News That Matters

Tag: मार्च

डॉक्टर्स की हड़ताल, शाम को निकाला कैंडल मार्च

डॉक्टर्स की हड़ताल, शाम को निकाला कैंडल मार्च

Haryana
पश्चिम बंगाला के एनआरएस मेडिकल कॉलेज के डॉ. प्रतिमान मुखर्जी और एक अन्य डॉक्टर पर हुए हमले के विरोध में यमुनानगर आईएमए सड़क पर उतर आई। पंचायत भवन में मीटिंग की और डॉक्टर्स पर हो रहे हमलों पर चिंता जताई। इसके बाद डीसी को ज्ञापन दिया। शाम को नेहरू पार्क पर कैंडल मार्च निकाला। डॉक्टर्स का कहना था कि इस समय हालात ये हैं कि डॉक्टर्स को पेशेंट के ट्रीटमेंट की चिंता कम अपनी सुरक्षा की ज्यादा रहती है। डॉक्टर सुरक्षा की मांग काफी समय से कर रहे हैं। प्रधान डॉ. योगेश जिंदल ने कहा कि आईएमए ला अंगेस्ट हास्पिटल वायलेंस की मांग कर रहा है। वर्ल्ड मेडिकल एसोसिएशन ने भी इस खतरे के खिलाफ मजबूत कानून लाने का आग्रह किया है। अस्पताल की हिंसा के लिए कानून को न्यूनतम 7 साल की सजा देनी चाहिए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि ऐसे मामले तुरंत दर्ज हो और दोषी भी गिरफ्तार हो। केंद्री कानून के लिए 2500 स्
पायल की मौत के रोष में आरसीएफ में कैंडल मार्च निकाला

पायल की मौत के रोष में आरसीएफ में कैंडल मार्च निकाला

Punjab
भास्कर संवाददाता | हुसैनपुर देश में एससी/एसटी लोगों खासकर एससी/एसटी समाज की महिलाओं पर लगातार जुल्म बढ़ रहे हैं न वह घर में और न ही बाहर सुरक्षित हैं। 21वीं सदी विज्ञान की होने के कारण भी देश के लोग जातपात और छूआछूत जैसी नामुराद बीमारी से छुटकारा नही पा सके। यह शब्द बाबा साहेब डाॅ. बीआर अंबेडकर सोसायटी (रजि.) रेल कोच फैक्टरी के प्रधान कृष्ण लाल जस्सल व महासचिव धर्मपाल पैंथर ने सहयोगी जत्थेबंदियों द्वारा निकाले कैंडल मार्च की अगुवाई करते कहे। यह कैंडल मार्च डाॅ. भीमराव अंबेडकर चौक से चल कर शापिंग सेंटर के चौक पर समाप्त हुआ। जस्सल व पैंथर ने बताया कि अनुसूचित जनजाति समाज की होनहार बेटी डाॅ. पायल तड़वी जोकि बीवाईएल नायर सरकारी अस्पताल मुंबई सेंट्रल में एमडी की पढ़ाई कर रही थी। पिछले दिनों हॉस्टल के कमरे में पखें से लटकती लाश मिली। डाॅ. पायल की यह खुदकुशी थी या उसे मार कर
कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में भाजपा का मार्च; पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे, पानी की बौछार की

कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में भाजपा का मार्च; पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे, पानी की बौछार की

India
कोलकाता.पश्चिम बंगाल में कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में भाजपा ने बुधवार को कोलकाता के लाल बाजार स्थित पुलिस मुख्यालय का घेराव किया। इस दौरान कुछ लोगों के बैरिकेड तोड़ने की कोशिश करने पर पुलिस ने पानी की बौछार की और आंसू गैस के गोले दागे। प्रदर्शन के मद्देनजर 3 हजार से ज्यादा जवानतैनात हैं। भाजपानेता मुकुल रॉय का आरोप है कि 8 जून की रात तृणमूल समर्थकों ने बशीरहाट में उनके 4 कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या कर दी थी।भाजपा के एक कार्यकर्ता ने कहा- ''हमने कोई बैरिकेड नहीं तोड़ा। हम शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। बंगाल पुलिस ने गलत तरीके से बल प्रयोग किया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कोलकाता के पुलिस कमिश्नर को इसका जवाब देना चाहिए।''ममता ने कहा था- बंगाल को गुजरात बनाने की कोशिशमुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा था कि राज्य में फैली हिंसा में तृणमूल के 8 और भाजपा
भड़के लोगों ने सुनाम में आईटीआई चौक किया जाम, संगरूर में निकाला रोष मार्च

भड़के लोगों ने सुनाम में आईटीआई चौक किया जाम, संगरूर में निकाला रोष मार्च

Punjab
फतेहवीर को बचाने में बचाव अभियान के फेल होने पर क्षेत्र के लोगों का गुस्सा भड़क उठा। हालांकि लोगों का गुस्सा सोमवार की रात से जारी था। मंगलवार की सुबह फतेहवीर की मौत की खबर से लोगों का गुस्सा और भड़क गया। गुस्साए लोगों ने शहर को पूर्ण तौर पर बंद करवाकर आईटीआई चौक में पक्के तौर पर धरना लगा दिया गया। बस यातायात को पूर्ण रूप से ठप कर दिया गया, जिस कारण बस स्टैंड में भी सन्नाटा पसरा रहा। प्रदर्शन में शामिल विभिन्न संगठनों के लोगों का आरोप है कि प्रशासन की लापरवाही के कारण फतेहवीर की मौत हुई। मांग की गई कि जिले के डीसी और एसएसपी के विरुद्ध कार्रवाई की जाए। प्रदर्शन में भारतीय किसान यूनियन, इमारती पेंटर यूनियन, सीपीआईएम, महिला अकाली दल आदि के सदस्यों ने भाग लिया। इस मौके पर मलकीत सिंह, रामपाल तोलावाल, गौरव जनालिया, मोहित गर्ग, अछरू गोयल, मनप्रीत नमोल, राज खालसा, अवतार तारी और स
धूरी दुष्कर्म मामले में आरोपियों को सख्त सजा दिलाने को लेकर संगठनों ने निकाला रोष मार्च

धूरी दुष्कर्म मामले में आरोपियों को सख्त सजा दिलाने को लेकर संगठनों ने निकाला रोष मार्च

Punjab
धूरी में दुष्कर्म विरोधी एक्शन कमेटी के आह्वान पर विभिन्न जनतक जमूहरी संगठनों के प्रतिनिधियों की ओर से स्थानीय कोर्ट कांप्लेक्स में रोष मार्च कर आरोपियों को सख्त सजा दिलाने की मांग की गई। रोष मार्च के दौरान एकत्रित लोगों को संबोधित करते हुए स्त्री जागृति मंच की राज्य उपप्रधान चरणजीत कौर ने कहा कि समाज में महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे जुर्म के लिए सीधे तौर पर राज्य के प्रबंध जिम्मेदार हैं। सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों की शिक्षा प्रणाली को तहस-नहस कर प्राइवेट स्कूलों को उत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि समाज में महिलाओं के प्रति नजरिया बदल रहा है, जिस कारण समाज ऐसी घटनाओं को जन्म दे रहा है। इस मौके पर इंकलाबी लोक मोर्चा पंजाब के राज्य प्रेस सचिव स्वर्णजीत सिंह ने कहा कि धूरी दुष्कर्म घटना के लिए मुख्य आरोपी के साथ-साथ स्कूल की प्रबंधक कमेटी सीधे तौर पर जिम्मेदार है, जि
अलीगढ़ में बच्ची की हत्या: संस्थाओं ने निकाला कैंडल मार्च

अलीगढ़ में बच्ची की हत्या: संस्थाओं ने निकाला कैंडल मार्च

Haryana
यमुनानगर | यूपी के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची को अगवा कर निर्मम हत्या को लेकर देश में गुस्सा है। शनिवार को यमुनानगर में भी लोगों ने बच्ची को इंसाफ दिलाने और आरोपियों को फांसी की मांग को लेकर कैंडल मार्च निकाला। कैंडल मार्च कई रोड से होते हुए नेहरू पार्क पर पहुंचा। इस दौरान सड़क से गुजर रही एक महिला भी वहां पर कैंडल जलाने पहुंची और उसने वहां पर मौजूद लोगों को नसीहत दी कि इस तरह से कैंडल जलाने से कुछ नहीं होगा। हमें जागरूक होना होगा। हर किसी को बच्चियों की सुरक्षा करनी होगी। इस पर वहां पर बैठे आयोजकों में शामिल एक पार्टी के नेता ने कहा कि वे ये ही काम कर रहे हैं। इस तरह से कैंडल मार्च निकाल सरकार को जगाया जा रहा है। बता दें यूपी के अलीगढ़ के एक गांव में ढाई साल की बच्ची को अगवा कर उसकी हत्या की गई। उसके शरीर के कई टुकड़े किए गए। वहीं उस पर तेजाब डाल दिया गया। वहां की पुल
फरीदकोट व धूरी मामलाें में सजा दिलाने काे निकाला मार्च

फरीदकोट व धूरी मामलाें में सजा दिलाने काे निकाला मार्च

Punjab
फरीदकोट पुलिस हिरासत में नौजवान जसपाल सिंह की मौत के बाद उसके शव काे खुर्द-बुर्द करने और धूरी में बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में प्रभावित परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए विभिन्न जम्हूरी संगठनों ने साेमवार काे यहां रोष मार्च निकाला। इसमें संगठनों ने जसपाल के कातिलों को सजा देने और धूरी दुष्कर्म केस के लिए फास्ट ट्रैक काेर्ट स्थापित कर जल्द फैसला सुनाकर आरोपी को सख्त सजा देने की मांग की गई। इससे पहले विभिन्न संगठनों के सदस्य स्थानीय नैना देवी मंदिर पार्क में एकत्रित हुए। यहां रोष रैली कर फरीदकोट व धूरी की घटनाअाें की सख्त शब्दाें में निंदा की गई और ऐसे जुल्म के खिलाफ एकजुट होने की अपील की गई। इसके बाद शहर के विभिन्न बाजारों में रोष मार्च निकाला गया। इस मौके पर क्रांतिकारी पेंडू मजदूर यूनियन के नेता लखवीर सिंह, भाकियू (उगराहां) के जिला नेता गुरिंदर सिंह चंदाल, जम्हूरी अध
मार्च तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 5.8% दर्ज, यह 17 तिमाही में सबसे कम; पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में 6.8% से बढ़ी अर्थव्यवस्था

मार्च तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 5.8% दर्ज, यह 17 तिमाही में सबसे कम; पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में 6.8% से बढ़ी अर्थव्यवस्था

Delhi
वजह : कर्ज बांटने में कमी और खपत कम होने से प्रभावित हुई रफ्तार एजेंसी| नई दिल्ली केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने शुक्रवार को जीडीपी विकास दर के तिमाही और पूरे वित्त वर्ष के आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक मार्च तिमाही में देश की विकास दर 5.8% रही है। वहीं पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में यह 6.8% की रफ्तार से बढ़ी है। जीडीपी का तिमाही आंकड़ा जहां पिछली 17 तिमाही में सबसे कम है। वहीं, सालाना आंकड़ा पिछले पांच साल में सबसे कम है। जीडीपी विकास दर की रफ्तार को कम करने में कृषि, खनन और औद्योगिक उत्पादन में कमजोर प्रदर्शन की अहम भूमिका रही। आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने विकास दर में आई सुस्ती के लिए अस्थायी कारणों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि एनबीएफसी संकट की वजह से कर्ज के वितरण की रफ्तार सुस्त हुई। इससे खपत प्रभावित हुई। उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले समय में आर
जीडीपी ग्रोथ रेट मार्च तिमाही में 5.8% रही; पूरे वित्त वर्ष में 6.8%, यह 5 साल में सबसे कम

जीडीपी ग्रोथ रेट मार्च तिमाही में 5.8% रही; पूरे वित्त वर्ष में 6.8%, यह 5 साल में सबसे कम

India
नई दिल्ली. बीते वित्त वर्ष (2018-19) की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में जीडीपी ग्रोथ रेट 5.8% रही। एग्रीकल्चर और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर के खराब प्रदर्शन की वजह से विकास दर में गिरावट आई है। सांख्यिकी विभाग ने शुक्रवार को विकास दर के आंकड़े जारी किए हैं। अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में विकास दर 6.6% थी। भारत की तिमाही जीडीपी ग्रोथ अब दुनिया में सबसे तेज नहीं रही क्योंकि जनवरी-मार्च तिमाही में चीन की ग्रोथ 6.4% रही थी।तिमाही ग्रोथ में कमी का असर पूरे वित्त वर्ष की विकास दर पर पड़ा है। यह 6.8% रही है जो5 साल में सबसे कम है। इससे पहले 2013-14में विकास दर 6.4% दर्ज की गई थी। तिमाही जनवरी-मार्च 2019 अक्टूबर दिसंबर 2018 जनवरी मार्च 2018 जीडीपी ग्रोथ 5.8% 6.6% 8.1% वित्त वर्ष 2018-19 2017-18 2013-14 जीडीपी ग्रोथ 6.8% 7.2 6.4% सरकार
धूरी दुष्कर्म मामले में इंसाफ के लिए निकाला कैंडल मार्च

धूरी दुष्कर्म मामले में इंसाफ के लिए निकाला कैंडल मार्च

Punjab
स्थानीय आजाद ब्लड बैंक, इमरजेंसी ब्लड डोनर ग्रुप व दीपक पाठशाला फाउंडेशन की तरफ से पिछले दिनों धूरी में एक निजी स्कूल में नाबालिगा के साथ घटे घटनाक्रम संबंधी इंसाफ दिलाने के लिए अध्यक्ष गुलशन व वंशिका जिंदल के नेतृत्व में स्थानीय माता मोदी चौक से अग्रसेन चौक तक कैंडल मार्च निकाला गया। इसमें अलग-अलग संस्थाओं के अलावा शहरवासी भी शामिल हुए। इस मौके पर वंशिका जिंदल, भागीरथ राय गोयल, सुनीता शर्मा, रेवा छाहड़िया, डाॅ. अमनदीप गोसल, मोनिका गोयल ने कहा कि मौजूदा समय में महिलाओं और बच्चियों पर हो रहा अत्याचार समाज के लिए चिंता का विषय है। ऐसी घटनाएं पूरे समाज को शर्मसार करती हैं। उन्होंने कहा कि धूरी में घटी शर्मनाक घटना कोई पहली घटना नहीं है बल्कि ऐसी अनेक घटनाएं पहले सामने आ चुकी हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ पूरा समाज बेटियों को कंजका के रूप में पूजता है, वहीं दूसरी तरफ ऐसी घटना