओं में विस्तार के साथ उपचार के लिये नवीनतम दवाओं को मुख्यमंत
सतगुरु कबीर मंदिर में लगा कैंप, 350 मरीजों की जांच

सतगुरु कबीर मंदिर में लगा कैंप, 350 मरीजों की जांच

Punjab
जालंधर | सतगुरु कबीर मंदिर तेलिया मोहल्ला बस्ती शेख में मंगलवार को मेडिकल चेकअप कैंप लगाया गया। कैंप का शुभारंभ सतगुरु कबीर पंथ पंजाब के महंत जगदीश दास ने किया। इस मौके पर पिम्स अस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने 350 मरीजों का चैकअप और टेस्ट कर फ्री दवाइयां भी उपलब्ध करवाई। यहां समाज सेवक ओम प्रकाश भगत, तेजिंदर पाल कैले, मौजी साहब, प्रधान पिंका भगत, अश्वनी भगत, राजेश भगत, बेलीराम किशोर लाल, राम लुभाया, गुलशन आजाद मौजूद थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Jalandhar News - satguru kabir temple camp 350 patients examined Dainik Bhaskar
300 मरीजों की जांच कर दी दवा

300 मरीजों की जांच कर दी दवा

Punjab
तलवंडी भाई|रूरल डिवेलपमेंट सोसायटी की ओर से नगर कौंसल पार्क में इलेक्ट्रो होम्योपैथिक दवाइयों का मुफ्त कैंप लगाया गया। कैंप दौरान ईडीएम चेअरमैन डाॅ. जगतार सिंह सेखों ने आए हुए मरीजों को इलेक्ट्रोहोम्योपैथी संबंधी जानकारी दी। डाक्टरी टीम ने 300 से अधिक मरीजों का चेकअप करते हुए जोड़ों का दर्द, जिगर रोग, शूगर, आंखों का रोग, दिमागी रोग, बच्चों और महिलाओं की बीमारियां और गुरदे संबंधी रोगों की मुफ्त दवाइयां दीं। इस दौरान सतपाल सिंह तलवंडी सदस्य शिरोमणि कमेटी भी विशेष रूप में उपस्थित हुए। कैंप की सफलता के लिए डाॅ. कुलदीप सिंह भुल्लर, डाॅ. मनजीत सिंह सग्गू, डाॅ. जगमोहन सिंह आदि अहम भूमिका निभाई। (संदीप खुल्लर) Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar