News That Matters

Tag: रखना

संस्कृति की गरिमा बनाए रखना हमारा दायित्व : साध्वी भारती

संस्कृति की गरिमा बनाए रखना हमारा दायित्व : साध्वी भारती

Punjabi Politics
सुनाम| दिव्य ज्योति जागृति संस्थान के स्थानीय आश्रम में मनुष्य जीवन और विश्व भाईचारे के संदेश को समर्पित आध्यात्मिक कार्यक्रम करवाया गया, जिसमें अपने विचार रखते हुए श्री गुरु आशुतोष जी महाराज की शिष्या साध्वी यमुना भारती ने कहा कि यह हमारा सौभाग्य रहा कि आदिकाल से इस भूमि ने संत, महापुरुषों, अवतारों का चरणस्पर्श किया। साध्वी ने कहा कि केवल हमारे इतिहास में ऐसे आलौकिक उदाहरण मिलते हैं, जहां शिवा जी छन्नसाल, दुर्गादास जैसे राजा जीते हुए शुन्न राजाओं की बेगमों को माता कहते हैं। ऐसे अभूतपूर्व आदर्श केवल हमारी संस्कृति की विरासत हैं। हमारा प्रमुख दायित्व है कि हम अपनी संस्कृति की गरिमा को बनाए रखें। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
मानसिक रूप से कमजोर खिलाड़ियों के लिए मनोवैज्ञानिक रखना चाहते हैं रीड

मानसिक रूप से कमजोर खिलाड़ियों के लिए मनोवैज्ञानिक रखना चाहते हैं रीड

Indian Sports
भारतीय हॉकी टीम के मुख्य कोच ग्राहम रीड का मानना है कि आधुनिक हॉकी के लिए 'स्थिर दिमाग' का होना जरूरी है और उन्होंने संकेत दिए कि ओलंपिक क्वॉलिफाइंग की कवायद में लगी टीम के साथ जल्द ही एक... Live Hindustan Rss feed

AIIMS Entrance 2019: एम्स प्रवेश परीक्षा 25 व 26 मई को, जानें किन बातों का रखना है ध्यान

Indian Education
AIIMS Entrance 2019: देशभर के ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (AIIMS) में एमबीबीएस कोर्सेस में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा 25 और 26 मई 2019 को होने वाली है। इस बार Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
देश की एकता-अखंडता बनाए रखना हमारा फर्ज : डीसी

देश की एकता-अखंडता बनाए रखना हमारा फर्ज : डीसी

Punjabi Politics
देशभर में आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया गया। इसी कड़ी में तरनतारन में भी डीसी की ओर से जिला प्रबंधकीय कॉम्प्लेक्स में समूह अधिकारियों और कर्मचारियों की ओर से मनाया गया। इस मौके सहायक कमिशनर जनरल हरदीप सिंह धालीवाल और जिला माल अधिकारी मुकेश कुमार के अलावा ओर अधिकारी भी मौजूद रहे। इस मौके पर डीसी प्रदीप कुमार सभरवाल ने कहा कि हमारे देश के सभी नागरिकों का अहिंसा और सहनशीलता की शानदार रिवायतों में अटूट विश्वास है और देश की एकता और अखंडता को बनाए रखने में अपना कीमती योगदान डालना हमारा कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि देश की खुशहाली और तरक्की के लिए अमन-शांति का महौल होना बहुत जरूरी है। हमारा फर्ज बनता है कि हम पूरी शक्ति के साथ विरोधी ताकतों का विरोध करें। जिला कॉम्प्लेक्स में शपथ लेते डीसी और अन्य अधिकारी। आम जनता को भी होना पड़ेगा एकजुट : डॉ. गुरप्रीत सिंह सीएचसी घरियाला में सेहत व
थॉर से खुद को परिस्थितियों के अनुसार ढालना और यकीन रखना सीखें

थॉर से खुद को परिस्थितियों के अनुसार ढालना और यकीन रखना सीखें

Punjabi Politics
थॉर से खुद को परिस्थितियों के अनुसार ढालना और यकीन रखना सीखें जब थॉर का सामना अपनी बड़ी बहन हेला से होता है और इस लड़ाई में उसका सबसे बड़ा हथियार म्यॉलनिर टूट जाता है, तो वह काफी कमजोर पड़ जाता है। लेकिन उसे अपने अंदर शक्तियों के मौजूद होने का अहसास होता है और हथियार केवल उन्हें नियंत्रित करने का एक साधन था।
खेल मसालाः कोले ने बेटी के लिए दिल पर पत्थर रखना सीखा

खेल मसालाः कोले ने बेटी के लिए दिल पर पत्थर रखना सीखा

Indian Sports
रियलिटी टीवी की स्टार कोले कार्दाशियां को प्यार में हर बार बेवफाई मिली। पर अब उनका पूरा ध्यान बेटी की सही परवरिश और उसे सही माहौल देने पर है। इसीलिए उन्होंने कई बार धोखा खाने के बावजूद बेटी के पिता... Live Hindustan Rss feed
‘आप’ ने ही नारा लगाया था दिल्ली में केजरीवाल और पीएम मोदी, रास्ता इन्होंने खोला था ये याद रखना: राहुल

‘आप’ ने ही नारा लगाया था दिल्ली में केजरीवाल और पीएम मोदी, रास्ता इन्होंने खोला था ये याद रखना: राहुल

Delhi
नई दिल्ली.पूर्वी दिल्ली से कांग्रेस प्रत्याशी अरविंदर सिंह के समर्थन में गीता कालोनी के रामलीला मैदान में राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित किया। राहुल गांधी ने यहां 29 मिनट का भाषण दिया। राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला करने के साथ ही दिल्ली की सत्ता में काबिज अरविंद केजरीवाल को भी घेरकर कांग्रेस को भाजपा के साथ सीधे मुकाबले में बताया।पहली जनसभा में जहां अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी का एक बार जिक्र किया था, वहीं दूसरी जनसभा में दो-तीन बार जिक्र किया। राहुल गांधी ने कहा कि एक तरफ नरेंद्र मोदी जी और दूसरी तरफ केजरीवाल जी। जो भी मन में आता है बोल देते हैं। झूठे वादे करते हैं। आप दिल्ली में राज कर रहे हो। आप की जिम्मेदारी है। दिल्ली के व्यापारी, छोटे बिजनेस वालों को तोड़ा जा रहा है, सीलिंग हो रही है और आप कहते हो कुछ नहीं कर सकते। लेकिन कांग्रेस हर समय व्यापारी,
माननीयों! इन वोटों की लाज रखना, रंगीले राजस्थान ने मतदान केंद्रों को बना दिया मेला स्थल

माननीयों! इन वोटों की लाज रखना, रंगीले राजस्थान ने मतदान केंद्रों को बना दिया मेला स्थल

Rajasthan
जयपुर. आम चुनाव में राजस्थान के वोटर्स ने अपने हिस्से का रोल प्ले कर दिया है। पूरी जिम्मेदारी के साथ। शादी-उत्सव, रमजान और झुलसाने वाली गर्मी के बीच राजस्थान के तपते धोरों से खूब वोट निकले। पिछले आम चुनाव की तुलना में इस बार 3 प्रतिशत से ज्यादा मतदान हुआ। दोनों ही चरणों के मतदान के नए रिकाॅर्ड बनाए। महिलाओं ने बढ़-चढ़कर वोट किए। हमेशा गांवों से पीछे रहने वाले शहरी क्षेत्र भी इस बार फुर्सत निकालकर पर बूथ पर आए। इस जज्बे की जीत तब, जब सांसद उनकी अपेक्षाओं को पूरा करे। राजस्थानियों का मान रखे।राजस्थान में लोकसभा की 25 में से अकेली सीट जहां भाजपा ने रालोपा से गठबंधन किया और रालोपा अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल के लिए यह सीट छोड़ी। कांग्रेस की ज्योति मिर्धा से हनुमान की सियासी लड़ाई नई नहीं। इस लड़ाई को नागौर की जनता ने लगातार देखा-सुना-समझा। सोमवार को वोट पड़े। दोनों की पक्षों की ओर से

Cyclone Fani के बारे में जानिये 10 बड़ी बातें, तबाही से बचने के लिए रखना होगा एहतियात

India
चक्रवाती तूफान फानी को लेकर ओडिशा के साथ तमिलनाडु केरल पश्चिम बंगाल एवं आंध्र प्रदेश के लिए एडवाइजरी जारी की गई है। Jagran Hindi News - news:national
अलग-अलग रहने को राजी पति-पत्नी बेटी को नहीं रखना चाहते थे साथ, इसलिए मार डाला

अलग-अलग रहने को राजी पति-पत्नी बेटी को नहीं रखना चाहते थे साथ, इसलिए मार डाला

Delhi
चरित्र पर शक को लेकर पति-प|ी में बार-बार हो रहे झगड़े के बाद दोनों तलाक लेकर अलग-अलग रहने को राजी हो गए। लेकिन बेटी को कोई नहीं रखना चाहता था। ऐसे में पिता ने 8 साल की बेटी की तार से गला घोंटकर हत्या कर दी। मामला बाहरी दिल्ली के मुंडका इलाके का है। पुलिस ने आरोपी विराज राय को अरेस्ट किया है। पहले बेटी का तार से गला घोंटा फिर अस्पताल ले गया आरोपी प|ी बरखा, बेटी प्रियांशी (8)और बेटे राज (5)के साथ बक्करवाला गांव में रहता था। पिछले कुछ समय से आरोपी विराज प|ी पर शक करता था। जिससे प|ी को वह बुरी तरह पीटा भी था। प|ी भी आरोपी के चरित्र पर कई बार सवाल खड़े करती थी। नौबत यह आ गई कि दोनों तलाक लेकर अलग-अलग रहने को राजी हो गए। बेटी को दोनों साथ नहीं रखना चाहते थे। सोमवार को बेटी को लेकर बहस हुई तो विराज ने प|ी को कहा इसको मार डालता हूं। वह प्रियांशी को कमरे में ले गया और तार से गला