News That Matters

Tag: महिलाओं

विदेशियों ने जोधपुर में महिलाओं के साथ किया डांस और लगाया रंग, ढोल पर नाचते हुए उड़ाया रंग-गुलाल

विदेशियों ने जोधपुर में महिलाओं के साथ किया डांस और लगाया रंग, ढोल पर नाचते हुए उड़ाया रंग-गुलाल

Rajasthan
वीडियो डेस्क। देशभर में होली की धूम है। होली के रंगा का मजा विदेशी सैलानियों ने भी जमकर उठाया। जोधपुर की सड़कों पर टोली बनाकर निकले विदेशियों ने जमकर डांस किया और एक-दूसरे को रंग लगाया। इतना ही नहीं विदेशी महिलाओं ने जोधपुर की महिलाओं के साथ डांस कर रंग भी लगाया। जोधपुर की सड़कों पर होली की मस्ती में चूर विदेशियों का वीडियो आया सामने... Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Holi Party Video 2019:Hd Video of Holi celebrations by foreigners in jodhpur india: Holi 2019 jodhpur : Holi Hd Video: Holi 2019: Dainik Bhaskar Hindi Video News Dainik Bhaskar
पार्किंग सुविधाओं में 5 फीसदी स्लॉट महिलाओं के लिए आरक्षित

पार्किंग सुविधाओं में 5 फीसदी स्लॉट महिलाओं के लिए आरक्षित

Delhi
नई दिल्ली | सभी दिल्लीवाले परेशान रहते हैं। नागरिकों की इस समस्या को कम करने के इरादे से नगर निगमों ने महिलाओं और दिव्यांगों के लिए स्लॉट रिजर्व करने का फैसला लिया है। दिल्ली में 1 करोड़ से ज्यादा रजिस्टर्ड गाड़ियां हैं, जिनको पार्किंग के लिए वैध स्थान तलाशने में काफी दिक्कत होती है। उत्तरी नगर निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, उत्तरी नगर निगम ने इस बदलाव को मंजूरी दे दी है। मौजूदा सभी टेंडरों में इस नियम को लागू किया गया है। पार्किंग ठेकेदारों से बाजार वाली जगहों के साथ-साथ भूमिगत और पार्किंग सुविधाओं में 5 फीसदी स्लॉट महिलाओं के लिए आरक्षित रखने को कहा गया है। लाडली योजना को प्रभावी बनाने के लिए उठाए गए कदम नई दिल्ली | मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों की तरह दिल्ली सरकार ने भी बेटियों के लिए पहले से चल रही लाडली योजना को और प्रभावी बनाने की दिशा में कदम उठाए
शादी के बाद प्रियंका चोपड़ा का बड़ा धमाका, 50 ‘पॉवरफुल’ महिलाओं में शामिल

शादी के बाद प्रियंका चोपड़ा का बड़ा धमाका, 50 ‘पॉवरफुल’ महिलाओं में शामिल

Entertainment
ग्लोबल आइकन प्रियंका चोपड़ा जोनस यूएसए टुडे की 'मनोरंजन जगत की 50 सबसे शक्तिशाली महिलाओं' की सूची में शामिल हो गई हैं। प्रियंका ने ओपरा विन्फ्रे और मेरिल स्ट्रीप समेत अन्य... Live Hindustan Rss feed
जानिए महिलाओं में अनिद्रा से जुड़ी इन खास बातों के बारे में

जानिए महिलाओं में अनिद्रा से जुड़ी इन खास बातों के बारे में

Health
नींद न आना, बार-बार टूटना, गहरी नींद की कमी आदि अनिद्रा के लक्षण हैं। अनिद्रा किसी भी आयुवर्ग के लोगों में हो सकती है लेकिन महिलाओं में यह समस्या पुरुषों के मुकाबले ज्यादा देखी गई है। कई बार उम्र के साथ भी यह परेशानी बढ़ जाती है। ऐसे में थकान व व्याकुलता महसूस होती है जिसका सीधा असर न केवल दिनभर के कामकाज पर पड़ता है बल्कि कई अन्य तरह की परेशानियां भी घेर सकती हैं। कारण : तनाव, शारीरिक व मानसिक रोग, अनियमित जीवनशैली और डर आदि। गर्भावस्था व मासिक धर्म में : इस दौरान हार्मोन में बदलाव होता है, ऐसे में नींद न आने की समस्या ज्यादातर महिलाओं के सामने आती है। कई बार मासिक धर्म से पहले भी महिलाओं में नींद न आने, नींद के बार-बार टूटने, डर लगने, उठने-बैठने में तकलीफ व दिन में नींद की झपकी आने की शिकायत देखी जाती है। इसी तरह गर्भावस्था के पहले तीन माह के दौरान महिलाएं जहां अधिक नींद की जरूरत महसूस क

विश्वविद्यालय और कालेजों में खुलेंगे महिलाओं से जुड़े दस हजार अध्ययन केंद्र

India
महिला सशक्तीकरण की दिशा में एक बड़ी पहल करते हुए यूजीसी ने विश्वविद्यालय और कालेजों में महिलाओं के लिए एक अध्ययन सेंटर खोलने का फैसला लिया है। Jagran Hindi News - news:national
तुर्की की सबसे बड़ी मस्जिद इबादत के लिए खुली; 60 हजार लोग एक साथ नमाज पढ़ सकेंगे, इसका डिजाइन दो महिलाओं ने तैयार किया है

तुर्की की सबसे बड़ी मस्जिद इबादत के लिए खुली; 60 हजार लोग एक साथ नमाज पढ़ सकेंगे, इसका डिजाइन दो महिलाओं ने तैयार किया है

Delhi
अमेरिका ने हाल में भारत को व्यापार में तरजीह वाले देशों की सूची से निकाल दिया है। ट्रम्प सरकार का यह फैसला 60 दिन बाद लागू हो जाएगा। जानकार, इस फैसले के पीछे की वजह अमेरिकी डेयरी प्रोडक्ट को बता रहे हैं, जिन्हें भारत ने खरीदने से मना कर दिया है, जबकि अमेरिका चाहता है कि भारत उससे डेयरी प्रोडक्ट अधिक खरीदे। भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने इस संबंध में अमेरिका को अपना रुख भी बता दिया है। भारत ने कहा है कि उसके इस फैसले के पीछे सांस्कृतिक और धार्मिक संवेदनाएं जुड़ी हैं, जिन पर समझौता नहीं हो सकता। हम ब्लड मील (मांसाहार) चारा खाने वाले जानवरों के दूध से बना कोई भी प्रोडक्ट आयात नहीं करेंगे। दरअसल, अमेरिका और यूरोप के कई देशों में दुधारू पशुओं के चारे में गाय-सूअर, भेड़ का मांस और खून मिलाया जाता है। ब्लड मील खिलाने से पशु ज्यादा दूध देते हैं, खासकर गायें। वहीं, सूत्रो
बोहर में लगाए जांच शिविर में 1132 महिलाओं का स्वास्थ्य जांचा

बोहर में लगाए जांच शिविर में 1132 महिलाओं का स्वास्थ्य जांचा

Haryana
जांच शिविर में महिला के स्वास्थ्य की जांच करता डॉक्टर। रोहतक | लाडली फाउंडेशन की ओर से बोहर में स्वास्थ्य जांच व जागरूकता शिविर लगाया गया। इस दौरान 1132 महिलाओं को जांच कर स्वास्थ्य लाभ के टिप्स दिए गए। दवा के साथ स्वच्छता किट वितरित की गई। इस दौरान संयोजक पंकज जैन, अध्यक्ष देवेंद्र कुमार गुप्ता, राहुल जैन, राजीव वंदेमातरम, एमएल अरोड़ा आदि मौजूद रहे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Rohtak News - haryana news health check of 1132 women in bohr check camp Dainik Bhaskar
आम लोग कंपनियों के विज्ञापन से नहीं जुड़ते, उनकी राय में उपभोक्ताओं को आकर्षित करने के लिए विज्ञापन में महिलाओं का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए

आम लोग कंपनियों के विज्ञापन से नहीं जुड़ते, उनकी राय में उपभोक्ताओं को आकर्षित करने के लिए विज्ञापन में महिलाओं का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए

Delhi
आमतौर पर कंपनियां अपने प्रोडक्ट्स के विज्ञापनों में महिलाओं को अधिक दिखाती हैं। लेकिन एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि कंपनियां ऐसा कर लिंग-आधारित परंपराओं को खत्म करने के बजाय उन्हें मजबूत कर रही हैं। विज्ञापन में महिलाओं को जिस तरह से प्रदर्शित किया जाता है, उपभोक्ता उस तरह से नहीं सोचता है। ब्रांड स्ट्रेटजी फर्म कैंटर ब्राउन मिलवर्ड (सीबीएम) की एड-रिएक्शन रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में 75% कंपनियों का मानना है कि उन्हें विज्ञापनों में सिर्फ महिलाओं को दिखाने से बचना चाहिए। वहीं, 76% महिला उपभोक्ताओं और 71% पुरुष उपभोक्ताओं ने कहा कि विज्ञापनों में उन्हें जिस तरह दिखाया जाता है, वह हकीकत से बिल्कुल अलग है। ज्यादातर विज्ञापन महिलाओं को ध्यान में रखकर बनाए जाते हैं। लेकिन इनमें कंपनियों की एक लीक पर चलने की बात ही नजर आती है। लोगों का मानना है कि उपभोक्ताओं को आकर्ष
महिलाओं को हुनर देकर एक नई ‘उड़ान’ दे रहे एफएलओ मेंबर्स

महिलाओं को हुनर देकर एक नई ‘उड़ान’ दे रहे एफएलओ मेंबर्स

Punjab
आज भी तमाम क्षेत्र ऐसे हैं जहां महिलाएं चूल्हे-चौके तक ही सीमित हैं। ऐसे में महिलाएं परिवार के लिए आर्थिक सहयोग के लिए चाहकर भी कुछ नहीं कर पाती हैं। ऐसी ही महिलाओं के लिए घरेलू कामकाज की दिशा में मदद कर इन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बना रहा है फिक्की लेडीज ऑर्गेनाइजेशन (एफएलओ) का ‘उड़ान एक सोच’ प्रोजेक्ट। इस प्रोजेक्ट के जरिए महिलाओं को अपने पैरों पर खड़ा होने का रास्ता मिल रहा है। यहां से काम सीख कई महिलाएं सामाजिक उद्यमशीलता की दिशा में कदम बढ़ा चुकी हैं और कई इस तरफ अग्रसर हैं। महिलाओं को कुकिंग, स्टिचिंग, कैंडल मेकिंग, एंब्रॉयड्री, ब्यूटीशियन, पेंटिंग, गिफ्ट रैपिंग की दी जा रही ट्रेनिंग महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश एफएलओ की चेयरपर्सन रीना अग्रवाल ने बताया कि ‘उड़ान एक सोच’ के माध्यम से जरूरतमंद महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का काम किया जा रहा है। किसी की रोज हेल्
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सस्ते घर देने का था, महिलाओं का आरोप अधिकारी मांग रहे रिश्वत

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सस्ते घर देने का था, महिलाओं का आरोप अधिकारी मांग रहे रिश्वत

Haryana
पानीपत| तहसील कैंप क्षेत्र की वार्ड-3 की महिलाओं ने पार्षद अंजलि शर्मा के निवास स्थान पर विरोध प्रदर्शन करके प्रशासनिक अधिकारियों पर सस्ते घर उपलब्ध कराने के नाम पर रिश्वत लेने का आरोप लगाया। महिलाओं का कहना है कि निगम अधिकारी 60 हजार रुपए जमा कराने की बात कर रहे हैं। जो रसीद दे रहे हैं, वह कम राशि की है। सभी लाभार्थियों को 3 लाख 45 हजार रुपए में मकान उपलब्ध कराने का दावा किया गया था। अब 6 लाख रुपए तक जमा कराने की बात कहा रहे हैं। क्षेत्रवासी महिला शर्मिला, नीलम, अनिता, शिमला, ममता, ट्विंकल, अशोक, तिलक राज, अनिता, ऋतु, सोनू व हिमांशु का कहना है कि तीन ब्लॉक के मकान उपलब्ध कराने की बात कह रहे हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar