News That Matters

Tag: रही

बच्चों को भी हो रही है टाइप टू डायबिटीज, जानें इसके बारे मेें

बच्चों को भी हो रही है टाइप टू डायबिटीज, जानें इसके बारे मेें

Health
माता-पिता बच्चों के खानपान पर विशेष ध्यान दें। उन्हें दुलार देने के चक्कर में अत्यधिक मात्रा में जंकफूड न खिलाएं। शरीर में जब पर्याप्त इंसुलिन नहीं बनता या अपेक्षित काम नहीं करता तो कोशिकाओं में पहुंचने के बजाय ग्लूकोज रक्त में ही रुक जाता है। जब रक्त में शुगर का स्तर बढ़ जाता है तो इसे डायबिटीज कहते हैं। यह दो तरह की होती है। टाइप वन डायबिटीज यानी इंसुलिन का बनना बंद हो जाना और टाइप टू डायबिटीज यानी इंसुलिन बनना व इसके काम करने की क्षमता कम हो जाती है। बढ़ रहा है खतरा - एक-दो दशक पहले बच्चों को टाइप वन डायबिटीज ही होती थी लेकिन अब उन्हें टाइप टू डायबिटीज भी होने लगी है। यह वंशानुगत रोग है लेकिन मोटे, आलसी या खानपान में लापरवाह बच्चों को टाइप टू डायबिटीज का खतरा ज्यादा होता है। विशेषज्ञ की राय - बच्चे को अधिक प्यास लगे, बार-बार पेशाब आए, बिस्तर गीला करे, खूब खाए लेकिन वजन घटे तो जांच करवाए
पुलवामा हमला: बिलखते हुए 12 साल के बेटे ने शहीद पिता को दी मुखाग्नि, पत्नी जिद करती रही- आखिरी बार देख लेने दो उनका चेहरा; 50 प्रतिशत ही बचा था शरीर इसलिए नहीं दिखाया चेहरा

पुलवामा हमला: बिलखते हुए 12 साल के बेटे ने शहीद पिता को दी मुखाग्नि, पत्नी जिद करती रही- आखिरी बार देख लेने दो उनका चेहरा; 50 प्रतिशत ही बचा था शरीर इसलिए नहीं दिखाया चेहरा

Rajasthan
राजसमंद (राजस्थान)।जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में दो दिन पहले शहीद हुए राजसमंद के गांव बिनोल के वीर सपूत सीआरपीएफ के हेड कांस्टेबल नारायण गुर्जर (39) का शनिवार को उनके गांव में ही राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। शहीद के 12 साल के बेटे मुकेश ने मुखाग्नि दी। गार्ड ऑफ ऑर्नर दिया गया। इसके बाद मुकेश को केंद्रीय रिजर्व पुलिस के डीआईजी राकेश सिंह चौहान ने तिरंगा सौंपा। इससे पहले सुबह 11.35 बजे जोधपुर से भारतीय वायुसेना का विशेष हेलीकॉप्टर (जेड पी 5223) कांकरोली जेके हवाई पहुंचा। जहां गाजे-बाजे के साथ फूल मालाओं से सजे रथ में शहीद नारायण की अंतिम यात्रा रवाना हुई।जिला बनने के बाद पहली बार शहीद का रथ राजसमंद शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए निकला। शहर के जिस रास्ते से भी रथ गुजरा, लोगों ने पुष्प वर्षा की और भारत माता की जय के नारे लगाए। 18 किलोमीटर के
13 की उम्र में 30 साल बड़े शख्स से हुई थी इनकी शादी, विवादित रही Love Life

13 की उम्र में 30 साल बड़े शख्स से हुई थी इनकी शादी, विवादित रही Love Life

Entertainment
मुंबई: अपकमिंग फिल्म 'बद्रीनाथ की दुल्हनिया' का तम्मा-तम्मा गाना और इससे जुड़ी कॉन्ट्रोवर्सी के चलते सरोज खान सुर्खियों में हैं। बता दें,2000 से भी ज्यादा गानों को कोरियोग्राफ कर चुकीं सरोज खान का जन्म 22 नवंबर, 1948 को हुआ था। किशनचंद सद्धू सिंह और नोनी ​सद्धू सिंह के घर जन्मी सरोज का असली नाम निर्मला किशनचंद्र संधु सिंह नागपाल है। पार्टीशन के बाद सरोज का परिवार पाकिस्तान से भारत आ गया था। महज 3 साल की उम्र में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट सरोज ने करियर की शुरुआत फिल्म 'नजराना' से की थी। 13 की उम्र में जब अचानक हो गई सरोज की शादी...सरोज खान ने 13 साल की उम्र में इस्लाम कबूल कर 43 साल के डांस मास्टर बी सोहनलाल से शादी की थी। सरोज की उम्र से लगभग 30 साल बड़े सोहनलाल की यह दूसरी शादी थी। वे पहले ही चार बच्चों के पिता थे। एक इंटरव्यू में सरोज ने बताया था कि 13 साल
आतंकी आदिल के घर जुट रही लोगों की भीड़, परिवार को दिलासा देने पहुंच रहे लोग, घर आने वाले कई लोगों ने मुबारकबाद भी दी

आतंकी आदिल के घर जुट रही लोगों की भीड़, परिवार को दिलासा देने पहुंच रहे लोग, घर आने वाले कई लोगों ने मुबारकबाद भी दी

India
पुलवामा. कश्मीर के पुलवामा में आतंकी आदिल डार के घर भी लोगों की भीड़ जुट रही है। आस-पास और गांव के लोग परिवार के प्रति संवेदना जताने के लिए जुट रहे हैं। इनमें से कई लोग आदिल के पिता गुलाम को मुबारकबाद भी दे रहे हैं। हालांकि, गुलाम का कहना है कि हमें भी सीआरपीएफ के जवानों के जाने का गम है। बता दें, काकापोरा गांव पहले से आतंकी गतिविधियों का गढ़ रहा है। लश्कर ए तैयबा के अबू दुजाना का यहां ताल्लुक रहा है।'हमें जवानों के जाने का गम'- इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, काकापोरा गांव में आदिल के घर के बाहर एक टेंट लगा हुआ है। यहीं पर कश्मीरी पोशाक में आदिल के पिता गुलाम हसन डार बैठे हैं।- गांव और आस-पास के लोग एक-एक करके यहां पहुंच रहे हैं और उनसे संवेदना जताकर चल जा रहे हैं। हालांकि, इनमें से कई ऐसे लोग भी हैं जो उन्हें मुबारक बोल रहे हैं।- पुलवामा हमले के बाद इंडिया
महिला ने घर वालों के साथ मिलकर युवती को बालों से पकड़कर पीटा, देखती रही गूंगी पुलिस

महिला ने घर वालों के साथ मिलकर युवती को बालों से पकड़कर पीटा, देखती रही गूंगी पुलिस

Punjabi Politics
अमृतसर. अमृतसर में रविवार को मारपीट का एक मामला सामने आया है। एक महिला और उसके परिजनों ने घर में घुसकर एक युवती को बाहर गली में घसीट लिया। इसके बाद उसे बालों से पकड़कर पीटना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं पड़ोस का एक युवक बीच-बचाव में आया तो उसे भी इस परिवार ने बुरी तरह मार-पीटकर जख्मी कर दिया। दूसरी ओर मौके पर मौजूद पुलिस वाले बिना किसी हस्तक्षेपके सबकुछ देखते रहे। यह अलग बात है कि बाद में मामला मीडिया के सामने आने के बाद जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।घटना अमृतसर के मजीठा रोड की है। मिली जानकारी के अनुसार कुलविंदर नामक महिला को दूसरी महिला परमजीत से ढाई लाख रुपए लेने थे। यह मामला कोर्ट में पहुंचा तो कोर्ट की तरफ से परमजीत को पीओ करार दिया गया। रविवार को कुलविंदर अपने परिजनों और पुलिस के साथ परमजीत के घर पहुंची तो वह वहां नहीं मिली। इसके बाद कुलविंदर इतनी तैश में आ गई कि उसने घर म
अलगाववादियों की सुरक्षा पर सरकार 10 करोड़ रुपए सालाना खर्च कर रही

अलगाववादियों की सुरक्षा पर सरकार 10 करोड़ रुपए सालाना खर्च कर रही

India
दिल्ली (मुकेश कौशिक/अमित निरंजन).कश्मीर में भले ही आतंकवाद लगातार बढ़ रहा हो, लेकिन यहां के अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा पर सरकार सालाना करीब 10 करोड़ रुपए खर्च कर रही है। एक आरटीआई में यह बात सामने आई है कि इनकी सुरक्षा और सुविधाओं पर खर्च राज्य सरकार करती है। ये चुनिंदा अलगाववादी महंगी गाड़ियों में घूम रहे हैं और फाइव स्टार श्रेणी के अस्पतालों में इलाज करवा रहे हैं।ये भी पढ़ेंपुलवामा हमले में 40 जवानों की शहादत, गम के साथ गुस्से का सैलाबइनकी सुविधाओं के बारे में दैनिक भास्कर ने मिलिट्री ऑपरेशंसके महानिदेशक रह चुके लेफ्टिनेंट जनरल विनोद भाटिया से पूछा तो उन्होंने पलटकर सवाल किया कि यह पूछिए कि क्या सुविधा नहीं दी जा रही, तो बताना ज्यादा आसान होगा।एक अलगाववादी की सुरक्षा में 20-25 सुरक्षाकर्मीभाटियाने कहा कि कश्मीर घाटी में एक अलगाववादी नेता पर 20 से लेकर 25 सुरक्षाकर्मी दिन
चार करोड़ से अधिक राशि से बन रही सड़क

चार करोड़ से अधिक राशि से बन रही सड़क

Rajasthan
कुंडले क्षेत्र के दस ग्राम पंचायतों सहित सैकड़ों गांव ढाणियों में जाने वाले वाहन चालकों सहित धार्मिक स्थल बाणगंगा धाम की सुविधा के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से करीब 4 करोड़ से अधिक की लागत से बीलवाड़ी से वाया मैड़ पालड़ी चौराहे होकर खोरा लाडखानी तक नई सड़क का निर्माण करवाया जा रहा है। यह मार्ग कई सालों से पूरी तरह क्षतिग्रस्त होकर बिखरा हुआ था। वहीं सड़क की चौड़ाई कम होने से दो वाहन एक साथ सड़क से नही निकल पाते थे। जिस पर विराटनगर सार्वजनिक निर्माण विभाग के तात्कालीन एईएन आरके सैनी, जेईएन अनिल मीणा अधिकारियों ने मामले को गंभीरता से लेकर निर्माण का तकनीमा बनाकर जयपुर भेजा था। सड़क का काम शुरू है। विधायक इंद्राज गुर्जर ने शनिवार को बताया कि पालड़ी तिराए से मैड़ तक भी शीघ्र सड़क का निर्माण होगा। जिसे लेकर प्रस्ताव तैयार करवाकर राज्य सरकार को भेज दिया। जिससे अब जल्द सड़क का कार
तलाक के बाद BF के साथ 16 साल लिवइन में रही ये एक्ट्रेस, अब है सिंगल मदर

तलाक के बाद BF के साथ 16 साल लिवइन में रही ये एक्ट्रेस, अब है सिंगल मदर

Entertainment
मुंबई. टीवी सीरियल 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' फेम मंदिरा उर्फ अचिंत कौर 40 साल की हो चुकी हैं। अचिंत टीवी शो 'जमाई राजा' में निया शर्मा की मां का रोल प्ले कर चुकी हैं। लेकिन रियल लाइफ में भी अचिंत एक बेटे प्रीतरंजन की मां हैं। अचिंत का बेटा 24 साल का है जिसकी वो सिंगल मदर है। दरअसल प्रीतरंजन उनके पहले पति से हुआ बेटा है जिससे उनका अब डायवोर्स हो चुका है। डायवोर्स के बाद इनके साथ रिलेशन में रहीं अचिंत...पति से डायवोर्स के बाद अचिंत एक्टर मोहन कपूर के साथ रिलेशन में रही हैं। दोनों 16 साल तक एक दूसरे के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहे। जिसके बाद दोनों अलग हो गए। कई बार इवेंट्स में मोहन को अचिंत और उनके बेटे प्रीतरंजनके साथ देखा गया है।ऐसी ही मां-बेटे की बॉन्डिंगसोशल मीडिया पर अचिंत अक्सर बेटे प्रीतरंजन के साथ फोटोज शेयर करती नजर आती हैं। अचिंत के बेटे प्रीतरं
पुलवामा में शहीद हुए इन पांच राजस्थानी जवानों के परिवार को प्रदेश की सरकार देने जा रही बड़ी सहायता

पुलवामा में शहीद हुए इन पांच राजस्थानी जवानों के परिवार को प्रदेश की सरकार देने जा रही बड़ी सहायता

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में अवन्तीपुरा के गोरीपुरा इलाके में 14 फरवरी गुरूवार को आतंकियों ने सीआरपीएफ काफिले पर हमला किया था। इस आंतकी हमले में अब तक लगभग 44 जवान शहीद हो गए है। उरी के बाद हुए सबसे बड़े आंतकी हमले की चारों और कड़ी निंदा की जा रही है और देश की जनता के बीच आंतकवाद के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश है। गुर्जर आंदोलनः राजस्थान में नौ दिनों के बाद आज समाप्त हुआ गुर्जर आंदोलन, किरोड़ी बैंसला ने की घोषणा इस आतंकी हमले में राजस्थान के भी पांच जवान शहीद हो गए है। प्रदेश की गहलोत सरकार ने भी इस आतंकी हमले पर दुख जताया और कहा कि इन बहादुर नौजवानों पर पूरे प्रदेश को गर्व है। साथ ही मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि आतंकवाद का कोई भी स्वरूप देश बर्दाश्त न करेगा। इस आतंकवाद को जड़ से मिटाने के लिए कड़े कदम उठाने की आवश्यकता है। किसानों के लिए 24 फरवरी को ये बड़ा काम करने जा रहे ह

UPSSSC परीक्षा के प्रवेश पत्र जारी, ये रही पूरी जानकारी

Indian Education
UPSSSC 10 + 2 जूनियर सहायक विशेष भर्ती 2017 परीक्षा के प्रवेश पत्र आधिकारिक वेबसाइट पर उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा जारी किया गया है। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala